मेडिटेशन के लाभ : ध्यान लगाना बेहतर बना सकता है सेक्स लाइफ

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 2, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

क्या आप जानते हैं कि मेडिशन (ध्यान लगाना) आपकी सेक्स लाइफ को बेहतर बना सकता है? अगर नहीं, तो आपको बता दें कि मेडिटेशन का इतिहास कई हजार साल पुराना है। आजकल इसकी बढ़ती लोकप्रियता और मेडिटेशन के लाभ जानने के बाद ज्यादा से ज्यादा लोग इसकी तरफ आकर्षित हो रहे हैं। हों भी क्यों न? मेडिटेशन से शरीर के साथ-साथ दिमाग को भी फायदे जो मिलते हैं। स्ट्रेस को कम करने के साथ ही ध्यान लगाने से एक अच्छा स्लीप पैटर्न भी विकसित होता है। इस आर्टिकल में मेडिटेशन के बारे में जुड़े कुछ ऐसे ही रोचक तथ्य और मेडिटेशन के लाभ जानेंगे।

मेडिटेशन के लाभ – ध्यान लगाने के बारे में तथ्य (Meditation Facts)

मेडिटेशन के लाभ जानने से पहले जानते हैं ध्यान लगाने से जुड़े कुछ इंटरेस्टिंग फैक्ट्स-

  • रोजाना केवल 10 मिनट का माइंडफुलनेस मेडिटेशन चिंता से ग्रस्त लोगों में विचलित करने वाले विचारों को कम करने में मदद कर सकता है।
  • हालांकि, ध्यान लगाना महिला और पुरुष दोनों के लिए ही लाभकारी होता है लेकिन, मेडिटेशन से महिलाओं की नकारात्मक सोच (चिड़चिड़ापन या अपराधबोध) में अधिक कमी दिखाई देती है और उनमें आत्म-करुणा की अधिक वृद्धि होती है।
  • मेडिटेशन के लाभ आपने सुने ही होंगे। लेकिन, मेडिटेशन के बारे में यह आपने कभी नहीं सुना होगा। ऑर्गैज्मिक मेडिटेशन एक तरह का ऐसा मेडिटेशन है, जिसमें शारीरिक संबंध बनाए बिना भी महिला ऑर्गैज्म महसूस कर सकती है
  • ध्यान लगाने से पीठ के निचले हिस्से के दर्द को कम किया जा सकता है। यह अन्य मेडिकल ट्रीटमेंट (ओवर-द-काउंटर या प्रिस्क्रिप्शन दवाएं) की तुलना में अधिक प्रभावी ढंग काम करता है। 
  • 3,500 ईसा पूर्व सिंधु घाटी की पुरानी वॉल आर्ट में मौजूद कुछ चित्र मेडिटेशन का प्रमाण देते हैं। चित्रों में क्लासिक योग पोज (yoga poses) के साथ कुछ ऐसी चित्र दिखाई देते हैं जिनमें कोई क्रॉस लेग करके हाथों को पैर पर रखकर आंखों को थोड़ा बंद किए हुए है। 
  • मेडिटेशन के बारे में कहा जाता है कि यह नियोकॉर्टेक्स (neocortex) को उत्तेजित करके तनाव को कम करता है, इसलिए इसके नियमित अभ्यास से क्रिएटिविटी को बढ़ाया जा सकता है।
  • गूगल अपने कर्मचारियों के इमोशनल इंटेलिजेंस को बढ़ाने, मेंटल फोकस सुधारने और सुनने की स्किल्स को बेहतर करने के लिए एक दर्जन से भी ज्यादा मेडिटेशन कोर्सेज प्रदान करता है।
  • मिस्र और चीन में मेडिटेशन का धार्मिक संबंध है। यानी सिर्फ हिंदू धर्म ही नहीं दुनिया के बाकी धर्मों में भी इसे विशेष दर्जा प्राप्त है।
  • मेडिटेशन खुद पर नियंत्रण रखने की एक पद्धति है। ध्यान लगाने से आत्मविश्वास और कंसंट्रेशन बढ़ता है जिससे समस्याओं को रचनात्मक तरीकों से आसानी से सॉल्व किया जा सकता है।
  • मेडिटेशन के दौरान ‘ओम’ (OM) शब्द की ध्वनि से निकलने वाले वाइब्रेशन से साइनस की समस्या दूर हो जाती है। इससे इंसोम्निया जैसी बीमारी भी कम होती है।
  • मेडिटेशन के बारे में कहा जाता है कि एडीएचडी (Attention deficit hyperactivity disorder) ग्रस्त बच्चों के नियमित रूप से मेडिटेशन करने पर उनमें एकाग्रता बढ़ती है।

ज्यादातर रोगों का कारण चिंता या तनाव (स्ट्रेस) होता है। ऐसे में मेडिटेशन करने से मन को तनावमुक्त किया जा सकता है जिससे शरीर स्वस्थ बनता है। इसके साथ ही ध्यान लगाने से आप खुद को और बेहतर तरीके से जानने में भी सक्षम बनते हैं।

और पढ़ें : ध्यान मेडिटेशन किस तरह मेंटल स्ट्रेंथ के लिए फायदेमंद है?

ध्यान कितने प्रकार के होते हैं? (Types of Meditation)

  • आध्यात्मिक ध्यान
  • मंत्र ध्यान
  • गतिमान ध्यान
  • विपश्यना मेडिटेशन
  • गूढ़ चिंतन ध्यान

मेडिटेशन के लाभ – ध्यान लगाने के नियम क्या है? (Meditation Niyam)

ध्यान लगाने के नियम इस प्रकार हैं, जैसे-

  1. सबसे पहले आपको ध्यान लगाने का सही समय चुनना चाहिए। मेडिटेशन करने का सही समय आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप किस समय खाली और शांत रहते हैं। हालांकि, सलाह दी जाती है कि जब आपके आसपास शांत माहौल हो, तभी मेडिटेशन करना चाहिए।
  2. शांत, स्थिर और आरामदायक स्थिति में बैठें।
  3. सांसों को नियंत्रित करने की कोशिश न करें।
  4. मेडिटेशन के लाभ पाने के लिए उसे खाली पेट करें।
  5. ध्यान लगाने से पहले शरीर को प्राणायाम की मदद से वार्मअप भी कर सकते हैं।
  6. ध्यान लगाते हुए सांस को पूरी तरह लें।
  7. मेडिटेशन के बाद आंखों को धीरे-धीरे खोलें और आराम से शरीर की स्थिति बदलें।

मेडिटेशन के लाभ – ध्यान कैसे लगाएं और उसकी विधि? (How to do Meditation)

ध्यान लगाना हमारी हेल्थ के लिए बेहद ही फायदेमंद होता है। लेकिन, कई लोगों को यह पता नहीं होता है कि आखिर मेडिटेशन करने का तरीका क्या है? बता दें मेडिटेशन करने के तरीके में कुछ खास नियम शामिल हैं। इन्हें ध्यान में रखना बहुत जरूरी है। जैसे-

बैठने की प्रक्रिया

सबसे पहले पद्मासन, वज्रासन या सुखासन में बैठ जाएं। इस दौरान आपकी रीढ़ एक सीध में रहनी चाहिए ताकि आप सांस सही से ले सकें। वहीं, अगर किसी स्वास्थ्य समस्या के चलते इन आसनों में नहीं बैठ सकते हैं, तो कुर्सी का प्रयोग कर सकते हैं।

और पढ़ें : डायबिटीज के लिए योगासन कैसे करें?

आराम की अवस्था

अब अपनी बॉडी को आराम की पुजिशन में ले जाएं। फिर शरीर को ढीला छोड़ दें ताकि सभी मसल्स रिलैक्स हो सके। इस प्रोसेस को पैरों से शुरू करके अपने फेस तक लाएं। सुनिश्चित करें कि पूरा शरीर रेस्ट करे।

ध्यान में लगाने में सांस कैसे लें

आराम की पुजिशन में आने के बाद सांस लेने की क्रिया पर ध्यान दें। प्राकृतिक रूप से शरीर को सांस लेने के लिए प्रेरित करें। इसके बाद धीरे-धीरे गहरी सांस लें और फिर उसी तरह से सांस बाहर निकालें। ध्यान के लाभ को हासिल करने के लिए इस क्रिया को मन से कई बार दोहराएं।

और पढ़ें : भागदौड़ भरी जिंदगी ने उड़ा दी रातों की नींद? जानें इंसोम्निया का आसान इलाज

फोकस करें

अब अपना ध्यान किसी एक बिंदु पर फोकस करने की कोशिश करें। मेडिटेशन के लाभ तभी मिलेंगे जब आप पूरी तरह से फोकस होंगे। इसके लिए अपने अंतर्मन पर ध्यान केंद्रित करें। इसके लिए आप एक से पांच तक गिनती करें। इस प्रक्रिया को कई बार दोहराएं। वहीं, आप किसी ऐसी चीज या विचार पर भी ध्यान केंद्रित करने का प्रयास कर सकते हैं, जो आपको खुशी देता हो।

मेडिटेशन के लाभ पाने के लिए पॉजिटिव रहें

अगर आप पहली बार ध्यान लगाने जा रहे हैं तो हो सकता है कि आपका मन बार-बार दूसरी ओर जाए। इसके लिए जरूरी है कि मन में बैलेंस की अवस्था को बनाने की कोशिश करें और मन को भटकने से रोकें। यदि मन किसी वजह से भटक जाए, तो उसे फिर से केंद्रित करने का प्रयास करें।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

और पढ़ें : महिलाओं में डिप्रेशन क्यों होता है, जानिए कारण और लक्षण

मेडिटेशन के 7 लाभ (Meditation Benefits)

मेडिटेशन करने के फायदे कई होते हैं, जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं-

1. मेडिटेशन के लाभ :स्ट्रेस में कमी

रोजाना ध्यान लगाने से दिमाग शांत होता है और तनाव कम होता है। मेडिटेशन के लाभ में यह सबसे अहम है।

2. मेडिटेशन के मानसिक लाभ- चिंता और डिप्रेशन होता है कम

नियमित ध्यान लगाने के सबसे बड़ा लाभ यह है कि इससे चिंता और अवसाद से निजात मिलती है।

3. मेडिटेशन के लाभ : दिमाग का विकास होता है सही

मेडिटेशन दिमाग के डेवलपमेंट के लिए भी बेहद लाभकारी होता है। इसका कारण यह है कि इसकी मदद से स्ट्रेस, एंग्जायटी की समस्या और अवसाद जैसी मानसिक समस्याओं से छुटकारा मिलता है। इससे दिमाग के कार्य करने की क्षमता मजबूत होती है।

और पढ़ें : ये योगासन आपको रखेंगे हेल्दी और फिट

4. मेडिटेशन के शारीरिक लाभ – ब्लड प्रेशर में सुधार

मेडिटेशन के लाभ में यह एक बड़ा लाभ है कि इससे रक्तचाप को नियंत्रित करने में आसानी होती है। नियमित ध्यान लगाने से ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है।

5. दर्द से निजात

मेडिटेशन करने से बॉडी में रक्त प्रवाह बेहतर होता है और माइंड शांत होता है। इस वजह से आत्मिक और शारीरिक दोनों तरह के दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

और पढ़ें : असामान्य तरीके से वजन का बढ़ना संकेत है कमजोर मेटाबॉलिज्म का

6. दिल की सेहत सुधरती है

मध्यान लगाने से दिल की बीमारी के लिए मुख्य कारण (तनाव, चिंता और ब्लड प्रेशर) को कम करने में मददगार होते हैं। मेडिटेशन के लाभ से हृदय संबंधी बिमारियों को दूर करते हैं।

7. मेडिटेशन के आध्यात्मिक लाभ – दयालु बनाता है

मेडिटेशन के लाभ में यह आध्यात्मिक लाभ भी मिलता है कि, इससे आपका व्यक्तित्व दयालु बन जाता है। आपके अंदर सकारात्मक विचार आने लगते हैं और आप दूसरे लोगों की पीड़ा और स्थिति को समझकर बेहतर मदद कर पाते हैं। इससे आपके मन में प्रेम का जन्म होता है।

Meditation VIDEO – ध्यान लगाने से कैसे मिलती है खुशी

8. स्लीप पैटर्न (sleep pattern) में सुधार

माइंडफुलनेस मेडिटेशन (mindfulness meditation) करने से नींद में सुधार होता है। वहीं, इस विषय पर हुई रिसर्च की मानें तो रोजाना ध्यान लगाने से नींद की बीमारियां दूर होती हैं।

ऊपर बताए गए मेडिटेशन के लाभ आपको कैसे लगे? हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। साथ ही अगर आपका इस विषय से संबंधित कोई भी सवाल या सुझाव है तो वो भी हमारे साथ शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

CTD-T 12.5 Tablet : सीटीडी-टी 12.5 टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सीटीडी-टी 12.5 टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, सीटीडी-टी 12.5 टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, CTD-T 12.5 Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल अगस्त 26, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Quiz: लव लाइफ में रोड़ा बन सकती है डेटिंग एंजायटी, क्विज को खेलकर जानिए इसके लक्षण

डेटिंग एंजायटी क्या है? इसके लक्षण क्या हैं? इसका जवाब आपको ये क्विज खेलकर मिल जाएगा।

के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
क्विज अगस्त 25, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Eliwel Tablet : एलिवेल टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

एलिवेल टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, एलिवेल टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Eliwel Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल अगस्त 13, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें

Telmikind-H Tablet : टेल्मिकाइंड एच टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

टेल्मिकाइंड एच टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, टेल्मिकाइंड एच टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Telmikind-H Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जुलाई 27, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

लाफ्टर थेरेपी

लाफ्टर थेरेपी : हंसो, हंसाओं और डिप्रेशन को दूर भगाओं

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ सितम्बर 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
भारत में महिला आत्महत्या women suicide prevention in india

विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस: क्यों भारत में महिला आत्महत्या की दर है ज्यादा? क्या हो सकती है इसकी रोकथाम?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ सितम्बर 2, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
मेडिटेशन वॉकिंग क्विज - Quiz Meditation Walk

Quiz खेलकर जानें कि मेडिटेशन वॉक के क्या-क्या हैं फायदें

के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ अगस्त 26, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
LGBT community challenges,एलजीबीटी कम्यूनिटी चैलेंजेस

एलजीबीटीक्यू कम्युनिटी चैलेंजेस क्या हैं और कैसे उबरा जाए इन समस्याओं से?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ अगस्त 26, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें