home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

एंडोथेलियल फंक्शन को सुधारने में मदद कर सकते हैं के ये फूड्स!

एंडोथेलियल फंक्शन को सुधारने में मदद कर सकते हैं के ये फूड्स!

डायबिटीज जर्नल में छपी एक स्टडी के अनुसार हाय कार्बोहायड्रेट और हाय फायबर मील मेटाबॉलिक सिंड्रोम का सामना कर रहे व्यस्कों में एंडोथीलियल फंक्शन को सुधारने में मदद करता है। एंडोथीलियल डिसफंक्शन का कारण हाय ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, हाय कोलेस्ट्रॉल और स्मोकिंग हो सकता है। एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स (Foods for Endothelial Function) बताए गए हैं जो फंक्शन को इम्प्रूव करने में मदद करते हैं। कुछ स्टडीज में ऐसा दावा किया गया है कि एंडोथीलियल डिसफंक्शन एथेरोस्क्लेरोसिस के डेवलपमेंट का कारण बनता है जो कि एक क्रोनिक डिजीज है। जिसमें आर्टरीज वॉल्स असामान्य रूप से मोटी और कठोर हो जाती हैं। जो हार्ट अटैक या स्ट्रोक का कारण बन सकता है। इसलिए आर्टिकल में एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स (Foods for Endothelial Function) बताए जा रहे हैं जो मददगार साबित होंगे। इसके पहले जान लीजिए कि एंडोथेलियल क्या है?

एंडोथेलियल क्या है? (What is Endothelial?)

एंडोथेलियल एक पतली मेम्ब्रेन है जो हृदय और रक्त वाहिकाओं के अंदर की रेखा बनाती है। एंडोथेलियल कोशिकाएं ऐसे पदार्थ छोड़ती हैं जो वैस्कुलर रिलेक्सेशन (Vascular relaxation) और कॉन्ट्रेक्शन (Contraction) के साथ-साथ एंजाइमों को नियंत्रित करते हैं जो रक्त के थक्के, इम्यून फंक्शन और प्लेटलेट (रक्त में एक रंगहीन पदार्थ) को नियंत्रित करते हैं।

एंडोथेलियल डिसफंक्शन हेल्दी डायट और एक्सरसाइज के प्रति रिस्पॉन्स करता है। यानी एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स (Foods for Endothelial Function) मददगार हो सकते हैं। बता दें कि वेट को मैनेज करने, हेल्दी डायट को फॉलो करने से डायबिटीज टाइप 2, हाय ब्लड प्रेशर और कुछ दूसरी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

और पढ़ें: मोटापे और डायबिटीज से इंसुलनि रेजिस्टेंस का होना हो सकता है खतरे का संकेत!

एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स (Foods for Endothelial Function)

डायबिटीज जर्नल की रिपोर्ट के अनुसार हाय फायबर मील का एंडोथेलियल डिसफंक्शन पर पॉजिटिव प्रभाव दिखाया है। इसलिए एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स (Foods for Endothelial Function) में आप हाय फायबर फूड्स को शामिल कर सकते हैं। चलिए इनके बारे में जान लेते हैं।

एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स में बीन्स (Beans)

दालें और बीन्स फायबर की मात्रा को अपनी डायट में एड करने का आसान तरीका है। इन्हें आप सूप, सलाद या सब्जी के रूप में खा सकते हैं। सोयाबीन्स फायबर से भरपूर स्नैक है। इसके साथ ही इसमें प्लांट प्रोटीन भी पाया जाता है। कुछ बीन्स के आटे भी मार्केट में उपलब्ध हो जाते हैं जो आपके लिए एक अच्छा ऑप्शन हो सकते हैं। मूंग दाल, तुअर की दाल, उदड़ की दाल, मसूर की दाल वहीं किडनी बीन्स, मटर, लोबिया इनके अच्छे उदाहरण है। ये पाचन में सुधार करने के साथ ही हार्ट हेल्थ और ब्लड शुगर लेवल को भी इम्प्रूव करते हैं।

और पढ़ें: डायबिटीज पेशेंट में न्यूट्रिशन थेरिपी आ सकती है काम, जानें यह है क्या ?

एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स में ब्रोकली (Broccoli in Foods for Endothelial Function)

ब्रोकली फायबर युक्त सब्जियों में काफी आगे है। यह क्रुसीफेरस नेचर वाली सब्जी है यानी पत्तागोभी, फूलगोभी और केल के ग्रुप से ही आती है। इसमें कई पोषक तत्वों के साथ ही फायबर की अच्छी खासी मात्रा पाई जाती है। इसके साथ ही यह गट बैक्टीरिया को भी सपोर्ट करती है और पेट के हेल्दी और बैलेंस रखने में मदद करती है।

एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स में बेरीज (Berries) करें शामिल

बेरीज को उनमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सिडेंट्स के कारण जाना जाता है, लेकिन इनमें फायबर भी पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। बैरीज का सबसे अच्छा फायदा यह है कि ये कैलोरीज में भी लो होती हैं। साथ ही इनमें विटामिन सी और मैग्नीज पाया जाता है। आप इन्हें मिल्क शेक, फ्रूट सलाद या स्मूदीज में डालकर सेवन कर सकते हैं।एवोकाडोज फायबर, हेल्दी फैट का अच्छा सोर्स है। इसे आप सलाद, सेंडविच के साथ आसानी से खा सकते हैं।

राजमा (Kidney beans)

राजमा या किडनी बीन्स भी भारतीय घरो में आसानी से मिल जाती है। जिसे अक्सर चावल के साथ खाया जाता है। इसके कई हेल्थ बेनिफिट्स हैं साथ ही यह हार्ट हेल्थ के लिए बीन्स और दालें (Benefits of Beans and Legumes for heart) वाली लिस्ट में भी शामिल होती है। इसमें कैलोरीज, प्रोटीन, फायबर, फोलेट, मैग्नीज, थियामीन, कॉपर और आयरन पाया जाता है।

एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स में चने (Chickpeas) को ना भूलें

चना फायबर और प्रोटीन का बेहतरीन सोर्स होते हैं। ये वजन को कम करने, हार्ट डिजीज के रिस्क फैक्टर्स को कम करने में मददगार होते हैं। चने में कैलोरीज, प्रोटीन, फायबर, फोलेट, मैग्नीज, कॉपर और आयरन पाया जाता है।

और पढ़ें: क्या आप चाहते हैं डायबिटीज डायट से वजन घटाना? तो ये डायट प्लान आएंगे काम!

अन्य हाय फायबर फूड्स: (Other High fiber foods)

हाय फाबर फूड्स में आप इनका सेवन भी कर सकते हैं।

  • गाजर को हाय फायबर फूड्स माना जाता है
  • हर घर में यूज होने वाला आलू भी फायबर फूड है
  • एप्पल और शकरकंद भी हाय फायबर फूड की लिस्ट में शामिल है
  • पॉपकॉर्न में भी फायबर की अच्छी मात्रा पायी जाती है

फायबर फूड्स का सेवन करने होने वाले लाभ (Benefits of consuming fiber foods)

जब आप इसका सेवन करते हैं तो आहार फाइबर निम्नलिखित लाभ प्रदान कर सकता है:

कोलेस्ट्रॉल कम करना (Reducing cholesterol)

पाचन तंत्र में फायबर की उपस्थिति शरीर के कोलेस्ट्रॉल अवशोषण को कम करने में मदद कर सकती है। यह विशेष रूप से सच है यदि आप स्टैटिन लेते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए दवाएं हैं, और फायबर सप्लीमेंट जैसे साइलियम फायबर का उपयोग करते हैं।

स्वस्थ वजन को बढ़ावा देना (Promoting a healthy weight)

फलों और सब्जियों जैसे उच्च फायबर वाले खाद्य पदार्थ कैलोरी में कम होते हैं। इसके अलावा, फायबर की उपस्थिति पेट में पाचन को धीमा कर सकती है जिससे आप लंबे समय तक भरा हुआ महसूस कर सकते हैं।

और पढ़ें: डायबिटीज पेशेंट्स के लिए वीगन डायट के फायदों के साथ नुकसान भी जान लीजिए!

पाचन तंत्र बढ़ावा देना (Adding bulk to the digestive tract)

जो लोग कब्ज या आम तौर पर सुस्त पाचन तंत्र से जूझते हैं। वे अपने आहार में फायबर को शामिल करना चाह सकते हैं। फायबर स्वाभाविक रूप से पाचन तंत्र में बल्क जोड़ता है, क्योंकि आपका शरीर इसे पचा नहीं पाता है। यह आंतों को उत्तेजित करता है।

  • रक्त शर्करा नियंत्रण (Blood sugar control) को बढ़ावा देना। उच्च फायबर खाद्य पदार्थों को तोड़ने में आपके शरीर को अधिक समय लग सकता है। यह रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है, जो मधुमेह वाले लोगों के लिए विशेष रूप से सहायक है।
  • गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर के जोखिम को कम करना: पर्याप्त फायबर खाने से हो सकता है कि कुछ प्रकार के कैंसर के खिलाफ सुरक्षात्मक प्रभाव बनें। जिसमें कोलन कैंसर भी शामिल है। इसके कई कारण हैं, जिनमें कुछ प्रकार के फायबर, जैसे सेब में मौजूद पेक्टिन में एंटीऑक्सीडेंट जैसे गुण हो सकते हैं।

उम्मीद करते हैं कि आपको एंडोथेलियल फंक्शन के लिए फूड्स (Foods for Endothelial Function) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/12/2021 को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड