home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

पेंटाक्सिम वैक्सीन: जानिए क्या हैं इस वैक्सीन के फायदे और साइड इफेक्ट्स?

पेंटाक्सिम वैक्सीन: जानिए क्या हैं इस वैक्सीन के फायदे और साइड इफेक्ट्स?

बच्चों की सुरक्षा और देखभाल हर माता-पिता की पहली जिम्मेदारी और मुख्य चिंता का विषय होते हैं। छोटे बच्चों की इम्युनिटी बेहद कमजोर होती है। जिसकी वजह से बच्चे बहुत जल्दी बीमार पड़ते हैं। इसलिए, उनका इन बीमारियों से इम्यून होना जरूरी है। इम्युनिजेशन का अर्थ है प्रोटेक्शन यानी सुरक्षा। वैक्सीनेशन बच्चों को संक्रामक बीमारियों से बचाने का सबसे सुरक्षित और प्रभावी तरीका है। जन्म के बाद से ही बच्चों को कई वैक्सीन्स लगाई जाती हैं, ताकि भविष्य में वो अधिक बीमार न पड़ें। एक ऐसी ही वैक्सीन को पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) कहा जाता है। आइए जानें पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) के बारे में विस्तार से। इसके फायदों के बारे में जानना न भूलें।

पेंटाक्सिम वैक्सीन क्या है? (Pentaxim vaccine)

पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) वो दवा है, जिसमें कई दवाओं का संयोजन होता है। यह दवाईयां कई समस्याओं के उपचार के लिए प्रयोग की जाती हैं जैसे इन्फ्लुएंजा, टिटनेस, पोलियो, डिप्थीरिया, काली खांसी आदि। यह वैक्सीन इम्युनिटी डेवेलप करने में मदद करती है। इससे भविष्य में इंफेक्शंस से बचाव हो सकता है। लेकिन, इस वैक्सीन को अपने बच्चों को लगवाने से पहले इसके बारे में पूरी जानकारी अवश्य ले लें। अपने बच्चे को इस वैक्सीन को तभी लगवाएं अगर डॉक्टर ने इसकी सलाह दी हो।

इसके कारण कई साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं जैसे रिएक्शन, उल्टी आना, डायरिया, बुखार, स्लीप डिसऑर्डर (Sleep Disorders) आदि। यही नहीं, अगर वयस्क इस वैक्सीन को ले रहे हैं तो उन्हें कुछ चीजों का खास ध्यान रखना चाहिए जैसे ब्रेस्टफीडिंग मदर्स या लिवर व किडनी की समस्या से पीड़ित लोग इसे लेने से बचें। इसके साथ ही इस दवाई को लेते हुए एल्कोहॉल का सेवन करने से बचना चाहिए। अब जानिए इसके फायदों के बारे में।

और पढ़ें: ट्रायकसपिड वॉल्व एंडोकार्डाइटिस : इस तरह से पहचानें दिल के इस इंफेक्शन के संकेतों को!

पेंटाक्सिम वैक्सीन के फायदे क्या हैं? (Benefits of Pentaxim vaccine)

यू.एस. डिपार्टमेंट ऑफ़ हेल्थ & ह्यूमन सर्विसेज (U.S. Department of Health & Human Services) के अनुसार वैक्सीनेशन शिशु को बीमारियों से बचाने में प्रभावी हैं। यही नहीं यह उन बीमारियों से भी बच्चों की सुरक्षा करती है जो जानलेवा हैं। अन्य वैक्सीन्स या दवाईयों की तरह पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) के कई लाभ हैं। जानिए क्या हैं इसके फायदे:

टिटनेस से बचाव (Prevention of Tetanus)

टिटनेस एक गंभीर बैक्टीरियल इंफेक्शन है। यह नर्वस सिस्टम को प्रभावित करता है और शरीर के मसल्स को सख्त और स्टिफ बना सकता है। पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) टिटनेस इंफेक्शन से बचाने में लाभदायक है। यह वैक्सीन इम्यून सिस्टम की एंटीबॉडीज प्रोड्यूस करने में मदद करती है ताकि टिटनेस इंफेक्शन से लड़ा जा सके। हालांकि, इससे लाइफलॉन्ग सुरक्षा नहीं मिलती है और इसके लिए बूस्टर की सलाह भी दी जाती है। लेकिन, इस वैक्सीन के प्रयोग से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

डिप्थीरिया से सुरक्षा (Diphtheria)

डिप्थीरिया एक बैक्टीरियल इंफेक्शन है, जो गले में दर्द और सूजन का कारण बन सकता है। इसके कारण सांस लेने में समस्या हो सकती है। यही नहीं, इससे हार्ट, किडनी और नर्वज भी डैमेज हो सकते हैं। डिप्थीरिया में पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) का प्रयोग फायदेमंद हो सकता है। इसकी सही डोज के बारे में भी जानकारी होना आवश्यक है।

पेंटाक्सिम वैक्सीन

और पढ़ें: दिल से जुड़ी तकलीफ ‘मायोकार्डियम इंफेक्शन’ बन सकती है परेशानी का सबब, कुछ ऐसे रखें अपना ख्याल!

इन्फ्लुएंजा (Influenza)

इन्फ्लुएंजा (Influenza) यानि फ्लू एक वायरल इंफेक्शन है जो हमारे रेस्पिरेटरी सिस्टम पर अटैक करता है और इसे फ्लू भी कहा जाता है। पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) इन्फ्लुएंजा वायरस (Influenza Virus) से प्रोटेक्ट करती है। हालांकि, यह प्रोटेक्शन भी लाइफ लॉन्ग नहीं है और इस वैक्सीन को हर साल लेने की जरूरत हो सकती है। लेकिन, कुछ हद तक यह वैक्सीन भी इसमें लाभदायक साबित हो सकती है।

काली खांसी (Pertussis)

काली खांसी एयरवेज़ में होने वाला इंफेक्शन है, जो किसी भी उम्र में हो सकता है। लेकिन, नवजात शिशुओं और छोटे बच्चों में यह समस्या बहुत सामान्य है। इसके कारण खांसी की समस्या अधिक होती है और सांस लेने में भी समस्या होती है। छोटे बच्चों को दो महीने की उम्र में पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) की डोज की जरूरत होती है। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से पहले ही पूछ लें।

पोलियो (Polio)

पोलियो एक जानलेवा बीमारी है, जो पोलियो वायरस के कारण होती है। यह एक व्यक्ति से दूसरे में फ़ैल सकती है और प्रभावित व्यक्ति के दिमाग और स्पाइनल कॉर्ड पर असर डाल सकती है। जिसके कारण पैरालिसिस हो सकता है। पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) का इस्तेमाल पोलियो वायरस से सुरक्षा के लिए किया जा सकता है। यह शरीर में एंटीबॉडीज को प्रोड्यूस करने के लिए इम्यून सिस्टम की मदद करती है जिससे वायरस से लड़ने में मदद मिलती है। यह तो थे इस वैक्सीन के लाभ। अब जानिए यह वैक्सीन कैसे काम करती है?

और पढ़ें: Yellow fever vaccine side effects: वैक्सीनेशन से पहले जानें येलो फीवर वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स के बारे में!

पेंटाक्सिम वैक्सीन कैसे काम करती है?

पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) पांच वैक्सीन्स का कॉम्बिनेशन है। यह एक हल्के संक्रमण की शुरुआत करके इम्युनिटी विकसित करने में मदद करती हैं। इस तरह के इंफेक्शन किसी बीमारी का कारण नहीं बनते हैं, लेकिन, इसके प्रयोग से भविष्य में किसी भी संक्रमण से बचाने के लिए एंटीबॉडी (प्रोटीन) का उत्पादन करने के लिए शरीर की इम्यून सिस्टम (Immune system) स्टिमुलेट होता है। इस वैक्सीन से पहले डॉक्टर से इसके बारे में पूरी जानकारी लेना आवश्यक है। अब जानिए इस वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स के बारे में।

और पढ़ें: बैक्टीरियल एंडोकार्डाइटिस (Bacterial endocarditis): हार्ट में होने वाला ये इंफेक्शन हो सकता है जानलेवा

पेंटाक्सिम वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स (Side effects of Pentaxim vaccine)

पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) के कारण होने वाले अधिकतर साइड इफेक्ट्स में मेडिकल हेल्प की जरूरत नहीं होती है। यह दुष्प्रभाव माइल्ड होते हैं और खुद ही कुछ दिनों में गायब हो जाते हैं। लेकिन, अगर यह समस्याएं ठीक नहीं होती हैं या परेशानी बढ़ जाए, तो डॉक्टर की सलाह जरूरी है। जानिए इस वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स कौन से हैं:

  • भूख में कमी (Loss of appetite)
  • नर्वसनेस (Nervousness)
  • बच्चे का असामान्य रोना (Unusual crying)
  • नींद न आना (Sleepiness)
  • उल्टी आना (Vomiting)
  • इंजेक्शन साइट पर रेडनेस (Injection site redness)
  • इंजेक्शन साइट पर सूजन (Injection site swelling)
  • इंजेक्शन साइट में दर्द (Injection site pain)
  • बुखार (Fever)
  • डायरिया (Diarrhea)
  • स्लीप डिसऑर्डर (Sleep disorder)

पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) की सलाह उन बच्चों एक लिए नहीं दी जाती है जिन्हें इस वैक्सीन या इसके कंपोनेंट्स से एलर्जी हो। अगर किसी बच्चे को एक्यूट इलनेस हो या वो इंसेफेलाइटिस (Encephalopathy) से पीड़ित हों, तो इस स्थिति में भी इसकी सलाह नहीं दी जाती है। पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) को लेकर कई बातों का ध्यान रखना जरूरी है। यह कुछ खास बातें इस प्रकार हैं:

और पढ़ें: बैक्टीरियल जॉइन्ट इन्फ्लेमेशन! जानिए दर्द और इंफेक्शन से जुड़ी इस तकलीफ को

पेंटाक्सिम वैक्सीन के लिए इन बातों का ध्यान

पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) की सलाह बच्चों ही नहीं बल्कि वयस्कों को भी दी जा सकती है। लेकिन, बिना डॉक्टर की सलाह के इस वैक्सीन को लेने से बचें। इसके साथ ही इन बातों का भी ध्यान रखना जरूरी है:

  • अगर आपके बच्चे का इम्यून सिस्टम कमजोर है, तो भी इस वैक्सीन को दिया जा सकता है। लेकिन, अपने बच्चे की हेल्थ कंडिशन के बारे में अवश्य बताएं।
  • अगर आपके बच्चे को इस वैक्सीन के किसी कॉम्पोनेन्ट से एलर्जी है, तो भी इस वैक्सीन से बचें।
  • यह वैक्सीन प्रेग्नेंसी में अनसेफ हो सकती है। हालांकि इसके बारे में पर्याप्त सुबूत मौजूद नहीं हैं कि इसका भ्रूण पर क्या असर होता है। इसके बारे में डॉक्टर से अवश्य बात करें।
  • पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) को ब्रेस्टफीडिंग में सुरक्षित माना जाता है। इसके साथ ही किडनी और लिवर संबंधी डिजीज (Liver disease) में भी इसे सुरक्षित माना जाता है।
  • इस वैक्सीन को लेने से पहले डॉक्टर को अपनी मेडिकल कंडीशंस के बारे में अवश्य बताएं। इसके साथ ही उन दवाईयों के बारे में भी बताएं जिनका सेवन आप कर रहें हैं। क्योंकि, कुछ मेडिकल कंडीशंस और दवाईयों के साथ इन YE दवा इंटरैक्ट कर सकती है। जिनके कारण गंभीर साइड इफेक्ट्स होने की संभावना बढ़ सकती है।

प्रेग्नेंसी में टीकाकरण की क्यों होती है जरूरत ?

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id="typef_orm", b="https://embed.typeform.com/"; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,"script"); js.id=id; js.src=b+"embed.js"; q=gt.call(d,"script")[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()

और पढ़ें: Indirab vaccine: रेबीज के वायरल इंफेक्शन से बचने के लिए जरूर जानिए इस वैक्सीन के बारे में!

यह तो थी पेंटाक्सिम वैक्सीन (Pentaxim vaccine) के बारे में जानकारी। यह वैक्सीन बच्चों और वयस्कों के लिए सेफ और प्रभावी है। हालांकि, कुछ लोग इस वैक्सीन को लेने के बाद हल्के दुष्प्रभावों का अनुभव कर सकते हैं। इस वैक्सीन लेने से पहले डॉक्टर से इसके बारे में पूरी जानकारी लें। अगर आपको इस वैक्सीन को लेने के बाद कोई भी समस्या होती है तो तुरंत मेडिकल हेल्प लें। ध्यान रखे कि दवाईयां या वैक्सीनेशन उपचार का केवल एक हिस्सा हैं। अगर आप हेल्दी रहना चाहते हैं तो स्वस्थ जीवनशैली अपनाएं। इसके लिए सही आहार का सेवन करें, पर्याप्त नींद लें, तनाव से बचें, नियमित व्यायाम करें आदि।

आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Study of a Booster Injection of Pentaxim.https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT01411241 .Accessed on 26/10/21

Vietnam Imports 40,000 Doses of France-made Pentaxim Vaccine. https://www.ngocentre.org.vn/news/vietnam-imports-40000-doses-france-made-pentaxim-vaccine .Accessed on 26/10/21

PENTAXIM.https://quest3plus.bpfk.gov.my/front-end/attachment/679/pharma/209956/V_28499_20190314_135911_D3.pdf .Accessed on 26/10/21

Vaccination Packages for Baby. https://www.mission-hospital.org/en/packages/116-articles/1001-vaccination-packages-for-baby.html .Accessed on 26/10/21

vaccine (Pentaxim) booster. https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19323013/ .Accessed on 26/10/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड