लाइलाज नहीं है नपुंसकता रोग, ये सेक्स मेडिसिन दूर कर सकती हैं समस्या

Medically reviewed by | By

Update Date जुलाई 1, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Share now

सेक्स के दौरान इरेक्शन न होना या इरेक्शन को बरकरार नहीं रख पाने की स्थिति को नपुंसकता (इरेक्टाइल डिसफंक्शन) कहते हैं। यह टर्म पुरुषों के लिए इस्तेमाल की जाती है। कई पुरुष इसके लिए सेक्स मेडिसिन लेते हैं। पुरुषों को यह परेशानी किसी भी उम्र में हो सकती है, लेकिन ज्यादातर यह समस्या 40 साल से ज्यादा उम्र के पुरुषों में देखने को मिलती है। इसके चलते पुरुषों में तनाव और कॉन्फिडेंस की कमी हो सकती है। इसके कारण पार्टनर संग रिश्तों में खटास पैदा हो सकती है। इरेक्टाइल डिसफंक्शन दो तरह के होती है पहला शॉर्ट टर्म और दूसरा लॉन्ग टर्म।

शॉर्ट टर्म इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Short Term Dysfunction)

शॉर्ट टर्म इरेक्टाइल डिसफंक्शन सामान्य है। एक शोध के अनुसार, 60% पुरुषों में यह समस्या होती है। यह परेशानी खराब लाइफस्टाइल जैसे स्ट्रेस, थकान, चिंता, शराब, सिगरेट आदि के कारण हो सकती है।

और पढ़ेंः बेडरूम रोमांस टिप्स : रोमांस करने से पहले अपने बेडरूम को इस तरह दें नया लुक

लॉन्ग टर्म इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Long Term Dysfunction)

लॉन्ग टर्म इरेक्टाइल डिसफंक्शन की परेशानी किसी शारीरिक समस्या के कारण हो सकती है। जिन लोगों को डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, हाई कोलेस्ट्रॉल की परेशानी होती है उनमें यह समस्या हो सकती है। क्योंकि इसमें शरीर के प्राइवेट पार्ट में ब्लड का फ्लो प्रभावित होता है। शरीर में टेस्टोस्टेरॉन हॉर्मोन का स्तर अत्यधिक कमी होने पर भी लंबे समय के लिए यह परेशानी हो सकती है।

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का इलाज इसके कारण पर निर्भर करता है। यदि स्ट्रेस, चिंता या खराब लाइफस्टाइल के कारण यह परेशानी है तो सेक्स थेरेपिस्ट से मिलकर थेरेपी ले सकते हैं। कई पुरुषों को डॉक्टर दवा रिकमेंड करते हैं। इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की परेशानी में डॉक्टर नीचे बताई दवाओं को रिकमेंड करते हैं।

और पढ़ेंः कमजोरी दूर कर अच्छे प्रदर्शन के लिए सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के इलाज में इस्तेमाल की जाने वाली दवाएं (सेक्स मेडिसिन)

इरेक्टाइल डिसइंफेक्शन के लिए कई तरह की दवाएं रिकमेंड की जाती हैं। हर दवा अलग तरीके से काम करती है, लेकिन सभी पेनिस में ब्लड फ्लो को उत्तेजित कर सेक्सुअल एक्टिविटी में सुधार करती हैं। ज्यादातर इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए फॉस्फोडिएस्टरेज टाइप 5 (पीडीई 5) इनहिबिटर के रूप में जाना जाता है। ये उन एंजाइम की गतिविधि को रोकती हैं जो इरेक्टाइल डिसफंक्शन की ओर ले जाती हैं।

यदि आपको कुछ स्वास्थ्य संबंधी परेशानी है, तो आपके लिए इरेक्टाइल डिसफंक्शन ड्रग लेना नुकसानदायक साबित हो सकता है। उदाहरण के लिए, यदि किसी को हृदय रोग है, तो आपका हृदय सेक्स के लिए उतना स्वस्थ नहीं हो सकता है। इसलिए इन दवा को कभी खुद से न लें। अपने चिकित्सक को अपनी मेडिकल कंडिशन के बारे में बताएं। उसी हिसाब से डॉक्टर आपके लिए दवा निर्धारित करेंगे। कुछ लोग खुद से दवा ले लेते हैं। ऐसा करना उनके लिए जानलेवा साबित हो सकता है।

और पढ़ेंः स्टैंडिंग सेक्स एंजॉय करना चाहते हैं तो इन बातों का रखें ध्यान

सेक्स मेडिसिन: एलप्रोस्टाडिल (Alprostadil):

एलप्रोस्टाडिल इंजेक्शन और सपोजिटरी फॉर्म में उपलब्ध है। इस इंजेक्शन को सेक्स करने 5 से 20 मिनट पहले डायरेक्ट पेनिस में दिया जाता है। इसे हफ्ते में तीन बार लिया जा सकता है। दूसरा इंजेक्शन लेने के बीच कम से कम 24 घंटे का गैप देना चाहिए।

सपोजिटरी फॉर्म: यह दवा 5 से 10 मिनट में काम करती है। ये इरेक्शन का निर्माण करती है, जो लगभग 30-60 मिनट तक रहता है। 24 घंटे में इस दवा की 2 से ज्यादा डोज नहीं लेनी चाहिए।  इसे लेने से निम्नलिखित दुष्परिणाम हो सकते हैं:

  • पेनिस में दर्द (pain in the penis )
  • अंडकोष में दर्द (pain in the testicles)
  • मूत्रमार्ग में जलन (burning in the urethra)

सिलडेनाफिल (Sildenafil)

सिलडेनाफिल (वायग्रा) भी पीडीई 5 इनहिबिटर है। यह सिर्फ ओरल टैबलेट के रूप में उपलब्ध है। आप इसे दिन में एक बार सेक्स करने से आधे घंटे पहले ले सकते हैं। वायग्रा को लेने से निम्न साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • सिरदर्द (headache)
  • फ्लशिंग (flushing)
  • नाक बहना या नाक का भरा होना (stuffy or runny nose)
  • कमर में दर्द (back pain)
  • पेट का खराब होना (upset stomach)
  • मसल्स में दर्द होना (muscle aches)
  • साफ नजर न आना (blurry vision)

सेक्स मेडिसिन: एवानाफिल (Avanafil)

एवानाफिल एक ओरल ड्रग और पीडीई 5 इनहिबिटर है। इसे सेक्स से 15 मिनट पहले लिया जाता है। दिन में एक से ज्यादा इसे नहीं लेना चाहिए। यदि आप हृदय रोगों के चलते नाइट्रेट ले रहे हैं तो इसे नहीं लेना चाहिए। नाइट्रेट के साथ इस दवा को लेने से शरीर में अत्यधिक लो ब्लड प्रेशर की दिक्कत हो सकती है, जिससे जान जाने का भी खतरा होता है। इसका सेवन करने से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • सिरदर्द (Headache)
  • चेहरे पर लालिमा या चेहरे का गर्म होना (reddening and warming of your face)
  • नाक का भरा रहना या बहना (stuffy or runny nose)
  • पीठ दर्द (back pain)
  • गले में खराश (sore throat)

और पढ़ेंः फोरप्ले से हाइजीन तक: जानिए फर्स्ट नाइट रोमांस करने के लिए टिप्स

सेक्स मेडिसिन: टाडालाफिल (Tadalafil)

यह भी एक ओरल टैबलेट है जो पूरे शरीर में ब्लड फ्लो को बढ़ाता है। आप इसे सेक्स करने से आधे घंटे पहले ले सकते हैं। इस दवा को दिन में एक से ज्यादा नहीं लेना चाहिए। ये दवा 36 घंटे तक काम करती है। इस दवा को लेने से नीचे बताए साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • सिर में दर्द (headache)
  • फ्लशिंग (flushing)
  • पेट खराब होना (upset stomach)
  • शरीर के अलग अलग अंगों में दर्द होना (pain in the limbs)

सेक्स मेडिसिन: टेस्टोस्टेरोन (Testosterone)

टेस्टोस्टेरोन पुरुष शरीर में मुख्य सेक्स हॉर्मोन है। यह ओवरऑल हेल्थ में अहम भूमिका निभाता है। टेस्टोस्टेरोन का स्तर उम्र के साथ गिरता जाता है। यह परिवर्तन इरेक्टाइल डिसफंक्शन और अन्य परेशानियों को जन्म दे सकता है, जैसे:

और पढ़ेंः वर्जिन सेक्स या वर्जिनिटी खोना क्या है? समझें इससे जुड़ी बातें

कई बार डॉक्टर इरेक्टाइल डिसफंक्शन के इलाज के लिए टेस्टोस्टेरोन रिकमेंड कर सकते हैं। टेस्टोस्टेरोन की कमी वाले पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन थेरेपी के साथ उपयोग किए जाने वाले पीडीई 5 इन्हीबेटर बेहद प्रभावी होते हैं। हालांकि, इसके साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। टेस्टोस्टेरोन से हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बढ़ता है। एफडीए के अनुसार, जिन पुरुषों में कुछ मेडिकल कंडिशन के चलते टेस्टोस्टेरोन का स्तर काफी कम है सिर्फ वही टेस्टोस्टेरोन को लें। यदि आप इसे ले रहे हैं तो डॉक्टर की देखरेख में ही लें। डॉक्टर इलाज से पहले और बाद में आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन के स्तर को देखेंगे। यदि आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन लेवल काफी बड़ जाता है तो डॉक्टर दवा की खुराक को कम या बंद कर सकते हैं। टेस्टोस्टेरोन से होने वाले साइड इफेक्ट्स:

  • मुंहासे (acne)
  • मेल ब्रेस्ट (male breasts)
  • प्रोस्टेट ग्रोथ (prostate growth)
  • फ्लुइड रिटेंशन जिससे सूजन हो सकती है (fluid retention that causes swelling)
  • स्लीप एप्निया या नींद में सांस लेने में दिक्कत होना (sleep apnea, or interrupted breathing during your sleep)

सेक्स मेडिसिन: वार्डेनाफिल (Vardenafil)

यह भी ओरल ड्रग और पीडीई 5 इन्हीबेटर है। इसे सेक्स करने से एक घंटे पहले लिया जाता है। इसे भी 24 घंटे में एक बार ही लिया जा सकता है। इसका सेवन करने से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • सिर में दर्द होना (Headache)
  • चेहरे पर लालिमा या चेहरे का गर्म होना (reddening and warming of your face)
  • नाक का भरा रहना या बहना (stuffy or runny nose)
  • पीठ दर्द (back pain)
  • गले में खराश (sore throat)

और पढ़ेंः योग सेक्स : योगासन जो आपकी सेक्स लाइफ को बनायेंगे मजबूत

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए कोई सेक्स मेडिसिन लेने से पहले इन बातों का रखें ध्यान:

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए हर किसी को दवा लेने की जरूरत नहीं पड़ती है। यदि आपको लगता है आपको इरेक्टाइल डिसफंक्शन की परेशानी है तो सबसे पहले डॉक्टर से मिलें। डॉक्टर आपका फिजिकल एग्जाम करने के बाद कुछ लैब टेस्ट लिख सकते हैं। इसके साथ ही डॉक्टर आपकी पूरी मेडिकल और साइकोलॉजिकल हिस्ट्री लेंगे। डॉक्टर आपको मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल के पास जाने के लिए भी बोल सकते हैं, जो आपकी एंग्जायटी और रिलेशनशिप प्रोब्लम्स पर काम करेंगे। कभी भी इसके लिए खुद से दवा न लें। यह आपके लिए जानलेवा साबित हो सकता है।

सेक्स से जुड़े किसी भी मुद्दे पर अगर आपका कोई सवाल है, तो कृपया इस बारे में अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

हॉर्नी होना क्या है? क्या यह कोई समस्या है?

आजकल हॉर्नी शब्द का प्रयोग काफी किया जाता है। लेकिन, इसका असली मतलब शायद ही कोई जानता होगा। आइए, जानते हैं हॉर्नी का असली मतलब।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Surender Aggarwal

क्या तीव्र कामेच्छा होना आपके लिए है खतरनाक? जानें इस बारे में सबकुछ

तीव्र कामेच्छा क्या है, तीव्र कामेच्छा होने के लक्षण क्या है, कामलिप्सा के नुकसान क्या है, हाई सेक्स ड्राइव क्या है, high libido in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha

कमजोरी दूर कर अच्छे प्रदर्शन के लिए सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं?

जानिए सेक्स पावर क्या है, सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं, सेक्स पावर को बढ़ाने टिप्स, sex power को बढ़ाने के लिए क्या खाएं, sex power बढ़ाने के तरीके।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Anu Sharma

क्या आप जानते हैं हैप्पी सेक्स लाइफ के बारे में? सेहत के लिए है बहुत फायदेमंद

हैप्पी सेक्स लाइफ क्या है, हैप्पी सेक्स लाइफ टिप्स इन हिंदी, रिलेशनशिप को मजबूत कैसे बनाएं, रिलेशनशिप के लिए टिप्स, Happy sex life tips in hindi.

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Shayali Rekha

Recommended for you

लो सेक्स ड्राइव

कहीं आपकी लो सेक्स ड्राइव (low sex drive) का कारण ये दवाएं तो नहीं?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shikha Patel
Published on जुलाई 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
डायबिटीज और इरेक्टाइल डिसफंक्शन में संबंध क्या है

डायबिटीज और इरेक्टाइल डिसफंक्शन – जानिए कैसे लायें सुधार

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Anu Sharma
Published on जुलाई 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
पुरुषों के यौन (गुप्त) रोगों की जानकारी

पुरुषों के यौन (गुप्त) रोगों के बारे में पता होनी चाहिए आपको यह जरूरी बातें

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Anu Sharma
Published on जुलाई 2, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
सेक्स थेरिपी sex therapy

सेक्स थेरिपी सेशन पर जाने से पहले पता होनी चाहिए आपको ये बातें

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shikha Patel
Published on जुलाई 1, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें