जब दिल की धड़कन बढ़ने लगे तो, समझ लो कि प्यार नहीं ब्रोकन हार्ट हो गया है

द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

“और भी दुख हैं जमाने में महोब्बत के सिवा”….

जब भी टूटे दिल का जिक्र होता है तो, स​बसे पहले महोब्बत में तबाह हुए दर्दे दिलों का ही नाम जहन में आता है। पर हर वह कारण जो दिल में खालीपन भर दे और आपमें तनाव की गंभीर स्थिति पैदा कर दे टूटे दिल का कारण हो सकता है। मेडिकल भाषा में इस टूटे दिल को ‘ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम’ कहते हैं। कई मामलों में यह मौत का कारण भी बन सकती है। इसलिए जिंदगी में कितनी भी गंभीर स्थिति हो दिल को उल्लू
बनाए रखना जरूरी है। उससे कहते रहिए आल इज वेल।

Broken Heart Pain Sticker for iOS & Android | GIPHY

क्या है ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम

तनाव भरी स्थिति के कारण ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम होता है। किसी बड़ी सर्जरी या शारीरिक बीमारी के कारण भी यह सिंड्रोम हो सकता है। इससे ग्रसित लोगों को सीने में दर्द या हार्ट अटैक जैसी स्थिति महसूस हो सकती है। इसमें अस्थायी तौर पर दिल का कोई हिस्सा सही से काम करना बंद कर देता है या सामान्य मात्रा से तेज धड़कने लगता है। माना जाता है कि ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम स्ट्रेस हार्मोनस् में आए बदलाव के कारण भी हो सकता है।

अन्य नामों से भी जाना जाता है

जपान के एक ओक्टोपस के आकार का दिखने के कारण इसे टाकोसूबू कार्डियोमायोपैथी (takotsubo cardiomyopathy) भी कहते हैं। इसके अलाव सिंड्रोम को एपिकल बलूनिंग सिंड्रोम (apical ballooning syndrome) या स्ट्रेस कार्डियोमायोपेथी या (stress cardiomyopathy) भी कहते हैं।

ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम कितना सामान्य है?

नेशनल हार्ट, लंग एंड ब्लड इंस्टिट्यूट के अनुसार अमेरिका में साल 2007 में 1.2 मिलियन लोगों में मायोकार्डियल इन्फ्रेक्शन की समस्या देखने को मिली। इनलोगों में 1 प्रतिशत लोगों में हार्ट ब्रोकन सिंड्रोम की समस्या थी।

ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम से सबसे ज्यादा कौन पीड़ित होता है?

ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम से पुरुषों की तुलना में महिलाएं ज्यादा पीड़ित होती हैं। दिल से जुड़ी कोई बीमारी न होने की स्थिति में भी ब्रोकन हार्ट हो सकता है।

और पढ़ें : भारत में हृदय रोगों (हार्ट डिसीज) में 50% की हुई बढोत्तरी

हार्ट अटैक और ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम में अंतर

हार्ट अटैक हार्ट अर्टरी के पूरी तरह काम करने के बंद होने वाली या करीब करीब बंद होने वाली स्थिति को कहते हैं। हार्ट आर्टरी में यह ब्लॉकेज ब्लड क्लॉटिंग की वजह से होता है। वहीं ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम में किसी तरह की ब्लॉकेज नहीं होती। इसमें दिल में खून के बहाव में कमी आ जाती है।

ब्रोकन हार्ट क्यों होता है

ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम क्यों होता है अभी तक यह बात साफ नहीं है। माना जाता है कि स्ट्रेस हार्मोन जैसे कि एड्रिनलिन (adrenaline) कुछ लोगों में अस्थायी तौर पर हार्ट पर बुरा प्रभाव डालता है। यह हार्मोन ही सही रूप में जिम्मेदार हैं या कोई अन्य कारण है इसकी जानकारी अभी नहीं है। ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम के मुख्य कारण भावनात्मक या शारीरिक माने जाते हैं।

इन स्थितियों को कह सकते हैं वजह

  •  प्रेम संबंधों में दिल का टूटना
  •   किसी बहुत ही करीबी व्यक्ति की अचानक मौत हो जाना
  •   अस्थमा अटैक आना
  •  परिवार में चल रहा तनाव भी कारण हो सकता है
  •   शरीर को बेहद थका देने वाला शारीरिक परिश्रम
  •   कई बार हद से ज्यादा खुशी भी दिल सह नहीं पाता
  •  किसी प्रकार की सर्जरी या मेडिकल डायग्नोसिस से डर
  • नौकरी से निकाल दिए जाने पर

और पढ़ें :डर, प्यार और खुशी की गंध भी पहचान सकती है हमारी नाक, जानें नाक के बारे में अमेजिंग फैक्ट्स

कुछ दवाओं के कारण भी यह स्थिति पैदा हो सकती है

  • इपिनेफ्रिन (Epinephrine) (EpiPen, EpiPen Jr.) अस्थमा की बीमारी या गंभीर एलर्जी की समस्या में इस दवा का इस्तेमाल किया जाता है।
  •  ड्ूयलोक्सटिन (Duloxetine) (Cymbalta) डायबिटिज के मरीजों नर्व से जुड़ी समस्या में दी जाती है या तनाव के उपचार में भी इसका प्रयोग किया जाता है।
  •  वेनलाफेक्सिन (Venlafaxine) (Effexor XR) तनाव के उपचार के लिए।
  •  लिवोथाइरोक्सिन (Levothyroxine) (Synthroid, Levoxyl) जिन लोगों का थाइरोयड ग्लैंड सही से काम नहीं करता उन्हें दी जाती है।

Explode Broken Heart GIF by Make it Move - Find & Share on GIPHY

और पढ़ेंजानें शरीर में तिल और कैंसर का उससे कनेक्शन 

लगभग लगभग हार्ट अटैक से मेल खाते हैं इसके लक्षण

यदि सीने में लगातार दर्द हो रहा तो यह हार्ट अटैक की स्थिति  भी हो सकती है। यदि आपके सीने में रह रह के दर्द उठ रहा हो। सांस लेने में तकलीफ महसूस हो रही हो। इन सभी स्थितियों में आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

इन ऊपर बताये गए लक्षणों से ब्रोकन हार्ट की परेशानी समझी जा सकती है। वैसे तनाव की स्थिति होने पर ब्रोकन हार्ट की समस्या हो सकती है। इसलिए ऐसी स्थिति में जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। तनाव को कभी भी इग्नोर न करें। आप चाहे तो अपने किसी जानकार या भी दोस्त से भी इस बारे में बात कर सकते हैं। ये सत है कि अपनी परेशानी किसी को बता देने से मन हल्का हो जाता है। ऐसा करने से आप डिप्रेशन की समस्या से भी बच सकते हैं।

किनके लिए है ज्यादा खतरा

महिलाओं और 50 वर्ष पार करने वाले व्यक्तियों में यह सिंड्रोम ज्यादा प्रभाव डालता है। जिन लोगों में न्यूरोलॉजिकल डिसआर्डर (neurological disorders) जैसे कभी सर पर चोट आना, सीजर डिसआर्डर (seizure disorder) होते हैं। यदि पहले कभी कोई मानसिक रोग जैसे एनजाइटी (anxiety) या डिप्रेशन (depression) से गुजरा है या गुजर रहा है। ऐसे लोगों में ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम का खतरा बढ़ जाता है।

और पढ़ें : जानिए क्या हैं कान से जुड़े इंटरेस्टिंग फैक्ट्स

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

क्या है उपचार ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम का ?

पहले यदि आपके साथ ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम की स्थिति पैदा हुई है, तो आगे भी हो सकती है। इससे बचने के लिए कोई मान्य थेरेपी नहीं है। कई डॉक्टर लंबे समय के लिए बेटा ब्लॉकर (beta blockers) या दवाएं देते हैं, जिनसे कि दिल को नुकसान पहुंचाने से स्ट्रेस हार्मोन को रोका जा सकता है। जिंदगी में तनाव ही तनाव लेंगे तो, जिंदगी तनाव से ही भरी रहेगी। चाहे सबकुछ बुरा ही क्यों न दिख रहा हो उस बुरे को छोड़कर कुछ अच्छा देखने की कोशिश करनी चाहिए। अच्छा लाइफ स्टाइल और मेडिटेशन से भी स्थिति को काबू में किया जा सकता है।

अगर आपको दिल से जुड़ी कोई परेशानी है, तो आप डॉक्टर से निम्नलिखित सवाल पूछ सकते हैं। इन सवालों में शामिल है-

तनाव किस तरह दिल को नुकसान पहुंचा सकता है?

स्ट्रेस कार्डियोमायोपैथी क्या है?

क्या स्ट्रेस कार्डियोमायोपैथी खतरनाक है?

स्ट्रेस कार्डियोमायोपैथी के लक्षण क्या हो सकते हैं?

अचानक से होने वाले तनाव की वजह से हृदय की मांसपेशियों को कितना नुकसान पहुंच सकता है?

क्या स्ट्रेस कार्डियोमायोपैथी और हार्ट अटैक में अंतर है?

स्ट्रेस कार्डियोमायोपैथी का खतरा सबसे ज्यादा किसे हो सकता है?

अगर आप ब्रोकन हार्ट से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। उपरोक्त दी गई जानकारी एक्सपर्ट की सलाह नहीं है। अगर आपको भी उपरोक्त दिए गए लक्षण नजर आते हैं तो एक बार विशेषज्ञ से जरूर मिले।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

इन हाई ब्लड प्रेशर फूड्स को अपनाकर हाइपरटेंशन को दूर भगाएं!

हाई ब्लड प्रेशर क्या है? हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल फूड्स कौन से हैं? हाइपरटेंशन फूड्स का उपयोग कैसे करने से ज्यादा फायदा मिलता है जानें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Hema Dhoulakhandi
हेल्थ सेंटर्स, हाइपरटेंशन अप्रैल 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

कितना सामान्य है गर्भावस्था में नसों की सूजन की समस्या? कब कराना चाहिए इसका ट्रीटमेंट

जानिए गर्भावस्था में नसों की सूजन in Hindi, गर्भावस्था में नसों की सूजन के लक्षण, garbhavastha me nasho ki sujan के कारण, Varicose veins during pregnancy.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी मार्च 30, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

20 से 39 साल के पुरुषों का बॉडी चेकअप जरूर कराएं, जानें क्यों?

जानें पुरुषों का बॉडी चेकअप क्यों करवाना जरूरी in hindi. पुरुषों का बॉडी चेकअप कब कराना चाहिए, शरीर की जांच, man body checkup according age

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
पुरुषों का स्वास्थ्य, स्वस्थ जीवन मार्च 25, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

रिनल हाइपरटेंशन (Renal Hypertension) क्या है?

रिनल हाइपरटेंशन क्या है? रिनल हाइपरटेंशन के कारण और लक्षण क्या हैं? हाइपरटेंशन (Hypertension) से कैसे बचाव किया जा सकता है? Renovascular hypertension

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Hema Dhoulakhandi
हेल्थ सेंटर्स, हाइपरटेंशन मार्च 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

टाइप-1 डायबिटीज क्या है

टाइप-1 डायबिटीज क्या है? जानें क्या है जेनेटिक्स का टाइप-1 डायबिटीज से रिश्ता

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ सितम्बर 17, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें
सिलकार टी

Cilacar T : सिलकार टी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ जून 16, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
लो ब्लड प्रेशर का आयुर्वेदिक इलाज - ayurvedic treatment of low blood pressure

लो ब्लड प्रेशर का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? ब्लड प्रेशर कम होने पर क्या करें, क्या न करें?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जून 10, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
ब्लड प्रेशर रीडिंग-Blood pressure reading

ब्लड प्रेशर रीडिंग के दो नम्बरों का क्या अर्थ है? जानने के लिए पढ़ें

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Hema Dhoulakhandi
प्रकाशित हुआ अप्रैल 24, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें