home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

सावधान: सेक्स करने से भी हो सकता है डेंगू, पहला मामला मिला

सावधान: सेक्स करने से भी हो सकता है डेंगू, पहला मामला मिला

स्पेन में डॉक्टरों ने यौन संपर्क के माध्यम से डेंगू वायरस के संक्रमण का पहला केस रिकॉर्ड किया है। मैड्रिड के एक 41 वर्षीय शख्स के अपने पुरुष साथी के साथ यौन संबंध बनाने के बाद डेंगू वायरस के इंफेक्शन का मामला सामने आया है। सेक्स से डेंगू का यह पहला मामला सामने आया है। मैड्रिड पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट के स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, इस व्यक्ति के पार्टनर को क्यूबा की यात्रा के दौरान मच्छर के काटने से वायरस से इंफेक्शन हुआ था।

और पढ़ें : जानें डेंगू टाइमलाइन और इससे जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य

सेक्सुअली ट्रांसफर हुआ डेंगू वायरस

‘द टेलीग्राफ’ की खबर के अनुसार, सितंबर में इस व्यक्ति का डेंगू टेस्ट पॉजिटिव आया था, हालांकि शुरू में यह पता नहीं चल पाया कि उसके अंदर यह वायरस कहां से आया, क्योंकि वह जिस क्षेत्र में रहता हैं, वहां अब तक ऐसा कोई केस रिकॉर्ड नहीं हुआ था। डॉक्टरों ने यह भी कहा कि यह वायरस उन्हें ऐसे क्षेत्र से मिला जिसे इस इंफेक्शन का हॉटस्पॉट माना जाता है। सेक्स से डेंगू ट्रांसफर होने का यह पहला मामला सामने आया है। हालांकि डॉक्टर इस बात को लेकर पूरी तरह से कंर्फम नहीं हैं कि सेक्स से डेंगू हुआ है या नहीं।

इसके बाद में यह इंफेक्शन उस व्यक्ति से उसके मेल पार्टनर में सेक्सुअली ट्रांसफर हुआ। स्पेन की एक स्वास्थ्य अधिकारी सुसाना हिमिनेज ने मीडिया को बताया कि दस दिन पहले उसके साथी के अंदर भी उस वायरस की तरह लक्षण दिखे। लेकिन, उसके साथी के मुकाबले ये सारे लक्षण कम थे। वह पहले क्यूबा और डोमिनिकन रिपब्लिक का दौरा कर चुका था। उसके स्पर्म की जांच की गई और यह पता चला कि न केवल उसे डेंगू था, बल्कि वह वायरस भी पाया गया, जो केवल क्यूबा में फैलता है। सेक्स से डेंगू फैलने की पुष्टि इस बात से हुई जब पुरूष के स्पर्म की जांच की गई। जांच से पता चला कि सेक्स से डेंगू फैला और यह इंफेक्शन एक से दूसरे में फैला।

और पढ़ें : भारत में इस साल 67 हजार डेंगू के मामले रिकॉर्ड, जानें इससे बचाव के तरीके

क्या होता है डेंगू वायरस

डेंगू वायरस अब तक केवल एक इंफेक्टेड मच्छर के काटने से मनुष्यों में होता था जिसकी वजह से डेंगू बुखार होता है। यौन संपर्क के माध्यम से फैलने वाले वायरस की सूचना देने वाला यह पहला उदाहरण है।

डेंगू बुखार वायरस के पांच सेरोटाइप या स्ट्रेन में से एक के कारण होता है। आमतौर पर, एडीज एजिप्टी (Aedes Aegypti) मच्छर वेक्टर है, जिसके काटने की वजह से इसका वायरस मनुष्यों तक पहुंचता है। यह एडीज एजिप्टी (Aedes Aegypti) मच्छर वेक्टर घनी आबादी वाले ट्रॉपिकल क्लाइमेट में पनपता है और इकट्ठा हुए पानी में ब्रीड करता है। यह एक साल में 10,000 लोगों को मारता है और 100 मिलियन से अधिक को संक्रमित करता है। वायरस के संपर्क में आने के बाद इसका इंक्यूबेशन 3 से 5 दिनों के बीच कहीं भी होता है।

और पढ़ें : सहवाग ने किया डेंगू कैंपेन को सपोर्ट, जानें डेंगू से निपटने के घरेलू नुस्खे

डेंगू के लक्षण

डेंगू के सबसे अधिक देखे जाने वाले लक्षण बहुत तेज बुखार, जोड़ों में दर्द, मांसपेशियों में दर्द और सामान्य थकान हैं। वायरस के खिलाफ कोई टीका नहीं है, जिसके परिणामस्वरूप उपचार काफी हद तक एक व्यक्ति के लक्षणों को नियंत्रित करने पर आधारित है। इससे देशों पर भारी आर्थिक बोझ पड़ता है क्योंकि बीमारी के दौरान पीड़ित काम करने में असमर्थ होते हैं, साथ ही गंभीर प्रकोप होने पर स्वास्थ्य सेवाओं को भी प्रभावित करते हैं। सेक्स से डेंगू का अब तक एक ही केस सामने आया है। सेक्स से डेंगू के लक्षण भी बिल्कुल वैसे ही होते है जैसे बिना सेक्स के डेंगू के लक्षण होते हैं।

डेंगू से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

डेंगू किसी भी मरीज को हो सकता है। इसमें उम्र या फिर लिंग से कोई लेना देना नहीं है। डेंगू में खतरनाक बुखार होने पर कई बार बच्चों की मृत्यु भी हो जाती है। सेक्स से डेंगू के बारे में वैसे ज्यादा जानकारी नही हैं।

  • डेंगू एक वायरल बीमारी है और DENV नाम के वायरस की वजह से होती है।
  • डेंगू एडीज एजेप्टाइ (Aedes aegptii) मच्छर की वजह से फैलता है।
  • ये मच्छर दिन के समय संक्रमण फैलाता है।
  • एडीज के काटने पर आपको तुरंत डेंगू के लक्षण दिखाई नहीं देंगे। साफ तौर से लक्षणों के दिखने में कम से कम तीन से चौदह दिन लगेंगे।

डेंगू के लक्षणों में वृद्धि किस तरह से हो सकती है?

आमतौर से डेंगू होने पर फ्लू जैसे लक्षण दिखाई देंगे जैसे कि बुखार होना, आंखों में दर्द होना, जोड़ों में दर्द होना, बहुत अधिक सिर दर्द होना और साथ ही शरीर पर चक्कते पड़ना। इस बीमारी में डेंगू बुखार की वजह से स्थिति अधिक खराब हो सकती है। स्थिति के बहुत अधिक खराब होने पर पेट के निचले हिस्से में दर्द, उल्टी और डायरिया की समस्या भी हो सकती है। सेक्स से डेंगू का अभी केवल एक ही केस सामने आया है ऐसे में इसके लिए आपको ज्यादा परेशान होने की जरूरत नही है।

डेंगू से बचाव किन तरीकों से संभव है?

  • मच्छरों से बचाने वाली क्रीम (Repellent) का उपयोग करें।
  • बहुत अधिक गहरे रंग के कपड़े पहनने से बचें क्योंकि बहुत गहरे रंग के कपड़े मच्छरों और कीड़ों को आकर्षित करते हैं।
  • बहुत अधिक संक्रमित जगह पर रहने पर शरीर को पूरी तरह से ढक कर रखें।
  • अपने घर के आसपास पानी न जमा होने दें। जमा हुआ पानी कई बार मच्छरों के लिए घर बन सकता है।
  • सेक्स से डेंगू से बचने के लिए डेंगू के दौरान सेक्स करने से बचें

और पढ़ें : डेंगू से हुई एक और मौत, बेहद जरूरी है जानना इसके लक्षण और उपाय

  • कई बार डेंगू की वजह से पीड़ित की मृत्यु भी हो सकती है। इसे डेंगू शॉक सिंड्रोम कहेंगें और इससे परेशानियां बढ़ सकती हैं।
  • 2019 में फूड और ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने डेंगू की वैक्सीन डेंगवैक्सिया (Dengvaxia) इजात की है जो कि नौ से 16 वर्ष की आयु तक के बच्चों के इलाज में कारगर साबित हुई है।

बीते हुए कई वर्षों में डेंगू की वजह से विश्व भर की मृत्युदर में वृद्धि हुई है। दवाइयों के प्रारूप में हो रहे आधुनिक विकास की वजह से डेंगू के मामलों में गिरावट आने की संभावना है और यह भी हो सकता है कि आगे आने वाले वर्षों में डेंगू से होने वाली मृत्युदर में भी गिरावट आए।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Lucky Singh द्वारा लिखित
अपडेटेड 11/11/2019
x