डेंगू से बचाव के उपाय : इन 6 उपायों से बुखार होगा दूर और बढ़ेगा प्लेटलेट्स काउंट

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जनवरी 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

डेंगू जिसे इंग्लिश में डेंगी कहते हैं, एडीज मच्छर के काटने के कारण होता है। एडीज मच्छर जमे हुए पानी जैसे कूलर में जमा हुआ पानी, फूलों के गमलों में जमा हुआ पानी या कोई ऐसी जगह जहां पर पानी कई दिनों तक जमा हुआ रहता हो। बता दें कि यह छोटा सा मच्छर व्यक्ति की जान तक ले सकता है। मच्छर कई जानलेवा बीमारियों का कारण बन सकता है और डेंगू उन्हीं में से एक है। इसलिए जरूरी है कि समय रहते डेंगू से बचाव के उपाय किए जा सके। इस आर्टिकल में बताए गए डेंगू से बचाव के उपाय आपके लिए लाभकारी हो सकते हैं। उससे पहले जानते हैं डेंगू से जुड़े कुछ मिथक और फैक्ट्स –

जानें डेंगू से जुड़े कुछ मिथक और उनका सच

क्या यह सच है कि डेंगू के मच्छर सिर्फ दिन के समय ही काटते हैं?

डेंगू एडीज मच्छर के काटने से फैलता है जो आम तौर पर दिन के समय में ही हमला करता है। यह ज्यादातर कोहनी के नीचे और घुटने के नीचे ही काटते हैं। यह शरीर के वैसे हिस्सों पर काटते हैं, जहां त्वचा का रंग गहरा हो।

यह भी पढ़ें: डेंगू को दूर भगाएंगे पपीते के पत्ते

क्या सर्दियां में डेंगू के मच्छर मर जाते हैं?

मौसम का तापमान 16 डिग्री से कम हो जाने पर डेंगू के मच्छर प्रजनन नहीं कर सकते हैं। इसलिए आम-तौर पर अगस्त से अक्टूबर के बीच ये मच्छर ज्यादा सक्रिय होते हैं, जो मलेरिया और डेंगू दोनों का ही खतरा बढ़ाता है। सर्दियों के मौसम में डेंगू की बीमारी बहुत कम होती है।

यह भी पढ़ें: डेंगू से हुई एक और मौत, बेहद जरूरी है जानना इसके लक्षण और उपाय

क्या डेंगू से बचाव के लिए कोई टीका है?

ऐसा नहीं है कि डेंगू का इलाज नहीं किया जा सकता है। डेंगू (dengue) के खतरे को कम किया जा सकता है और अभी-भी इस विषय पर रिसर्च जारी है। ऐसी दवाएं भी मौजूद हैं जो इसके खतरे को कम कर सकते हैं।

हाल के दशकों में डेंगू की घटना दुनिया भर में तेजी से बढ़ी है। कभी-कभी डेंगू के लक्षणों को नहीं समझपाने या फिर देर से समझने की वजह से डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़ी है। एक अनुमान के अनुसार प्रति वर्ष 390 मिलियन डेंगू से संक्रमित देखे जाते हैं, जिनमें से 96 मिलियन रजिस्टर किए जाते हैं। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) के अनुसार 2016 में 3.34 मिलियन हो गई थी।

यह भी पढ़ें: डेंगू के मरीज क्या खाएं और क्या नहीं।

डेंगू से कैसे बचें?

निम्नलिखित डेंगू से बचाव के उपाय (home remedies for dengue) को अपनाकर डेंगू बुखार होने की संभावना को कम किया जा सकता है-

  • ऐसे जगहों पर जाने से बचना चाहिए जहां एडीज मच्छर का खतरा ज्यादा होता है। 
  • घर में होने वाले कचरे को ज्यादा दिनों तक घर के अंदर इक्कठा नहीं करना चाहिए।
  • नियमित रूप से या हर सप्ताह घर में जमा किए गए पानी को हटाना।
  • जिस जगह पानी जमा करते हैं वहां कीटनाशक का प्रयोग जरूर करें।
  • लोगों में साफ-सफाई से जुड़ी जानकारी पहुंचाएं।
  • पूरी आस्तीन के कपड़े पहनें, मच्छर भगाने वाली क्रीम लगाएं।
  • मच्छरदानी लगाकर ही सोए।
  • खिड़की और दरवाजे बंद करके रखें।

व्यक्तिगत घरेलू सुरक्षा उपायों का उपयोग करना, जैसे कि विंडो स्क्रीन, लंबी बाजू के कपड़े, रिपेलेंट, कीटनाशक उपचारित सामग्री, कॉइल और वेपोराइजर का ध्यान रखना काफी हद तक डेंगू बीमारी होने की संभावना को कम करने में हेल्प करते हैं। नियमित रूप से जांच करते रहें।

यह भी पढ़ें : डेंगू से जुड़ी रोचक बातें जो आपको जानना जरूरी है

डेंगू से बचाव के उपाय

मेथी से भागेगा बुखार

डेंगू से बचाव के उपाय के रूप में लोग मेथी के पत्ते का इस्तेमाल करते हैं। इसके लिए एक चम्मच मेथी के सूखे पत्ते को एक गिलास पानी में डालकर उबालें। फिर पानी छान लें और चाय की तरह सेवन करें। मेथी में मौजूद एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटीपायरेटिक (antipyretic) गुण डेंगू बुखार को कम करने में मदद कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : आम बुखार और स्वाइन फ्लू में कैसे अंतर करें ?

पपीता का उपयोग है प्रभावी

डेंगू बुखार के बचाव के उपाय में पपीते के पत्तों का अर्क असरदार उपायों में से एक है। पपीते के पत्ते का अर्क बनाने के लिए मुट्ठी भर पपीते के पत्तों को पीसकर इसके रस को सीधे तौर पर पी सकते हैं। ऐसे अगर पीना संभव न हो तो इसमें पानी और शहद मिलाया जा सकता है। इसके पत्ते में विटामिन सी (vitamin c) और एंटीऑक्सिडेंट (anti-oxidants) प्रचुर मात्रा में होते हैं, जो इम्यून पावर को सुधारने के साथ-साथ प्लेटलेट काउंट को बढ़ाने में भी सहायक होते हैं।

यह भी पढ़ें : इबोला वायरस (Ebola Virus) के इलाज के लिए FDA ने दी वैक्सीन को मंजूरी

गिलोय है प्रभावकारी

डेंगू से बचाव के उपाय में गिलोय का प्रभावी उपचार तो आपने सुना ही होगा। इसमें एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं जो कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं से निजात दिलाने के लिए जाने जाते हैं। गिलोय एंटीपायरेटिक (antipyretic) यानी ज्वरनाशक भी है। गिलोय का उपयोग पुराने से पुराने बुखार को कम करने में किया जाता है। प्लेटलेट काउंट को बढ़ाने के उपाय के लिए भी यह जाना जाता है। इस प्रकार यह डेंगू से बचाव के उपाय में सबसे अच्छे प्राकृतिक विकल्पों में से एक है। इसके लिए गिलोय का अर्क, गिलोय कैप्सूल या टैबलेट्स का सेवन डॉक्टर की सलाह से किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : डेंगू के दौरान न करें ये गलतियां, एक्सपर्ट से जानें कैसे करनी है रोकथाम

बकरी का दूध

डेंगू बुखार में शरीर में सेलेनियम और ब्लड प्लेटलेट्स कम होने लगते हैं। ऐसे डेंगू के बचाव के उपाय के रूप में बकरी का दूध एक प्रभावी इलाज हो सकता है। इसके उपयोग से शरीर में सेलेनियम की कमी पूरी होती और प्लेटलेट भी बढ़ती हैं।

यह भी पढ़ें : विटामिन-ई की कमी को न करें नजरअंदाज, डायट में शामिल करें ये चीजें

कड़वी नीम से बुखार इलाज

अपने एंटीवायरल गुणों की वजह से नीम का इस्तेमाल कई तरह के इंफेक्शन को दूर करने में किया जाता है। इसका प्रयोग शरीर की अन्य बीमारियों के उपचार में भी किया जा सकता है, जिसमें डेंगू बुखार भी शामिल है। डेंगू से बचाव के उपाय के तौर पर नीम का गुनगुना पानी पीएं और असर देखें।

यह भी पढ़ें : हेल्थ सप्लिमेंट्स का बेहतर विकल्प बन सकते हैं ये फूड, डायट में करें शामिल

कीवी से सेहत में होगा सुधार

किवी फ्रूट पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। यह मिनरल, आयरन, विटामिन और अन्य कई पोषक तत्वों से भी भरपूर होता है। किवी में विटामिन सी, इम्युनिटी और प्लाज्मा में सुधार करता है और कई गंभीर बीमारियों के जोखिम को कम करने काम भी करते हैं।

डेंगू बुखार काफी खतरनाक साबित होता है और यह कभी भी और किसी को भी हो सकता है। इसलिए, ऊपर बताए गए डेंगू से बचाव के उपाय आप याद रखें। साथ ही डॉक्टर को भी दिखायें। डेंगू से बचाव के उपाय समय से न किए जाए तो ब्यक्ति की जान भी जा सकती है।

और भी पढ़ें :-

भारत के वो शहर जहां सबसे ज्यादा है डेंगू का खतरा

डेंगू ही नहीं इन 5 बीमारियों पर भी असरदार है कीवी के फायदे

भारत में इस साल 67 हजार डेंगू के मामले रिकॉर्ड, जानें इससे बचाव के तरीके

सावधान: सेक्स करने से भी हो सकता है डेंगू, पहला मामला मिला

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy

संबंधित लेख:

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    सबका ध्यान कोरोना पर ऐसे में कोहराम न मचा दें बरसात में होने वाली बीमारियां

    बरसात में होने वाली बीमारियां कौन-कौन सी हैं? टाइफाइड, हैजा (Cholera), कोल्ड और फ्लू, चिकनगुनिया, डेंगू बरसात में होने वाली बीमारियां हैं जो कभी-कभी जानलेवा साबित होती हैं। सीजनल बिमारियों से कैसे बचें?

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

    Quiz: इम्यूनिटी बूस्टिंग के लिए क्या करना चाहिए क्या नहीं , जानने के लिए यह क्विज खेलें

    इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए क्या नहीं? नैचुरल न्यूट्रिशन सप्लीमेंट्स कौन-से होते हैं? इम्यूनिटी बूस्टर क्विज खेलें और जानें।

    के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
    क्विज जून 17, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

    क्या कोरोना से लड़ने में मदद करती है हर्ड इम्यूनिटी, जानें इसके बारे में सबकुछ

    Is herd immunity a solution in Coronavirus treatment? हर्ड इम्यूनिटी (Herd Immunity) क्या है? क्या कोरोना को हर्ड इम्यूनिटी से हराया जा सकता है? भारत में हर्ड इम्यूनिटी को लेकर एक्सपर्ट्स की क्या राय है?

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Mona narang
    हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन अप्रैल 25, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    मलेरिया से जुड़े मिथ पर कभी न करें विश्वास, जानें फैक्ट्स

    जानिए मलेरिया से जुड़े मिथ और फैक्ट्स क्या हैं, Myths and Facts about Malaria in hindi, मलेरिया से जुड़े मिथ से कैसे दूर रहें, Malaria se jude myths, malaria se kaise bachav kareien, मलेरिया से कैसे बचें।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
    स्वास्थ्य बुलेटिन, लोकल खबरें अप्रैल 25, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    Recommended for you

    मच्छर जनित बीमारियां

    मच्छरों के काटने से हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां, बचाव के लिए जानें एक्सपर्ट की राय

    के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
    प्रकाशित हुआ अगस्त 19, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    Quiz : अपनी पसंद-नापसंद से जानिए संक्रमण से कितना लड़ सकता है आपका शरीर

    के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
    प्रकाशित हुआ अगस्त 13, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
    डेंगू बुखार के घरेलू उपाय

    डेंगू बुखार होने पर कौन-से घरेलू उपाय अपनाना सुरक्षित है?

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Anu sharma
    प्रकाशित हुआ अगस्त 11, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
    योग का शरीर से संबंध

    प्रसिद्ध योग विशेषज्ञों से जानिये योग का शरीर से संबंध क्या है? हेल्दी रहने का सीक्रेट!

    के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
    प्रकाशित हुआ जून 25, 2020 . 2 मिनट में पढ़ें