Shilajit : शिलाजीत क्या है?

By Medically reviewed by Dr. Radhika apte

उपयोग

शिलाजीत (Shilajit) का उपयोग किस लिए किया जाता है?

शिलाजीत (Shilajit) के सेवन से कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ होते है जैसे, 

  • त्वचा सम्बन्धी रोग में 
  • स्मरण शक्ति बढ़ाता है,
  • अल्ज़ाइमर रोग व पेट सम्बन्धी रोगों में
  • इम्यूनिटी पॉवर को बढ़ाकर
  • उम्र बढ़ाने वाले कारकों के प्रभाव को कम करने में 
  • इसके अलावा बाझपन, कफ, चर्बी, मधुमेह, श्वास, मिर्गी, बवासीर, गठिया की सूजन, कोढ़, पथरी, पेट के कीड़े तथा अन्य कई रोगों के इलाज में कारगर है। 
  • काम करने की क्षमता में जबरदस्त तेजी आती है ।

यह भी पढ़ें : त्वचा के लिए जरूरी है स्क्रबिंग

यह कैसे काम करता है?

शिलाजीत (Shilajit) में मौजूद फुलविक एसिड, हमारे शरीर को खनिज पदार्थों को सोखने की ताकत देता है.

शिलाजीत (Shilajit) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

  • कभी-कभी शिलाजीत के सेवन से एलर्जी की भी समस्या हो जाती है। शिलाजीत के सेवन से यदि आपको खुजली और मिचली का अनुभव हो या हृदय की धड़कन की गति बढ़ जाए तो शिलाजीत के सेवन को तुरंत बंद कर देना चाहिए। 
  • अगर आप पहले से कोई दवा खा रहे हों तो शिलाजीत का सेवन करने से पहले डॉक्टर को सूचित करें क्योंकि शिलाजीत का सेवन आपकी दवा के असर को प्रभावित कर सकता है ।
  • आपको शिलाजीत या उसके किसी भी सबटेंस से किसी प्रकार की कोई एलर्जी तो नहीं । 
  • आपको किसी भी अन्य दवाओं या हर्बल सप्लीमेंट से किसी प्रकार की एलर्जी तो नहीं 

ऐसी किसी भी स्थिती होने पे तुरंत अपने डॉक्टर को सूचित करें

बताई गई किसी भी जानकारी को चिकित्सा सलाह के रूप में ना देखे । किसी भी हर्बल का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से बात करे ।

सावधानियाँ और चेतावनी

एलर्जी: यदि आप शिलाजीत में मौजूद किसी भी मिश्रित या घटक के एलर्जी है। यदि आप   की प्रतिक्रिया के लक्षणों को देखते हैं, जिसमें मतली, चक्कर आना, दिल की दर बढ़ने, खुजली आदि शामिल हैं, तो शिलाजीत का उपयोग करना बंद कर दें।

इसका उपयोग सही तरीके और सही मात्रा में न करने पर आपको शिलाजीत के साइड इफेक्ट भी झेलने पड़ सकते हैं।

गॉलब्लेडर की समस्या से जूझ रहे लोगों को शिलाजीत के सेवन से बचना चाहिए ।

शिलाजीत के सेवन के दौरान मिर्च-मसाले, खटाई, नॉन वेज और शराब आदि से परहेज करें ।

यह भी पढ़ें : Aloe Vera : एलोवेरा क्या है?

साइड इफेक्ट

मुझे शिलाजीत (Shilajit)से क्या साइड इफेक्ट हो सकते है 

  1. शरीर में अत्यधिक गर्मी उत्तेजना।
  2. पैरों में जलन का अहसास।
  3. हाथ और पैरों में अधिक गर्मी महसूस करना।
  4. पेशाब में वृद्धि या कमी।

जरूरी नहीं कि सभी को बताए गए साइड इफेक्ट का सामना करना पड़े । हर्बल के इस्तेमाल से कुछ दूसरे साइड इफेक्ट भी हो सकते है ।साइड इफेक्ट के विषय में ज्यादा जानकारी के लिए अपने हर्बल एक्सपर्ट से बात करे ।

सहभागिता/इंटरेक्शन

शिलाजीत (Shilajit) के साथ मेरे क्या इंटरेक्शन हो सकते है?

शिलाजीत का सेवन के साथ दूसरे आयरन सप्लीमेंट लेने पर इसका साइड इफेक्ट हो सकता है क्योंकि शिलाजीत में अधिक मात्रा में आयरन पाया जाता है। इसके साथ अन्य आयरन सप्लीमेंट लेने पर खून में आयरन की मात्रा बहुत ज्यादा हो जाती है। इससे ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है।

मात्रा/डोज

सामान्य खुराक क्या है?

इस सप्पलीमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग अलग हो सकती है।  आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है।  सप्पलीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। कृपया अपनी सही खुराक के लिए फार्मासिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

किस रूप में आती है?

शिलाजीत केप्सूल, चूर्ण के रूप में मिल सकता है

हेलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें : Pilonidal sinus surgery : पिलोनिडल साइनस सर्जरी क्या है?

अभी शेयर करें

रिव्यू की तारीख जुलाई 5, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया अक्टूबर 15, 2019