home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

सर्दियों में बच्चे की देखभाल कैसे करें?

सर्दियों में बच्चे की देखभाल कैसे करें?

सर्दियों (Winter) का मौसम भले ही बहुत सुहाना होता है लेकिन आपके बच्चे के लिए ये काफी नुकसानदायक हो सकता है। सर्दियों में बच्चे की देखभाल करना बहुत जरूरी है। ठंड की शुरुआत से ही बच्चे (Child) के लिए अगर सावधानी बरतें तो बच्चा सर्दियों में भी तंदरुस्त रहेगा। हैलो स्वास्थ्य ने इस संबंध में वाराणसी के आशा लोक चाइल्ड केयर और वैक्सिनेशन सेंटर के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. आलोक भारद्वाज से बात की। डॉ. आलोक भारद्वाज ने बताया कि “बच्चे नाजुक होते हैं। मौसम बदलने का असर सबसे पहले उन पर पड़ता है। जिसके बाद बच्चे बीमार हो जाते हैं। इसलिए पैरेंट्स को बच्चों की देखभाल सर्दी की शुरुआत से ही करनी चाहिए। कड़क ठंड हो या हल्की ठंड सभी में बच्चे के शरीर को पूरी तरह से ढक कर गर्म रखें। सर्दियों में बच्चे की देखभाल करना बहुत जरूरी है।”

यह भी पढ़ें : बच्चों को सर्दी- जुकाम से बचाने के लिए अपनाएं ये 5 डेली हेल्थ केयर टिप्स

सर्दियों में बच्चे की देखभाल ऐसे करें

सर्दियों में बच्चे की देखभाल: सफाई सबसे अव्वल

सर्दियों के मौसम में धूल और गंदगी छोटे बच्चों के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। इसलिए बच्चे को धूल, मिट्टी और गंदगी से दूर रखें। गंदगी के संपर्क में आने से बच्चे को सांस की समस्या हो सकती है। इसके साथ ही उन्हें दस्त भी हो सकता है। इसलिए पैरेंट्स को घर की सफाई का पूरा ध्यान रखना चाहिए। इसके अलावा सर्दियों में बच्चे की देखभाल में बच्चे के हाथ धुलने पर भी जोर दें।

सर्दियों में बच्चे की देखभाल: बच्चे को गर्म कपड़े पहनाएं

सर्दियों में बच्चे की देखभाल का सबसे पहला चरण गर्म कपड़ा है। सर्दियों के मौसम में बड़े लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं। बच्चे तो फिर भी बहुत छोटे हैं। इसलिए बच्चे को गर्म कपड़े हल्की ठंड से ही पहनाना शुरू करें। इसके अलावा बच्चे के कानों को भी ढक कर रखें और उसके पैरों में हमेशा मोजे पहना कर रखें।

सर्दियों में बच्चे की देखभाल: नहलाना कम करें

ठंडे-ठंडे पानी से बेशक नहाना चाहिए, लेकिन गर्मियों में। सर्दियों में बच्चे की देखभाल में बिल्कुल भी कोताही न करें। सर्दियों में बच्चे को ठंडे पानी से कतई ना नहलाएं। इसके अलावा छोटे बच्चों को रोज न नहलाएं। बच्चे को एक दिन छोड़ कर हर दूसरे दिन गर्म पानी से नहलाएं। जिस दिन बच्चे को न नहाना हो उस दिन पानी में सॉफ्ट एंटीबैक्टीरियल लिक्विड डालकर उसमें तौलिया भिगाकर बच्चे को पोछ दें।

सर्दियों में बच्चे की देखभाल: गर्म तेल से करें मालिश

अगर बच्चा छोटा है और आप उसकी मालिश करती हैं तो बच्चे की मालिश करते समय गर्म तेल का इस्तेमाल करें। इसके अलावा अगर आपको लगता है कि बच्चे को ठंड लग गई है तो सरसों के तेल में अजवायन पका कर उसे छान लें। फिर उसी गुनगुने तेल से बच्चे की मालिश करें।

यह भी पढ़ें : इन 5 ऑयल्स से करें शिशु की मसाज, मिलेंगे बेहतर रिजल्ट

सर्दियों में बच्चे की देखभाल: बच्चे के साथ धूप में बैठें

सर्दियों में बच्चे की देखभाल में धूप जरूरी होती है। अगर आपके घर में धूप आती है तो बच्चे के साथ आप भी थोड़ी देर धूप में बैठें। लेकिन ध्यान रखें कि बच्चे के गर्म कपड़े न उतारें। अगर धूप तेज है और सर्द हवाएं नहीं चल रही है तो गर्म कपड़े उतार भी सकती हैं।

सर्दियों में बच्चे की देखभाल: ठंडी चीजें देने से करें परहेज

बच्चा अगर ठोस आहार लेता है तो उसे कोई भी ठंडी चीज खाने के लिए न दें। इससे बच्चे को सर्दी-जुकाम हो सकता है। जब भी बच्चे को खाना दें तो गर्म कर के ही दें। इसके अलावा जिन चीजों की तासीर ठंडी हो बच्चे को वो कतई न दें। देखा गया है कि अक्सर बच्चा ठंड में आइसक्रीम या कोल्ड ड्रिंक की मांग करता है। ऐसे में बच्चे को समझाएं और उसे ठंडी चीजें ना दें।

यह भी पढ़ें : जानें बच्चे के सर्दी जुकाम का इलाज कैसे करें

सर्दियों में बच्चे की देखभाल: बच्चे को सिखाएं खुद को साफ रखने का तरीका

सर्दियों में बच्चे की देखभाल रखते समय हम छोटी-छोटी चीजें भूल जाते हैं। अक्सर बच्चे के नाक और कान में खुजली सी होती है। इसलिए बच्चे हमेशा नाक और कान को अंगुलियों से खुजला लेते हैं। लेकिन, इसके बाद हाथ नहीं साफ करते हैं। ऐसे में बतौर पैरेंट्स आप अपने बच्चे को खुद को साफ रखना सिखाएं।

सर्दियों में बच्चे की देखभाल के साथ रखें त्वचा का भी ध्यान

बच्चों को ताजी हवा में सांस लेने और प्राकृतिक रोशनी की जरूरत होती है। लेकिन, उनकी सुरक्षा के लिए पहला टिप यह है कि अच्छे सूती या ऊनी कपड़ों से उनकी लेयरिंग करें। उन्हें खूब सारे कपड़े पहनाना कम तापमान में उनकी रक्षा करेगा। जब ठंड शुष्क और हवादार होती है, तो यह और भी जरूरी और महत्वपूर्ण हो जाता है, क्योंकि उन्हें आसानी से डिहाइड्रेशन हो सकता है।

ध्यान रखें कि एक साल की उम्र से बच्चों के पास भी एक अडल्ट की तरह कपड़ों के ऑप्शन होने चाहिए, जिससे उन्हें ठंड से बचाया जा सके। अगर बच्चा छोटा है, तो उसके पास और अधिक लेयरिंग होनी चाहिए। टोपी, मोजे और मोटे दस्ताने तो कभी ना भूलें।

सर्दियों में बच्चों की स्किन केयर के मामले में उन्हें लेयर में ड्रेसिंग करने से आप उनके शरीर के तापमान को जल्दी और आराम से चेक कर पाएंगे। अगर आपको उनका डायपर बदलने की जरूरत है, तो वे पूरी तरह से नग्न नहीं होंगे।

ये भी पढ़ेंः इन वजह से बच्चों का वजन होता है कम, ऐसे करें देखभाल

सर्दियों में बच्चों की स्किन केयर के लिए हाइड्रेशन को न भूलें

सर्दियों में बच्चों की स्किन केयर के लिए बच्चे को हाइड्रेटेड रखना जरूरी है। बच्चे को हाइड्रेट रखकर उनके गाल, होंठ, और हाथों के पीछे, लालिमा और पीलिंग को रोक सकते हैं। बच्चे के होंठों की सुरक्षा के लिए न्यूट्रल वैसलीन बहुत उपयोगी है। घर से बाहर निकलने से पहले आपको हमेशा सनस्क्रीन के साथ मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करना चाहिए। अगर आप इन बातों का ध्यान नहीं रखते तो बच्चों के लिए परेशानी का कारण बन सकती है।

सर्दियों में बच्चों की स्किन केयर के साथ मस्ती भी

विंटर स्पोर्ट्स बहुत से लोगों को पसंद आता है। लेकिन, ऊंचाई और कम तापमान में जाने से बच्चे के स्किन पर अलग-अलग परेशानी होने की आशंका बनी रहती है। हाइड्रेशन के साथ मॉश्चराइजर और सन स्क्रीन इसके लिए सही विकल्प है।

बच्चों को हमेशा अपने सिर और कान ढकने के लिए दस्ताने, स्कार्फ, टोपी पहननी चाहिए। आंखों के आसपास जलन को रोकने के लिए चश्मा भी लगाना चाहिए। बहुत ठंडे मौसम में बच्चों के साथ लंबी वॉक ना करें। जैसा कि हमने पहले कहा था बच्चे की त्वचा अधिक नाजुक होती है।

ये भी पढेंः शिशु की मालिश से हो सकते हैं इतने फायदे, जान लें इसका सही तरीका

इन तरीकों से आप सर्दियों में बच्चे की देखभाल आराम से कर सकते हैं। अगर बच्चा बीमार हो जाता है तो बिना देर किए डॉक्टर के पास जाएं और मिलें। बच्चे को सर्दी-जुकाम होने पर काढ़ा बना कर भी पीला सकती हैं। ताकि सर्दियों में बच्चे की देखभाल से वह स्वस्थ और तंदरुस्त रहे। हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

और पढ़ें:

पिता के लिए ब्रेस्टफीडिंग की जानकारी है जरूरी, पेरेंटिंग में मां को मिलेगी राहत

वजायनल सीडिंग (Vaginal Seeding) क्या सुरक्षित है शिशु के लिए?

ब्रेस्ट कैंसर का जोखिम कम करता है स्तनपान, जानें कैसे

प्रेग्नेंसी के दौरान होता है टेलबोन पेन, जानिए इसके कारण और लक्षण

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Parents: 15 Simple Winter Safety Tips for Kids https://health.clevelandclinic.org/parents-know-these-winter-safety-tips/ Accessed on 24/12/2019

Top 50 Winter Health Tips for Children https://www.mylittlemoppet.com/top-50-winter-health-tips-children/ Accessed on 24/12/2019

Winter safety: Advice for parents and kids https://www.caringforkids.cps.ca/handouts/winter_safety Accessed on 24/12/2019

How to Keep Your Children Happy During the Winter https://www.verywellfamily.com/health-tips-winter-health-tips-2633450 Accessed on 24/12/2019

Tips to Keep Kids Warm All Winter https://www.healthychildren.org/English/safety-prevention/at-play/Pages/Winter-Safety.aspx Accessed on 24/12/2019

 

 

लेखक की तस्वीर
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Shayali Rekha द्वारा लिखित
अपडेटेड 23/09/2019
x