दाढ़ी आने की सही उम्र क्या है? जानिए किसी उम्र में आनी चाहिए बियर्ड

    दाढ़ी आने की सही उम्र क्या है? जानिए किसी उम्र में आनी चाहिए बियर्ड

    दाढ़ी आने की सही उम्र हर व्यक्ति के मामले में भिन्न हो सकती है। कुछ युवाओं के चेहरे पर जल्दी दाड़ी आने लगती है तो कुछ को लंबा इंतजार करना पड़ता है। चेहरे पर दाढ़ी के उगने के पीछे हार्मोन जिम्मेदार होते हैं। इन हार्मोन से शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं, जो हमें युवास्था में ले जाते हैं। चेहरे के अलावा भी शरीर के कई हिस्सों पर बाल उगना शुरू हो जाते हैं। आज हम इस आर्टिकल में दाढ़ी आने की सही उम्र के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे।

    प्यूबर्टी (Puberty) के बाद आती है दाढ़ी

    प्यूबर्टी शरीर में बदलावों की एक प्रक्रिया है, जिसमें एक बच्चा वयस्क की उम्र या स्टेज में प्रवेश करता है। इस अवधि में वह प्रजनन के लिए तैयार हो जाता है। प्यूबर्टी की शुरुआत दिमाग से दिए जाने वाले हार्मोनल संकेतों से होती है। यह संकेत गोनाड्स (Gonads) को दिए जाते हैं। लड़कों में यह संकेत उनके टेस्टीज (Testes) में भेजे जाते हैं। इसकी प्रतिक्रिया में गोनाड्स हार्मोन्स का उत्पादन करता है, जो लिबिडो को उत्तेजित करता है। यह दिमाग में बदलाव, कार्यों और ग्रोथ को भी बढ़ाता है। साथ ही यह हड्डियों, मांसपेशियों, ब्लड, त्वचा, बाल और जननांगों को स्टिमुलेट करता है। दाढ़ी आने की सही उम्र के लिहाज से यह वक्त काफी महत्वपूर्ण होता है। प्यूबर्टी की पहली छमाही में लड़कों का वजन और लंबाई बढ़ती है। एक वयस्क की बॉडी के विकसित हो जाने के बाद यह प्रक्रिया खत्म हो जाती है।

    इस उम्र में आती है दाढ़ी

    लड़कों में प्यूबर्टी की शुरुआत 11-12 वर्ष की आयु के बीच शुरू हो जाती है। प्यूबर्टी 15-17 वर्ष की आयु के आसपास खत्म होने लगती है। यहीं से दाढ़ी आने की सही उम्र शुरू होती है। हालांकि, दाढ़ी आने की सही उम्र हर किशोर या वयस्क के मामले में अलग हो सकती है। दाढ़ी आने की सही उम्र अनेकों कारकों पर निर्भर करती है। यह एक लंबी प्रक्रिया है। दाढ़ी आने की सही उम्र में जेनेटिक्स (Genetics) एक अहम भूमिका निभाते हैं। चेहरे पर उगने वाली दाढ़ी के बाल कितने लंबे होंगे और इनकी मोटाई क्या होगी? यह सभी कारक जेनेटिक्स के आधार पर तय होते हैं।

    आमतौर पर इसमें दो महीने से लेकर छह महीने तक का समय लगता है। प्रतिमाह के आधार पर हर महीने दाढ़ी की लंबाई में आधा इंच की बढ़ोतरी होती है। यदि आप लंबी दाढ़ी रखना चाहते हैं तो इसमें समय लग सकता है। बालों की विशेषताओं के आधार पर इनकी लंबाई तय होती है।

    यह भी पढ़ें: बांस का उस्तरा है इको फ्रेंडली, जानें इसके फायदे

    दाढ़ी आने की सही उम्र और टेस्टोस्टेरोन

    किशोरावस्था 12-15 की आयु के बीच शुरू हो जाती है। इस दौरान टेस्टोस्टेरोन लेवल काफी अधिक होता है। किशोरावस्था की समाप्ति के बाद प्रौढ़ावस्था शुरू हो जाती है। लड़कों में प्यूबर्टी के दौरान टेस्टोस्टेरोन का प्रोडक्शन होने लगता है। यहीं से दाढ़ी आने की सही उम्र की शुरुआत होती है। हालांकि, आपकी दाढ़ी कितनी घनी और लंबी होगी यह टेस्टोस्टेरोन पर निर्भर करता है। इस दौरान लड़कों की आवाज, कंधों की चौड़ाई और चेहरे की मुखाद में परिवर्तन आता है। लड़कों का चेहरे पहले से और ज्यादा मसक्युलिन लगता है।

    19 और 38 वर्ष की आयु में सामान्य टेस्टोस्टेरोन का स्तर 264-916 नेनोग्राम प्रति डेकिलिटर (ng/dL) होता है। बॉडी में टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होने से दाढ़ी का विकास बाधित होता है।

    जिन पुरुषों में जांच के माध्यम से कम टेस्टोस्टेरोन की पुष्टि की जा चुकी वो सप्लिमेंट से इसे बढ़ा सकते हैं। ऐसा करने से दाढ़ी के विकास में मदद मिलती है। टेस्टोस्टेरोन के सामान्य लेवल पर होने से यह सप्लिमेंट बेअसर साबित होते हैं।

    दाढ़ी आने की सही उम्र और शेविंग

    कुछ लोगों को प्रौढ़ावस्था में प्रवेश करने के बाद भी दाढ़ी नहीं आती है। इन लोगों को लगता है कि शेविंग करने से दाढ़ी जल्दी उग आती है। हालांकि, हकीकत में ऐसा नहीं है। दाढ़ी उगने से पहले चेहरे पर कुछ बाल उग सकते हैं। असल दाढ़ी को आने में एक लंबा वक्त लग सकता है, जिसके संकेत आपको इन बालों के रूप में नजर आ जाते हैं। शेविंग करने से जल्दी दाढ़ी आती है या नहीं, इस पर अभी आमराय नहीं है। चेहरे पर बालों के आने का अहसास होता है तो शेविंग की जा सकती है।

    यह भी पढ़ें: छोटे बालों वाले पुरुष अपनाएं ये बीयर्ड स्टाइल, मिलेगा कूल लुक

    दाढ़ी आने की सही उम्र और DHT

    जैसा कि ऊपर पहले ही बता दिया गया है कि टेस्टोस्टेरोन दाढ़ी की ग्रोथ को प्रभावित करता है। कुछ अध्ययनों के मुताबिक, दाढ़ी उगने की रफ्तार या ग्रोथ डीहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन (dihydrotestosterone) पर निर्भर करती है। डीहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन, टेस्टोस्टेरोन का एक बायप्रोडक्ट है। यह टेस्टोस्टेरोन प्रोडक्शन के बाद प्रोड्यूस होता है।

    हेयर फोलिकल्स की ऑयल ग्लैंड द्वारा इसे सक्रिय किया जाता है। हालांकि, हर मामले में दाढ़ी की विकास दर अलग होती है। एक बार दाढ़ी उगने का पूरा पैटर्न स्थापित होने के बाद दाढ़ी हर महीने 1/2 बढ़ती है। डीएचटी दाढ़ी आने की सही उम्र में एक अहम भूमिका निभाता है। टेस्टोस्टोरोन प्रोडक्शन और डीहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। किसी एक के प्रोडक्शन में बाधा आने पर दाढ़ी की ग्रोथ प्रभावित हो सकती है।

    यह भी पढ़ें: क्या आपको भी दाढ़ी बढ़ाने से लगता है डर? जानें क्यों होता है ऐसा

    दाढ़ी आने की सही उम्र और इसकी स्टेज

    एंड्रोजेनिक हेयर (Androgenic hair), इन्हें फेसियल हेयर के नाम से भी जाना जाता है। यह बाल तीन स्टेज में आते हैं।

    यह स्टेज निम्नलिखित हैं:

    • एनाजेन (anagen)
    • केटाजेन (catagen)
    • टेलोजेन (telogen)

    एनाजेन (anagen) स्टेज कई महीनों से चलकर एक वर्ष तक चल सकती है। इस स्टेज के दौरान चेहरे के बाल 1 सेंटीमीटर तक प्रतिमाह बढ़ सकते हैं। यदि आपके बाल एकदम स्वस्थ हैं तो यह एक वर्ष में अधिकतम 12 सेंटीमीटर तक बढ़ सकते हैं।

    एंड्रोजेनिक हेयर जाने के बाद कुछ हफ्तों तक एक रेस्टिंग पीरियड आता है। इसे केटाजेन स्टेज के नाम से जानते हैं। टेलोजेन स्टेज से पहले यह चरण आता है। केटाजेन स्टेज की तरह ही टेलोजेन स्टेज में बालों की ग्रोथ नहीं होती है। हालांकि, इस दौरान बालों के रोम (hair follicles) का ट्रांजिशन होता है। पुराने रोम जाने के बाद नए रुएं आते हैं। यह साइकल दोबारा आता है। टेलोजेन स्टेज आखिरी चार महीनों तक चलती है। तीनों चरणों में यही साइकल रिपीट होता है। इस दौरान बालों की अच्छी देखरेख करने से यह स्वस्थ रहते हैं।

    अंत में हम यही कहेंगे कि दाढ़ी आने की सही उम्र को लेकर परेशान न हों। हर पुरुषों के मामले में दाढ़ी आने की सही उम्र भिन्न हो सकती है। दाढ़ी उगने के पीछे आपकी पारिवारिक पृष्ठभूमि और जींस काफी हद तक जिम्मेदार होते हैं।

    यह भी पढ़ें: जानें शरीर में बनने वाले महत्वपूर्ण हाॅर्मोन और उनकी भूमिका

    उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और दाढ़ी आने की सही उम्र और इससे संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

     

     

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. हेमाक्षी जत्तानी

    डेंटिस्ट्री · Consultant Orthodontist


    Sunil Kumar द्वारा लिखित · अपडेटेड 20/05/2021

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement