home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

हेजलनट के फायदे जो आपको जरूर जानने चाहिए

हेजलनट के फायदे जो आपको जरूर जानने चाहिए

ड्राई फ्रूट्स और नट्स का सेवन तो हम सभी रोज करते हैं लेकिन, आज एक ऐसे नट्स के बारे में जानेंगे जिसकी चर्चा कम होती है लेकिन, इसके फायदे कई हैं। ये है हेजलनट (Hazelnut)। हेजलनट (Hazelnut) के फायदे कई हैं। जिसके बारे में आपने कभी सुना ही होगा। यह नट हल्‍का मीठा होता है और इसकी खेती दुनिया भर में होती है। अमेरिका, इटली और तुर्की में इसका उत्‍पादन सबसे ज्यादा होता है। इस नट का रंग पीला और भूरा होता है। आकार में यह गोलाकार से अंडाकार होता है। इसमें कई तरह के पोषक तत्व मौजूद पाए जाते हैं। हेजलनट में विटामिन-ई, प्रोटीन, डाइएट्री फाइबर और शरीर को लाभ पहुंचाने वाला फैट मौजूद होता है। जिन लोगों का वजन बढ़ रहा है या जिन्हें दिल से संबंधित समस्या है, वे इसका सेवन जरूर करें। हेजलनट शरीर को कई बीमारियों से बचाने की क्षमता रखता है।

यह भी पढ़ेंः जानिए क्या होता है स्लीप म्यूजिक (Sleep Music) और इसके फायदे

हेजलनट के फायदे जानने से पहले समझें इस औषधि के बारे में

हेजलनट एक तरह की जड़ी-बूटी होती है, जिसे कोबनट या फिल्बर्ट नट के नाम से भी जाना जाता है। इसका बोटेनिकल नाम कोरीलस है, जो कि बिर्च (Birch) फैमिली की प्रजाति का होता है। यह हल्के भूरे रंग का होता है। आमतौर पर टर्की, इटली, स्पेन और अमेरिका में इसे अधिक उगाया जाता है। हेजलनट को कच्चा, भुन कर या इसका पेस्ट बनाकर इसका सेवन किया जा सकता है। इसके स्वाद की बात करें, तो स्वाद में यह मीठा होता है। दूसरे नट्स की तरह हेजलनट में भी प्रोटीन, फैट्स, विटामिन और मिनरल की काफी अधिक मात्रा पाई जाती है। हेजलनट का इस्तेमाल कोलेस्ट्रोल को कम करने और एंटी-ऑक्सीडेंट के रूप में भी किया जा सकता है।

हेजलनट के फायदे

1. कैंसर से लड़ने में मददगार

हेजलनट कैंसर कोशिकाओं के विकास करने वाले कारक को खत्‍म करने के लिए जाना जाता है। यह शरीर में मौजूद हानिकारक कोशिकाओं का दमन करने में मदद करता है। इसमें पाया जाने वाला बीटा-सिटोस्टेरोल स्‍तन और प्रोस्‍टेट कैंसर के खतरे को कम कर सकता है। इसमें मैगनीज की प्रचुर मात्रा कैंसर से शरीर की रक्षा कर सकती है।

2. दिल की बीमारियों का खतरा कम करता है

साल 2013 के एक रिसर्च के अनुसार हेजलनट से भरपूर आहार लो डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है। जिससे दिल की समस्याओं का खतरा कम हो सकता है। हेजलनट का सेवन दिल की समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए काफी लाभकारी साबित हो सकता है। इसके साथ ही यह शरीर को कई बीमारियों से लड़ने में सक्षम बनाता है। हेजलनट में कैलोरी काफी मात्रा में होती है। लेकिन, यह प्रोटीन, कार्ब्‍स, फाइबर, विटामिन ई, विटामिन बी 6, थियामिन, मैग्‍नीशियम, कॉपर, मैगनीज, फोलेट, फास्फोरस, पोटैशियम और जस्ता जैसे पोषक तत्वों से भी भरपूर होता है। इतना ही नहीं हेजलनट्स में ओमेगा -6 और ओमेगा -9 फैटी एसिड भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसके तेल का इस्तेमाल कोलेस्ट्रॉल कम करने और एंटीऑक्सिडेंट के रूप में किया जाता है।

यह भी पढ़ें : Ginseng : जिनसेंग क्या है?

3. अच्छे कोलेस्ट्रॉल के निर्माण में सहायक

हेजलनट में मौजूद फॉलिक एसिड बैड कोलेस्‍ट्रॉल को कम करता है और ब्‍लड में गुड कोलेस्‍ट्रॉल को बढ़ाता है। नियमित रूप से इसके सेवन से बैड कोलेस्‍ट्रॉल को कम किया जा सकता है। रिसर्च के अनुसार हेजलनट के सेवन से ब्लड वेसल में रुकावट और आर्टरी पर जमा होने वाले खराब कोलेस्‍ट्रॉल के ऑक्‍सीकरण को कम किया जा सकता है।

4. स्पर्म काउंट बढ़ाता है

हेजलनट के नियमित सेवन से स्पर्म काउंट को बढ़ाया जा सकता है।

यह भी पढ़ेंः Hypothyroidism: हाइपोथायरॉयडिज्म होने पर क्या खाएं और क्या नहीं?

5. शरीर का वजन कंट्रोल में रखता है

रिसर्च के अनुसार हेजलनट को नियमित रूप से और सही मात्रा में खाने से वजन को संतुलित रखा जा सकता है। साल 2018 में की गई एक स्टडी के मुताबिक, इसका सेवन करने से वजन घटने में काफी मदद मिलती है। स्टडी में जिन प्रतिभागियों ने ज्यादा नट्स का सेवन करने के लिए कहा गया, उनमें नट्स का कम सेवन करने वालों की अपेक्षा ओवरवेट होने की आशंका कम पाई गई।

6. गर्भावस्था के दौरान बेहद फायदेमंद

अन्य नट्स के मुकाबले हेजलनट फोलेट का अच्‍छा स्रोत होता है। फोलेट गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद होता है। यह गर्भ में पल रहे बच्चे के नर्वस सिस्टम के विकास के लिए अच्छा हो सकता है।

यह भी पढ़ें : Amlodipine : एम्लोडीपिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

7. विटामिन-ई का अच्छा स्रोत

इसके अलावा हेजलनट विटामिन-ई का भी अच्छा स्रोत माना जाता है। विटामिन-ई रेड ब्लड सेल्स को कम होने से रोकता है। यह एनीमिया की परेशानी को भी कम कर सकता है। ब्‍लड का सही सर्कुलेशन प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत रखने, बुखार, सर्दी और अन्‍य बीमारियों को दूर रखने में मदद करता है।

8. कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाए

हेजलनट में एंटी-ऑक्सीडेंट्स की भरपूर मात्रा पाई जाती है, जो कि कोशिकाओं के ऑक्सीडेशन के बहाव को कम करता है। इसके साथ ही, रेडिकल की वजह से कोशिकाओं को पहुंचने वाली क्षति को भी कम करने में मदद करता है।

9.स्वस्थ त्वचा और बालों के लिए है जरूरी

हेजलनट्स में विटामिन ई की उच्च मात्रा होती है, तो त्वचा को नमी प्रदान करता है स्वस्थ बालों को बनाए रखने में मदद करता है। विटामिन ई एंटीऑक्सिडेंट सूर्य की हानिकारक यूवी किरणों और सिगरेट के धुएं से होने वाली नुकसान को हील करने में मददगार होती है। हेजलनट के फायदे बढ़ी उम्र के निशान को रोकने में मददगार होती है। यह ब्लड फ्लो को बेहतर बनाने में भी मददगार होता है। विटामिन ई मुंहासे और झुर्रियों के इलाज में मदद करने के सबसे अच्छा स्त्रोत होता है।

कब खाएं हेजलनट?

हेजलनट के फायदे पाने के लिए आप इसे ब्रेकफास्ट के रूप में खा सकते हैं या लंच में इसका सेवन सलाद में मिला कर भी खा सकते हैं। इसके अलावा इसका इस्तेमाल आप अलग-अलग फूड रेसिपीज में भी शामिल कर सकते हैं। हेजलनट को खाने में मिलाकर खाना पूरी तरह से सुरक्षित माना जाता है। लेकिन, कुछ लोगों को हेजलनट से एलर्जी भी हो सकती है। इसलिए इसके उपयोग में लाने से पहले एक बार एक्सपर्ट से जरूर सलाह लें।

लोग अक्सर हेजलनट को ब्रेकफास्ट के रूप में खाते हैं या इसे सलाद में मिला कर खाना पसंद करते हैं। इसे अलग-अलग फूड रेसिपी में शामिल किया जा सकता है। हेजलनट को खाने में मिलाकर खाना सुरक्षित माना जाता है लेकिन, कुछ लोगों को हेजलनट से एलर्जी भी हो सकती है। इसलिए इसके उपयोग में लाने से पहले एक बार एक्सपर्ट से जरूर सलाह लें।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको हेजलनट के फायदे से किसी भी तरह की समस्या हो रही है, तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

और पढ़ें:-

Blood Smear Test: ब्लड स्मीयर टेस्ट क्या है?

Gooseberry : आंवला क्या है?

Barium Swallow: बेरियम स्वालो टेस्ट क्या है?

सक्सेसफुल शादी के लिए क्या है बेस्ट एज गैप, स्टडी में हुआ खुलासा

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

What are the health benefits of hazelnuts?. https://www.medicalnewstoday.com/articles/323807. Accessed on 18 February, 2020.

HAZELNUT. https://www.webmd.com/vitamins/ai/ingredientmono-865/hazelnut. Accessed on 18 February, 2020.

7 Ways Hazelnuts Benefit Your Health. https://www.healthline.com/nutrition/hazelnut-benefits. Accessed on 18 February, 2020.

Hazelnuts: 7 Benefits of These Heart-Healthy, Brain-Boosting Nuts. https://draxe.com/nutrition/hazelnuts/. Accessed on 18 February, 2020.

Why hazelnuts are good for you. https://www.theguardian.com/lifeandstyle/2013/aug/31/why-hazelnuts-are-good-for-you. Accessed on 18 February, 2020.

लेखक की तस्वीर
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Nidhi Sinha द्वारा लिखित
अपडेटेड 09/07/2019
x