home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

इन 8 फोलेट रिच फूड में छिपा है हेल्दी प्रेग्नेंसी🤰🏻 का राज!

इन 8 फोलेट रिच फूड में छिपा है हेल्दी प्रेग्नेंसी🤰🏻 का राज!

कहते हैं किसी भी काम की अगर नीव मजबूत हो, तो उसका भविष्य अच्छा होता है। अब प्रेग्नेंसी (Pregnancy) के साथ भी ऐसा ही कुछ है, क्योंकि ये 9 महीने का वक्त भी कुछ ऐसा ही है। दरअसल प्रेग्नेंसी की शुरुआत से ही गर्भवती महिला को अपना विशेष ध्यान रखना पड़ता है, जिससे वो और गर्भ में पल रहा शिशु दोनों स्वस्थ रहे है। नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार गर्भावस्था के दौरान फोलिक एसिड (Folic acid) गर्भवती महिला और भ्रूण दोनों के लिए बेहद जरूरी है। इसलिए प्रेग्नेंसी के पहले तिमाही में फोलेट रिच फूड का सेवन करना बेहद जरूरी माना गया है। आज इस आर्टिकल में प्रेग्नेंट लेडी के लिए फोलेट रिच फूड (Folate rich foods) से जुड़ी कंप्लीट इन्फॉर्मेशन आपके लिए लेकर आएं हैं।

और पढ़ें : बच्चे का साइज कैसे बढ़ता है गर्भावस्था के दौरान?

प्रेग्नेंसी में फोलेट रिच फूड क्यों आवश्यक होता है? (Folate rich foods during pregnancy)

फोलेट रिच फूड (Folate rich foods)

नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार प्रेग्नेंसी में फोलेट रिच फूड मिसकैरिज (Miscarriage) और न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट (Neural tube defects) की संभावनाओं को कम करने का काम करता है। दरअसल गर्भावस्था प्रेग्नेंसी में फोलेट की कमी की वजह से बच्चे में स्पिना बिफिडा (Spina bifida) की समस्या हो सकता है, तो वहीं रिसर्च रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि महिला को कंसीव करने से पहले से भी फोलेट रिच फूड का सेवन शुरू कर देना चाहिए। अगर आप गर्भवती हैं और आपने फोलेट रिच फूड का सेवन शुरू नहीं किया है, तो प्रेग्नेंसी की शुरुआत से ही फोलेट रिच फूड का सेवन करना शुरू कर दें। आर्टिकल में आगे जानेंगे प्रेग्नेंसी में कौन-कौन से खाद्य पदार्थों का सेवन किया जाए, जिसमें नैचुरल तरीके से फोलेट (Folate) की प्राप्ति हो।

और पढ़ें : 9 मंथ प्रेग्नेंसी डायट चार्ट: इन पौष्टिक आहार से जच्चे-बच्चे को रखें सुरक्षित

फोन का इस्तेमाल इन दिनों सामान्य है, लेकिन अगर आप प्रेग्नेंट हैं, तो नीचे दिए इस क्विज को जरूर खेलें और प्रेग्नेंसी के दौरान फोन के इस्तेमाल से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियों को जानिए।

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id="typef_orm", b="https://embed.typeform.com/"; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,"script"); js.id=id; js.src=b+"embed.js"; q=gt.call(d,"script")[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()
powered by Typeform

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में पोषक तत्वों की कमी हो सकती है भारी, इन न्यूट्रिशन को शामिल करें अपने प्लेट में जरूर!

प्रेग्नेंसी में फोलेट रिच फूड में खाएं ये खाद्य पदार्थ (List of Folate rich foods)

प्रेग्नेंसी के दौरान फोलेट रिच फूड के लिए डायट में निम्नलिखित खाद्य पदार्थों को शामिल करें। जैसे:

  1. फलियां (Legumes)
    फोलेट रिच फूड (Folate rich foods)

    प्रेग्नेंट लेडी के लिए फोलेट रिच फूड के लिए डायट में नियमित फलियों जैसे बीन्स (Beans), मटर (Peas) एवं लेनटिल्स (Lentils) का सेवन करें। रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार फलियों (Legumes) में प्रोटीन (Protein), फाइबर (Fiber) और एंटीऑक्सिडेंट (Antioxidant) की प्रचुर मात्रा मौजूद होती है। गर्भवती महिलाओं को अपने आहार में फलियों को शामिल जरूर करना चाहिए।

  2. हरी पत्तेदार सब्जियां (Leafy greens)
    फोलेट रिच फूड (Folate rich foods)

    गर्भवती महिलाओं को अपने आहार में ताजी हरी पत्तीदार साजियों को नियमित एवं संतुलित मात्रा में सेवन करना चाहिए। हरी पत्तेदार सब्जियां फोलेट रिच फूड की पूर्ति में सहायक मानी जाती है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को पालक (Spinach) एवं काले (Kale) का सेवन करने से लाभ मिल सकता है।

  3. बीटरूट (Beetroot)
    फोलेट रिच फूड (Folate rich foods)

    फोलेट रिच फूड की लिस्ट में बीटरूट को शामिल करें। बीटरूट में मैग्नेशियम (Manganese), पोटैशियम (Potassium) एवं विटामिन सी (Vitamin C) की मौजूदगी गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे शिशु दोनों के लिए लाभकारी है।

  • खट्टे फल (Citrus fruits)
    फोलेट रिच फूड (Folate rich foods)

    गर्भवती महिलाओं को फोलेट रिच फूड (Folate rich foods) के लिए अपने डेली डायट में खट्टे फलों को शामिल करना चाहिए। ऐसे में संतरा (Oranges), अंगूर (Grapefruit), नींबू (Lemon) एवं कीवी (Kiwi) जैसे फलों को शामिल करना चाहिए।

  • ब्रोकली (Broccoli)

    फोलेट रिच फूड (Folate rich foods)ब्रोकली मैंगनीज़ (Manganese), विटामिन सी (Vitamins C), विटामिन के (Vitamin K) एवं विटामिन ए (Vitamin A) रिच होता है, जो गर्भवती महिलाओं के लिए फोलेट रिच फूड भी है। ब्रोकली को स्टीम कर सेवन करने से शरीर को फोलेट की प्राप्ति होती है।

  • एवोकैडो (Avocado)

    फोलेट रिच फूड (Folate rich foods)
    एवोकैडो में एक नहीं, बल्कि कई आवश्यक पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जैसे पोटैशियम (Potassium) और फोलेट (Folate) और ये दोनों ही गर्भ में पल रहे शिशु के विकास के लिए बहुत जरूरी होता है। गर्भावस्था की पहली तिमाही के साथ-साथ तीसरे तिमाही के वक्त में भी एवोकैडो का सेवन करने के लिए ज्यादा कहा जाता है। गर्भवती महिलाओं के लिए भी यह लाभकारी माना गया है, क्योंकि इसमें मौजूद विटामिन और मिनरल प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे बच्चे दोनों के लिए बेहद जरूरी है।

  • नट्स एवं सीड्स (Nuts and seeds)
    फोलेट रिच फूड (Folate rich foods)

    गर्भवती महिलाओं को फोलेट रिच फूड के लिए संतुलित मात्रा में नट्स एवं सीड्स (Nuts and seeds) का सेवन करना चाहिए। नट्स और सीड्स के सेवन से शरीर को फाइबर (Fiber) विटामिन्स (Vitamins) और मिनिरल्स (Minerals) की पूर्ति होती है।

  • अंडा (Egg)

    फोलेट रिच फूड (Folate rich foods)

    फोलेट रिच फूड में अंडे को भी शामिल किया गया है। अगर आपको अंडा खाना पसंद है, तो इसे अपने डायट में जरूर शामिल करें, क्योंकि अंडे में फोलेट की मात्रा ज्यादा होती है। गर्भवती महिलाएं उबले अंडे या अंडे से बनी और डिश को भी अपने डायट में शामिल कर सकती हैं।

  • इन ऊपर बताये आठ खाद्य पदार्थों में फोलेट की मात्रा उच्च होती हैं, जो गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे शिशु दोनों के लिए लाभकारी होते हैं। अगर नैचुरल तरीके से गर्भवती महिला को फोलेट की पूर्ति नहीं होती है, तो ऐसे में गायनोकोलॉजिस्ट फोलेट टेबलेट प्रिस्क्राइब कर सकते हैं।

    नोट: गर्भवती महिलाओं को अपनी मर्जी से किसी टेबलेट या दवाओं का सेवन नहीं करना चाहिए। पहले डॉक्टर से कंसल्ट करें और फिर दवाओं का सेवन करें।

    और पढ़ें : प्रसव के बाद किस तरह से जरूरी है पोस्टनेटल विटामिन्स? क्या आप जानते हैं इनका महत्व?

    वजायनल बर्थ (Vaginal birth) से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए नीचे दिए इस 3D मॉडल पर क्लिक करें।

    और पढ़ें : प्रेग्नेंट होने के लिए सेक्स के अलावा इन बातों का भी रखें ध्यान

    फोलेट की कमी से होने से क्या परेशानी हो सकती है? (Deficiency of Folate rich foods)

    अगर गर्भवती महिलाओं में फोलेट की कमी हो जाये, तो इससे निम्नलिखित परेशानी हो सकती है। जैसे:

    • न्यूरल ट्यूब डिफिसिएट्स (NTDs) की समस्या।
    • बच्चे को क्लेफ्ट लिप (Cleft lip) होना।
    • क्लेफ्ट पेलेट (Cleft palate) की समस्या होना।
    • समय से पहले शिशु का जन्म होना।
    • नवजात का वजन (Weight) कम होना।
    • गर्भावस्था में शिशु का ठीक तरह से विकास (Growth) नहीं हो पाना।
    • मिसकैरिज या गर्भपात (Miscarriage) होना।

    ऐसी किसी भी परिस्थिति से बचने के लिए डॉक्टर से हमेशा कंसल्ट में रहें और हेल्दी डायट फॉलो करें।

    नोट: फोलेट (Folate) और फोलिक एसिड (Folic acid) को लोग अक्सर एक ही समझते हैं ,लेकिन ये एक नहीं होता है। इसलिए अगर गर्भवती महिलाओं को डॉक्टर से अपने डायट के बारे में जरूर कंसल्ट करना चाहिए। ऐसा करने से प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले कॉम्प्लिकेशन (Pregnancy complication) को कम करने में मदद मिल सकती है।

    और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान काम कर रही हैं तो ध्यान रखें ये बातें

    प्रेग्नेंसी के दौरान फोलेट की कमी के लक्षण क्या हैं? (Deficiency of Folate)

    गर्भावस्था के दौरान फोलेट की कमी होने पर निम्नलिखित लक्षण देखे या समझे जा सकते हैं। जैसे:

    • चेहरे का रंग हल्का (Pale skin) पड़ना।
    • भूख (Appetite) नहीं लगना।
    • चिड़चिड़ापन (Irritable) महसूस होना।
    • शरीर में एनर्जी (Energy) महसूस नहीं करना।
    • डायरिया (Diarrhea) होना।

    ऐसे लक्षण फोलेट की कमी की ओर इशारा करते हैं। हालांकि कई बार ऐसे लक्षणों को गर्भवती महिला सामान्य समझकर इग्नोर कर देती हैं, जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए।

    अगर आप प्रेग्नेंसी में फोलेट रिच फूड से जुड़ी किसी तरह की कोई जानकारी पाना चाहते हैं, तो हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं हमारे हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों का जवाब देंगे। हालांकि अगर आप गर्भवती हैं और फोलेट रिच फूड का सेवन करना चाहती हैं, तो इसकी सलाह अपने गायनोकोलॉजिस्ट से जरूर लें। क्योंकि हेल्थ एक्सपर्ट आपकी सेहत को ध्यान में रखकर फोलेट रिच फूड या फिर जरूरत पड़ने पर फोलिक एसिड टेबलेट्स (Folic acid tablet) के सेवन की सलाह दे सकते हैं।

    विभिन्न प्रसव प्रक्रिया का स्तनपान (Breastfeeding) और रिश्ते पर कैसा प्रभाव पड़ता है। यह जानने के लिए नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक करें।

    health-tool-icon

    ड्यू डेट कैलक्युलेटर

    अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

    सायकल लेंथ

    28 दिन

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Folate and pregnancy/https://www.pregnancybirthbaby.org.au/folate-and-pregnancy/Accessed on 19/07/2021

    Pregnancy diet: Focus on these essential nutrients/https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/pregnancy-week-by-week/in-depth/pregnancy-nutrition/art-20045082/Accessed on 19/07/2021

    Nutrition During Pregnancy/https://www.acog.org/womens-health/faqs/nutrition-during-pregnancy/Accessed on 19/07/2021

    Folic acid and pregnancy/https://kidshealth.org/en/parents/preg-folic-acid.html/Accessed on 19/07/2021

    Folate/https://ods.od.nih.gov/factsheets/Folate-HealthProfessional/Accessed on 19/07/2021

    Folic acid/https://www.marchofdimes.org/pregnancy/folic-acid.aspx/Accessed on 19/07/2021

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/07/2021 को
    डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड