home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंट महिलाएं विंटर में ऐसे रखें अपना ध्यान, फॉलो करें ये प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स!

प्रेग्नेंट महिलाएं विंटर में ऐसे रखें अपना ध्यान, फॉलो करें ये प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स!

गर्भावस्था की शुरुआत अगर ठंड के मौसम से हो तो कई गर्भवती महिलाओं के लिए परेशानी का कारण बन सकता है। परेशानी इसलिए होगी क्योंकि इस दौरान इंफेक्शन और कफ के साथ ही दूसरी तकलीफें हो सकती हैं। इसलिए प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) फॉलो करना आवश्यक है।

9 प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स फॉलो कर गर्भावस्था करें एंजॉय

प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) 1 – हाइड्रेटेड रहें

सर्दियों का मौसम हो और आपको प्यास न लगे तो पानी पीना जरूरी नहीं समझना गर्भवती महिला को परेशानी में डाल सकता है। इसलिए ठंड के मौसम में भी ज्यादा से ज्यादा पानी और तरल पदर्थों का सेवन करें।

और पढ़ें – गोरा बच्चा चाहिए तो नारियल खाएं, कहीं आप भी तो नहीं मानती इन धारणाओं को?

प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) 2 – फ्लू शॉट

सर्दियों के मौसम में ज्यादातर लोग बीमार, सर्दी-जुकाम (छींक) और कफ की समस्या से परेशान रहते हैं। ऐसे लोगों के संपर्क में आने से गर्भवती महिला को भी सर्दी-जुकाम या इंफेक्शन की समस्या हो सकती है। इसलिए हेल्थ एक्सपर्ट के सलाह अनुसार फ्लू वैक्सीन लें और संक्रमण से बचें।

और पढ़ें – मां को हो सर्दी-जुकाम तो कैसे कराएं स्तनपान?

प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) 3 – एक्टिव और सुरक्षित रहें

गर्भावस्था के दौरान एक्टिव रहने से नॉर्मल डिलिवरी की संभावना ज्यादा होती है। सर्द मौसम होने के कारण अक्सर लोग या गर्भवती महिला एक ही जगह पर ज्यादा वक्त तक बैठी रह जाती हैं। ऐसा विंटर के कारण होता है लेकिन, ज्यादा देर तक एक ही जगह पर बैठे रहना आपकी परेशानी बढ़ा सकता है। इसलिए हल्के-फुल्के काम करते रहें।

प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) 4 – बाहर घूमने के दौरान सावधानी रखें

प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) या विंटर में प्रेग्नेंसी टिप्स में से यह एक जरूरी टिप है। ठंड के मौसम में अत्यधिक ठंडे प्रदेशों में जैसे जम्मू-कश्मीर, देहरादून या गैंगटॉक में बर्फ जम जाती हैं। इसलिए ऐसे वक्त में घर से बाहर जा रहीं हैं, तो अपना ध्यान रखें। गर्भावस्था में शरीर का वजन बढ़ जाता है इसलिए गिरने का डर ज्यादा होता है। ध्यान रखें की अगर आप गिर जाती हैं तो जल्द से जल्द अपने गायनेकोलॉजिस्ट से संपर्क करें।

प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) 5 – विंटर जैकेट पहनें

मौसम का असर अपने गर्भावस्था पर न पड़ने दें। विंटर जैकट आपको स्टाइलिश लुक देने के साथ-साथ बॉडी को वॉर्म रखने में भी मदद करेगा।

और पढ़ें – प्रेग्नेंसी के दौरान अल्फा फिटोप्रोटीन टेस्ट(अल्फा भ्रूणप्रोटीन परीक्षण) करने की जरूरत क्यों होती है?

9 प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स फॉलो कर गर्भावस्था करें एंजॉय

प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) 6 – एक्सरसाइज करें।

गर्भावस्था के दौरान की जाने वाले एक्सरसाइज ही करें। कोशिश करें कि घर में ही एक्सरसाइज करें या अगर घर से बाहर जाकर जिम में वर्कआउट करना है तो सबसे पहले गर्म कपड़े पहनें। एक्सरसाइज के दौरान भी गर्मी का एहसास हो तो तुरंत कपड़े न उतारें। बॉडी टेम्प्रेचर धीरे-धीरे सामान्य हो जाएगा। प्रेग्नेंसी के दौरान बॉडी को फिट रखने के लिए योगा भी किया जा सकता है। गर्भावस्था के दौरान एक्सरसाइज या योग एक्सपर्ट्स के साथ और डॉक्टर के सलाह अनुसार ही करें।

हाथों की सफाई पर ध्यान दें

प्रेग्नेंसी में बीमारियों से बचने के लिए हाथों की सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए। ठंड के मौसम में संक्रमण का खतरा ज्यादा होने के कारण हाथों की सफाई रखना इंफेक्शन से बचाए रखने में सहायक होता है।

प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) : कोशिश करें घर में रहने की

और पढ़ें – गर्भावस्था में पिता होते हैं बदलाव, एंजायटी के साथ ही सेक्शुअल लाइफ पर भी होता है असर

गर्भावस्था के दौरान बॉडी ज्यादा सेंसेटिव हो जाती है, जिस कारण बीमारियों का खतरा ज्यादा रहता है। इसलिए आप गर्भवती हैं और अगर कोई काम नहीं है तो ऐसे में बाहर न जाएं। क्योंकि मौसम का नकारात्मक प्रभाव आप पर पड़ सकता है।

मॉश्चराइजर का इस्तेमाल करें

गर्भावस्था के दौरान स्किन ज्यादा ड्राई हो जाती है और विंटर सीजन में त्वचा और भी ज्यादा रूखी हो जाती है। इसलिए प्रेग्नेंसी में स्किन को ड्राई होने से बचाएं और मॉश्चराइजर का उपयोग समय-समय पर करते रहें।

प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स 10 – आहार पर विशेष ध्यान दें

ऐसे में आहार पर विशेष ध्यान दें। ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन न करें जो ठंडे हो या ठंडे प्रवृति वाले हों। सर्द मौसम होने की वजह से कई बार गर्भवती महिला चाय या कॉफी का सेवन ज्यादा करने लगती है, लेकिन चाय या कॉफी के सेवन से कैफीन की मात्रा बढ़ने के साथ-साथ चीनी (शुगर) की मात्रा शरीर में बढ़ जाएगी। इन शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए पौष्टिक आहार के साथ-साथ इन छोटी-छोटी बातों का भी ख्याल रखें। यह महत्वपूर्ण प्रेग्नेंसी विंटर टिप्स (Pregnancy winter tips) या विंटर में प्रेग्नेंसी टिप्स में से एक है।

और पढ़ें: चाय, कॉफी की जगह पिएं गर्म पानी, फायदे हैरान कर देंगे

गर्भावस्था विंटर टिप्स 11- कैल्शियम की मात्रा बढ़ाएं

गर्भवती महिला के शरीर में अगर कैल्शियम की कमी है तो इसकी मात्रा बढ़ाएं। हेल्थ एक्सपर्ट आपको कैल्शियम की टैबलेट भी दे सकते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान कैल्शियम की मात्रा प्रर्याप्त होना जरूरी है। क्योंकि बच्चा भी मां से कैल्शियम लेता है।

33 वर्षीय मनु पांचाल वाराणसी में रहती हैं और वे समर (गर्मी का मौसम) और विंटर (सर्दी का मौसम) प्रेग्नेंसी एक्सपीरियंस भी कर चुकी हैं। जब हमने मनु से जानना चाहा कि कौन सा मौसम उन्होंने ज्यादा एंजॉय किया तो उनका कहना है था उन्होंने दोनों ही मौसम को एंजॉय किया और दोनों मौसम का एक्सपीरियंस अलग-अलग रहा। मनु कहती हैं कि, ‘गर्मियों के मौसम में कुछ चीजों की आजादी होती है जैसे कपड़े या कहीं आना-जाना लेकिन, ठंड के मौसम में थोड़ी ज्यादा सावधानी रखनी पड़ती है।’ मनु ने ठंड के मौसम में अपना ख्याल रखा जैसे पानी समय-समय पर पीती थीं, उन फलों का सेवन नहीं करती थीं जिनसे उन्हें सर्दी-जुकाम की समस्या हो।

और पढ़ें – बच्चों की आंखो की देखभाल को लेकर कुछ ऐसे मिथक, जिन पर आपको कभी विश्वास नहीं करना चाहिए

विंटर प्रेग्नेंसी एक्सपीरियंस कर रहीं 27 साल की सोनम चौहान दिल्ली में रहती हैं। सोनल हैलो स्वास्थ्य से बात करते हुए कहती हैं कि,’ इस समय उन्हें धूप में बैठना पसंद आता है। हालांकि डॉक्टर ने उन्हें सलाह दी है कि ज्यादा देर तक धूप (सूर्य की रोशनी) में न बैठें क्योंकि इससे परेशानी हो सकती है। बेहतर होगा कि सुबह की धूप में बैठें।

अगर आपको सर्दियों के मौसम के साथ कोई शारीरिक परेशानी शुरू हो जाती है और आप प्रेग्नेंट भी इसी दौरान हैं, तो इन प्रेग्नेंसी टिप्स (Pregnancy tips) को फॉलो करें लेकिन, अगर आप ठंड के मौसम कैसे फिट रहा जाए और इससे जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Health Tips for Pregnant Women/https://www.niddk.nih.gov/health-information/weight-management/health-tips-pregnant-women/Accessed on 28/07/2020

Pregnant Women and winter  https://www.health.ny.gov/diseases/congenital_malformations/docs/2.pdf Accessed on 28/07/2020

Pregnancy in dark winters: implications for fetal bone growth?/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/23040526/Accessed on 28/07/2020

Pregnancy in dark winters:   https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23040526/ Accessed on 28/07/2020

Cold weather pregnancy tips/https://www.carepointhealth.org/cold-weather-pregnancy-tips//Accessed on 28/07/2020

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ दिन पहले को
और Admin Writer द्वारा फैक्ट चेक्ड
x