पिकी ईटिंग से बचाने के लिए बच्चों को नए फूड टेस्ट कराना है जरूरी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अक्टूबर 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

पेरेंट्स जानते हैं कि उनके बच्चों को क्या खाना चाहिए। बढ़ते बच्चों के लिए समय के साथ उनके आहार को भी बदलना पड़ता है। बच्चों को नए फूड टेस्ट कराने के लिए तैयार करना थोड़ा मुश्किल जरूर हो सकता है। लेकिन, समय से ऐसा करना सही साबित होता है। यह कोई रहस्य नहीं है कि बच्चों को बहुत सारे फल, सब्जियां या अलग-अलग तरह के भोजन खाने चाहिए। पिकी ईटिंग की आदत से बचने के लिए बच्चों को हर तरह का खाना खाने की आदत होनी चाहिए। खाने को लेकर नखरे करना बच्चों के लिए आम बात है। लेकिन, बच्चों को नए फूड टेस्ट कराने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए कुछ आसान टिप्स भी हैं।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

और पढ़ेंः बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवाने के लिए फ्रीज में रखें हेल्दी फूड्स

बच्चों को नए फूड टेस्ट कराने के लिए छोटे पोर्शन दें

आप जब बच्चों को नए फूड टेस्ट करने के लिए तैयार करते हैं, तो शुरुआत छोटे पोर्शन्स से करें। बच्चों को एक साथ ज्यादा खाना देने से वे पहले ही खाने के अमाउंट को देखकर बोर हो जाते हैं। शुरुआत में चाहें दो मटर, एक सेब का टुकड़ा, एक चम्मच दही ही क्यों न हो। खाने की नई चीजें  बच्चों को आसानी से पसंद नहीं आती हैं। बच्चों को नए फूड टेस्ट कराने के लिए तैयार करने से पहले हमेशा ध्यान रखें कि बच्चे खाने की मात्रा देखकर अस्कर आनाकानी करते हैं। लेकिन, कम अमाउंट से शुरुआत करने से इस परेशानी से बचा जा सकता है। ऐसा करने से बच्चों में बचपन से ही खाना बर्बाद न करने की अच्छी सोच भी विकसित होती है।

बच्चों को नए फूड टेस्ट कराने के लिए उसमें उनकी पसंद का भी ध्यान रखें

क्या बच्चे को किशमिश के साथ दलिया पसंद है? अगर उन्हें कुछ ऐसा पसंद हैं, जो ज्यादा हेल्दी नहीं है, तो उसे किसी हेल्दी खाने के साथ बदल दें। बच्चों को नए फूड टेस्ट से परिचित कराने के लिए उनकी पसंद का ध्यान रखना जरूरी है। जैसे अगर आपके बच्चे को मटर के साथ पास्ता पसंद है, तो अगली बार उसे ब्रोकली के साथ मटर देने की कोशिश करें। बच्चों को नए फूड टेस्ट करने के बारे में बताने के लिए उनकी पसंद के साथ वैरायटी देना एक अच्छा विकल्प है। बच्चों को नए फूड टेस्ट की आदत लगाने के लिए उन्हें समझाएं कि नए खाने की चीजें उनके लिए क्यों जरूरी हैं। अगर उनको पता होगा कि आप क्या कर रहे हैं, तो वे धीरे-धीरे नए फूड टेस्ट के भी आदी हो जाएंगे। उन्हें बताएं कि हर रोज अलग-अलग तरह का खाना खाने से उन्हे  खाने की काफी वैरायटी मिलेगी।

और पढ़ेंः बच्चों को सब्जियां खिलाना नहीं है आसान, यूज करें थोड़ी क्रिएटिविटी

बच्चों को नए फूड टेस्ट को अपनाने के लिए भूख भी है जरूरी

अगर आपका बच्चा अचानक रात का खाना ठीक से नहीं खा रहा है, तो उसके दोपहर के खाने को देरी से दें। उन्हें खाना खाने से पहले थोड़ा गैप दें, जिससे उनको खुल कर भूख लगें। अगर आपके बच्चे को भूख नहीं लगी है और आपका खाना बनने में भी थोड़ा समय लग सकता है, तो अपने किचन में पड़े इंग्रीडियेंट से कुछ नया एपेटाइजर बनाएं। बच्चों को खाने में नई चीजें पसंद आती है और उसमें भी अगर खाना देखने में सुंदर है, तो बच्चे न चाहते हुए भी खाते हैं। अगर आपके बच्चे को सच में भूख लगी है, तो उन्हें कुछ सलाद बनाकर दें। यह उनकी भूख भी बढ़ाएगा और आपको खाना पकाने का समय भी देगा।

बच्चे आपकी नकल करते हैं

अपने बच्चे के लिए एक रोल मॉडल बनें और खुद भी स्वस्थ खाएं। खाने की अच्छी आदतें सीखाने की कोशिश करते समय, खुद को सबसे अच्छे उदाहरण के रूप में स्थापित करने का प्रयास करें। अपने बच्चे के लिए पौष्टिक स्नैक्स चुनें, टेबल पर खाना खाएं और कभी भी भोजन खाते समय छोड़ें नहीं। यह खाने की नई चीजें ट्राय करने के अलावा बच्चे को एक अच्छा संस्कार भी देता है।

 और पढ़ेंः बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स आपके लाडले को करते हैं बीमार, कैसे पहचानें यहां जानें?

बच्चों को नए फूड टेस्ट कराने के लिए घर से बाहर निकलें

यह सुनने में थोड़ा अजीब लग सकता है। लेकिन, कई बार आपने देखा होगा घर में जो बच्चा एक रोटी खाता है वह बाहर जाकर ठीक से खाने लगता है। इसका कारण जो भी हो पेरेंट्स के लिए बच्चों को नए फूड टेस्ट कराने के लिए तैयार करना इससे आसान हो सकता है। अगर आपके बच्चे को बाहर बैठकर खाना पसंद है, तो उसे बाहर बिठाकर खाना खिलाएं। बगीचे से सीधी निकाली हुई सब्जियां जैसे- चेरी टमाटर, केल, पालक, लेट्यूस, हरी बीन्स आदि को बच्चे को पेड़ से तोड़कर धोकर खिलाएं। बच्चों को नए फूड टेस्ट कराने के लिए आप उन्हें बाहर ले जाकर सलाद भी खिला सकते हैं। इससे उनके टेस्ट बड एक्टिव होते हैं और जब आप ये चीजें घर में बनाकर देते हैं, तो बच्चे प्यार से खाते हैं।

बच्चों को नए फूड टेस्ट ट्राई करवाते हुए उसके बारे में बताएं

रंग, बनावट, स्वाद और तापमान के बारे में अलग-अलग शब्दों का इस्तेमाल करें। बच्चों को नए फूड टेस्ट कराने के साथ ही उन्हें खाने के बारे में बोलना भी सिखाएं। उनसे पूछें खाना ठंडा या गर्म है? क्या यह कुरकुरा या नरम लगता है? यह किसका पसंदीदा रंग है? यह आपको “पसंद” है या “नापसंद”। ऐसा करने से बच्चों को नए फूड टेस्ट के बारे में जानकर अच्छा लगेगा और वह ज्यादा इंट्रेस्ट के साथ खाना खाएंगे।

बच्चों को नए फूड टेस्ट करने के लिए फोर्स न करें

हर किसी का स्वभाव अलग-अलग होता है। बहुत सारे बच्चों को जब खाना खाने के लिए फोर्स किया जाता है, तो वह इस पर जिद्द करते हैं।  क्योंकि आपका बच्चा शायद किसी भी चीज से ज्यादा कंट्रोल करने की भावना जानता है। बच्चों को कभी भी खाने के लिए फोर्स न करें। जब आप तय करते हैं कि क्या देना है, तो वे तय करते हैं कि क्या और कितना खाना है। अगर वे कुछ भी नहीं खाते हैं, तो परेशान न हों क्योंकि ऐसे दिन होंगे जब उनको खाता हुआ देखकर आप आश्चर्यचकित हो सकते हैं। हमेशा बच्चे की भूख के हिसाब से उसे खाना दें।

और पढ़ेंः बच्चों की गट हेल्थ के लिए आजमाएं ये सुपर फूड्स

नए खाद्य पदार्थों के बारे में बताएं

कोई भी व्यक्ति भोजन को पूरी तरह से आंख बंद करके बिना भोजन के बारे में जाने उसे खाना नहीं चाहता है। जब कोई उसके बारे में विश्वास नहीं दिलाता है कि यह इस प्रकार बना है। खाने में ऐसा लगेगा,तब-तक उसे कोई खाना नहीं चाहता है।इसलिए मां-बाप को भी अपने बच्चे को कुछ खिलाते समय बच्चे को उस आहार की पूर जानकारी देनी चाहिए। कुछ नया चखने से पहले अपने बच्चों को बहुत सारी जानकारी देने की कोशिश करें। यदि वह भोजन कुरकुरा है तो बच्चे को बताएं कि, “यह कुरकुरे है।” या, “इसका स्वाद कल के चिकन की तरह थोड़ा-थोड़ा लगता है। किसी भी भोजन को टेस्ट कराने से पहले उसके बारे में बच्चे को रोमांचक चीजें या सधारण जानकारी जरूर दें।

वीडियो देखें, न्यू मॉम कैसे करें अपनी देखभाल और कैसे अपनाएं अपने नये शरीर को…

बच्चों की नये फूड टेस्ट करने में आनाकानी

लगभग सभी बच्चे नये खाने-पीने की चीजों को लेकर नखरे दिखाते हैं। बच्चों को नए फूड टेस्ट से परिचित कराने के लिए उन्हें ऐसे फल और सब्जियां भी देते रहें, जो आपका बच्चा नियमित रूप से नहीं खाता है। उन्हें अपने परिवार की खाने की आदतों के बारे में बताएं और वैसे ही तैयार करें। हो सकता है आपको यह विश्वास करना मुश्किल लगे कि आपके बच्चों को नये फूड टेस्ट पसंद आएंगे, लेकिन ऐसा होता है। जैसे-जैसे वे नये खाने की चीजों को ट्राय करने से कम झिझकने लगते हैं वे और भी अधिक नये फूड ट्राई करने की कोशिश करते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

अपनी प्लेट उठाना और धन्यवाद कहना भी हैं टेबल मैनर्स

बच्चों को टेबल मैनर्स कैसे सिखाएं, Table Manners in kids, टेबल मैनर्स क्यों जरुरी है, बच्चों को बाहर खाना सिखाएं, क्यों सिखाएं बच्चों को बाहर खाना

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Lucky Singh
बच्चों का पोषण, पेरेंटिंग दिसम्बर 13, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

बच्चों को खड़े होना सीखाना है, तो कपड़ों का भी रखें ध्यान

बच्चों को खड़े होना सीखाना टिप्स क्यों जरूरी है, बच्चों को खड़े होना सीखाना कैसे आसान बनाएं, बच्चों को खड़े होने के लिए जरूरी टिप्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Lucky Singh
पेरेंटिंग टिप्स, पेरेंटिंग दिसम्बर 13, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

बच्चों के लिए सिंपल बेबी फूड रेसिपी, जिन्हें सरपट खाते हैं टॉडलर्स

सिंपल बेबी फूड रेसिपी, सिंपल बेबी फूड रेसिपी कैसे बनाएं, Simple Baby Food Recipes, कैसे बनाएं बेबी फूड, जानें घर पर बनाई जाने वाली रेसिपी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Lucky Singh
बच्चों का पोषण, पेरेंटिंग दिसम्बर 12, 2019 . 5 मिनट में पढ़ें

पिकी ईटर्स के लिए रेसिपी, जो उनको देगीं भरपूर पोषण

पिकी ईटर्स के लिए रेसिपी, पिकी ईटर्स के लिए रेसिपी जो घर पर बनेगी, क्यो खिलाएं पिकी ईटर्स को, Picky Eaters Recipe for food, और जानें

के द्वारा लिखा गया Lucky Singh
बच्चों का पोषण, पेरेंटिंग दिसम्बर 12, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

शिशु को घमौरी-Baby Heat rash

जानें शिशु को घमौरी होने पर क्या करनी चाहिए?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shivam Rohatgi
प्रकाशित हुआ अप्रैल 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Roseola- रास्योला

Roseola: रोग रास्योला?

के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रकाशित हुआ अप्रैल 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
डाउन सिंड्रोम की समस्या

डाउन सिंड्रोम की समस्या से जूझ रहे लोगों के सामने जानिए क्या होते हैं चैलेंजेस

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ मार्च 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Baby Food Allergy/बच्चों में फूड एलर्जी

बच्चों में फूड एलर्जी का कारण कहीं उनका पसंदीदा पीनट बटर तो नहीं

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Lucky Singh
प्रकाशित हुआ दिसम्बर 13, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें