घर से बाहर रहने के 13 अमेजिंग फायदे, रहेंगे हमेशा फिट और खुश

    घर से बाहर रहने के 13 अमेजिंग फायदे, रहेंगे हमेशा फिट और खुश 

    नेचर के बीच समय बिताने से आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार हो सकता है, बीमारी से छुटकारा मिल सकता है और आप खुशी को भी महसूस कर सकते हैं। पश्चिमी चिकित्सा के पिता के रूप में जाने वाले हिप्पोक्रेट्स ने भी यह कहा था कि “प्रकृति ही सबसे अच्छा चिकित्सक है।” इसलिए, अगर आप घर के बाहर रहने के फायदे के बारे में जानना चाहते हैं तो यह आर्टिकल पढ़ें। यहां पर घर के बाहर समय बिताने के 13 फायदे बताए गए हैं।

    घर से बाहर रहने के फायदे-

    लाइफ सैटिस्फेक्शन बढ़ता है

    यदि आप कभी उदासी महसूस कर रहे हैं, तो किसी प्राकृतिक जगह की यात्रा करें और खुद के मूड में बदलाव को देखें। एक हालिया अध्ययन में पाया गया कि नियमित रूप से सिर्फ 20 मिनट पार्क में बिताने वाले पुरुषों और महिलाओं में लाइफ सैटिस्फेक्शन लगभग 64% ज्यादा था।

    और पढ़ें : मन को शांत करने के उपाय : ध्यान या जाप से दूर करें तनाव

    सूरज की रोशनी में सैर से विटामिन डी बढ़ेगा

    नियमित रूप से कुछ देर तक सूर्य की रोशनी में बिताने से शरीर को विटामिन डी मिलता है। एक अनुमानित आंकड़े के हिसाब से लगभग 40% अमेरिकी पुरुषों और महिलाओं में विटामिन डी की कमी होती है, जो अवसाद, कैंसर और ऑस्टियोपोरोसिस जैसी गंभीर बीमारियों की वजह बनता है। इसलिए, सुबह के समय में वॉक करने से बॉडी को विटामिन डी मिलता है। हालांकि, दिन के समय में सन एक्सपोजर से बचना चाहिए इससे स्किन कैंसर की संभावना बढ़ सकती है।

    और पढ़ें : विटामिन-डी की कमी से होती है यह घातक बीमारियां

    बाहर रहने के फायदे : कंट्रोल में रहता है ब्लड प्रेशर

    सूरज की रोशनी विटामिन डी के स्तर को बढ़ाने के अलावा और भी फायदे पहुंचा सकती है। यह वास्तव में आपके रक्तचाप को कम कर सकती है। शोधकर्ताओं ने बताया कि त्वचा में मौजूद नाइट्रिक ऑक्साइड रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करके सूर्य की किरणों रिस्पॉन्ड देता है, जिससे रक्तचाप का लेवल कम होता है। हालांकि, शोध में भाग लेने वाले जिन प्रतिभागियों का ब्लड प्रेशर सामान्य था उनके रक्तचाप के स्तर में थोड़ा-सी गिरावट थी। इसलिए, उच्च रक्तचाप वाले लोगों में अधिक महत्वपूर्ण परिवर्तन देखे गए।

    और पढ़ें :जीवन में आगे बढ़ने के लिए स्ट्रेस मैनेजमेंट है जरूरी, जानें इसके उपाय

    घर के बाहर समय बिताने से सूजन होगी कम

    शरीर में सूजन, ऑटोइम्यून विकारों से लेकर अवसाद की समस्या और यहां तक ​​कि कैंसर जैसी स्वास्थ्य समस्याओं से जुड़ी हुई होती है। कई अध्ययनों से पता चला है कि घर के बाहर हरी-भरी जगहों पर समय बिताना सूजन को कम करता है। सभी उम्र के पुरुषों और महिलाओं के लिए आउटडोर टाइम बिताना नैचुरल इंफ्लामेशन बस्टर की तरह काम करता है।

    और पढ़ें : पार्टनर को डिप्रेशन से निकालने के लिए जरूरी है पहले अवसाद के लक्षणों को समझना

    बाहर रहने के फायदे : आंखों के लिए अच्छा होता है

    घर के बाहर समय बिताने के फायदे में से यह तो हैरान कर देने वाला ही है कि बचपन में आउटडोर टाइम बिताने से बाद में देखने की क्षमता बेहतर होती है। हाल ही में एक कनाडाई अध्ययन में पाया गया कि प्रकृति में समय बिताने से मायोपिया (myopia) का खतरा कम हो जाता है, जिसे आमतौर पर निकट दृष्टिदोष के रूप में जाना जाता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि लगभग एक तिहाई अमेरिकी वयस्क मायोपिया का अनुभव करते हैं और जिसका मुख्य कारण बचपन में घर के बाहर समय कम बिताना होता है। इसलिए, आपके नन्हें-मुन्ने की आंखों की अच्छी हेल्थ के लिए रोजाना उसे घर के बाहर पार्क या हरी घास में समय बिताने के लिए प्रोत्साहित करें।

    घर के बाहर समय बिताने के फायदे आपकी नींद को भी मिलते हैं

    रात को नींद के लिए आपको बहुत स्ट्रगल करना पड़ता है? तो आउटडोर टाइम बिताना आपकी नींद की समस्या को कम करता है। स्टैनफोर्ड मेडिसिन के अनुसार, घर के बाहर समय बिताने से आपकी नींद की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है। दरअसल, घर के बाहर समय बिताने से शरीर के तापमान को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इससे स्लीप साइकिल (sleep cycle) सुधरता है। प्रकृति में समय बिताना सभी उम्र के लोगों में बेहतर नींद को बढ़ावा देता है। वहीं, रिसर्च से पता चलता है कि 65 साल से अधिक उम्र के पुरुषों के लिए इसके लाभ ज्यादा उल्लेखनीय है।

    और पढ़ें : दिन में नींद से बचने के लिए अपनाएं ये आसान उपाय

    कैलोरी बर्न करने में मिलती है मदद

    घर के बाहर समय बिताने के फायदे यह भी हैं कि इससे ज्यादा से ज्यादा कैलोरी बर्न करना आसान हो जाता है। बाहर कुदरत की गोद में भले ही आप कसरत कर रहे हों या आराम, घर के अंदर रहने की तुलना में आपमें कैलोरी बर्न ज्यादा अच्छा होगा। दरअसल, जब आप बाहर रहते हैं तो शरीर CO2 के स्तर को संतुलित करने और ऑक्सीजन का उपयोग करने के लिए ज्यादा मेहनत करता है, जिससे कैलोरी बर्न होती है। इसलिए, आउटडोर वर्कआउट विशेष रूप से प्रभावी हैं।

    और पढ़ें : मानसिक मंदता (Mental Retardation) के कारण, लक्षण और निदान

    घूमने के फायदे: मन खुश रहता है ज्यादा

    घर के बाहर समय बिताने के फायदे में भी शामिल है कि आउटडोर टाइम स्पेंड करने से मूड पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। नेशनल ज्योग्राफिक को दिए गए एक इंटरव्यू में, लेखक फ्लोरेंस विलियम्स ने खुद पर की गई एक रिसर्च के बारे में बताया। एक साल तक फ्लोरेंस अपनी खुशी को ट्रैक किया। दोस्तों के साथ समय बिताने, छुट्टियां बिताने और संगीत सुनने से, विलियम्स ने पाया कि आउटडोर टाइम बिताने से उन्हें अविश्वसनीय रूप से खुशी मिलती है।

    साइंस डायरेक्ट द्वारा 2015 में प्रकाशित एक शोध में पाया गया कि जो लोग लकड़ी से घिरे क्षेत्र में रहते थे, वे शहरी प्रतिभागियों की तुलना में इमोशनली ज्यादा स्टेबल थे। इसलिए, यदि आप शहर में रहते हैं, तो मूड में सुधार के लाभों को उठाने के लिए नेचर की तरफ नियमित रूप से रुख करने का प्रयास करना चाहिए।

    बाहर रहने के फायदे : स्ट्रेस होता है कम

    तनाव, चिंता, और अन्य मानसिक स्वास्थ्य चिंताओं को दूर करने का सबसे अच्छा उपचार प्रकृति के साथ समय बिताना है। एनबीसी न्यूज के अनुसार, जापान में “फॉरेस्ट बाथिंग” नाम की एक प्रथा है। जिसके हिसाब से आपको नियमित रूप से किसी जंगल या जंगली इलाके में समय बिताने के लिए खुद को प्रेरित करना होता है।

    आप सोच रहे होंगे कि नेचर के संपर्क में रहने से मानसिक स्वास्थ्य में सुधार कैसे होता है? अध्ययन बताते हैं कि हरे वातावरण में चलने से स्ट्रेस हार्मोन कॉर्टिसोल कम होता है। जबकि कॉर्टिसोल मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है, लेकिन इसका बढ़ा स्तर चिंता, अवसाद, माइग्रेन की समस्या, मेमोरी और एकाग्रता की समस्याओं के साथ ही नींद संबंधी विकार को जन्म देता है।

    यह भी पढ़ें : क्या यात्रा पर जा कर स्ट्रेस फ्री हो सकते हैं?

    ऑउटडोर टाइम बिताने से दर्द होगा कम

    दर्द से राहत के लिए प्रकृति सबसे अच्छी दवा हो सकती है। शोध बताते हैं कि जिन लोगों की सर्जरी हुई होती हैं यदि वे नेचर में समय ज्यादा बिताते हैं तो उनमें रिकवरी जल्दी होती है। साथ ही ऐसे लोगों को और पेन रिलीफ की आवश्यकता भी नहीं होती है। सर्जिकल प्रक्रियाओं से उबरने के अलावा, “ग्रीन एक्सरसाइज” या प्रकृति में व्यायाम करने का भी सुझाव दिया जाता है, जो क्रोनिक पेन से ग्रस्त लोगों के लिए लाभदायक होता है।

    इम्युनिटी होती है बेहतर

    घर के बाहर समय बिताने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार होता है। शोध बताते हैं कि प्रकृति में समय बिताने से मधुमेह की समस्या, एडीएचडी से लेकर हृदय रोग और कैंसर तक की समस्याओं की संभावनाओं को कम किया जा सकता है। जंगल विशेष रूप से प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए फायदेमंद होते हैं, क्योंकि पौधे फाइटोनॉइड्स का उत्पादन करते हैं, जो कि वाइट ब्लड सेल्स (WBC) को बढ़ावा मिलता है। इसके साथ ही, सूरज के संपर्क में रहने से संक्रमण से लड़ने वाली टी कोशिकाएं भी मजबूत होती हैं।

    और पढ़ें : National Tourism Day पर जानें घूमने के मेंटल बेनिफिट्स

    घूमने के फायदे: सोशल इंटरैक्शन बढ़ता है

    इंसान होने के नाते समाज में एक-दूसरों के साथ नियमित रूप से बातचीत की आवश्यकता होती है। घर के बाहर समय बिताने के फायदे में एक यह लाभ है कि इससे अन्य लोगों के साथ जुड़ने का मौका मिलता है। फिर चाहे वह मोहल्ले का पार्क हो या कोई बीच या प्लेग्राउंड।

    साइकोलॉजी टुडे के अनुसार, व्यक्ति की एक्टिव सोशल लाइफ से इम्युनिटी मजबूत होने के साथ ही खुद के बारे में अच्छा महसूस होता है। सामाजिक संपर्क बढ़ाना आपकी मेंटल हेल्थ के लिए भी अच्छा होता है। यहां तक ​​कि डिमेंशिया जैसी गंभीर समस्या को भी दूर कर सकता है।

    बाहर रहने के फायदे : क्रिएटिविटी बढ़ती है

    घर के बाहर समय बिताने के फायदे में से एक यह है कि इससे व्यक्ति की क्रिएटिविटी बढ़ती है। रचनात्मकता को बढ़ावा देने का एक शानदार तरीका प्रकृति में समय का आनंद लेना है। थोड़े दिन सोशल मीडिया और टेक्नोलॉजी से दूर रहकर अपने दिमाग को राहत देकर देखें। परिणामस्वरूप आपको ज्यादा फोकस्ड महसूस करेंगे। जिससे रचनात्मकता भी बेहतर हो सकती है।

    और पढ़ें : युवाओं में आत्महत्या के बढ़ते स्तर का कारण क्या है?

    घूमने के फायदे: कितना आउटडोर टाइम बिताना पर्याप्त है?

    साइंस के अनुसार प्रत्येक सप्ताह 120 मिनट प्रकृति में बिताना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। हालांकि, आपको हर दिन ही कुछ समय बाहर बिताना चाहिए। शोधकर्ता कहते हैं कि हर सप्ताह बिताए जाने वाले दो घंटे समान रूप से विभाजित नहीं होने चाहिए। यह शहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए अच्छा है वे चाहे तो सप्ताह में एक ही दिन या हर दिन आउटडोर टाइम बिताकर स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

    [mc4wp_form id=”183492″]

    आउटडोर टाइम को सुरक्षित और बेहतर तरीके से बिताने के लिए टिप्स

    कहां जाना है, सुनिश्चित करें : आपके आस पास ऐसे ढेर सारे ऑप्शन मौजूद हैं जिससे आप अपने हिसाब से जगह का चुनाव कर सकते हैं।

    मौसम के हिसाब से चुनें कपड़े : जो भी जगह चुनें वहां के संभावित मौसम की स्थिति के लिए तैयार रहें। इंटरनेट की मदद से वेदर फोरकास्ट को ध्यान में रखकर ही कपड़े पैक करें।

    सनस्क्रीन को न भूलें : सनस्क्रीन का उपयोग आपकी स्किन की देखभाल के लिए जरूरी है, चाहे धूप हो या न हो। इसलिए सनस्क्रीन का उपयोग जरूर करें।

    हाइड्रेटेड रहें : आप आउटडोर टाइम कहीं भी बिता रहे हों लेकिन, खुद को हाइड्रेट रखना न भूलें।

    चेक-इन करें शेयर : पार्क या जंगल की तरफ रुख करने से पहले अपने प्रियजनों को ठीक से बताएं कि आप कहां जा रहे हैं। सुरक्षा के लिहाज से यह आपके लिए जरूरी है।

    नियमित रूप से घर से बाहर समय बिताने के फायदे आपके पूरे स्वास्थ्य पर सकारात्मक असर डालते हैं। ट्रैवलिंग करना या आउटडोर टाइम बिताने से आपको अपने मेंटल और फिजिकल स्वास्थ्य में खुद ही अंतर दिखाई देने लगेगा। इसलिए, अपनी अच्छी हेल्थ के लिए घर से बाहर नेचर के बीच कुछ समय जरूर बिताएं।

    यदि आप इस आर्टिकल को अंग्रेजी में पढ़ना चाहते हैं, तो कृपया क्लिक करें

     

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. प्रणाली पाटील

    फार्मेसी · Hello Swasthya


    Shikha Patel द्वारा लिखित · अपडेटेड 20/07/2020

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement