home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

BHRT: बायो-आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी क्या है और यह कितनी सेफ है?

BHRT: बायो-आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी क्या है और यह कितनी सेफ है?

बढ़ती उम्र के साथ महिलाओं और पुरूषों में कई प्रकार की समस्याएं आने लगती हैं। कई बार अचानक आपके व्यवहार में परिवर्तन होने लगता है। जिससे आपके आस-पास के लोग कहते हैं आपके हाॅर्मोन में हो रहे परिवर्तन के कारण आपके व्यवहार में बदवाल आ गया है, यानि किसी भी बात पर आप गुस्सा हो जाते हैं या झुंझला जाते हैं। तो जब हमारे जीवन में हाॅर्मोन इतना महत्वपूर्ण है, तो इसमें कमी या असुंतलन होने से हमें कई और समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। दरअसल हाॅर्मोन की कमी हमारे लिए शरीर के साथ-साथ मानसिक रूप से भी कई प्रकार की समस्याएं पैदा कर सकता है। हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी (एचआरटी) मेनोपॉज के दौरान या एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन के स्तर को संतुलित करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा कई अन्य कारण भी हैं जिसके तहत आपका डॉक्टर हाॅर्मोन थेरिपी कराने का दिशा निर्देश दे सकते हैं। दरअसल हाॅर्मोन की कमी होने पर कई मामलों में डॉक्टर बायो-आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी (BHRT) कराने की सलाह देता है।

शरीर में हाॅर्मोन की कमी को पूरा करने लिए, या हाॅर्मोन की कमी से होने वाली समस्याओं से राहत पाने के लिए बायो-आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी (BHRT) कराया जाता है।जाहिर है अब हाॅर्मोन थेरिपी को लेकर आपके मन में कई तरह के सवाल उठ रहे होगें जैसे, ये क्या है? कैसे होता है? किसके लिए होता है? आपके लिए जानना क्यों जरूरी है? तो आइए आपके सभी सवालों का जवाब देते हैं। लेकिन सवाल-जवाब का सिलसिला शुरू करने से पहले आपको बता दें कि, हाॅर्मोन थेरिपी से जुड़े सभी सवालों के जवाब हमारी एक्सपर्ट “डॉ. रश्मी रॉय” द्वारा दिए गए हैं। इसलिए आप अपने सवालों के जवाब पाकर संतुष्ट हो सकते है। आपको बता दें हमारी एक्सपर्ट डॉ. रश्मी रॉय एकमात्र ऐसी भारतीय डॉक्टर हैं, जिन्हें स्विट्जरलैंड के साथ-साथ संयुक्त राज्य अमेरिका में इंटरनैशनल एसोसिएशन फॉर सेल थेरिपी के प्रेस्टीजियस एफिलिएशन से सम्मानित किया गया है। डॉ. रश्मी रॉय को पुरुषों और महिलाओं दोनों को उम्र से संबंधित हाॅर्मोनल असंतुलन और जीवनशैली संबंधी बीमारियों का इलाज करने में महारथ हासिल है। नीचे दिए गए सभी सवाल और उनके जवाब को ध्यानपूर्वक पढ़े।

सवाल: हाॅर्मोन थेरिपी के क्या फायदे हैं? (What are the benefits of hormone therapy)

जवाब: हाॅर्मोन थेरिपी नीचे दी गई इन समस्याओं से राहत दिलाने के लिए दिया जाता है-

  • वासोमोटर लक्षण (Vasomotor symptoms) – हॉट फ्लैश, रात को पसीना, घबराहट और माइग्रेन से राहत पाने के लिए हाॅर्मोन थेरिपी करवाने की सलाह दी जाता है।
  • मूत्र-जननांग लक्षण (Uro-genital symptoms) – असंयम तनाव, ड्राय वजायना, असहज सेक्स से राहत दिलाने के लिए हाॅर्मोन थेरिपी किया जाता है।
  • मनोवैज्ञानिक लक्षण (Psychogenic symptoms) – क्रोध, चिड़चिड़ापन, अनिद्रा, आत्म-सम्मान की कमी, ब्रेन फॉग से राहत देने के लिए हाॅर्मोन थेरिपी किया जाता है।

हाॅर्मोन थेरिपी लेने के अन्य लाभ इस प्रकार से हैं-

  • हाॅर्मोन थेरिपी ऑस्टियोपोरोसिस के विकास के जोखिम को कम करने और हड्डी टूटने के संभावना को कम करता है।
  • हाॅर्मोन थेरिपी आपके मूड में सुधार और मानसिक कल्याण के लिए फायदेमंद होता है।
  • हाॅर्मोन थेरिपी से कैंसर का जोखिम कम होता है।
  • हाॅर्मोन थेरिपी मधुमेह के जोखिम को कम करने और शरीर के चयापचय के प्रक्रिया में सुधार लाने के लिए अच्छा होता है।
  • जोड़ो के दर्द से राहत दिलाने के लिए हाॅर्मोन थेरिपी बहुत लाभदायक होता है।
  • जो महिलाएं 50 साल की उम्र में हाॅर्मोन थेरिपी लेती है, उन महिलाओं का मृत्यु दर कम हो जाता है।

[mc4wp_form id=”183492″]

और पढ़ें: हार्मोनल ग्लैंड के फंक्शन में है प्रॉबल्म, एंडोक्राइन डिसऑर्डर का हो सकता है खतरा

सवाल: क्या हाॅर्मोन थेरिपी सुरक्षित है? (is Hormone therapy safe) क्या हॉर्मोन थेरिपी से जुड़े कोई जोखिम हैं?

जवाब: डॉ. रश्मी रॉय बताती हैं, कि इस सवाल का जवाब हां या ना के रूप में देना सरल नहीं है। हाॅर्मोन थेरिपी उन महिलाओं में अपेक्षाकृत सुरक्षित है जो अपने पेरी-मेनोपॉज और मेनोपॉज चरण में हैं। इसलिए व्यक्तिगत या पर्सनल ट्रीटमेंट प्लान बनाने से पहले आपकी कुछ जांच की जाएगी और कुछ पर्सनल सवाल भी किए जा सकते हैं। जिसमें रक्त परीक्षण, पारिवारिक स्वास्थ्य इतिहास, व्यक्तिगत स्वास्थ्य इतिहास जैसे कैंसर, स्ट्रोक, रक्त के थक्के, लिवर और हृदय रोग शामिल है। दरअसल यह आपके द्वारा चुनी गई चिकित्सा के कुछ ऐसे कारक हैं जो यह तय करते हैं कि हाॅर्मोन थेरिपी आपके लिए उचित है या नहीं।

सवाल: हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी (Hormone replacement therapy) से किसे बचना चाहिए?

जवाब: ऐसे कई लोग हैं, जिन्हें हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट से बचना चाहिए। जिन लोगों को रक्त के थक्के, परिवार में कैंसर हिस्ट्री, विशेष रूप से स्तन कैंसर, गर्भाशय के कैंसर जैसे हाॅर्मोनल कैंसर या दिल या जिगर की बीमारी, यदि महिला गर्भवती है या कोई व्यक्ति स्ट्रोक से गुजरा है, तो उन लोगों को हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी से बचना चाहिए।

सवाल: क्या बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी (Bio-Identical Hormone Replacement Therapy) ट्रीटमेंट से स्पर्म काउंट बढ़ाने में मदद मिल सकती है?

जवाब: डॉ. रश्मी रॉय बताती हैं कि, ऐसे कई मामले हैं जहां हाॅर्मोनल समायोजन प्रजनन क्षमता में सुधार कर सकते हैं। टेस्टोस्टेरोन जैसे हाॅर्मोन की गिरावट के मूल कारण को देखने के बाद, आहार और जीवन शैली संशोधनों के साथ प्रजनन क्षमता में सुधार के लिए बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी करने की सलाह दी जा सकती है।

हॉर्मोन थेरिपी

सवाल: क्या बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी (Bio-Identical Hormone Replacement Therapy) महिलाओं के लिए सुरक्षित गर्भावस्था की सुविधा देती है?

जवाब: डॉ. रश्मी का कहना है कि, बॉडी आइडेंटिकल माइक्रोनाइज्ड प्रोजेस्टेरोन डॉक्टर की देखरेख में किया जाने वाला उनकी पसंद का उपचार है। यह उन महिलाओं के लिए होता है जो गर्भ धारण करने के लिए तैयार हैं।

और पढ़ें: जानें महिला हार्मोन और ऑटिज्म के बीच क्या है रिश्ता?

सवाल: क्या बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी के बाद पुरुष और महिला बच्चे की योजना बना सकते हैं? यदि हां, तो क्या इसका नवजात शिशु पर कोई प्रभाव पड़ता है?

जवाब: हां, पुरुष और महिला बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी का विकल्प चुन सकते हैं, क्योंकि यह गर्भाधारण की सुविधा देता है। अगर दोनों में से एक को हाॅर्मोन की कमी है, तो ऐसे में यह गर्भावस्था के लिए उपचार के विकल्पों में से एक हो सकता है। इसका आपके शिशु पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है, क्योंकि गर्भवती होने पर एचआरटी महिलाओं को निर्धारित नहीं किया जाता है।

सवाल: क्या अन्य रोगियों को हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट से संतुष्ट किया गया है?

जवाब: यह जरूरी है कि एक चिकित्सक को हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी के बारे में रोगियों के साथ बातचीत करके साझा निर्णय लेना चाहिए। डॉ. रश्मी रॉय बताती हैं कि मेरे अभ्यास में, रोगी थेरिपी के लिए स्वयं ही मान जाते हैं, और जब रोगी इसके लिए तैयार होता है, तो इसका रिजल्ट सक्सेजफुल आता है, शायद इसलिए मुझे रोगियों के साथ संतोषजनक परिणाम मिले हैं।

सवाल: हाॅर्मोन थेरिपी किस प्रकार से उपलब्ध हैं? (How are hormone therapies available?)

जवाब: फिलहाल,सिंथेटिक हाॅर्मोन थेरिपी और बॉडी आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी ये दो प्रकार की हाॅर्मोन थेरिपी उपलब्ध हैं। सिंथेटिक हाॅर्मोन पशु मूत्र से बनाए जाते हैं और अधिकांश रोगियों के लिए स्टैंडर्डजेड खुराक होते हैं। बॉडी आइडेंटिकल हाॅर्मोन शरीर में मां के नेचुरल हाॅर्मोन की नकल करते हैं। बॉडी आइडेंटिकल हाॅर्मोन जेल, क्रीम, पैच, मौखिक गोलियां आदि के रूप में उपलब्ध हैं। यह न केवल सुरक्षित है, बल्कि इसे सिंथेटिक उपचारों की तुलना में अधिक प्रभावी माना गया है। शोध अध्ययनों की एक महत्वपूर्ण संख्या बताती है कि सिंथेटिक हाॅर्मोन की तुलना में बॉडी आइडेंटिकल हाॅर्मोन में दुष्प्रभाव और अन्य नकारात्मक परिणामों की संख्या बहुत कम है।

सवाल: मेनोपॉज (Menopause) के दौरान कुछ महिलाओं को हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी की आवश्यकता क्यों होती है?

जवाब:हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी (एचआरटी) मेनोपॉज के दौरान या निकट एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन के स्तर को संतुलित करने में मदद कर सकती है। मेनोपॉज (रजोनिवृत्ति) हाॅर्मोन थेरिपी के रूप में भी जाना जाता है, एचआरटी वेसोमोटर के लक्षणों को दूर करने में मदद कर सकता है। यह ऑस्टियोपोरोसिस के जोखिम को भी कम कर सकता है। इसके अलावा, कुछ अध्ययनों ने सुझाव दिया है कि यदि इसे सावधानी से किया जाए तो कुछ लोगों में ये एचआरटी मांसपेशियों के कार्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है, साथ ही बीमारियों के जोखिम को कम कर सकता है। युवा मेनोपॉज के बाद महिलाओं में मृत्यु दर कम हो सकता है,बढ़ती उम्र के साथ त्वचा को यंग बनाए रखने में मदद कर सकता है।

और पढ़ें: क्या हार्मोन डायट से कम हो सकता है मोटापा?

सवाल:मेनोपॉज के लक्षणों (symptoms of Menopause) को कम करने के लिए कोई और क्या कर सकता है?

जवाब: मेनोपॉज के लक्षणों को कम करने के तरीके इस प्रकार से हैं।

  • मेनोपॉज के लक्षणों को कम करने के लिए पोषक तत्वों से भरपूर आहार लें, एक रेनवो आहार खाएं जिसमें लाल, पीली और हरी सब्जियां और फल शामिल हों।
  • मेनोपॉज के लक्षणों को कम करने के लिए अच्छी गुणवत्ता वाले प्रोटीन और कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट जैसे ज्वार, बाजरा, रागी आदि खाएं।
  • मेनोपॉज के लक्षणों को कम करने के लिए प्रो-बायोटिक वाले खाद्य पदार्थ जैसे कांजी, दही, मक्खन दूध, आदि का सेवन करें।
  • मेनोपॉज के लक्षणों को कम करने के लिए ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करें जो सोया उत्पाद, सन बीज, टोफू, आदि जैसे फाइटोएस्ट्रोजेन से भरपूर हों।
  • मेनोपॉज के लक्षणों को कम करने के लिए कैफीन, शराब, चीनी, पैकेज्ड और प्रोसेस्ड फूड जैसे ट्रिगर फूड से बचें।
  • मेनोपॉज के लक्षणों को कम करने के लिए हाइड्रेटेड रहना आवश्यक है।
  • मेनोपॉज के लक्षणों को कम करने के लिए मन और शरीर की तनाव कम करने की तकनीक जैसे योग, ध्यान, मालिश, सैर के लिए जाना आदि का अभ्यास करें।

सवाल:क्या बायो आइडेंटिकल हाॅर्मोन- स्टैंडर्ड हाॅर्मोन की तुलना में सुरक्षित हैं? ट्रेडिशनल और बायो आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी की प्रक्रिया में क्या अंतर है? क्या वे समान हैं?

जवाब: बॉडी आइडेंटिकल और सिंथेटिक हाॅर्मोन दोनों ही एक प्रयोगशाला में बनाए जाते हैं। सिंथेटिक हाॅर्मोन प्राकृतिक हाॅर्मोन के समान नहीं हैं, जबकि इसके विपरीत बॉडी आइडेंटिकल हाॅर्मोन मानव हाॅर्मोन अणु से मेल खाते हैं। वे आपके शरीर द्वारा उत्पादित नेचुरल हाॅर्मोन के सटीक संरचनात्मक कॉपी है। अब क्योंकि सिंथेटिक हाॅर्मोन संरचनात्मक प्रतिकृतियां नहीं हैं, इसलिए इसके साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। बायो आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी के मामले में, इसका उपयोग करने से इसके साइड इफेक्ट्स होने की संभावना कम होती है। इस थेरिपी में रोगी के आवश्यकता के अनुसार दवा का डोज निर्धारित किया जाता है। इसलिए यदि किसी प्रकार के साइड इफेक्ट दिखाई देते हैं, तो चिकित्सक द्वारा खुराक को समायोजित किया जा सकता है। सिंथेटिक हाॅर्मोन के साथ, खुराक मानक होते हैं इसलिए अधिकांश रोगियों को एक ही खुराक निर्धारित किया जाता है। इसलिए बायो आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी का सबसे बड़ा सकारात्मक पहलू यह है कि इसकी खुराक को रोगी की आवश्यकता के अनुसार समायोजित किया जा सकता है। आपके लक्षणों के आधार पर, चिकित्सक एचआरटी या बीएचआरटी की सिफारिश कर सकता है।

सवाल:क्या बायो-आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी सभी के लिए सुरक्षित हैं?

जवाब: आमतौर पर बायो आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी सुरक्षित माना जाता है। लेकिन फिर भी इससे बचने के लिए कहा जाता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि वे आपके शरीर में प्राकृतिक हाॅर्मोन की नकल करते हैं, खुराक को जरूरत के अनुसार अनुकूलित किया जाता है और उन्हें एक पौधे के स्रोत से उत्पादित किया जाता है।

सवाल: बायो-आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी की आवश्यकता किसे होती है? (Who needs a Bio Identical Hormone Replacement Therapy?)

जवाब: बायो आइडेंटिकल हाॅर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी आमतौर पर उन लोगों को करवाने की सलाह दी जाती है जो किशोरावस्था में पीसीओएस जैसे हाॅर्मोन असंतुलन, मासिक धर्म की अनियमितता, महिलाओं में प्रजनन संबंधी समस्याओं, पुरुषों में कम एण्ड्रोजन जैसे समस्याओं का सामना करते हैं। जो उनके जीवन की गुणवत्ता को प्रभावित करते हैं जैसे थकान, जलन और कामेच्छा या स्तंभन दोष की समस्या को कम करने में मदद करता है।

और पढ़ें: बच्चों में ग्रोथ हार्मोन की कमी के लक्षण और कारण

सवाल: क्या बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी कराने की कोई निश्चित आयु सीमा है? Is there a fixed age limit for getting bio-Identical hormone replacement therapy?

जवाब: इस थेरिपी के लिए उम्र की कोई निश्चित सीमा नहीं होती है। असल में इसकी जरूरत तब होती है जब हाॅर्मोनल असंतुलन के लक्षण किसी के स्वास्थ्य और आपके जीवन की गुणवत्ता को प्रभावित करते हैं। जैसे 40 साल की उम्र में महिलाओं को एस्ट्रोजन की कमी का अनुभव होता है और पुरुषों में 35 वर्ष की आयु से टेस्टोस्टेरोन की दर में गिरावट देखी जाती है। लेकिन 20 साल से कम उम्र के रोगियों में जब हाॅर्मोनल असंतुलन से संबंधित लक्षणों की बात आती है, तो एचआरटी निर्धारित नहीं की जाती है। इसके लिए वैकल्पिक उपचार की तलाश करते हैं और आहार और जीवन शैली में बदलाव करने की कोशिश करने की सलाह दी जाती है।

सवाल: क्या पुरूष भी बायोआइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी के लिए उम्मीदवार बन सकते हैं?

जवाब: हां, निश्चित रूप से पुरूष बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी के लिए उम्मीदवार हो सकते हैं क्योंकि वे बहुत तनाव से गुजरते हैं, जिसके कारण वो उच्च रक्तचाप, चिंता और टेस्टोस्टेरोन के घटते स्तर का सामना करते हैं, क्योंकि वे एंड्रोपॉज से गुजरते हैं। पुरूष बायो-हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी का विकल्प चुन सकते हैं, जब वे डिसिप्लिडिमिया, उच्च तनाव, थकान, मोटापा, और तनाव जैसे हाॅर्मोनल असंतुलन के कारण जीवन शैली की समस्याओं का सामना करते हैं। इसमें बदलाव के लिए उन्हें इसकी सिफारिश की जा सकती है।

सवाल: बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी के लिए हमें सबसे अच्छा इलाज कहां मिल सकता है? किससे सलाह लेनी चाहिए?

जवाब: जब भी आप कोई उपचार कराते हैं, तो यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि कोई जड़ी बूटी, सप्लीमेंट, या दवा कुछ भी पूरी तरह से सुरक्षित नहीं है। न ही हर व्यक्ति के लिए सभी तरह के उपचार उपयुक्त है। यदि आप हाॅर्मोन थेरिपी कराने के बारे में सोचते हैं, तो हाॅर्मोन स्वास्थ्य में विशेषज्ञ प्रशिक्षण के साथ एक चिकित्सा पेशेवर चुनें, और सुनिश्चित करें कि यह व्यक्ति किसी भी उपचार को निर्धारित करने से पहले आपकी स्थिति और चिकित्सा के इतिहास की सावधानीपूर्वक और पूरी तरह से समीक्षा करता है।

और पढ़ें: Adrenocorticotropic Hormone : एड्रीनोकॉर्टिकोट्रॉपिक हार्मोन क्या है?

सवाल: जब किसी व्यक्ति का हाॅर्मोन गिरता है, तो क्या बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी उसके लिए एकमात्र उपाय या उपचार है?

जवाब: हाॅर्मोनल अधिकता या कमी एक समस्या है, क्योंकि इसका मुख्य कारण यह कि आपके शरीर में कुछ और चल रहा है। इसलिए बात केवल हाॅर्मोन उपचार की नहीं है, इस समस्या का मूल कारण जानने की अत्यधिक जरूरत है। डॉ. रश्मी बताती हैं कि, हम हर मरीज को एचआरटी की सिफारिश नहीं करते हैं, हम जीवनशैली और आहार संशोधनों के साथ शुरू करते हैं और फिर हाॅर्मोन और मेटाबॉलिज्म स्वास्थ्य के कई परीक्षण और एनालिसिस करते हैं। जिससे यह पता चलता है की रोगी को किस प्रकार के इलाज की अधिक आवश्यकता है।

अब तक के विश्लेषण से आशा करते हैं कि बायो-आइडेंटिकल हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी के बारे में आपके मन में उठने वाले सारे सवालों का जवाब मिल गया होगा। ऊपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Hormone replacement therapy (HRT) https://www.nhs.uk/conditions/hormone-replacement-therapy-hrt/Accessed on 14-08-2020

Hormone Therapy to Treat Cancer https://www.cancer.gov/about-cancer/treatment/types/hormone-therapyAccessed on 14-08-2020

Hormone Therapy for Breast Cancer https://www.cancer.org/cancer/breast-cancer/treatment/hormone-therapy-for-breast-cancer.htmlAccessed on 14-08-2020

Hormone Therapy: The Basics https://www.oncolink.org/cancer-treatment/hormone-therapy/hormone-therapy-the-basicsAccessed on 14-08-2020

Dr. Rashmi Rai, Medical head- AGE ÉHANCE CLINIC

लेखक की तस्वीर badge
डॉ. रश्मि राय द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/03/2021 को