सेक्स के दौरान ज्यादा दर्द को मामूली न समझें, हो सकती है गंभीर समस्या

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जनवरी 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

अंजली की शादी को एक साल हो गए हैं लेकिन, आज भी उसे सेक्स के समय दर्द होता है। जिसकी वजह से वह हमेशा शारीरिक संबंध बनाने से बचती है। इसका असर उनके रिश्ते पर भी दिखने लगा था। अंजली के पति को भी अब इस बात ने परेशान करना शुरू कर दिया कि इसके पीछे की वजह क्या है। दोनों ने फिर डॉक्टर से संपर्क किया जहां अंजली ने सेक्स के दौरान होने वाले दर्द के बारे में बताया। डॉक्टर ने जांच के बाद दर्द के विभिन्न कारणों के बारे में बताया।

सेक्स के दौरान दर्द के हैं कई कारण

दरअसल, पेनेट्रेशन के दौरान कई महिलाओं में दर्द की समस्या होती है। इसे मेडिकल भाषा में डिस्परेयूनिया (dyspareunia) कहा जाता है। सेक्स के समय दर्द कभी-कभी कपल्स की सेक्स लाइफ में भी समस्याएं पैदा कर सकता है। दर्द का मुख्य कारण स्त्री का उत्तेजित न होना भी हो सकता है, जिससे संबंध बनाने में परेशानी होती है। इसके अलावा भी कुछ कारण होते हैं।

महिलाओं में दर्दनाक सेक्स के कारण क्या हैं?

यदि वजायनल (योनि में) लुब्रिकेशन न हो, तो इंटरकोर्स के दौरान महिला को दर्द का सामना करना पड़ सकता है। यह काफी आम समस्या है। ऐसे में, यदि फोरप्ले (foreplay) का समय बढ़ा दिया जाए तो परेशानी से बचा जा सकता है।  

कुछ मामलों में, महिला दर्दनाक सेक्स का अनुभव कर सकती है जैसे-

वैजिनिस्मस (vaginismus) यानी योनि का संकुचन

योनि का संकुचन एक ऐसी स्थिति है जहां महिलाओं के लिए सेक्स बहुत ही दर्दभरा हो जाता है। वैजिनिस्मस एक सेक्शुअल प्रॉबल्म है जहां टैम्पोन जैसी चीजों को भी इन्सर्ट करने में परेशानी होती है। योनि की मांसपेशियों में संकुचन की वजह से संभोग दर्दनाक हो सकता है।

योनि में संक्रमण (Vaginal infection)

कुछ बैक्टीरिया आमतौर पर आपकी योनि में पाए जाते हैं, जिसमें शामिल है “यीस्ट”। यीस्ट इंफेक्शन से जलन, खुजली, सूजन और डिस्चार्ज हो सकता है। वजाइनल इंफेक्शन के चलते सेक्स के समय दर्द हो सकता है।

यह भी पढ़ें- पानी में सेक्स करने का बना रहे हैं प्लान, तो पहले पढ़ें यह वॉटर सेक्स गाइड

गर्भाशय ग्रीवा की समस्याएं (गर्भाशय का खुलना)

इस तरह के मामले में, पेनेट्रेशन के दौरान लिंग गर्भाशय ग्रीवा तक पहुंच सकता है। लिंग का ज्यादा गहराई तक पहुंचना, दर्द के साथ ही संक्रमण का कारण भी बन सकता है।  

यह भी पढ़ें- सेक्स के दौरान महिलाएं आखिर क्यों निकालती हैं आवाजें?

एंडोमेट्रियोसिस (Endometriosis):

महिलाओं में संभोग के दौरान दर्द होने का एक बहुत बड़ा कारण एंडोमेट्रियोसिस है। एंडोमेट्रियोसिस के दौरान होने वाले दर्द को पीरियड (Emmenia) के दौरान होने वाले दर्द जैसा समझकर लापरवाही बरतती हैं, जिसके कारण यह बीमारी बढ़ जाती है।  

अंडाशय (ओवरी) की समस्याएं

अंडाशय (Ovaries) की समस्याएं भी सेक्स के समय दर्द का कारण बनती हैं। ओवरी पर अल्सर या सिस्ट होने के कारण यौन संबंध के दौरान दर्द हो सकता है। 

पेल्विक इन्फ्लमेट्री डिजीज (श्रोणि सूजन) (पीआईडी)

पीआईडी के अंतर्गत, आपके अंदरूनी टिशू में सूजन आ जाती है और संभोग के समय दर्द होता है। 

यह भी पढ़ें-  इन वॉटर सेक्स टिप्स से पानी में सेक्स करना होगा और मजेदार

एक्टापिक (अस्थानिक) गर्भावस्था

एक्टापिक गर्भावस्था में एक निषेचित अंडा गर्भाशय के बाहर विकसित होने लगता है। इसकी वजह से इंटरकोर्स के दौरान दर्द हो सकता है।

यह भी पढ़ें-सेक्स को कैसे बनाएं और ज्यादा रोमांटिक?

मेनोपॉज (रजोनिवृत्ति)

 मेनोपॉज यानी मासिक धर्म का बंद हो जाना, ऐसे में वजाइनल लाइन्स से नमी खो जाती है। लुब्रिकेशन की कमी के चलते शारीरिक संबंध के दौरान दर्द का सामना करना पड़ता है।

यौन संचारित रोग

इनमें हर्पीज या अन्य एसटीडी की वजह से इंटरकोर्स के दौरान दर्द का कारण बन सकते हैं।

योनि में चोट

बच्चे के जन्म के दौरान लगा चीरा सेक्स के दौरान दर्द का कारण बन सकता है।  

यह भी पढ़ें- स्विमिंग पूल में सेक्स करना कहीं भारी न पड़ जाए, रखें इन बातों का ध्यान

वुलवोडायनिया (Vulvodynia)

यह महिला के बाहरी यौन अंगों को प्रभावित करता है जिसे “वुलवा” vulva कहा जाता है। जिसकी वजह से सेक्स के समय दर्द का अनुभव होता है।  

सर्जरी या प्रसव के तुरंत बाद संभोग भी दर्द का कारण बन सकता है।

यह भी पढ़ें- आखिर क्यों मार्केट में आए फ्लेवर कॉन्डम? जानें पूरी कहानी

महिलाओं में पेनफुल सेक्स के कुछ लक्षण निम्नलिखित है:

  • रक्तस्राव (मासिक धर्म का बंद हो जाना)
  • जननांग घाव
  • अनियमित पीरियड्स
  • योनि में जलन, खुजली या सूजन
  • वजायनल ब्लीडिंग 
  • योनि में संकुचन
  • वजायना की मांसपेशियों में खिंचाव या ऐंठन

यह भी पढ़ें- जानिए क्या करें अगर पार्टनर न कर पाए सेक्शुअली सैटिसफाई

महिलाओं में दर्दनाक सेक्स का इलाज कैसे किया जा सकता है?

महिलाओं में सेक्स के दौरान होने वाले दर्द के लिए कई बार चिकित्सीय उपचार की आवश्यकता नहीं होती है। उदाहरण के लिए, गर्भावस्था के बाद शारीरिक संबंध के दर्द से बचने के लिए कम से कम छह सप्ताह बाद यौन संबंध बनाने चाहिए। पेनफुल सेक्स से बचने के लिए वॉटर बेस्ड लुब्रिकेंट्स का इस्तेमाल करना चाहिए।  

कई महिलाओं को दर्द के लिए डॉक्टरी इलाज की आवश्यकता होती है। यदि योनि में सूखापन रजोनिवृत्ति के कारण है, तो डॉक्टरी सलाह से एस्ट्रोजन क्रीम या दवाओं का इस्तेमाल करें। सेक्स के दौरान असहनीय दर्द का अनुभव होने पर, अवश्य ही डॉक्टर से संपर्क करें। यौन सम्बन्धी दर्द के मामलों में जहां दवा की आवश्यकता नहीं है, वहां सेक्सशुअल थेरिपी सहायक हो सकती है। 

यह भी पढ़ें- सेक्स को और ज्यादा रोमांटिक बनाने के 7 तरीके

क्या घरेलू उपचार सेक्स के समय दर्द से राहत देने में मदद करते हैं?

चिकनाई वाले जेल को बाहरी यौन अंगों, वल्वा और लेबिया में लगाने के साथ-साथ वजायना में चिकनाई वाले उत्पादों का उपयोग करना कुछ महिलाओं के लिए मददगार साबित हो सकता है। इस संभोग के दौरान दर्द कम हो जाता है। वहीं नेचुरल लुब्रिकेशन के लिए वाइब्रेटर्स या डिल्डो जैसे सेक्स टॉयज भी उपयोगी हो सकते हैं। किसी भी वजायनल डाइलेटर (vaginal dilators) का इस्तेमाल करने से पहले महिला को अपने हेल्थ केयर प्रोफेशनल से बात करनी चाहिए।

यह भी पढ़ें- फोरप्ले (Foreplay) है बेहद जरूरी, इस दौरान बरतें ये सावधानियां

आमतौर पर सेक्स में दर्द होना महिलाओं में सामान्य है। लेकिन संभोग के दौरान लागातार दर्द की समस्या आ रही हो, तो ऐसे में डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। क्योंकि, इस प्रकार की समस्या अंदरुनी सूजन या किसी गंभीर चोट के कारण भी हो सकता है। 

और भी पढ़ें-

क्या वाकई में सेक्स टॉयज का इस्तेमाल रियल सेक्स जैसा प्लेजर देते हैं?

जानिए क्या करें अगर पार्टनर न कर पाए सेक्शुअली सैटिसफाई

सेक्स के समय जाने-अनजाने महिलाएं करती हैं ये 6 गलतियां

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    Emanzen D: इमान्जेन डी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    इमान्जेन डी दवा की जानकारी in hindi दवा के डोज, उपयोग और साइड इफेक्ट्स और चेतावनी को जानने के साथ इसके रिएक्शन और स्टोरेज को जानने के लिए पढ़ें आर्टिकल।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Satish singh
    दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 8, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

    Diclomol: डिक्लोमोल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    डिक्लोमोल दवा की जानकारी in hindi डोज, इस्तेमाल, उपयोग के साथ सावधानी और चेतावनी जानने के साथ ही diclomol को कैसे स्टोर करें, जानने के लिए पढ़ें।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Satish singh
    दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 8, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

    Dart: डार्ट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    जानिए डार्ट टैबलेट की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, डार्ट टैबलेट के उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, dart डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया shalu
    दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 5, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

    क्या आप दांतों की समस्याएं डेंटिस्ट को दिखाने से डरते हैं? जानें डेंटल एंग्जायटी के बारे में 

    डेंटल एंग्जायटी की बीमारी को जितना इग्नोर करेंगे हमारे दांतों के साथ सेहत को उतना ही नुकसान होगा। जरूरी है कि बीमारी का सही समय पर इलाज करवाएं।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Satish singh
    ओरल हेल्थ, स्वस्थ जीवन मई 20, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

    Recommended for you

    कोल्डैक्ट

    Coldact: कोल्डैक्ट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Satish singh
    प्रकाशित हुआ जून 29, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
    दांत दर्द का आयुर्वेदिक इलाज

    दांत दर्द का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? जानें कौन सी जड़ी-बूटी है असरदार

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
    के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
    प्रकाशित हुआ जून 26, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

    Quiz: दर्द से जुड़े मिथ्स एंड फैक्ट्स के बीच सिर चकरा जाएगा आपका, खेलें क्विज

    के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
    प्रकाशित हुआ जून 16, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
    Flexura D: फ्लेक्सुरा डी

    Flexura D: फ्लेक्सुरा डी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Satish singh
    प्रकाशित हुआ जून 11, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें