backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना

'बबल बाथ' कब ले रहे हैं आप ?

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Dr Sharayu Maknikar


Bhawana Awasthi द्वारा लिखित · अपडेटेड 13/03/2021

'बबल बाथ' कब ले रहे हैं आप ?

आपने ‘ठंडे ठंडे पानी से नहाना चाहिए’ गाना तो जरूर सुना होगा। इस गाने का ही तो कमाल है कि हम ठंडियों में भी नहाने की हिम्मत कर ही लेते हैं। मतलब ये कह सकते हैं कि कुछ भी हो, बाथ लेना तो जरूरी है। हो सकता है कि कुछ लोगों को नहाना पसंद न हो और कुछ लोग बाथ को एंजॉय करते हैं। आजकल बाथ को रिलेक्स का साधन कहना गलत नहीं होगा। अब तो हमारे पास रिलेक्स के लिए बाथ ऑप्शन भी मौजूद हैं। साफ सी बात है कि आपको नहाने के लिए जबरदस्ती बाथरूम में जाने की जरूरत नहीं है। रिलेक्स चाहिए या मसल्स रिलेक्सेशन, आप नहाने के कई तरीके चुन सकते हैं । इनमे से एक बबल बाथ आपकी समस्याओं को छूमंतर कर सकता है। अगर आपने अब तक ‘बबल बाथ’ नहीं लिया है तो एक बार इसके फायदें जरूर पढ़ लीजिए।

बबल बाथ क्या होता है?

फोम या बबल्स से भरे एक टब में लेट कर रिलेक्स करने की प्रोसेस को ‘बबल बाथ’ कहते है। बाथ के दौरान शरीर को रिलेक्स मोड में रखते है। इस दौरान आप पसंदीदा म्युजिक सुनकर या फिर फेवरेट बुक पढ़ कर एंजॉय कर सकते हैं।

बबल बाथ क्या हैं इसके फायदें

1. स्किन के लिए बेनिफिट

गर्म पानी आपकी मांसपेशियों को रिलेक्स देगा। हल्का गुनगुना पानी शरीर की थकावट को छूमंतर कर देता है। गरम पानी से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है। इस प्रोसेस के दौरान बॉडी टिशू को रिलेक्स मिलता है। स्किन के हाइड्रेशन के लिए बबल बाथ गुड ऑप्शन है। साथ ही ये इम्यून सिस्टम को भी मजबूत बनाता है। जिन्हें जल्दी ठंड लग जाती है उन्हें यह बाथ ट्राई करना चाहिए। हीट आपके छिद्रों को भी खोलता है और स्किन को क्लीन करता है।

स्किन और मेकअप से जुड़े अहम सवाल के जवाब जानने के लिए खेलें क्विज

2. मांसपेशियों के रिलेक्स के लिए

आपने सुना होगा कि एथलीट्स को अक्सर गुनगुने पानी से नहाने की सलाह दी जाती है। गुनगुने पानी से मांसपेशियों के तनाव में आराम मिलता है। ये ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ाता है। बबल बाथ के दौरान गुनगुने पानी में बैठना और फिर हॉबी ( बुक रीडिंग, म्युजिक या सॉन्ग) एंजॉय करना आपको वाकई पसंद आएगा।

3. टॉक्सिन्स होंगे शरीर के बाहर

अब आप शायद समझ गए होंगे कि गर्म पानी ‘बबल बाथ’ के लिए कितना जरूरी है। अगर पानी पर्याप्त गर्म है तो आपको पसीना भी आ सकता है। स्वेटिंग होने से शरीर के टॉक्सिन्स बाहर निकल जाते  है और ये आपके लिम्फेटिक सिस्टम को बूस्ट करता हैं। टॉक्सिन्स को शरीर से बाहर निकालने का ये नेचुरल प्रोसेस है। आपको पसीने से परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि आप बाथ भी लें रहे हैं।

और पढ़ें : ब्यूटी टिप्स : घर पर इस तरह बनाएं ब्लैकहेड मास्क

4.मेंटल हेल्थ भी होगी अच्छी

जी हां। आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये कैसे ? जब आप कई परेशानियों से एक साथ जूझ रहे होते हैं तो आपको कुछ समय रिलेक्स चाहिए होता है ताकि आप सारी निगेटिविटी को अपने से दूर कर सकें। बबल बाथ यही काम करता है। बबल बाथ से सेरोटोनिन का सिकरीशन करता है। ये खुशी से जुड़ा केमिकल है। इसके उत्पादन से मेंटल हेल्थ को बेनीफिट पहुंचता है।

5)  अच्छी नींद के लिए भी है ‘बबल बाथ’

सोने से पहले बबल बाथ लेने से नींद जल्दी आती है। रात में शरीर का टेम्परेचर कम हो जाता है, रात के समय मेलाटोनिन केमिकल का सिकरीशन होता है जो नींद में हेल्प करता है। आपने खुद महसूस किया होगा कि रात में अच्छी नींद लेने के बाद दिन भर आप एनर्जेटिक फील करते हैं।

और पढ़ें : घर पर बार-बार आ रही हैं छिपकलियां? ऐसे रखें इन्हें दूर

6. जॉइंट्स के दर्द के लिए रामबाण

जो लोग हाथ या पैरों के जॉइंट्स के दर्द से परेशान हैं, उनके लिए यह बाथ बहुत फायदेमंद है। इसके लिए हल्के गर्म पानी में बाथ लें और फिर देखें कि कैसे आपको इस दर्द से राहत मिलती है।

और पढ़ें : बार-बार ब्रेस्ट में दर्द होने से हो चुकी हैं परेशान? तो ये चीजें दिलाएंगी आपको राहत

कैसे ले बबल बाथ?

अगर आपके पास समय है तो आप बाहर से यह बाथ लें सकते है। घर पर ही यह बाथ अरेंज करना है तो ये भी आसानी से हो सकता है। आपको कुछ सामग्री चाहिए होगी।

  • वेजिटेबल ऑयल सोप या कैस्टाइल सोप
  • आपका फेवरेट एसेंशियल ऑयल
  • कोकोनट ऑयल या ग्लीसरीन
  • बाथ टब

प्रोसेस

बाथ टब गुनगुना पानी डालें। अब इसमें वेजिटेबल ऑयल सोप मिक्स करें। कुछ बूंदे एसेंशियल ऑयल डालें। आपका बाथ टब रेडी है अब।

बबल बाथ लेने के नुकसान क्या हैं?

हल्के गर्म पानी में बॉडी को रिलैक्स करने का कोई नुकसान नहीं, लेकिन कई लोगों को बबल बाथ के लिए इस्तेमाल में लाए जाने वाले बाथ बॉल्स या फिर बाथटब में फोम बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले कैमिकल्स से नुकसान हो सकता है।

बबल बाथ फोम बनाने के लिए मार्केट में मिलने वाले कुछ इंग्रीडिएंट्स ऐसे हो सकते हैं, जो कुछ लोगों को सूट न करें, क्योंकि कई बार केमिकल्स वाले इस बाथ से फंगल इंफेक्शन, खुजली, वैजाइनल इंफेक्शन (vagianal infection) या फिर स्किन रैशेज़ जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। अगर आपकी स्किन काफी सेंसेटिव है तो ऐसा भी हो सकता है कि बाथ बॉल्स में मौजूद केमिकल्स आपकी वैजाइना का पीएच लेवल बिगाड़ दें, इसलिए इनके इस्तेमाल में, अपनी स्किन टाइप का ध्यान रखते हुए सावधानी बरतना बहुत जरूरी होता है। इससे बचने के लिए आप घर में बने केमिकल फ्री बबल बाथ का इस्तेमाल करें।

और पढ़ें : स्किन टाइप के हिसाब से चुनें अपने लिए बॉडी लोशन

घर में बबल बाथ तैयार करने के लिए

अगर आपको पूरी तरह से केमिकल फ्री यानी कि घर पर ही बना हुआ बबल बाथ चाहिए तो इसे आप खुद भी तैयार कर सकते हैं। इसके लिए बस आपको चाहिए नीचे दी गई कुछ जरूरी चीजें-

बबल बाथ बनाने के लिए सामग्री:-

1. आधा कैस्टाइल सोप (ऑलिव ऑयल या फिर वेजिटेबल ऑयल से बना साबुन। इनमें किसी भी प्रकार का एनिमल फैट, चरबी या हानिकारक तेल नहीं होता है।)

2. 3 चम्मच ग्लिसरिन या फिर नारियल का तेल

3. एसेंशियल ऑयल (खूशबू के लिए)

4. चार कप पानी

5. बबल बाथ को भरने के लिए कंटेनर

6. बाथ की सामग्री मिक्स करने के लिए जार

बबल बाथ बनाने का तरीका-

1. जार में पानी, कैस्टाइल और ग्लिसरीन को मिक्स करें।

2. 4 से 5 ड्रॉप एसेंशियल ऑयल डालें।

3. अब इन सभी को अच्छे से मिलाएं।

4. इस मिक्सचर को कंटेनर में भरकर रखें।

5. आपका यह बाथ इस्तेमाल के लिए तैयार है।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Dr Sharayu Maknikar


Bhawana Awasthi द्वारा लिखित · अपडेटेड 13/03/2021

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement