मछली खाने के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, कम होता है दिल की बीमारियों का खतरा

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जून 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

अपनी हेल्दी डाइट में हफ्ते में दो बार मछली को शामिल किया जाना चाहिए। डॉक्टर्स का मानना है कि मछली खाने के फायदे जानना नॉन वेजिटेरियन्स के लिए जरूरी हैं।  ओमेगा थ्री फैटी एसिड वाली ऑयली मछली खाने से दिल की बीमारियों का खतरा कम करने में मदद मिलती है। साल्मन, मैकरेल जैसी ऑयली मछलियों में ही ओमेगा 3 पाया जाता है। हालांकि, मछली के अलावा ह्दय स्वस्थ रखने के लिए आप कैनोला ऑयल, फ्लैक्स सीड यानी अल्सी के बीज और अखरोट खा सकते हैं।

हालांकि, इनमें से ओमेगा-थ्री फैटी एसिड के सप्लिमेंट और फिश ऑयल को नहीं लिया जाना चाहिए। क्योंकि रिसर्च में अब तक ये साबित नहीं हुआ है कि इनके इस्तेमाल से स्ट्रोक, हार्ट डिसीज का खतरा कम किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : Down Syndrome : डाउन सिंड्रोम क्या है?जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

बाकी नॉनवेज से बेहतर है मछली 

मछलियां प्रोटीन का भी एक बेहतरीन स्त्रोत हैं। ये दूसरे नॉनवेज फूड की तरह नहीं होती जिनमें भारी मात्रा में सेचुरेटेड फैट होता है। मछलियों में मिलने वाला ओमेगा-3 फैटी एसिड कई तरह से हमारे ह्दय के लिए लाभकारी है। खासकर उनके लिए  जिन्हें ह्दय संबंधी समस्याएं हैं। ह्दय रोगियों में ये हार्ट अटैक और अचानक मृत्यु जैसे खतरों से बचाता है। इसके अलावा ओमेगा-थ्री फैटी एसिड शरीर में मौजूद अत्यधिक ट्राइग्लिसराइड को कम करने की भी ताकत रखता है। क्योंकि ट्राइग्लिसराइड की वजह से भी हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।

कैंसर में मछली खाने के फायदे

रेगुलर मछली खाने वाले लोगों को कैंसर का खतरा कम रहता है। मछली में पाया जाने वाला ओमेगा थ्री फैटी एसिड कैंसर के खतरे को दूर रखने में मदद करता है। मछली खाने के फायदे सिर्फ एक ही तरह के कैंसर में नहीं बल्कि कई तरह के कैंसर में हो सकते हैं। इनमें ब्रेस्ट कैंसर, प्रोटेस्ट कैंसर भी शामिल हैं। अगर आप एक नॉन वेजिटेरियन हैं, मछली खाने के फायदे समझते हुए आपको अपनी डायट में मछली को शामिल करना चाहिए।

दिमाग के लिए मछली खाने के फायदे

मछली खाने के फायदे आपके दिमाग को भी हो सकते हैं। मछली में पाए जाने वाले न्यूट्रिएंट्स दिमाग को तेज करने में मदद करते हैं। इसके अलावा अगर आप चाहते हैं कि आपके बच्चे का दिमाग तेज हो और साथ ही आपको नॉन वेजिटेरियन फूड से कोई प्रॉब्लम नहीं है, तो आप अपने बच्चे को शुरुआती सालों में ही मछली खिलाना शुरू कर सकते हैं। मछली में पाया जाने वाला फैटी एसिड दिमाग को तेज बनाने में मदद करता है। साथ ही इससे मेमोरी भी बढ़ती है। मछली खाने के फायदे में यह भी शामिल है कि इसमें मोजूद प्रोटीन दिमाग की कोशिकाओं के निर्माण और विकास में मदद करता है।

दिल के लिए मछली खाने के फायदे

मछलियों में मौजूद अनसेचुरेटेड फैटी एसिड कोलेस्ट्रॉल कम करने में भी मदद करता है। हलांकि, ओमेगा-थ्री फैटी एसिड को ही ज्यादा प्रभावी माना जाता है क्योंकि ये रक्त कोशिकाओं को पहुंचे नुकसान को भी जल्दी से ठीक कर देता है। रक्त कोशिकाओं को पहुंचा नुकसान भी स्ट्रोक और ह्दय रोगों का कारण बनता है। हार्ट पेशेंट्स के लिए मछली खाने के फायदे जानना बहुत जरूरी हैं। मछली में पाया जाने वाला ओमेगा 3 दिल और मशल्स को मजबूत बनाता है। इसके अलावा मछली में लो फैट होता है, जिससे कोलेस्ट्रोल का लेवल नहीं बढ़ता है। साथ ही मछली खाने के फायदे में दिल की सुरक्षा भी शामिल है। 

मछली खाने से कम होगा स्ट्रोक का खतरा

आप हफ्ते में दो बार ऑयली फिश जैसे सैल्मन, मैकरील और हैरिंग खाकर स्ट्रोक होने की संभावना को भी कम कर सकते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए खाएं मछली

अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम है और आप एक नॉन वेजिटेरियन हैं, तो आपको बाकी नॉन वेज छोड़कर मछली खाना शुरू कर देना चाहिए। मछली खाने के फायदे ब्लड प्रेशर की समस्याओं में भी हो सकते हैं। मछली में लो फैट होता है, जिस कारण हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से राहत मिलती है।

स्किन और बालों के लिए मछली खाने के फायदे

रेगूलर मछली खाने वाले लोगों के बाल और स्किन हेल्दी रहती है। मछली खाने से स्किन की नमी बरकरार रहती है और साथ ही बाल की चमक भी बनी रहती है।

डिप्रेशन में मछली खाने के फायदे

मछली खाने से डिप्रेशन की स्थिति में भी फायदा मिलता है। कई मामलों में देखा जाता है कि प्रेग्रेंसी के दौरान महिलाएं अक्सर डिप्रेशन का शिकार हो जाती हैं। ऐसे में उन्हें ओमेगा 3 के कैप्सूल लेने की सलाह दी जाती है। लेकिन, मछली का रेगुलर सेवन करने से इस परिस्थिति से बचा जा सकता है।

हेल्दी स्पर्म के लिए खाएं मछली

हाल ही में हुए एक अध्ययन में सामने आया कि ऐसे पुरुष, जो मछली के साथ-साथ एक हेल्दी डायट को फॉलो करते हैं उनकी सेक्स लाइफ बेहतर होती है। साथ ही इस अध्ययन में सामने आया कि रेगुलर मछली खाने वाले पुरुषों के स्पर्म हेल्दी होते हैं और साथ ही ये काफी एक्टिव भी होते हैं। ऐसे में मछली खाने के फायदे आपको एक हेल्दी सेक्स लाइफ में भी हो सकते हैं।

फिश खाते वक्त रखें सावधानी

 रिसर्च के मुताबिक मछलियों को खाने से पहले कुछ सावधनियां रखनी भी जरूरी हैं। प्रेग्नेंसी की तैयारी करने वाली महिलाएं, प्रेग्नेंट महिलाएं, जन्म देने के बाद और बच्चों को किंग मैकरील, शार्क, स्वॉर्डफिश जैसी मछलियों को खाने से बचना चाहिए, क्योंकि इनमें मर्क्युरी की मात्रा पाई जाती है।

मछली खाने के फायदों की लिस्ट बनाई जाएं, तो यह काफी लंबी हो सकती है। अगर आप नॉन वेजिटेरियन हैं, तो मछली को डायट में शामिल करके आप कई गंभीर बीमारियों के खतरों को पहले ही टाल सकते हैं। इसके अलावा मछली आपकी स्किन और बालों के लिए फायदेमंद साबित होती है।

अगर आपको अपनी समस्या को लेकर कोई सवाल हैं, तो कृपया अपने डॉक्टर से परामर्श लेना न भूलें।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह के चिकित्सा परामर्श और इलाज प्रदान नहीं करता।

नए संशोधन की समीक्षा डॉ. प्रणाली पाटील द्वारा की गई

और पढ़ें :-

Calcium carbonate : कैल्शियम कार्बोनेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Tourette : टॉरेंट सिंड्रोम क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

सिर्फ दिल और दिमाग की नहीं, दांतों की भी सोचें हुजूर

सोने से पहले ब्लडप्रेशर की दवा लेने से कम होगा हार्ट अटैक का खतरा

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Becosules: बीकोस्यूल्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

बीकोस्यूल्स दवा की जानकारी in hindi बीकोस्यूल्स का सेवन किसे करना चाहिए और किसे नहीं, becosules का डोज, सावधानी, चेतावनी, स्टोरेज जानने के लिए पढ़ें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish Singh
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 1, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें

इम्युनिटी बढ़ाने के साथ शहद नींबू के साथ गर्म पानी पीने के 9 फायदे

शहद नींबू के साथ गर्म पानी पीने से कौन-से फायदे होते हैं, जानें। कब शहद नींबू के साथ गर्म पानी पीना चाहिए? Honey Lemon Water Mixture in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi Dutta
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन मई 21, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

बेबी हार्ट मर्मर के क्या लक्षण होते हैं? कैसे करें देखभाल

बेबी हार्ट मर्मर होने पर कई बार कोई परेशानी नहीं होती, लेकिन कई बार इसके कारण दिल संबंधी कई गंभीर बीमारी हो सकते हैं, जरूरी है कि एक्सपर्ट की सलाह ली जाएं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish Singh
बच्चों की देखभाल, पेरेंटिंग मई 19, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

वाटर इंटॉक्सिकेशन : क्या ज्यादा पानी पीना हो सकता है नुकसानदेह?

जानें जल विषालुता क्या होती है और इसके लक्षण व कारण क्या हैं। दिन में कितना पानी पीना सुरक्षित होता है? Water intoxication in Hindi, what is overhydration in hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shivam Rohatgi
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन मई 19, 2020 . 3 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

डेप्लॉट-सीवी कैप्सूल

Deplatt-CV Capsule : डेप्लॉट-सीवी कैप्सूल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 10, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
हृदय रोग डाइट प्लान

हृदय रोग के लिए डाइट प्लान क्या है, जानें किन नियमों का करना चाहिए पालन?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish Singh
प्रकाशित हुआ जुलाई 14, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
स्वस्थ रहने के नियम

विशेष स्थिति के लिए आहार भी हो विशेष, ऐसा कहना हैं एक्सपर्ट का

के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जुलाई 13, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
कमरख - Star Fruit

कमरख के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Carambola (Star Fruit)

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Ankita Mishra
प्रकाशित हुआ जून 17, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें