डिलिवरी केयर
भ्रूण स्थानांतरण
डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी
भ्रूण स्थानांतरण क्या है? प्रॉसेस के कंप्लीट होने के बाद कैसे बढ़ाएं प्रेग्नेंसी का सक्सेस चांस?
भ्रूण स्थानांतरण की जानकारी in hindi. भ्रूण स्थानांतरण के बाद भी प्रेग्नेंसी की सौ फीसदी गारंटी नहीं होती है। ऐसे में इसके सक्सेस चांस को बढ़ाने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। जानते हैं उनके बारे में। embryo transfer के बाद क्या करें?
और पढ़ें
एपिसीओटॉमी इंफेक्शन
डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी
एपिसीओटॉमी इंफेक्शन से बचने के 9 टिप्स  
एपिसीओटॉमी इंफेक्शन में घाव को साफ रखने और इंफेक्शन से बचना चुनौतीपूर्ण होता है ऐसे में कई तरह की सावधानियां रखनी पड़ती है। आइये जानते है कैसे एपिसीओटॉमी इंफेक्शन से बचा जा सकता है।
और पढ़ें
प्लासेंटा
डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी
क्या डिलिवरी के बाद मां को अपना प्लासेंटा खाना चाहिए?
प्लासेंटा खाना चाहिए या नहीं की जानकारी in hindi. क्या आपने कभी सुना है कि प्लासेंटा को खाया भी जाता है। जानवर अक्सर बच्चे को जन्म देने के बाद Placenta को खा जाते हैं। कुछ कल्चरल में भी इसे खाया जाता है।
और पढ़ें
डिलिवरी को लेकर डर
डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी
क्या नॉर्मल डिलिवरी के समय अच्छे बैक्टीरिया पहुंचते हैं बच्चे में?
डिलिवरी के समय अच्छे बैक्टीरिया कैसे मिलते हैं की जानकारी in hindi. डिलिवरी के समय अच्छे बैक्टीरिया वजायना से निकलने वाले लिक्विड में पाए जाते हैं। ये बैक्टीरिया बच्चे को मां से मिलते हैं। सिजेरियन डिलिवरी में ऐसा नहीं हो पाता है। जानिए अच्छे बैक्टीरिया से क्या होता है फायदा?
और पढ़ें
वजायनल टीयरिंग
डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी
वजायनल टीयरिंग के बारे में जरूर जान लें ये बातें
वजायनल टीयरिंग की जानकारी in hindi. वजायनल टीयरिंग से मतलब प्रसव के दौरान वजायना के आसपास लगने वाला कट है, जिसके कारण महिलाओं को दर्द का सामना करना पड़ता है। Vaginal tearing होने पर क्या करें?
और पढ़ें
लोड हो रहा है...