प्रेग्नेंसी के समय खाएं ये चीजें, प्रोटीन की नहीं होगी कमी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जनवरी 2, 2020 . 2 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

प्रेग्नेंसी के दौरान लिए जाने वाले पोषक तत्वों में प्रोटीन सबसे महत्वपूर्ण है जिसका सेवन गर्भावस्था के दौरान किया जाना चाहिए। क्योंकि यह मां और शिशु की कोशिकाओं के उचित विकास, ब्लड प्रोडक्शन और गर्भ में पल रहे शिशु की जरूरतों को पूरा करता है। शिशुओं की एम्नियोटिक टिशूज की वृद्धि आदि मां के प्रोटीन युक्त आहार के सेवन पर निर्भर करती है। गर्भावस्था के दौरान प्रोटीन की कमी उचित विकास में रुकावट बन सकती है। इसके परिणामस्वरूप शिशु के कम वजन के साथ अन्य खतरे बढ़ सकते हैं। गर्भावस्था के दौरान प्रोटीन की कमी शिशु के मस्तिष्क पर भी नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है। प्रतिदिन 60 ग्राम प्रोटीन शिशु के उचित विकास के लिए जरूरी होता है।

गर्भ में पल रहे बच्‍चे के शारीरिक विकास के लिए प्रोटीन बेहद जरूरी है। इसलिए प्रोटीन वाली डायट का सेवन करें। दाल, फलियां, दूध, दही, पनीर, मट्ठे के अलावा अंडे से भी भरपूर मात्रा में प्रोटीन मिल सकता है। ध्‍यान रहे कि कच्चे मीट का सेवन न करें।

 प्रेग्नेंसी में प्रोटीन डायट: इन चीजों में मिलेगा पर्याप्त प्रोटीन

यह भी पढ़ें: वजन बढ़ाने के लिए एक साल के बच्चों के लिए टेस्टी और हेल्दी रेसिपी, बनाना भी है आसान

डेयरी प्रोडक्ट्स

डेयरी में निर्मित प्रोडक्ट्स गर्भवती महिलाओं के लिए प्रोटीन के सबसे अच्छा स्रोत होते हैं। गर्भावस्था के दौरान महिला को पनीर, दूध, दही, चीज, बटर जैसे खाद्य पदार्थों को प्रतिदिन अपने आहार में रखना चाहिए। इन डेयरी प्रोडक्ट्स में न सिर्फ प्रोटीन अच्छी मात्रा में पाया जाता है, बल्कि इसमें कैल्शियम की भी अच्छी मात्रा पाई जाती हैं। यह भ्रूण में बोन टिश्यू के विकास के लिए बहुत आवश्यक होते हैं। यदि आप प्रतिदिन चार डेयरी प्रोडक्ट्स की सर्विंग लेती हैं तो इससे कैल्शियम के साथ-साथ लगभग 60 ग्राम प्रोटीन की आवश्यकता पूरी होती है।

सीड्स और नट्स

आप गर्भावस्था में हों या सामान्य अवस्था में एक मुट्ठी भर नट्स का सेवन भी दिनभर के प्रोटीन की आवश्यकता को पूरा कर सकता है। प्रेग्नेंसी में प्रोटीन डायट से भरपूर नट्स में बादाम, मूंगफली, ब्राजीलियन नट्स, काजू, पिस्ता, अखरोट और नारियल शामिल हैं। अगर आप प्रोटीन की जरूरत पूरी करने के लिए बीज का सेवन करना चाहते हैं तो इसके लिए कद्दू का बीज, तिल का बीज और सूरजमुखी के बीज शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में अपनाएं ये डायट प्लान

बीन्स और फलियां

यह प्रेग्नेंसी में प्रोटीन डायट के लिए बेस्ट माने जाते हैं। बीन्स और लेग्यूम्स यानी फलियाें में भी प्रोटीन बहुत मात्रा में पाया जाता है। मूंग, किडनी, नेवी, ग्रेट नॉर्दन, ब्लैक एंड फवा बीन्स, दाल, स्प्लिट मटर और छोले आदि कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जो काफी मात्रा में प्रोटीन प्रदान कर सकते हैं। टोफू और सोया प्रोडक्ट्स से भी दैनिक प्रोटीन आवश्यकताओं को पूरा किया जा सकता है जिसमें सोया मिल्क, मिसो और दही शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी में खाएं ये फूड्स नहीं होगी कैल्शियम की कमी

ओट्स और जई:

ओट्स और जई को प्रेग्नेंसी में प्रोटीन डायट वाले अच्छे स्रोतों में माना जाता है। जई एक ऐसा अनाज है जो पोषक तत्वों से परिपूर्ण है। अगर आपके पास एक कप जई है तो यह प्रोटीन युक्त आहार बनाने के लिए मददगार होगा। आप इसे मफिन, पेनकेक्स, कुकीज के साथ खा सकती हैं या इसे बिना किसी खाद्य पदार्थ के भी खाया जा सकता है।

आपको गर्भावस्था के दूसरे और तीसरे ट्राइमेस्टर में सिर्फ 300 कैलोरीज और 15 से 20 ग्राम अत्यधिक प्रोटीन की आवश्यकता होती है। आप कोशिश करें कि भोजन में 50% फल और सब्जी 25% साबुत अनाज और 25% तक प्रोटीन हो। इस तरह आप प्रेग्नेंसी में प्रोटीन डायट को फॉलो कर सकते हैं। 

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    Recommended for you

    Protein Day- प्रोटीन डे

    भारत का पहला प्रोटीन डे आज, जानें क्यों पड़ी इस खास दिन की जरूरत?

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
    प्रकाशित हुआ फ़रवरी 27, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें