home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज : जानिए क्यों है जरूरी!

डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज : जानिए क्यों है जरूरी!

फिजिकल एक्टिविटी और एक्सरसाइज एक हेल्दी लाइफस्टाइल के लिए बेहद जरूरी है। लेकिन, अगर आपको या आपके बच्चे को डायबिटीज है, तो उसके लिए एक्सरसाइज करना और भी ज्यादा जरूरी हो जाता है। व्यायाम करने से न केवल स्ट्रेस लेवल कम होता है, बल्कि बढ़ी हुई ब्लड शुगर लेवल (Blood sugar level) को कम किया जा सकता है और इंसुलिन लेने की जरूरत भी कम हो सकती है। आमतौर पर बच्चे टाइप 1 डायबिटीज (Type 1 diabetes) का शिकार होते हैं। आज हम बात करने वाले हैं, डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) के बारे में। जानिए डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) के उदाहरण कौन से हैं। लेकिन, सबसे पहले बच्चों में डायबिटीज के बारे में जान लेते हैं।

बच्चों में डायबिटीज (Diabetes in Kids)

बच्चों में अधिकतर टाइप 1 डायबिटीज (Type 1 diabetes) होती है हालांकि उन्हें टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 diabetes) की समस्या भी हो सकती है। बच्चों में डायबिटीज उस स्थिति को कहा जाता है जिसमें बच्चे का शरीर जरूरी हॉर्मोन यानी इंसुलिन को प्रोड्यूस नहीं कर पाता है या इसका सही से इस्तेमाल नहीं कर पाता है। बच्चों को सर्वाइव करने के लिए इंसुलिन ही जरूरत होती ही है। ऐसे में मिसिंग इंसुलिन को इंजेक्शन (Injection) या इंसुलिन पंप (Insulin pump) से रिप्लेस किया जाता है। बच्चों में होने वाली टाइप 1 डायबिटीज (Type 1 diabetes) को जुवेनाइल डायबिटीज (Juvenile diabetes) कहा जाता है।

बच्चों में डायबिटीज का निदान माता-पिता के लिए परेशानी भरा हो सकता है, खासकर शुरुआत में। लेकिन, इस कंडिशन से पीड़ित बच्चों के लिए अपनी उम्र के अनुसार इंजेक्शन लेना, कार्बोहायड्रेट्स काउंट करना और ब्लड शुगर मॉनिटर करना (Blood Sugar monitoring) जरूरी है। बच्चों में भी डायबिटीज के लिए कोई इलाज नहीं है लेकिन इसे मैनेज किया जा सकता है। ब्लड शुगर (Blood Sugar) मॉनिटरिंग से बच्चे बेहतरीन जीवन जी सकते हैं। आइए जानते हैं इसके लक्षणों के बारे में।

और पढ़ें: एथेरोस्क्लेरोसिस और ब्लड प्रेशर मेडिकेशंस: जरूर जानिए इन दवाओं के बेनिफिट्स!

बच्चों में डायबिटीज के लक्षण (Symptoms of Diabetes in kids)

डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) से पहले इसके लक्षणों के बारे में जान लेते हैं। बच्चों, टीनएजर्स और वयस्कों में डायबिटीज के लक्षण एक जैसे होते हैं। बच्चों में टाइप 1 डायबिटीज (Type 1 diabetes) के लक्षण कुछ ही हफ़्तों में विकसित हो सकते हैं। हालांकि, टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 diabetes) के लक्षण धीरे-धीरे विकसित होते हैं। बच्चों के लिए डायबिटीज के लक्षण इस प्रकार हैं:

  • प्यास और यूरिनेशन का बढ़ना (Increased thirst and urination)
  • भूख लगना (Hunger)
  • वजन का कम होना (Weight loss)
  • थकावट (Fatigue)
  • बेचैनी (Irritability)
  • सांस से फ्रूटी स्मेल आना (Fruity smell from breath)
  • नजर का धुंधला होना (Blurred vision)

हालांकि, इसके निदान से पहले बच्चे के वजन का कम होना इसका सामान्य लक्षण है। महिलाओं में यीस्ट इंफेक्शन (Yeast infection) भी डायबिटीज का एक लक्षण हो सकता है। बच्चों में डायबिटीज के उपचार के लिए उन्हें इंसुलिन और जीवनशैली में बदलाव की सलाह दी जाती है। जीवन में बदलाव में व्यायाम करना शामिल है आइए जानें डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) के बारे में विस्तार से।

और पढ़ें: डायबिटीज में सेब के सेवन से हो सकते हैं ये बड़े फायदे! क्या जानना नहीं चाहेंगे आप?

डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids)

अगर आपके बच्चे को डायबिटीज है तो एक्सरसाइज करना उसके लिए बेहद लाभदायक हो सकता है। डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) बेहद जरूरी है। द नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ हेल्थ ( The National Institutes of Health) के अनुसार डायबिटीज से पीड़ित बच्चों और हर व्यक्ति को हफ्ते में लगभग 150 मिनट एरोबिक एक्सरसाइज (Aerobic Exercise) करने की सलाह दी जाती है। इसके साथ ही डायबिटीज से पीड़ित लोगों को दो दिन से अधिक व्यायाम को मिस न करने की सलाह भी दी जाती है। डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) के कुछ उदाहरणों के बारे में जाने।

वॉकिंग (Walking)

वॉकिंग सबसे आसान एक्सरसाइज है और वॉकिंग करना भी डायबिटिक बच्चों के लिए फायदेमंद है। डायबिटीज से पीड़ित लोगों में वॉकिंग को सबसे लोकप्रिय माना जाता है और इसकी सलाह सबसे अधिक लोगों को दी जाती है। केवल हफ्ते में पांच बार तीस मिनट तक वॉक करना फिजिकल एक्टिविटी को बढ़ाने का बेहतरीन तरीका है। अगर आपके बच्चे को डायबिटीज है तो उसे भी इससे बेहद फायदा होगा।

डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज में योगा (Yoga)

योगा व्यायाम का एक पारंपरिक तरीका है। योगा में फ्लूइड मूवमेंट शामिल है जिससे फ्लेक्सिबिलिटी (Flexibility), स्ट्रेंथ (Strength) और बैलेंस (Balance) बिल्ड हो सकती है। डायबिटीज के साथ ही अन्य कई क्रॉनिक कंडिशंस में भी यह फिजिकल एक्सरसाइज आपके के लिए बेहतरीन साबित हो सकती है। इसे करने से स्ट्रेस कम होता है और नर्व फंक्शन सुधरता है। जिससे मेन्टल हेल्थ में भी सुधार आता है। आप अपने बच्चे को हलासन (Plow pose), ऊर्ध्व मुख श्वानासन (Upward-Facing Dog), धनुरासन (Bow Pose) आदि करने के लिए कह सकते हैं। लेकिन, डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) को निर्धारित करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। यही नहीं कोई भी व्यायाम की शुरुआत हमेशा किसी एक्सपर्ट के मार्गदर्शन में ही करना चाहिए।

और पढ़ें: डायबिटीज और एम्प्यूटेशन: कहीं डायबिटीज ना बन जाएं एम्प्यूटेशन की वजह, जानें कैसे संभव है बचाव?

डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज में डांसिंग (Dancing )

नाचना हर किसी को पसंद होता है खासतौर पर बच्चों को। अगर आपके बच्चे को डायबिटीज है, तो डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) में आप डांसिंग को भी शामिल कर सकते हैं। इससे न केवल बच्चे की ब्लड शुगर (Blood Sugar) सही रहेगी बल्कि उसकी ब्रेन पावर बढ़ेगी व याददाश्त में सुधार होगा। यह वजन कम करने (Weight loose), फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाने (increase flexibility) और स्ट्रेस कम (Reduce stress ) करने में भी फायदेमंद है।

स्विमिंग (Swimming)

स्विमिंग से मसल्स स्ट्रेच होते हैं और उन्हें आराम भी मिलता है। इससे जोड़ों पर प्रेशर भी नहीं पड़ता है जो डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए अच्छा है। जिन बच्चों को डायबिटीज होने की संभावना अधिक होती है अगर वो नियमित रूप से स्विमिंग करते हैं तो उसका कोलेस्ट्रॉल लेवल सुधरता है, कैलोरीज बर्न होती हैं और स्ट्रेस लेवल कम होता है। स्विमिंग के अधिक लाभ पाने के लिए हफ्ते में तीन दिन कम से कम दस मिनट के लिए स्विमिंग करने की सलाह दी जाती है। यह तो थी डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) के बारे में जानकारी। डायबिटीज की स्थिति में व्यायाम की भूमिका को झुठलाया नहीं जा सकता। लेकिन, इनसे पहले डॉक्टर की सलाह लेना आवश्यक है। इसके अलावा भी कई चीजें हैं जिनका आपको ध्यान रखना चाहिए। जानिए इसके बारे में विस्तार से।

डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज

और पढ़ें: टाइप 1 डायबिटीज रिवर्सल: मधुमेह को खत्म करना हो सकता है सम्भव! कैसे? जानिए!

डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज: किन बातों का रखें ख्याल?

डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) प्रोग्राम शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें और इस बात को भी सुनिश्चित करें कि वो व्यायाम आपके लिए सुरक्षित हो। डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) के कुछ टिप्स इस प्रकार हैं:

  • एक्सरसाइज से पहले और बाद में बच्चे की ब्लड शुगर (Blood Sugar) की जांच करें, जब तक कि आप इस बात को न जांच लें कि आपके बच्चे का शरीर व्यायाम के प्रति कैसी प्रतिक्रिया देता है।
  • बच्चे को डिहायड्रेशन से बचाने के लिए, व्यायाम से पहले, इसके दौरान और बाद में पर्याप्त पानी पीने को दें।
  • लो ब्लड शुगर (Low Blood Sugar) की स्थिति के लिए भी तैयार रहें। अपने साथ किसी ऐसी चीज को अवश्य रखें जिसे आप अपने बच्चे को लो ब्लड शुगर (Low Blood sugar) की स्थिति में दे सकें जैसे कैंडी, ग्लूकोज टेबलेट आदि।
  • अत्यधिक गर्म और ठंडे तापमान से बच्चे को बचाएं।
  • अपने पैरों की सुरक्षा के लिए उन्हें सही जूते या सॉक्स पहनाएं।

इसके साथ ही अपने बच्चे की ब्लड शुगर (Blood Sugar) को समय-समय पर मॉनिटर करना न भूलें। किसी भी आपातकालीन स्थिति में डॉक्टर की सलाह लें। अब जानते हैं कि बच्चों में डायबिटीज की समस्या को किस तरह से मैनेज किया जा सकता है?

और पढ़ें: डायबिटीज और डायरिया : जब एक साथ दोनों समस्याएं बोल दें आपकी सेहत पर हल्ला!

बच्चों में डायबिटीज को कैसे मैनेज करें? (Management of diabetes in kids)

इसमें कोई संदेह नहीं है कि डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) बेहद जरूरी है। डायबिटीज कई कॉम्प्लीकेशन्स की वजह बन सकती है। मेडलाइनप्लस (MedlinePlus) के मुताबिक ब्लड टेस्ट से इस चीज को जांचा जा सकता है कि आपके बच्चे को डायबिटीज है या नहीं। अगर आपके बच्चे को टाइप 1 डायबिटीज (Type 1 diabetes) की समस्या है तो आपके बच्चे को पूरी उम्र भी इंसुलिन की जरूरत पड़ सकती है। डायबिटिक बच्चों को एक्सरसाइज के अलावा और कौन से तरीके अपनाने चाहिए, आइए जानते हैं:

  • अपने बच्चे की ब्लड शुगर लेवल (Blood sugar level) को सही बनाए रखने के लिए उसे सही आहार दें। इस कंडिशन में उसे क्या खाना चाहिए और किन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए, इस बारे में डॉक्टर सही सलाह दे सकते हैं। इसके साथ ही आप डायटीशियन की सलाह भी ले सकते हैं। बच्चे को अधिक चीनी और प्रोसेस्ड फ़ूड न दें।
  • अगर आपके का वजन ज्यादा है तो उसके वजन को कम करने के बारे में विचार करें। क्योंकि, मोटापा न केवल डायबिटीज बल्कि कई अन्य समस्याओं के लिए भी रिस्क फैक्टर है। बच्चे के वजन को कम करने के लिए आप उसे व्यायाम करने के लिए कहें, उसे सही आहार दें और इसमें डॉक्टर की सलाह भी ली जा सकती है।
  • आजकल केवल बड़े ही नहीं बल्कि छोटे बच्चे भी तनाव का शिकार हो सकते हैं और यह तनाव उनकी इस समस्या को बढ़ा सकता है। इसलिए बच्चे को तनाव से बचाएँ और इसके साथ ही उसका सही नींद लेना भी आवश्यक है। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर की सलाह लेना न भूलें। सेकंडहैंड स्मोक एक्सपोजर (Secondhand smoke exposure) से भी डायबिटीज के डेवलप होने का जोखिम बढ़ जाता है इसलिए अपने बच्चे को इससे भी बचाएं।

क्या आप जानते हैं कि डायबिटीज को रिवर्स कैसे कर सकते हैं? तो खेलिए यह क्विज!

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id="typef_orm", b="https://embed.typeform.com/"; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,"script"); js.id=id; js.src=b+"embed.js"; q=gt.call(d,"script")[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()

और पढ़ें: डायबिटीज के लिए फिजिकल थेरिपी भी हो सकती है लाभकारी, लेकिन एक्सपर्ट से सलाह के बाद!

उम्मीद है कि डायबिटिक बच्चों के लिए एक्सरसाइज (Exercise for diabetic kids) के बारे में यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपके बच्चे में डायबिटीज का निदान होता है, तो इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं है। आपका बच्चा कुछ चीजों का ध्यान रखते हुए सामान्य और सही जीवन जी सकता है। इसके साथ ही अपने बच्चों को भी डायबिटिज़ की पूरी जानकारी दें। ताकि, आपका बच्चा खुद इसके बारे में जान पाएं और इसे मैनेज कर पाएं। इससे भविष्य में वो कई जटिलताओं से बच सकता है। अगर आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

How Children With Type 1 Diabetes Can Exercise Safely. https://www.kidshealth.org.nz/how-children-type-1-diabetes-can-exercise-safely .Accessed on 1/10/21

Physical Activity/Exercise and Diabetes. https://care.diabetesjournals.org/content/39/11/2065 .Accessed on 1/10/21

5 Best Exercises for People with Diabetes. https://health.clevelandclinic.org/5-best-exercises-for-people-with-diabetes/ .Accessed on 1/10/21

Exercise Management for Young People With Diabetes.https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6587067/ .Accessed on 1/10/21

Staying active protects children against type 2 diabetes. https://www.techexplorist.com/staying-active-protects-children-type-2-diabetes/28579/ .Accessed on 1/10/21

Diabetes in Children and Teens. https://medlineplus.gov/diabetesinchildrenandteens.html

.Accessed on 1/10/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड