home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार जो हर ट्राइमेस्टर में होते हैं अलग, जानें क्या है इनका मतलब

प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार जो हर ट्राइमेस्टर में होते हैं अलग, जानें क्या है इनका मतलब

प्रेग्नेंसी के दौरान बॉडी कई शारीरिक परिवर्तनों से गुजरती है। ये बदलाव हॉर्मोन में होने वाले परिवर्तनों के कारण होते हैं। जो इस अवस्था में आने वाले सपनों को प्रभावित करते हैं। प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार बहुत होते हैं लेकिन इसका मतलब और इसकी वजह क्या होती है इसके बारे में जानना जरूरी है। प्रेग्नेंसी के दौरान आप सपनों से जुड़े कई अनुभवों से घिर सकती है।

प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार के बारे में बताते हुए प्रोफेशनल ड्रीम एनालिस्ट और ‘ड्रीम ऑन इट’ के ऑथर लॉरेंस लोवेनबर्ग ने बताया है कि, प्रेग्नेंट होने के सपने आना वास्तव में यह बताता है कि आप सच में गर्भवती हैं या आपकी बायलॉजिकल क्लॉक शुरू कर रही है। हालांकि, ज्यादातर समय, गर्भवती होने का सपना देखना एक सकारात्मक संकेत है कि आप अपने जीवन में प्रगति और विकास का अनुभव कर रहे हैं।”

और पढ़ें: पीसीओएस के साथ गर्भवती होने में कितना समय लगेगा?

प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार

प्रेग्नेंसी ड्रीम्स सभी महिलाओं के लिए अलग होते हैं। यही नहीं गर्भावस्था के दौरान प्रेग्नेंट महिलाओं को आने वाले सपने बदलते भी रहते हैं।

गर्भावस्था के दौरान आने वाले सपनें निम्नलिखित प्रकार के हो सकते हैं :

और पढ़ें: गर्भावस्था के दौरान इन 10 बातों का रखें ख्याल

  • विविड ड्रीम्स
  • बुरे सपने
  • चिंता आधारित सपने
  • एक ही सपना बार-बार देखना
  • सपनों को अधिक स्पष्ट रूप से याद रखने की क्षमता विकसित होना

प्रेग्नेंसी स्टेज के अनुसार जानें प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार अलग हो जाते हैं।

  • फर्स्ट ट्राइमेस्टर में प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार:

गर्भावस्था के पहले कुछ हफ्तों के दौरान गर्भवती महिलाएं आमतौर पर मछली और अन्य जलीय जीवों के बारे में सपने देखती हैं। लोवेनबर्ग के अनुसार, इस प्रकार के सपने भ्रूण की स्थिति को दर्शाते हैं। गर्भावस्था के दौरान वनस्पति के बारे में सपने देखना भी आम है, क्योंकि यह फर्टिलाइजेशन सिस्टम का संकेत देता है।

गर्भवती होने के दौरान अपनी खुद की मां के सपने देखना भी बहुत आम है। यह मॉम के रूप में आपकी नई भूमिका की ओर इशारा करता है। लोवेनबर्ग कहते हैं “अगर गर्भवती महिला सपने में मां को देखती है तो इसका मतलब है कि आप अपनी गर्भावस्था के बारे में सकारात्मक महसूस कर रही हैं। यदि सपने में मां नकारात्मक दिखती है तो इसका मतलब है कि आपको गर्भावस्था को लेकर किसी बात की चिंता है।

इसके अलावा प्रेग्नेंट महिलाएं बच्चे को जल्द-से-जल्द जन्म देना, नदी में बहना (गर्भाशय में फ्लूइड की मात्रा बढ़ने के कारण), ऊंचाई से गिरना, अंधेरी जगहों पर भटकना आदि ऐसे सपने भी देखती हैं।

और पढ़ें: क्या है प्रेग्नेंट होने का प्रॉसेस है? जानिए कैसे होता है भ्रूण का निर्माण

  • प्रेग्नेंसी की दूसरी तिमाही में प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार:

दूसरे ट्राइमेस्टर में महिलाओं को आमतौर पर पपीज और अन्य जीवों के सपने आते हैं। जो भ्रूण की स्थिति का प्रतिनिधित्व करते हैं। कुछ महिलाएं सी थ्रू बेली का सपना भी देखती है। जिसका मतलब है कि वे बच्चे को देखने के लिए इंतजार नहीं कर पा रही हैं।

इस दौरान आने वाले प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार हैं-

खरगोश को जन्म देना– क्योंकि ये प्यारे होते हैं, और आप चाहती हैं कि आप एक प्यारे शिशु को जन्म दें।

हाथों में व्यंजन की थालीगर्भावस्था के दौरान महिलाओं में खाने की प्रबल इच्छा जागी होती है।

आप किसी अनूठी दुनिया में हैं– दूसरी तिमाही के दौरान आप खूबसूरत दुनिया को सपने में देखती हैं क्योंकि शिशु के जन्म के बाद आप की दुनिया बदलने वाली है।

  • प्रेग्नेंसी की तीसरी तिमाही में प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार:

इस समय गर्भवती महिला अधिक बेचैनी महसूस करती है। सांस फूलने की समस्या आम हो जाती है। क्योंकि गर्भ में शिशु का विकास पूरी तरह हो चुका होता है। इस समय तक शिशु लात मारने जैसे मूवमेंट करने लगता है।

इस दौरान प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार निम्नलिखित हो सकते हैं:

लंबे सिर का बच्चा– डिलिवरी के दौरान होने वाली प्रसव पीड़ा से सभी महिलाओं को डर लगता है। इसलिए ऐसे सपने आना आम बात हो सकती है।

बागों और फूलों के सपने– अगर गर्भवती महिला की इच्छा लड़की को जन्म देने की हो तो ऐसे सपने आते हैं।

किसी खेल में जीतने के सपनेशिशु के जन्म के बाद मातृत्त्व सुख की अनुभूति के कारण इस तरह के सपने आते हैं।

और पढ़ें: दूसरे ट्राइमेस्टर में प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए बेस्ट हैं ये रेसिपीज, बनाना भी है बेहद आसान

प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार के संभावित कारण:

शरीर गर्भावस्था के दौरान कई परिवर्तनों से गुजर रहा होता है और आपकी भावनात्मक, शारीरिक और मानसिक स्थिति उनसे जुड़ी रहती है। जबकि गर्भावस्था के सपने कई वैज्ञानिक क्षेत्रों में शोध का विषय बने हुए हैं।

हार्मोनल कारण:

प्रेग्नेंसी के दौरान आने वाले सपनों का एक कारण हार्मोन उत्पादन में वृद्धि भी है। गर्भावस्था के दौरान आप पाएंगे कि हार्मोन भावनाओं और आपकी मानसिक स्थिति को प्रभावित करते हैं। वे आपके मस्तिष्क को जानकारी और भावनाओं को स्टोर करने के तरीके को भी प्रभावित कर सकते हैं। संभवतः जब आप गर्भवती होती हैं तो हार्मोनल कारणों से सपने लगातार आते हैं। प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार पर आपके हार्मोन का काफी असर होता है।

नींद की कमी:

जब आप नियमित रूप से अच्छी नींद नहीं ले पातीं या रात में देर तक जगती हैं। इस दौरान बेचैनी बार-बार यूरिन पास करने की इच्छा आपके रैपिड आई मूवमेंट (आरईएम) नींद को प्रभावित करता है। रैपिड आई मूवमेंट की वजह से ही सपने आते हैं। यह सपने को याद रखने की आपकी क्षमता को भी प्रभावित कर सकता है। नींद की कमी के कारण भी प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार में बदलाव आता है।

अधिक चिंता:

गर्भावस्था के समय आप अपने को अधिक तनाव या चिंता के अधीन पाती हैं। इससे गर्भावस्था के दौरान आपको अधिक या बुरे सपने देखने आते हैं। प्रेग्नेंसी ड्रीम्स के प्रकार का एक कारण तनाव भी होता है।

उम्मीद करते हैं कि अब आप गर्भावस्था के वक्त आने वाले सपनों के विज्ञान समझ गए होंगे। इनको लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और प्रेग्नेंसी ड्रीम्स से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Pregnancy Dreams/https://americanpregnancy.org/your-pregnancy/pregnancy-dreams/ /accessed/17th October, 2019 

How Pregnancy Can Affect Your Dreams/https://www.sleepfoundation.org/articles/how-pregnancy-can-affect-your-dreams /accessed/17th October, 2019

Maternal representations in the dreams of pregnant women: a prospective comparative study/
https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3753535/ Accessed/ 3rd August, 2020

Problems sleeping during pregnancy/
https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000559.htm/Accessed/ 3rd August, 2020

लेखक की तस्वीर
Dr. Abhishek Kanade के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Nikhil Kumar द्वारा लिखित
अपडेटेड 22/10/2019
x