home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

ब्राउन ब्रेड वर्सेस व्हाइट ब्रेड, जानिए क्या है बेहतर

ब्राउन ब्रेड वर्सेस व्हाइट ब्रेड, जानिए क्या है बेहतर

बाजार में आजकल ब्रेड के ढेर सारे विकल्प मौजूद हैं। ऐसे में ग्रोसरी स्टोर में कौन-सी ब्रेड हमारी सेहत के लिए अच्छी है, ये चयन करना कठिन हो जाता है। ऐसे में ब्राउन ब्रेड और व्हाइट ब्रेड में से कौन-सी ब्रेड चुननी चाहिए, जो स्वास्थ्य के लिए बेहतर हो, इस बारे में हम यहां बात करेंगे। चलिए हम बताते हैं कि ब्राउन ब्रेड और व्हाइट ब्रेड में से किसका चयन ज्यादा सही हो सकता है।

ब्राउन ब्रेड (Brown bread) की सामग्री

ब्राउन ब्रेड को 100% पूरे गेहूं से तैयार किया जाता है और इसमें दूसरे तरह की सामग्रियां मिलाई जाती हैं, जिसका सीधा असर ब्रेड के रंग, सॉफ्टनेस और स्वाद पर पड़ता है। ब्राउन ब्रेड फाइबर से भरपूर होती है, इसलिए अच्छे स्वास्थ्य के लिए लोग इसका इस्तेमाल ज्यादा कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें : क्या घी की कोई एक्सपायरी डेट होती है? यहां जानिए

व्हाइट ब्रेड (White bread) की सामग्री

आमतौर व्हाइट ब्रेड मैदे से तैयार की जाती है। इसका स्वाद ज्यादा रिच होता है और यही कारण है कि स्वादिष्ट सैंडविच बनाने के लिए ये एकदम परफेक्ट होती है। लेकिन, हमेशा स्वादिष्ट होने का मतलब ये नहीं कि वो हेल्दी भी होगा। व्हाइट ब्रेड में रंग, नमक और खमीर के अलावा दूसरी सामग्रियां भी मिलाई जाती हैं।

इस बात पर कोई दो राय नहीं कि ब्राउन ब्रेड एक स्वास्थ्यवर्धक विकल्प है। सफेद ब्रेड भी आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छी है, लेकिन जब बात हेल्थ की है, तो ये ब्राउन ब्रेड की बराबरी नहीं कर सकती।

यह भी पढ़ें : यह फूड बिगाड़ सकते हैं आपके पेट का मिजाज

फाइबर की मात्रा

  • व्हाइट ब्रेड में बहुत कम मात्रा में फाइबर होता है, जिसका मुख्य कारण गेहूं की कमी है। फाइबर आपके शरीर और संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है। इस बात को मान लीजिए कि ब्राउन ब्रेड वास्तव गेहूं से तैयार किया जाता है, जिसके सेवन से आपके शरीर को हाई क्वालिटी फाइबर मिलता है।
  • व्हाइट ब्रेड की तुलना में ब्राउन ब्रेड में फाइबर का भरपूर मात्रा में होता है।

सॉफ्टनेस

  • यदि आपका सवाल है कि कौन-सा ब्रेड ज्यादा नरम है, तो इसका सीधा सा जवाब है व्हाइट ब्रेड। इसका कारण है कि व्हाइट ब्रेड को अच्छी तरह से प्रोसेस किया जाता है, जिसके कारण वो ज्यादा नरम होता है।
  • दूसरी ओर व्हाइट ब्रेड जैसी सॉफ्टनेस आपको गेंहू या ब्राउन ब्रेड में प्राप्त नहीं हो सकती। इसलिए, यदि आप सैंडविच या मुंह में घुल जाने वाली ब्रेड खोज रहे हैं, तो आपको व्हाइट ब्रेड की तरफ स्विच करना चाहिए।

यह भी पढ़ें : इस तरह जानिए कि शरीर में हो गई है विटामिन-सी (Vitamin C) की कमी

पोषण और कैलोरी

गेहूं में आमतौर पर मैदे की तुलना में कम कैलोरी होती है। सफेद ब्रेड और ब्राउन ब्रेड के मामले में भी ऐसा ही है। मैदे में अधिक कैलोरी होती है, इसलिए व्हाइट ब्रेड भी कैलोरी से भरपूर है। जबकि, ब्राउन ब्रेड फाइबर से भरपूर और लेस कैलोरी वाली होती है, जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं, उनके लिए ब्राउन ब्रेड एक बेस्ट ऑप्शन होता है। जो लोग स्पोर्ट्स पर फोकस करते हैं या एथलीट हैं, उन्हें ज्यादा कैलोरी की जरूरत होती है। उनके लिए व्हाइट ब्रेड एक बेहतर विकल्प हो सकता है।

व्हाइट ब्रेड वर्सेस ब्राउन ब्रेड के अपने अलग-अलग फायदे हैं। ब्राउन ब्रेड में गेहूं के गुण होते हैं, जबकि व्हाइट ब्रेड नरम और स्वाद में रिच होती है। दिखने में दोनों के बीच सूक्ष्म अंतर हैं – एक हल्के रंग की है, जबकि दूसरी गहरे रंग की।

तो आज आपने जाना कि ब्राउन और व्हाइट ब्रेड में से कौन ज्यादा फायदेमंद है। उम्मीद करते हैं कि अब आपको ब्राउन और व्हाइट ब्रेड को लेकर कोई संदेह नहीं होगा। जानिए आप ब्राउन ब्रेड और व्हाइट ब्रेड से क्या क्या बना सकते हैं।

यूं तो सैंडविच ब्राउन ब्रेड और व्हाइट ब्रेड दोनों से ही बनते हैं। लेकिन बहुत से लोग ब्राउड ब्रेड के सैंडविच खाना प्रेफर करते हैं। आइए जानते हैं कि आप ये हेल्दी सैंडविच किस तरह से घर में आसानी से बना सकते हैं।

ब्रेड से बनाएं यम्मी सैंडविच

ब्रेड के सैंडविच बनाने के लिए आप पहले खीरा, टमाटर, शिमला मिर्च, हरी मिर्च, गाजर जैसी सब्जियों को बारीक-बारीक काट लें। आप चाहें तो इन सभी सब्जियों को कद्दूकस भी कर सकते हैं। फिर इन सभी सब्जियों में थोड़ा सा मेयोनिस डालें और स्वादानुसार नमक और काली मिर्च डालकर अच्छी तरह मिक्स कर लें। फिर दो ब्रेड लें और एक ब्रेड पर इस मिक्सचर को अच्छी तरह फैला दें और दूसरी ब्रेड इसके ऊपर ढक दें। फिर आप तवे पर या सैंडविच मेकर में इसे दोनों तरफ से अच्छी तरह सेक लें। इसे आप टमैटो कैचअप के साथ गर्मागर्म सर्व करें। ये सैंडविच आप शाम के स्नैक्स में खा सकते हैं।

यह भी पढ़ें : वेट गेन डायट प्लान से जानें क्या है खाना और क्या है अवॉयड करना?

बनाएं स्वादिष्ट ब्रेड मालपुआ

अभी तक आपने मैदे, आटे या सूजी के मालपुए खाए होंगे। तो अगर आप इसी डिश में कुछ और नया ट्राई करना चाहते हैं, तो आप ब्रेड के मालपुए बना सकते हैं। ये स्वाद में इतने लाजवाब होते हैं कि बच्चे इन्हें उंगलियां चाटकर खा सकते हैं। तो अगर अगली बार जब आपका बच्चा कुछ मीठा खाने की डिमांड करे तो उसे ब्रेड से बना ये मालपुआ जरूर बनाकर खिलाएं। इसे कैसे बनाया जाता है, वो हम आपको नीचे बताने जा रहे हैं। जानिए ब्रेड मालपुआ बनाने की आसान और टेस्टी रेसिपी :

  • आप इसे बनाने के लिए ब्राउन ब्रेड या सफेद ब्रेड किसी का भी सेवन कर सकते हैं। जैसा कि मालपुआ गोल शेप में होता है, तो आप ब्रेड को बीच में से काटकर उसकी गोल शेप बना लें।
  • अब चाशनी बनाने के लिए मध्यम आंच पर एक पैन में चीनी डालें और फिर पानी डालकर करीब 10 मिनट तक उबालें। दस मिनट बाद चाशनी तैयार हो जाएगी।
  • चाशनी में ही पिस्ता, बादाम और फूड कलर डाल दें।
  • दूसरी ओर तेज आंच में एक पैन में घी गरम करने के लिए रखें।
  • जब घी गरम हो जाए तो उसमें ब्रेड के कटे हुए पीस डालकर सुनहरा होने तक तलें। जब ब्रेड तल जाएं तो उन्हें एक प्लेट में निकालकर रख लें।
  • अब ब्रेड के फ्राइड स्लाइस को दो से तीन मिनट के लिए चाशनी में डालकर निकाल लें।
  • आपके लिए ब्रेड मालपुआ तैयार है। अब इन्हें एक प्लेट में निकालें। उनमें ऊपर से चाशनी और रबड़ी डालकर गर्मागर्म सर्व करें।

और पढ़ें :-

कॉफी (coffee) पीने का सही तरीका अपनाएं और कॉफी से होने वाले नुकसानों को भूल जाएं

क्या प्रेग्नेंसी में चॉकलेट खाना सेफ है?

बच्चा खाना खाते समय करता है आना-कानी तो अपनाएं ये टिप्स

देर रात खाना आपकी सेहत पर पड़ सकता है भारी, हो सकती हैं ये समस्याएं

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Smrit Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/02/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x