गणेश चतुर्थी और आने वाले त्योहारों को बनाएं यादगार, घर पर बनाएं शुगर फ्री मिठाइयां

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अगस्त 25, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

त्योहारों का मौसम है और आने वाले कुछ दिनों में गणेश चतुर्थी, दशहरा, दिवाली जैसे कई त्योहार बड़े धूमधाम से पूरे देश में मनाए जाएंगे। हमारे त्योहार बिना मीठे और मिठाइयों के पूरे नहीं होते। हालांकि, इस बार कोविड-19 ने त्योहारों का स्वाद थोड़ा सा फीका कर दिया है। ऐसे में बाजार से कोई भी सामान या मिठाईयां लाने से हर कोई झिझक रहा है। लेकिन, अपने त्योहारों को इस तरह से आप फीका न होने दें। इसके लिए हम आपको घर पर ही कुछ मिठाइयां बनाने की रेसिपीज सिखाने वाले हैं। लेकिन, यह रेसिपीज आम नहीं है। दरअसल, आजकल अधिकतर लोग मीठा कम खाना चाहते हैं ताकि वजन न बढ़े या अगर किसी को डायबिटीज है तो वो भी मिठाइयां खाने से बचते हैं। लेकिन, आपकी यह मुश्किल भी हम आसान बना देंगे। क्योंकि हम आपको कुछ ऐसी मिठाइयां बनाना सिखाने वाले हैं, जो पूरी तरह से शुगर फ्री हैं। जानिए, शुगर फ्री मिठाइयां कैसे बनाई जा सकती हैं।

शुगर फ्री मिठाइयां बनाने की रेसिपीज क्या हैं?

शुगर फ्री मिठाइयां रेसिपी निम्नलिखित हैं: 

खजूर मोदक

गणेश चतुर्थी में मोदक का विशेष महत्व होता है और यह भगवान गणेश का प्रिय भोजन या प्रसाद भी है। ऐसा माना जाता है कि मोदक खाने से गणेश जी जल्दी खुश होते हैं। आप ड्राई- फ्रूट और खजूर का प्रयोग कर के मोदक को बिना चीनी के बना सकते हैं। यानी खाने में हेल्दी और स्वादिष्ट भी। जानिए कैसे बनते हैं ड्राई फ्रूट वाले शुगर फ्री मोदक।

और पढ़ें: Sweet Almond: मीठा बादाम क्या है?

सामग्री

  • खजूर- 300 ग्राम 
  • बादाम – 100 ग्राम
  • किशमिश-100 ग्राम
  • काजू और अखरोट-100 ग्राम
  • खसखस -100 ग्राम 
  • नारियल- 100 ग्राम (सूखा हुआ)
  • घी- दो चम्मच

शुगर फ्री मिठाइयां कैसे बनाएं? 

  • खजूर मोदक बनाने के लिए सबसे पहले खजूर के बीज निकाल लें। किशमिश को छोड़कर बाकी सभी मेवों को छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • इन मेवों को एक-एक कर के कुछ सेकेंडस के लिए हल्का भून लें और अलग रख लें। 
  • अब नारियल के टुकड़ों और खसखस को थोड़ा सा पीस लें। आप इसका पाउडर भी बना सकते हैं। लेकिन,  इन्हें हल्का पीस कर मिठाई में डालने से स्वाद दुगना हो जाएगा।
  • अब एक पैन में घी डालें और उसे गर्म करें। इसमें खजूर और किशमिश को डाल कर उसे लगातार कुछ देर तक पकाएं। लगभग पांच मिनटों में यह एक गाढ़ा मिश्रण बन जाएगा।
  • अब सभी मेवों को खजूर और किशमिश के मिश्रण में मिक्स कर लें और फिर से कुछ समय के लिए इसे पकाएं। लगभग दो से तीन मिनट तक इस मिश्रण तक चलाएं।
  • इसके बाद गैस बंद कर दें और इस मिश्रण को किसी खुले बर्तन में निकाल लें।
  • इस मिश्रण को ठंडा होने दें। ध्यान रहे कि आपका बनाया हुआ यह मिश्रण थोड़ा सख्त होना चाहिए।
  • अब थोड़ी सी मात्रा में इस मिश्रण को अपने हाथ में लें और मोदक की शेप दे दें। अगर आपके पास सांचा है तो आप सांचे में डाल कर भी इसे बना सकते हैं। आपकी शुगर फ्री मिठाईयों में से तैयार है यह खास तरह की मिठाई।
  • कटे हुए ड्राई फ्रूटस के साथ सजाकर गणेश जी को भोग लगाएं और स्वयं भी खाएं।
खजूर मोदक
खजूर मोदक

और पढ़ें : मिलावटी मिठाई को इस दिवाली ऐसे पहचानें, हो सकती है सेहत के लिए हानिकारक

फ्रूट सेवइयां 

सेवइयां भी एक ऐसी मिठाई है, जिसे बेहद पसंद किया जाता है। लेकिन, अगर आप शुगर फ्री मिठाइयां खाने के बारे में सोच रहे हैं, तो फ्रूट सेवइयां आपके लिए परफेक्ट है। फलों की मिठास को आप मिठाई की स्वीटनेस के लिए प्रयोग कर सकते हैं। यही नहीं, इन सेवइयों का स्वाद भी आपको अवश्य पसंद आएगा।जानिए कैसे बनाएं इस आसान मिठाई को।

सामग्री 

  • सेवइयां – 100 ग्राम
  • दूध – 1 कटोरी
  • संतरा -1
  • अंगूर- आधी कटोरी
  • अनानास – 2 छोटे टुकड़े
  • अनार के दाने- दो चम्मच
  • अमरुद- 1
  • गुलकंद या इलाइची पाउडर-चुटकी भर

शुगर फ्री मिठाइयां कैसे बनाएं?

  • फ्रूट सेवइयां बनाने के लिए सभी फलों को अच्छे से धो लें। संतरे के बीज निकाल लें और अमरुद को काट लें।
  • इन सभी फलों को मिक्सर में डाल कर अच्छे से पीस लें।
  • एक पैन में सेवइयां डालकर उन्हें कुछ देर तक भून लें। अगर आप चाहे तो सेवइयों को घी में भी भून सकते हैं
  • अब किसी और बर्तन में दूध डालें और गर्म करें। इसमें गुलकंद या इलाइची पाउडर ड़ाल कर इसे थोड़ी देर पकाएं
  • अब इसमें फल और भुनी हुई सेवइयां ड़ाल दें। अच्छे से इसे मिक्स कर लें।
  • जब इसमें उबाल आ जाए तो गैस को बंद कर दें।
  • थोड़ा ठंडा होने के बाद इसे फ्रिज में रखें और अच्छे से ठंडा होने के बाद ड्राई फ्रूट्स के साथ सर्व करें।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

ड्राई फ्रूट अंजीर बर्फी 

ज्यादातर लोगों का मानना है कि शुगर फ्री मिठाइयां बनाना मुश्किल है। लेकिन, ऐसा नही है। जैसे यह अंजीर की बर्फी जिसे बनाना बिलकुल सरल है। बर्फी भी अधिकांश लोगों की पसंदीदा मिठाई है। आमतौर पर त्योहारों के दिन घरों में काजू बर्फी, बेसन बर्फी, गाजर पाक आदि को बनाया जाता है। लेकिन आज हम आपको ड्राई फ्रूट बर्फी बनाने की रेसिपी बताने वाले हैं। जिसे आप बिना चीनी के भी स्वादिष्ट बना सकते हैं। जानिए कैसे बना सकते हैं आप ड्राई फ्रूट अंजीर मिक्स बर्फी।

सामग्री 

  • अंजीर -1 कटोरी 
  • नारियल(सूखा हुआ)- आधी कटोरी
  • अखरोट- आधी कटोरी 
  • पिस्ता-आधी कटोरी
  • बादाम-आधी कटोरी
  • किशमिश -आधी कटोरी
  • इलाइची- 1 चम्मच
  • खजूर – 6 -7  
  • जायफल -चुटकी भर
  • घी- एक चम्मच

शुगर फ्री मिठाइयां कैसे बनाएं? 

  • शुगर फ्री मिठाइयां बनाना चुटकियों का काम है और यह बात इस रेसिपी से साबित हो जायेगी क्योंकि इसे बनाना बेहद आसान है। 
  • इसे बनाने के लिए सबसे पहले अंजीर को लगभग पंद्रह मिनटों तक गर्म पानी में भिगोएं। बीच-बीच में इसे हिलाएं और उसके बाद अच्छे से सूखा लें।
  • अब अखरोट, बादाम, नारियल और पिस्ता आदि को अच्छे से छोटे टुकड़ों में काट लें। खजूर के बीज निकाल कर खजूर भी काट लें।
  • अंजीर से पानी को अच्छे से निकाल लेने के बाद मिक्सर में इसे डाल कर इसका पेस्ट बना लें।
  • एक पैन में घी गर्म करें और उसमें अंजीर के पेस्ट को डाल दें। एक दो मिनट तक पकाने के बाद इसमें खजूर डाल कर फिर से अच्छे से मिक्स करें और पकाएं 
  • अब सभी कटे हुए मेवों को इसमें डाल दें फिर  इस मिश्रण को हिलाते रहें ।
  • अंत में इलाइची पाउडर और जायफल को इसमें मिला दें और अच्छे से मिक्स कर लें।  लगभग एक मिनट तक पकाने के बाद गैस को बंद कर दें । 
  • अब एक प्लेट में बटर पेपर लगाएं और बर्फी के इस मिश्रण को इस पेपर पर रख दें ।
  • इस मिश्रण को अच्छे से पूरी प्लेट में फैला लें और ठंडा होने दें । 
  • लगभग आधे घंटे तक फ्रिज में रखने के बाद इस बर्फी को सही आकार में काट लें।
  • आपकी स्वादिष्ट बर्फी तैयार है। चांदी के वर्क के साथ इसे सजाएं और सर्व करें ।
ड्राई फ्रूट अंजीर बर्फी
ड्राई फ्रूट अंजीर बर्फी

और पढ़ें : त्योहारों पर क्यों बनाए जाते हैं विशेष व्यंजन और कितने हेल्दी हैं वो, यहां जानें

रागी कोकोनट लड्डू 

रागी को बेहद सेहतमंद अनाज माना जाता है। इसे खाने से हमें कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं। ऐसे में आप अगर इसके लडडू बना कर खाएंगे तो त्योहारों का मजा बढ़ जाएगा। इस डिश में चीनी की जगह आप गुड़ का प्रयोग किया जा सकता है। गुड़ या शक्कर का स्वाद मीठा होता है लेकिन, यह सेहत के लिए बिलकुल भी हानिकारक नहीं होते। जानिए कैसे तैयार करें रागी कोकोनट लड्डू

सामग्री 

  • रागी – 1 कटोरी
  • गुड़ (पीसा हुआ)- 1/4 कटोरी
  • मेवे- 1/4 कटोरी (भुने हुए)
  • नारियल -1/4 कटोरी (पीसा हुआ)
  • नमक- चुटकी भर

रागी और कोकोनट से शुगर फ्री मिठाइयां कैसे बनाएं?

  • रागी कोकोनट लड्डू को बनाने के लिए रागी के आटे को एक खुले बर्तन में डालें।
  • इसमें नमक डाल कर अच्छे से मिक्स कर लें।
  • अब इस मिश्रण में थोड़ा पानी डाल कर अच्छे से मिक्स कर लें ताकि इसमें कोई गांठे न पड़ें।
  • इस मिश्रण में इसमें नारियल मिलाकर फिर से अच्छे से मिला लें।
  • अब इस मिश्रण को 10-15 मिनटों तक स्टीम करें।
  • इसके बाद इस मिश्रण को एक ट्रे में निकाल दें और ठंडा होना दें।
  • इसमें में गुड़ और मेवे मिला दें।
  • अंत में इस मिश्रण के थोड़े से भाग को अपने हाथों में लें और लड्डू का आकर दे दें।
  • अब थोड़ा सा मिश्रण हाथों में ले कर उन्हें लड्डू का आकार दे दें।
  • सभी लड्डू ऐसे ही बना लें।
  • तैयार हैं आपके बेहतरीन रागी कोकोनट लड्डू। कोकोनट के पाउडर और ड्राई फ्रूट्स के साथ इसे सजाएं और सर्व करें।

ऑर्गेनिक और स्थानीय आहार को बनाएं स्वादिष्ट, जानिए इस वीडियो के माध्यम से

अंजीर मूस

अंजीर में एक प्राकृतिक मिठास होती है, जिससे आपके द्वारा बनाई गई डिश का आम स्वीट डिशेस की तरह ही स्वाद होगा। अंजीर मूस भी उन्हीं में से एक है। अगर आपने शुगर फ्री मिठाइयां बनाने का विचार कर ही लिया है तो इस डिश को अवश्य ट्राई करें।

सामग्री

  • अंजीर – 250 ग्राम
  • अगरअगर (china grass)- 8 ग्राम
  • दालचीनी – आधा चम्मच 
  • स्किम्ड मिल्क पाउडर-1/4 कप 
  • अखरोट- कटा हुआ

अंजीर मूस से शुगर फ्री मिठाइयां कैसे बनाएं?

  • अंजीर मूस बनाने के लिए सबसे पहले सूखे अंजीरों को दो से तीन घंटे तक पानी में भिगो कर रखें। 
  • अब इस अंजीर को अगरअगर के साथ एक बर्तन में डाल कर गैस पर रख दें।
  • इसे तब तक पकाएं, जब तक यह नरम न हो जाए और अगरअगर अच्छे से इसमें घुल न जाए।
  • इसे पकाने के दौरान पानी को समायोजित करें, क्योंकि जब अंजीर को पकाया जाता है। तब अंजीर को पकाने के लिए पर्याप्त लिक्विड की जरूरत पड़ती है।
  • कुछ देर पकाने के बाद गैस बंद कर दें और इस मिश्रण में दालचीनी मिला दें। 
  • अब इसे ठंडा होने दें। इसके ठंडा होने के बाद इसमें मिल्क पाउडर मिला दें और अच्छे से मिक्स कर दें।
  • इसके बाद बने हुए मिश्रण को एक प्लेट में निकाल दें।
  • अब इसे अखरोट से सजाएं और फ्रिज में रखें, जब तक यह अच्छे से सेट न हो जाए।
  • अब ठंडे अंजीर मूस को अपनी पसंद के अनुसार सजा कर मजे से खाएं।
अंजीर मूस
अंजीर मूस

और पढ़ें : संतुलित आहार और भारतीय व्यंजनों का समझें कनेक्शन

ओट्स की गुजिया

गुजिया भी हमारे देश की एक प्रसिद्ध मिठाई है। जिसे आमतौर पर आपने चीनी से बनाया और खाया होगा। लेकिन अपनी इस पसंदीदा मिठाई को आप शुगर फ्री भी बना सकते हैं। जानिए शुगर फ्री मिठाइयां रेसिपी की लिस्ट में मौजूद ओट्स गुजिया रेसिपी 

सामग्री 

  • मैदा- दो कटोरी
  • तेल- तलने के लिए
  • ओट्स -1 कटोरी
  • खजूर – 10 -12 टुकड़े कटे हुए और बीज निकाले हुए
  • काजू- 10 (कटा हुआ)
  • अखरोट -3 चम्मच  (कटा हुआ)
  • किशमिश -15 -20 टुकड़े
  • तिल के बीज – एक चम्मच (हल्का भुना हुआ)

ओट्स से शुगर फ्री मिठाइयां कैसे बनाएं?

  • ओट्स गुजिया बनाने के लिए सबसे पहले एक बड़े बर्तन में मैदा लें और उसमें दो से तीन चम्मच तेल डाल दें। अब इसे अच्छे से मिक्स कर लें।
  • इस मिश्रण में थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए इसे गूंथे।
  • जब यह मैदा अच्छे से गूंथ जाए तो एक गीले कपड़े से इस मिश्रण को थोड़ी देर तक ढ़क कर अलग रख दें।
  • अब सभी मेवों को अच्छे से काट लें। इसके बाद कटे हुए अखरोट, काजू, तिल के बीज, खजूर को किशमिश और ओट्स के साथ अच्छे से मिक्स कर लें। आपका गुजिये में भरने वाला मिश्रण तैयार है।
  • गुजिया बनाने के अगले लेवल में अब मैदे के गूंथे हुए आटे की थोड़ी सी मात्रा में अपने हाथों में लें।
  • अपने हाथों में थोड़ा तेल लगा कर इसका एक छोटा बाल बना लें।
  • इस बाल को पूरियों के आकार में बेल लें।
  • अब अंजीर के बनाएं मिश्रण में एक थोड़ा सा ले कर इस पूरी में भरें।
  • इस पूरी को अच्छे से बंद कर दें और गुजियों का आकार दे दें।
  • आप सांचे की मदद से भी गुजियों को सही आकर दे सकते हैं।
  • ऐसे ही पूरे गुंथे हुए मैदे की गुजिया बना लें।
  • अंत में एक कढ़ाई लें और उसमें तेल डालें।
  • जब तेल गर्म हो जाए तो उसमें बनाई हुई गुजियों को डाल कर हल्का ब्राउन होने तक तल लें।
  • आपकी शुगर फ्री गुजिया तैयार है। अगर आप चाहे तो अंजीर की जगह गुड़ का प्रयोग भी कर सकते हैं।

और पढ़ें :ऑफिस में स्नैक्स ले जाते हैं, तो अपनाएं ये स्वादिष्ट और सेहतमंद ऑप्शन्स

बादाम की बर्फी

इस बर्फी को आप खोया यानी मावा और सूखे हुए फलों जैसे खुमानी, सेब, स्ट्राबेरी, अनानास आदि के साथ बनाएंगे। यह सूखे हुए फल आपको बाजार में मिल जाएंगे जिन्हे डिहाइड्रेटेड फ्रूट भी कहा जाता है। शुगर फ्री मिठाइयां रेसिपी में यह डिश भी आपको अवश्य पसंद आएगी।

सामग्री

  • मावा(2 कटोरी)
  • डिहाइड्रेटेड फ्रूट – 1 कटोरी (कटे हुए)
  • मेवे- अधिक कटोरी (अखरोट, बादाम, पिस्ता, अंजीर आदि कटे हुए)
  • इलाइची पाउडर -चुटकी भर
  • जायफल पाउडर-चुटकी भर

बादाम की बर्फी से शुगर फ्री मिठाइयां कैसे बनाएं? 

  • एक नॉन स्टिक कढ़ाई लें। उसमें खोया और मेवों को एक साथ डाल दें।
  • इन्हें अच्छे से मिलाएं और मध्यम फ्लेम पर करीब पांच मिनटों तक पकाएं। बीच-बीच में इसे चलाते रहें।
  • अब इसमें सूखे हुए फल, इलाइची और जायफल पाउडर को डाल कर अच्छे से मिक्स कर लें।
  • कुछ सेकेंड पकाने के बाद गैस बंद कर दें।
  • एक बटर पेपर को किसी प्लेट में बिछाएं।
  • इस मिश्रण को इस बटर पेपर के ऊपर बिछा लें।
  • इसे अलग रख दें, जब तक यह ठंडा नहीं हो जाता।
  • अब इस बराबर भागों में काटें और कटे हुए मेवों के साथ सजाकर सर्व करें।
बादाम की बर्फी
बादाम की बर्फी

अब तो आप जान ही गए होंगे कि शुगर फ्री मिठाइयां बनाना कितना आसान है। ऐसे ही आप शुगर फ्री मिठाइयां या अन्य रेसपीस को भी ट्राई कर सकती हैं जो आपको पसंद हैं। बस उसमें चीनी की जगह खजूर, गुड़, फल या अंजीर आदि का प्रयोग करें। तो शुरू हो जाएं और बनाएं यह शुगर फ्री मिठाइयां ताकि इन त्योहारों की मिठास हर साल की तरह बनी रहे।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

त्योहारों पर क्यों बनाए जाते हैं विशेष व्यंजन और कितने हेल्दी हैं वो, यहां जानें

भारत अपने स्वादिष्ट व्यंजनों के लिए विश्व प्रसिद्ध है। भारत के विभिन्न राज्यों में त्योहार पर खाने की एक से बढ़कर एक वराइइटी परोसी जाती है। जानिए त्योहार पर व्यंजन की क्या है विशेषता?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
फन फैक्ट्स, स्वस्थ जीवन सितम्बर 27, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

इस गणेश चतुर्थी करें पर्यावरण से दोस्ती और रखें स्वास्थ्य का ख्याल

गणेश चतुर्थी का उत्सव महाराष्ट्र में 10 दिन धूमधाम से मनाया जाता है। वैसे तो बप्पा की पूजा दूसरे राज्यों में होने लगी है लेकिन, इस त्योहार में कैसे रखें पर्यावरण और सेहत का ख्याल?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Shilpa Khopade
स्वास्थ्य बुलेटिन, लोकल खबरें अगस्त 30, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

मोदक बनाने की ये तीन रेसिपी करें ट्राय, खुश हो जाएंगे बाप्पा

यदि आप गणेश चतुर्थी को एक ही जैसे मोदक बनाते आ रहे हैं, तो इस बार कुछ नया ट्राय करें। आज हम आपको बता रहे हैं मोदक रेसिपी। मोदक रेसिपी में कोकोनट रेसिपी, काजू मोदक आदि शामिल है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
आहार और पोषण, स्वस्थ जीवन अगस्त 28, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

गणेश चतुर्थी और कोरोना वायरस

गणेश चतुर्थी 2020 : गणेश चतुर्थी को लेकर सरकार ने जारी किए ये गाइडलाइन, जानें क्या नहीं करना होगा

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
प्रदूषण से बचने का उपाय

नॉर्थ इंडिया में है आपका बसेरा तो जानें प्रदूषण से बचने के उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Shruthi Shridhar
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ अक्टूबर 29, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें
मिलावटी मिठाई -adulterated sweets

मिलावटी मिठाई को इस दिवाली ऐसे पहचानें, हो सकती है सेहत के लिए हानिकारक

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Lucky Singh
प्रकाशित हुआ अक्टूबर 17, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें
ग्रीन क्रैकर्स-green Crackers

ग्रीन क्रैकर्स से 30 फिसदी तक कम होगा प्रदूषण, मार्केट में हैं उपलब्ध

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ अक्टूबर 7, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें