स्वस्थ जीवन शैली के लाभ के लिए ऑफिस डायट ख्याल रखना है बेहद जरूरी, फॉलों करें ये टिप्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अप्रैल 14, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

भले ही पहले घर का कोई एक सदस्य ऑफिस जाकर काम करता था और बाकी लोग घर में रहते थे, लेकिन अब महिला और पुरुष दोनों ही ऑफिस जाकर काम करते हैं। ऑफिस में दिन के नौ से दस घंटे आराम से निकल जाते हैं। इसलिए ऑफिस में खुद के स्वास्थ्य का ध्यान रखना भी बेहद जरूरी होता है जिसमें सबसे जरूरी होती है डायट क्योंकि सही डायट न लेने पर कमजोरी के साथ ही अन्य स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।

हेल्थ कॉन्शियस लोग ऑफिस डायट को मेंटेन रखते हैं और टाइम के मुताबिक उनके पास खाने के लिए हेल्दी फूड भी अवेलेबल रहते हैं। अक्सर कुछ लोग ऑफिस में हेल्दी फूड नहीं ले पाते, वजह सिर्फ इतनी होती है कि रोजाना ऑफिस जाना और साथ में हेल्दी खाना ले जाना पॉसिबल नहीं हो पाता है। ऐसा अक्सर समय की कमी के कारण होता है। ऐसे में लाइफ स्टाइल गड़बड़ाने लगती है और स्वस्थ जीवन शैली के लाभ हमें नहीं मिल पाते। इस आर्टिकल में हम आपको ऑफिस में स्वास्थ्य और सुरक्षा के कुछ टिप्स देने जा रहे हैं। अगर आप ऑफिस में कुछ बातों को ध्यान देंगे तो स्वस्थ जीवन शैली के लाभ आसानी से ले सकेंगे।

यह भी पढ़ें: ग्रीन टी आपकी बॉडी को हेल्दी रखने में ग्रीन सिग्नल की तरह करती है काम

स्वस्थ जीवन शैली के लाभ के लिए टिप्स: ब्रेकफास्ट से करें शुरुआत

ऑफिस जाने वालो के लिए सुबह हेल्दी ब्रेकफास्ट करना बहुत जरूरी होता है। हेल्दी ब्रेकफास्ट लेने से पूरा दिन एनर्जी से भरपूर रहता है। अगर आप ब्रेकफास्ट नहीं करते हैं तो आपका शरीर लंबे समय के लिए भूखा रह जाता है। कुछ भी खा लेने की आदत से बचना चाहिए। ब्रेकफास्ट रात भर के आठ से नौ घंटे के फास्ट को तोड़ने का काम करता है। अगर हेल्दी ब्रेकफास्ट लिया जाएगा तो वो कुछ ही समय बाद शरीर द्वारा आसानी से अब्जॉर्व कर लिया जाएगा। अगर आप ये सोच रहे हैं कि ब्रेकफास्ट को स्किप कर दें तो मोटापे में कमी आएगी, तो ये एकदम गलत सोच है। अगर मोटापे की समस्या से दूर रहना चाहते हैं तो बेहतर होगा कि हेल्दी ब्रेकफास्ट लेना तुरंत शुरू कर दें।

कार्ब, प्रोटीन, फैट्स, फाइबर, विटामिन, मिनिरल्स आदि को अपने नाश्ते में शामिल करें। एक ग्लास दूध के साथ पराठा, बेसन चीला, मसाला ओमलेट, उबले हुए अंडे, मल्टीग्रेन टोस्ट और एक कटोरी फल को नाश्ते में शामिल किया जा सकता है। अपनी पसंद का नाश्ता करने से आपको जल्दी-जल्दी भूख भी नहीं लगेगी। स्वस्थ जीवन शैली के लाभ उठाने के लिए ये तरीका अपनाकर देखें।

यह भी पढ़ें: Vitamin B12: विटामिन बी-12 क्या है?

स्वस्थ जीवन शैली के लाभ के लिए टिप्स: लंच के लिए हेल्दी डायट

सुबह के समय जब आप ब्रेकफास्ट करते हैं, उस समय मेटाबॉलिज्म थोड़ा तेज रहता है, लेकिन दिन के समय मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है। ऐसे में लंच ऐसा होना चाहिए, जिसे खाकर नींद न आए। साथ ही लंच ऐसा भी नहीं हो कि आपको कुछ समय बाद ही भूख का एहसास भी होने लगे। इन समस्याओं से बचने के लिए हेल्दी डायट का चुनाव करना बहुत जरूरी है। भारतीय घरों में लंच में राइस, रोटी, दाल, सब्जी और सलाद को पौष्टिक आहार माना गया है। यकीन मानिए कि ऑफिस डायट में इसे शामिल करने से आपको दिनभर ऊर्जा का एहसास होता रहेगा। आप चाहे तो अपनी पसंद के अनुसार दही को भी शामिल कर सकते हैं। स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिहाज से सादा और पौष्टिक आहार लंच में शामिल करना चाहिए। स्वस्थ जीवन शैली के लाभ उठाने के लिए ये तरीका अपनाकर देखें।

स्वस्थ जीवन शैली के लाभ के लिए टिप्स:स्नैक्स लेते समय न करें लापरवाही

लंच के बाद का समय अच्छे से गुजरता है क्योंकि कुछ देर तक भूख नहीं लगती है। जब खाना डायजेस्ट हो जाता है तो उसके बाद फिर से भूख लगने लगती है। ऑफिस डायट में स्नैक के नाम पर लोग कुछ भी खा लेते हैं। ऐसा नहीं करना चाहिए। हेल्दी स्नैक्स को डायट में शामिल करना बहुत जरूरी है। करीब 4 बजे से 6 बजे तक लोगों को अक्सर अधिक भूख का एहसास होता है। ऐसे में सैंडविच, चिप्स, समोसा, ब्रेड पकौड़ा, पेटीज आपकी ऑफिस कैंटीन में आसानी से उपबल्ध होती है, जो कि आपकी फेवरेट भी हो सकती है, लेकिन आपको इन सबको न कहना चाहिए। स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिहाज से आपको स्नैक्स में स्प्राउट सलाद, चिक-पी सलाद, राजमा सलाद, थोड़े ड्राई फ्रूट्स, वेजीटेबल सलाद या फिर योगर्ट या छाछ लेना चाहिए। अगर आप स्नैक्स में ये सब शामिल करते हैं तो आपकी भूख भी मिट जाएगी और आपकी हेल्थ को भी फायदा पहुंचेगा। अगली बार जब भी स्नैक्स का टाइम हो तो समोसा या पेटीज की जगह हेल्दी स्नैक्स खाएं। स्वस्थ जीवन शैली के लाभ उठाने के लिए ये तरीका अपनाकर देखें।

यह भी पढ़ें – कैलोरी और एनर्जी में क्या है संबंध? जानें कैसे इसका पड़ता है आपके शरीर पर असर

स्वस्थ जीवन शैली के लाभ के लिए टिप्स: डिनर के लिए हेल्दी डायट का चुनाव

ऑफिस से घर पहुंचते रात हो जाती है। अगर आप घर 8 या 9 बजे तक पहुंचते हैं तो ऐसे में हैवी फूड लेना आपके लिए सही नहीं रहेगा। बेहतर होगा कि आप आपने साथ ऑफिस रोटी रोल भी ले जाएं जो 7 बजे तक खा लें। ऐसा करने से आपको रात में घर पहुंचते हुए बहुत अधिक भूख का एहसास नहीं होगा। डिनर में दाल, सब्जी, चावल, सूप और मन के मुताबिक एक मल्टीग्रेन रोटी को शामिल किया जा सकता है। रात में खाना जल्दी लेना चाहिए। यानी खाने के बाद और सोने से पहले समय के अंतर का हिसाब जरूर रखें। अगर आप खाने के तुरंत बाद सो जाएंगे तो खाना पचने में समस्या हो सकती है। बेहतर होगा कि 7 बजे तक डिनर लें और फिर दस बजे तक सो जाएं।

हेल्दी डायट के साथ ये भी है जरूरी

स्वस्थ जीवन शैली के लाभ के लिए टिप्स: लंबे समय तक न बैठे एक जगह

ऑफिस में स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिहाज के केवल हेल्दी डायट ही मायने नहीं रखती है, बल्कि और भी कई बातें हैं जिनका ध्यान रखना जरूरी होता है। आपने ऑफिस में ऐसे लोगों को देखा होगा जो कि लंबे समय तक लैपटॉप के सामने बैठकर काम किया करते हैं। ऐसा करने से आंख और कंधे दोनों में परेशानी हो सकती है। काम करने के दौरान खुद को थोड़ा रिलैक्स भी देना चाहिए। आप एक से दो घंटे के अंतर में अपने स्थान से उठकर थोड़ा रिलैक्स कर सकते है। आखों को बंद करें और सांस तेजी से खींचे। ऐसा करने से बहुत राहत मिलती है। आंखों को भी कुछ समय के लिए राहत मिल जाती है। ये प्रॉसेस दिन में तीन से चार बार जरूर करें।

यह भी पढ़ें – जानिए कैसे वजन घटाने के लिए काम करता है अश्वगंधा

स्वस्थ जीवन शैली के लाभ के लिए टिप्स: ऑफिस में कर सकते हैं वॉक

ये जरूरी नहीं है कि बाहर टहलने जाएं। ऑफिस में लंबे वर्किंग आवर होते हैं। ऐसे में एक ही जगह में लंबे समय तक बैठकर काम करने से कंधे और पीठ दर्द की समस्या हो सकती है। बेहतर रहेगा कि ऑफिस में लिफ्ट का यूज न करें। स्टेयर्स का यूज करने से बॉडी मूवमेंट होगा और आपकी बॉडी को भी रिलेक्स मिलेगा। पांच से दस मिनट की वॉक भी आपको बहुत राहत महसूस करा सकती है।

ऑफिस में अगर कुछ बातों का ध्यान दिया जाए तो आपको किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा और आपको स्वस्थ जीवन शैली के लाभ भी मिलना शुरु हो जाएंगे। अगर आप एक बार शेड्यूल पर ध्यान देंगी तो आपको कुछ समय बाद परेशानी महसूस नहीं होगी। अगर आपको किसी भी प्रकार की हेल्थ कंडीशन हो, तो बेहतर होगा कि स्वास्थ्य और सुरक्षा की दृष्टि से  डायट के बारे में एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

हैलो स्वास्थ्य किसी प्रकार की मेडिकल एडवाइज, उपचार और निदान प्रदान नहीं करता।

और पढ़ें:-

कोकोनट वॉटर से वेट लॉस होता है, क्या आप इस बारे में जानते हैं?

क्या ऑफिस वर्क से बढ़ रहा है फैट? अपनाएं वजन घटाने के तरीके

स्वस्थ सेहत के लिए रनिंग (Running) है जरुरी

पानी में सेक्स करना (वॉटर सेक्स) कितना सही है

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    12 प्रकार की दाल और उनके फायदे, खाते वक्त इनके बारे में सोचा भी नहीं होगा आपने

    जानिए दाल के अलग-अलग प्रकार in hindi. दाल के फायदे, क्या आप जानते हैं दाल के सेवन से कैंसर जैसी कौन-कौन सी बीमारियों से बचा जा सकता है? benefits of pulses in hindi.

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha

    मैटरनिटी आउटफिट क्यों है जरूरी? जानिए इसके फायदे

    मैटरनिटी आउटफिट मां और शिशु दोनों के लिए क्यों है सही? Maternity outfit के फायदे जानना चाहते हैं तो पढ़े ये आर्टिकल। जानिए गर्भावस्था में मैटरनिटी आउटफिट क्यों पहनना चाहिए in hindi.

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
    के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
    डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी दिसम्बर 9, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    Yoghurt: योगर्ट क्या है?

    जानिए योगर्ट की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, योगर्ट उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Yoghurt डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
    के द्वारा लिखा गया Mona Narang
    जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल नवम्बर 27, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    सुंदर त्वचा और गोरेपन के लिए अपना सकते हैं ये स्किन लाइटनिंग ट्रीटमेंट्स

    सांवली रंग को आप भी निखारना चाहती हैं? स्किन लाइटनिंग ट्रीटमेंट से सिर्फ गोरी स्किन ही नहीं मिलती बल्कि मुहांसों और पिगमेंटेशन की समस्या भी दूर होती है। skin lightening treatment in hindi

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
    के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
    स्किन केयर, स्वस्थ जीवन नवम्बर 20, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    Recommended for you

    बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड

    बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड, जो भूल कर भी उन्हें न दे

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
    के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
    प्रकाशित हुआ अप्रैल 6, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    गर्भावस्था के दौरान हिप पेन

    गर्भावस्था के दौरान हिप पेन से कैसे बचें?

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
    प्रकाशित हुआ अप्रैल 2, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    बुढ़ापे में हेल्थ इंश्योरेंस

    बुढ़ापे में हेल्थ इंश्योरेंस लेने से पहले इन बातों को जानना है जरूरी

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
    प्रकाशित हुआ मार्च 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    कपिंग थेरिपी

    कपिंग थेरिपी क्या है? जान लीजिए इसके फायदे

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
    प्रकाशित हुआ मार्च 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें