home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Betamethasone Valerate+Neomycin Cream : बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Betamethasone Valerate+Neomycin Cream : बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम (Betamethasone valerate + Neomycin cream) का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

बेटामेथासोन वेलरेट एक एंटी-इंफ्लमेटरी स्टेरॉयड है। नियोमायसिन त्वचा के सामान्य बैक्टीरियल इंफेक्शन का इलाज करती है। हालांकि, यह फंगल इंफेक्शन के खिलाफ कारगर नही है। बेटामेथासोन वेलरेट को एक मजबूत स्टेरॉयड के रूप में चिन्हित किया गया है। यह खुजली, सोरियासिस, जिल्द की सूजन (dermatitis) जैसे त्वचा की समस्याओं का इलाज करता है। इसमें नियोमायसिन भी होता है, जिसका इस्तेमाल ऐसे मामलों में होता है, जहां पर स्टेरॉयड क्रीम कारगर होती है लेकिन त्वचा में इंफेक्शन भी होता है या संक्रमित होने की संभावना होती है। त्वचा के उन हिस्सों पर इसका इस्तेमाल करने की सलाह नहीं दी जाती है, जो संक्रमित तो हैं लेकिन वहां पर जिल्द की सूजन नहीं होती।

और पढ़ेंः Asthalin : अस्थलीन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम (Betamethasone valerate + Neomycin cream) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम का इस्तेमाल करने से पहले पैकेज के अंदर दिशा निर्देशों की पर्ची को पूरा पढ़ें। इस कॉम्बिनेशन को संक्रमित त्वचा के हिस्से पर दिन में एक बार या दो बार लगाएं।
  • बेटामेथासोन वेलरेट एक मजबूत स्टेरॉयड है। लक्षणों के कम होने पर इसके इस्तेमाल की मात्रा को घटा दें। साथ ही लंबे वक्त तक इसके फायदे को बनाए रखने के लिए एक एमोलिएंट क्रीम (emollient cream) भी लगाएं। सात दिनों से ज्यादा की अवधि में इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
  • सात दिनों के बाद यदि आपको इससे फायदो नहीं मिलता है तो अपने डॉक्टर को सूचित करें।
  • लक्षणों में सुधार ना होने की स्थिति में बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम को लगातार लगाने से संक्रमण और गंभीर हो सकता है। ऐसी स्थिति में आपको एक एंटीबायोटिक की जरूरत पड़ सकती है।

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम (Betamethasone valerate + Neomycin cream) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम के अलग-अलग ब्रांड्स को अलग तरीकों से स्टोर किया जाता है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें।

सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा न जाए, तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम मालेट को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता न रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ेंः Acemiz MR : एसीमिज एमआर क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम (Betamethasone valerate + Neomycin cream) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें :

  • डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही इस दवा या अन्य का इस्तेमाल करें।
  • यदि आपको अन्य किसी दवा से पहले रिएक्शन हुआ हो।
  • यदि आपको गुर्दे की समस्या रही हो।
  • यदि आपको बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम के किसी सक्रिय पदार्थ से एलर्जी हो।
  • इस क्रीम का इस्तेमाल मुंहासे के इलाज में नहीं किया जाना चाहिए।
  • इसे एनल या जेनेटल्स के आसपास ना लगाएं या वायरल इंफेक्शन (जैसे हर्पीस सिम्प्लेक्स या चिकन पॉक्स) में इस्तेमाल न करें।
  • लंबी अवधि तक चेहरे पर इसका इस्तेमाल न करें।
  • यदि आप पहले से किसी दवा का सेवन कर रहे हैं, तो इसकी जानकारी डॉक्टर को दें, इसमें अन्य क्रीम या मुंहासे के इलाज में इस्तेमाल की जा रही क्रीम शामिल हैं। भले ही आप इनका इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह या बिना प्रिस्क्रिप्शन के कर रहे हों।
  • यदि इस दवा के उपयोग से आपको फायदा नहीं मिलता है तो डॉक्टर को इसकी सूचना दें। संभवतः आपको इसकी वैकल्पिक दवा दी जा सकती है।
  • अपने मौजूदा स्वास्थ्य से संबंधित हर छोटी बड़ी जानकारी डॉक्टर को दें। इससे डॉक्टर बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम को इस्तेमाल करने की सलाह देने से पहले सभी पहलुओं का आंकलन करेगा।

[mc4wp_form id=”183492″]

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम (Betamethasone valerate + Neomycin cream) को प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लेना सुरक्षित है?

और पढ़ें- Budesonide : बुडेसोनाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम (Betamethasone valerate + Neomycin cream) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम से आपको निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • त्वचा पर जलन
  • खुजली
  • त्वचा का रंग बदलना (skin discolouration)
  • जिल्द की सूजन (dermatitis)

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम के अन्य साइड इफेक्ट्स जो दुर्लभ मामलों में सामने आते हैं :

  • लंबे वक्त तक इसका इस्तेमाल करने से त्वचा का पतला होना।
  • यदि आपको इन में से किसी भी साइड इफेक्ट्स को अनुभव होता है, जो लगातार बने रहते हैं या कष्टदायक है तो इसका इस्तेमाल बंद कर दें। इसकी सूचना तुरंत अपने डॉक्टर को दें।

इसके फायदे और साइड इफेक्ट्स का आंकलन करने के लिए दवा के पैकेज के अंदर मौजूद पेपर को सावधानीपूर्वक पढ़ें। संभावित साइड इफेक्ट्स की जानकारी पैकेज के पीछे भी मुद्रित हो सकती है।

क्या एल्कोहॉल के साथ बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम (Betamethasone valerate + Neomycin cream) का इस्तेमाल सुरक्षित है?

ज्यादातर लोगों के लिए बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम के कॉम्बिनेशन का उपयोग सुरक्षित माना जाता है। दो साल से कम उम्र के बच्चों में इस दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। यदि आप बच्चों में बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम का इस्तेमाल कर रहे हैं तो त्वचा के बड़े हिस्से पर इसे न लगाएं या जब तक डॉक्टर सलाह ना दे तब तक नैपी के नीचे न लगाएं।

और पढ़ेंः Ascorbic Acid (Vitamin C) : एसिड एस्कोर्बिक (विटामिन सी) क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम (Betamethasone valerate + Neomycin cream) का हेल्थ पर क्या असर पड़ सकता है?

बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम निम्नलिखित स्थितियों में आपकी हेल्थ पर असर डाल सकती है:

  • यदि आपको किसी क्रीम के पदार्थ से एलर्जी है, तो यह क्रीम आपके लिए उपयुक्त नहीं है। ऐसा करने से आपको निम्नलिखित समस्याएं हो सकती हैं:
  • मुंहासे
  • मुंह के आसपास चकत्ते पड़ना
  • बैक्टीरियल इंफेक्शन
  • फंगल इंफेक्शन
  • नाक के आसपास लालिमा पड़ना
  • कान के बाहर इंफेक्शन
  • जब तक कहा न जाए गुप्तांगों के आसपास की त्वचा पर बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम का इस्तेमाल न करें।
  • यदि आपका सोरियासिस का इलाज चल रहा है तो लगातार डॉक्टर के पास चेकअप के लिए जाएं।
  • यदि आपको गुर्दे की बीमारी है तो इसका इस्तेमाल न करें।
  • यदि आप भविष्य में सर्जरी कराने जा रही हैं या करा रही हैं तो इसका इस्तेमाल न करें।
  • दवा लगाने के बाद घाव वाले भाग को ड्रेसिंग से कवर न करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/07/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड