home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

डिनर के बाद फल खाने चाहिए या नहीं?

डिनर के बाद फल खाने चाहिए या नहीं?

फ्रूट्स हेल्दी डायट का जरूरी हिस्सा हैं। फल शरीर के लिए ऐसे बहुत से तत्वों की पूर्ति करते हैं जिनको हम अनाज या सब्जियों से नहीं प्राप्त कर सकते। फलों में हाई फाइबर और कम कैलोरी होती है। फल फाइटोकैमिकल्स से भरपूर होते हैं जो हमारे शरीर में होने वाली फ्री रेडिकल क्षति को बेअसर करने में मदद करते हैं। रात में खरबूजा, नाशपाती, या कीवी के एक टुकड़े का सेवन सेहत के लिए अच्छा है। हालांकि, यह याद रखना आवश्यक है कि डिनर और फ्रूट्स खाने के बीच पर्याप्त अंतर होना चाहिए।

इस बात पर गौर करें कि, जब भी आप फल खाएं हमेशा टाइम देखें और उसके कुछ घंटे के बाद ही डिनर करें। डिनर और फल खाने के बीच टाइम गैप होगा तो ये आपके शरीर के लिए ज्यादा असरदार होगा। डिनर के बाद फल खाने के बारे में इस लेख के माध्यम से और समझने की कोशिश करते हैं।

क्या रात में या डिनर के टाइम फल खा सकते हैं?

फलों को हैवी डायट या डिनर से पहले या थोड़ा बाद में खाना चाहिए। डिनर के साथ फल खाने से स्पाइक एनर्जी के रिलीज होने का खतरा होता है, जो आपकी नींद को प्रभावित कर सकती है। आज की तेज रफ्तार जिदंगी में यदि आप चाहते हैं कि दिन की भाग-दौड़ के बाद आपकी रात की नींद ना खराब हो, तो डिनर के साथ फल खाने से परहेज करें। जैसा कि हमने उपर बताया है कि रात में फल आप खाएं, लेकिन टाइम गैप का ध्यान रखें। डिनर और फल खाने के बीच का अंतर से ही आपको फलों के सभी गुणों का पूरा लाभ मिल पाएगा।

यह भी पढ़ें :हाइब्रिड फूड्स और सब्जियां क्या हैं? जानिए इनके फायदे और नुकसान

देर शाम में फ्रूट्स स्नैकिंग के फायदे

शाम के नाश्ते के रूप में फल खाने के कई लाभ हैं, जैसा कि नीचे बताया गया है:

  • ताजे फलों के नियमित सेवन से स्ट्रोक, किडनी की खराबी, दिल की बीमारियों, मधुमेह और हड्डियों के नुकसान के जोखिमों को कम किया जा सकता है।
  • हाई कैलोरी स्नैक के बजाय उच्च फाइबर वाले फल खाने से वजन कंट्रोल करने में मदद मिलती है
    फल पोषक तत्वों और आवश्यक विटामिन से भरे होते हैं जो आपके स्वास्थ्य और जीवन शक्ति में सुधार करते हैं।
  • जब रात को फल खाने की बात आती है, तो आयुर्वेद कहता है कि तरबूज या सेब जैसे उच्च फाइबर फल आपके पाचन तंत्र के लिए अच्छे होते है।

यह भी पढ़ें: जानिए लो फाइबर डायट क्या है और कब पड़ती है इसकी जरूरत

डिनर के बाद ये फल खाने से बचें

रात को कुछ फलों का सेवन नहीं करना चाहिए जैसे तरबूज, अंगूर, संतरा आदि ।

डिनर के बाद फल जो खाएं जा सकते हैं

आप सोने से पहले कौन से फल खाते हैं इस पर भी ध्यान देना जरूरी है। रात में प्लेट भर फल न खाएं। अगर आप मीठा खाने को तरस रहे हैं तो सिर्फ फल का एक टुकड़ा ही खाएं जिसमें शुगर की मात्रा कम और फाइबर ज्यादा हो जैसे पपीता। साथ ही फल खाते ही न सो जाएं।

यह भी पढ़ें : वजन घटाने के नैचुरल उपाय अपनाएं, जिम जाने की नहीं पड़ेगी जरूरत

डिनर के बाद फल या पहले कब खाएं?

ऐसा माना जाता है कि आपके फल और भोजन के समय में कम से कम 30 मिनटों का अंतर होना चाहिए। अगर आप डिनर के बाद फल या पहले खाते हैं, तो इससे खाना अच्छे से नहीं पचता है और शरीर को पूरे पोषक तत्व नहीं प्राप्त होते। अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं, तो आपको खाने के बाद कम से कम एक या दो घंटे इंतजार करना चाहिए और उसके बाद फल खाने चाहिए।

यह भी पढ़ें : प्रोसेस्ड फूड खाने से हो सकती हैं इतनी बीमारियां शायद नहीं जानते होंगे आप

सोने से पहले फल कब खाएं?

अक्सर हम डिनर के बाद फल खाने को अच्छा मानते हैं लेकिन, सोने से ठीक पहले फ्रूट्स खाना अच्छा नहीं माना जाता। सोने से पहले इन्हें खाते हैं, तो आपको इन्हें पचाने में मुश्किल होगी, जिससे आपको पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। ऐसा करने से बॉडी में शुगर लेवल बढ़ सकता है। इसलिए अगर आप सोने से पहले फल खाते हैं, तो आपको नींद न आने की समस्या से दो चार होना पड़ सकता है। एक्सपर्ट्स ऐसी भी सलाह देते हैं कि सोने से लगभग दो घंटे पहले तक खाना खा लें, क्योंकि इससे खाना अच्छे से पचता है। फलों के साथ भी ऐसा ही है। यदि आप सोने ठीक पहले इन्हें खाते हैं, तो फलों को पचाने में मुश्किल होगी, जिससे आपको पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

यह भी पढ़ें : घी सिर्फ खाने की चीज नहीं है जनाब, जानें इसके एक से एक घरेलू उपाय

सुबह फल कब खाएं?

जैसे डिनर के बाद फल खाने के कुछ नियम हैं उसी तरह मॉर्निंग में भी फ्रूट्स खाने के कुछ नियम हैं। इससे फलों से फायदा उत्तम मिलेगा। एक गिलास पानी पीने के बाद सुबह फलों को खाना चाहिए। यदि आप खाली पेट फल खाते हैं, तो यह आपके सिस्टम को डिटॉक्सिफाई करने में एक प्रमुख भूमिका निभाएगा, जो आपको वजन घटाने और अन्य जीवन गतिविधियों के लिए बहुत अधिक ऊर्जा प्रदान करता है। आदर्श रूप से, फलों को सुबह नाश्ते और दोपहर के भोजन के बीच और शाम को स्नैक्स के रूप में सबसे पहले खाया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें : Blood Type Diet: ब्लड टाइप डायट क्या है?

आयुर्वेद के अनुसार

आयुर्वेद की मानें तो आप जब खाना खाते हैं और जब फल खाते हैं तो इन दोनों का असर पाचन क्रिया पर अलग तरह से पड़ता है। वहीं, आयुर्वेद चिकित्सा प्रणाली के हिसाब से डिनर के बाद फल सोने से कम से कम तीन-चार घंटे पहले कर खाने चाहिए। अगर आप फल और खाना एक साथ खाते हैं तो आपका शरीर पहले फलों को पचाएगा और उसके बाद खाने को। इसकी वजह से पेट खराब की समस्या हो सकती है और साथ ही आपका शरीर जरूरी पोषण का फायदा भी नहीं उठा पाएगा।

हाई फाइबर से भरपूर फल जल्दी शरीर में पच जाते हैं और प्रोटीन और वसा युक्त खाद्य पदार्थों की तुलना में तेजी से आंत में चले जाते हैं, लेकिन कुछ फल शक्कर से भरे होते हैं जो आपके ब्लड शूगर को तुरंत स्पाइक कर देंगे जिससे ऊर्जा के स्तर बढ़ सकता है और आपकी नींद खराब हो सकती है। इसलिए रात को फल खाते समय कुछ बातों का ध्यान रखे जैसें, डिनर और फल खाने के बीच कुछ घंटों का अंतर बनाए रखें। ऐसे फल चुनें जिनमें चीनी में कम हों लेकिन फाइबर अधिक हो, जैसे नाशपाती। सोने से ठीक पहले फल खाने से बचें और अपनी सेहत का ध्यान रखे। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी प्रकार की चिकित्सा सलाह, उपचार और निदान प्रदान नहीं करता।

और भी पढ़ें :

लंबी यात्रा में डायट कैसी होनी चाहिए?

कहीं आप भी तो नहीं कर रहे ये 6 खानपान की गलतियां? पड़ सकती हैं सेहत पर भारी

मूंगफली और मसूर की दाल हैं वेजीटेरियन प्रोटीन फूड, जानें कितनी मात्रा में इनसे मिलता है प्रोटीन

कच्चे आम के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, गर्मी से बचाने के साथ ही कोलेस्ट्रॉल को करता है कंट्रोल

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

5 Myths About the Best Time to Eat Fruit (and the Truth). https://www.healthline.com/nutrition/best-time-eat-fruit. Accessed on 09 Sep 2019

When is the best time to eat fruit?. https://www.medicalnewstoday.com/articles/325253. Accessed on 09 Sep 2019

The Best Time To Eat Fruits To Maximize The Benefits – https://www.lifehack.org/413952/the-best-time-to-eat-fruits-to-maximize-the-benefits –  Accessed on 09 Sep 2019

Eating Frequency and Weight Loss- https://www.health.harvard.edu/diet-and-weight-loss/eating-frequency-and-weight-loss – Accessed on 09 Sep 2019

लेखक की तस्वीर badge
Smrit Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/04/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x