हेयर कलर करवाने से पहले याद रखें ये 5 बाते

By Medically reviewed by Dr. Pooja Bhardwaj

हेयर कलर करवाना कुछ लोगों के लिए फैशन है तो कुछ लोगों की मजबूरी है। आजकल धूल, प्रदूषण और गलत खानपान की वजह से कम उम्र में ही लोगों के बाल सफेद हो जा रहे हैं। कई बार तो छोटे बच्चों के भी बाल सफेद होते देखने को मिल जाते हैं। काले बालों के बीच थोड़े बहुत सफेद बाल शोभा नहीं देते, इसलिए सफेद बालों से परेशान ज्यादातर लोग हेयर कलर करवाते हैं। इसी तरह कुछ लोगों को अलग-अलग स्टाइल और फैशन के लिए बालों को कलर करवाना अच्छा लगता है। हेयर कलर के लिए कुछ लोग सलॉन को बेस्ट मानते हैं तो कुछ लोग घर पर ही हेयर कलर करते हैं। 

बालों को कलर करते समय कुछ बातों का ध्यान में रखना है जरुरी:

नेचुरल कलर चुनें :

अक्सर लोग बालों को कलर करवाते समय फैशन या किसी मॉडल को ध्यान में रखते हैं। जबकि, बाल कलर करवाते समय हमें अपनी सुविधा का ध्यान रखना चाहिए। अगर आप नेचुरल कलर से मिलता-जुलता कलर करवाते हैं तो इनका ध्यान रखना आसान होता है। अगर आप नेचुरल कलर से बिल्कुल अलग कलर करवाते हैं तो बालों का ध्यान रखने के लिए आपको ज्यादा मेहनत और ज्यादा समय चाहिए।

यह भी पढ़ें :  हेयर ग्रोथ फूड्स अपनाकर पाएं काले घने लंबे बाल

उचित शेड का चुनाव करें:

बालों को कलर करवाने के लिए आजकल कई शेड्स आपको मार्केट में मिल जाएंगे। लेकिन आपको अपने बालों, अपनी हेयरस्टाइल और लेटेस्ट फैशन के मुताबिक उपयुक्त हेयर कलर चुनना चाहिए। कई हेयर कलर्स लंबे बालों पर अच्छे लगते हैं और कई छोटे या मीडियम बालों पर। ऐसे में अपने स्किन टोन को ध्यान में रखते हुए कलर का चनाव करना चाहिए । इसके अलावा इस बात का भी ध्यान रखें कि हेयर कलर आपके स्किन टोन पर अच्छा लगे।

सारे टूल्स रखें तैयार:

अगर आप घर पर ही बालों को कलर करना चाहते हैं तो इसके लिए कलरिंग  किट को तैयार रखें। कई बार बालों को कलर करते हुए जब किसी चीज की जरूरत हो और वो न मिल रही हो तो वो आपके लिए परेशानी की वजह हो सकती है। इसका बालों पर भी गलत प्रभाव भी पड़ सकता है। इसलिए बाल कलर करने से पहले दस्‍ताने, तौलिया, बड़ा ब्रश, कंघी, पुरानी शर्ट, हेयर ब्रश, हेयर कलर और खराब कपड़ा आदि तैयार रखें। इसके अलावा घर पर कलरिंग करते समय स्किन पर एलर्जी टेस्ट जरूर कर लें।

यह भी पढ़ें :  हेयर स्पा ट्रीटमेंट से बाल होंगे हेल्दी, स्पा लेने के बाद रखें इन बातों का ध्यान

विग पर टेस्ट कर लें:

एक्सपर्ट्स मानते हैं कि अगर आप अपने बालों में तीन शेड्स से ज्यादा का बदलाव करने वाले हैं तो इसे पहले विग पर टेस्ट कर लें। तीन शेड से ज्यादा के बदलाव में साइकोलॉजिकली अपना चेहरा कुछ समय के लिए अजीब लग सकता है। इसके अलावा विग पर ट्राई करने से आपको बाद में अगर हेयर स्टाइल चेंज करने की जरूरत पड़ती है तो आसानी रहती है।

एक शेड कम कलर खरीदें:

 बालों को कलर करने के बाद अक्सर लोगों को लगता है कि कलर वैसा नहीं हुआ है, जैसा कि उन्होंने सोचा था। इसका कारण यह भी है कि आमतौर पर पैक पर जो भी कलर दिया होता है, हेयर कलर उससे थोड़ा डार्क ही होता है। ऐसे में कई बार हमें अपना मनपसंद कलर नहीं मिल पाता है। लेकिन इस समस्या का हल ये है कि आप जब भी हेयर कलर चुनें, एक शेड लाइट कलर खरीदें। इसके अलावा विग पर ट्राई करने से भी आपको इसके सही रंग के बारे में पता चल जाएगा।

अगर आप इन सभी बातों का ध्यान रखेंगे तो आपको तो घर पर हेयर कलर आसानी से कर सकते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं आपको किसी भी तरह का साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होगा।

और पढ़ें : बच्चों में पोषण की कमी के ये 10 संकेत, अनदेखा न करें इसे

अभी शेयर करें

रिव्यू की तारीख जुलाई 8, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया अक्टूबर 15, 2019

शायद आपको यह भी अच्छा लगे