home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Roxithromycin: रॉक्सीथ्रोमाइसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Roxithromycin: रॉक्सीथ्रोमाइसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग

रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

रॉक्सीथ्रोमाइसिन एक सेमि-सिंथेटिक मैक्रोलाइड एंटीबायोटिक दवा है। ढांचागत रूप से यह एरोथ्रोमाइसिन (azithromycin), इरिथ्रोमाइसिन, एजिथ्रोमाइसिन (azithromycin) या क्लेरिथ्रोमाइसिन (clarithromycin) के जैसी है। यह दवा ग्राम-नेगेटिव बैक्टीरिया (Gram-negative bacteria) विशेषकर लिगिओनेला न्यूमोफिला (Legionella pneumophila) से लड़ने का काम करती है।

रॉक्सीथ्रोमाइसिन बैक्टीरिया के राइबोसोम्स से बाइंड होकर और बैक्टीरियल प्रोटीन में हस्तक्षेप करके कार्य करती है। ऑस्ट्रेलिया में इसे रेस्पिरेटरी ट्रैक, यूरिनरी और हल्के इंफेक्शन के इलाज की दवा के रूप में चिन्हित किया गया है।

रॉक्सीथ्रोमाइसिन का इस्तेमाल निम्नलिखित समस्याओं में होता है:

  • ग्रासनली के पुराने इंफेक्शन
  • टॉन्सिल की सूजन
  • साइनसाइटिस (नाक और माथे के आसपास के ऊत्तकों की सूजन)
  • पुराने ब्रोंकाइटिस
  • निमोनिया
  • स्किन और मुलायम उत्तकों के इंफेक्शन
  • मूत्रमार्ग की सूजन, जो गोहनेरिया के कारण न हो
  • बैक्टीरियल इंफेक्शन की वजह से त्वचा पर घाव होना
  • जैसा कि पहले ही बता दिया गया है कि रॉक्सीथ्रोमाइसिन मैक्रोलाइड्स दवाइयों के समूह से संबंध रखती है। यह दवा बैक्टीरिया को मारकर या संक्रमण फैलाने वाले बैक्टीरिया की ग्रोथ को रोक देती है। हालांकि यह दवा वायरल इंफेक्शन जैसे फ्लू में कारगर नहीं है।

और पढ़ें : Ofloxacin+Ornidazole: ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • रॉक्सीथ्रोमाइसिन को अडल्ट्स के लिए 300 mg प्रतिदिन लेने की सलाह डॉक्टर दे सकते हैं। डॉक्टर की सलाह पर खाली पेट इसका इस्तेमाल सबसे बेहतर माना जाता है। इसके अतिरिक्त, भोजन के तीन घंटे बाद इसका सेवन किया जा सकता है।
  • दिन में एक बार 300 mg
  • दिन में दो बार 150 mg की एक गोली
  • दिन में 150 की दो टेबलेट एक बार

बच्चों में इसका इस्तेमाल उनके वजन पर निर्भर करता है। हालांकि, 40 किलोग्राम के बच्चों के लिए एक्सपर्ट दिन में 150 mg दो बार लेने की सलाह दे सकते हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात 40 किलोग्राम से कम वजन के बच्चों में इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। दूसरी तरफ बुजुर्गों के लिए डोज में फेरबदल करने की जरूरत नहीं है।

और पढ़ें : Nimesulide+Paracetamol/Acetaminophen: निमेसुलाइड+पैरासिटामोल/ एसिटामिनोफेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

रॉक्सीथ्रोमाइसिन को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको रोक्सीथ्रोमाइसिन को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। रॉक्सीथ्रोमाइसिन के अलग-अलग ब्रांड्स को अलग तरीकों से स्टोर किया जाता है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा न जाए, तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको रॉक्सीथ्रोमाइसिन को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता न रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : Akurit 4: अकुरिट 4 क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लें:

  • यदि आपको रॉक्सीथ्रोमाइसिन या किसी अन्य दवा के पदार्थ से एलर्जी है।
  • यदि आपको मैक्रोलाइड एंटीबायोटिक परिवार की दवाइयां जैसे एजिथ्रोमाइसिन (azithromycin), क्लेरिथ्रोमाइसिन (clarithromycin) या इरिथ्रोमाइसिन (erythromycin) से एलर्जी है।
  • यदि आपको लिवर की समस्या है।
  • यदि आप माइग्रेन सिरदर्द के इलाज में इस्तेमाल होने वाली इरोगोट एल्कालॉयड्स (मिग्राल, केफरगोट, इरगोड्रायल, डिहडरगोट (Migral®, Cafergot®, Ergodryl®, Dihydergot®)) का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इस दवा का सेवन न करें।
  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं।
  • यदि आपको लिवर की समस्या है।
  • यदि आपको गुर्दे की समस्या है।
  • यदि आपको पीलिया की समस्या है।

[mc4wp_form id=”183492″]

रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) को प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी के दौरान रॉक्सीथ्रोमाइसिन के सेवन की सलाह नहीं दी जाती है। संभवतः यह भ्रूण के लिए असुरक्षित हो सकती है। गर्भ में भ्रूण के लिए यह दवा सुरक्षित है या नहीं या फिर इसके भ्रूण पर संभावित साइड इफेक्ट्स क्या हो सकती हैं, इस संबंध में अधिक जानकारी उपलब्ध नहीं है। सुरक्षा की दृष्टि से इसका सेवन करने से बचें।

ब्रेस्टफीडिंग में यह दवा मां के दूध के माध्यम से शिशु की बॉडी में प्रवेश कर सकती है। इससे शिशु को नुकसान पहुंच सकता है। इस दौरान किसी भी दवा का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से हमेशा सलाह लें।

और पढ़ें :Lobate Gm Neo: लोबाटे जीएम नियो क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

रॉक्सीथ्रोमाइसिन से आपको निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • मुंह के छाले
  • वजायना पर छाले पड़ना। यह छाले घाव और खुजली और डिस्चार्ज के साथ आ सकते हैं।
  • उबकाई
  • उल्टी
  • पेट दर्द
  • डायरिया
  • पेट फूलना
  • भूख ना लगना
  • त्वचा पर लालिमा पड़ना या खुजली
  • सिरदर्द
  • थकावट
  • चक्कर आना
  • कान बजना
  • मतिभ्रम होना
  • हांथ पैरों और बाजुओं में कंपकपाहट होना
  • खुशबू या स्वाद में बदलाव होना

हालांकि, हर व्यक्ति को इन साइड इफेक्ट्स का अनुभव नहीं होता है। उपरोक्त साइड इफेक्ट्स के अलावा भी इस दवा के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : Ascoril LS Syrup: एस्कोरिल एलएस सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

इंटरैक्शन

रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

रॉक्सीथ्रोमाइसिन निम्नलिखित दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकती है:

  • थियोफिलिन (Theophylline)
  • डिहाइड्रोएगोटेमाइन (Dihydroergotamine)
  • डाइसोपिरामाइड (Disopyramide)
  • एस्टोमिजोल (Astemizole)
  • वारफारिन (Warfarin)
  • डिगोक्सिन (Digoxin)
  • मिडाजोलम (Midazolam)
  • सिक्लोस्पोरिन (Cyclosporin)
  • सिसाप्राइड (Cisapride)

उपरोक्त दवाइयों के अलावा भी कुछ ऐसी मेडिसिन हो सकती हैं, जिनके साथ रोक्सीट्रोमैकिन रिएक्शन कर सकती है। यदि आप इसके रिएक्शन को लेकर चिंतित हैं, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

क्या एल्कोहॉल के साथ रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) का इस्तेमाल सुरक्षित है?

एल्कोहॉल के साथ रॉक्सीथ्रोमाइसिन का सेवन असुरक्षित हो सकता है। जैसा कि पहले ही बता दिया है कि रॉक्सीथ्रोमाइसिन एंटीबायोटिक दवा है। एल्कोहॉल के साथ इसका सेवन करने से इसकी प्रभाविकता कम हो सकती है। दोनों का एक साथ सेवन करने से आपको चक्कर भी आ सकते हैं। कुछ एंटीबायोटिक दवाइयां बॉडी में प्रवेश करके सुस्ती को और बढ़ा देती हैं। ऐसे में एल्कोहॉल के साथ रॉक्सीथ्रोमाइसिन का सेवन करने के संबंध में विश्वसनीय और पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नही है।

रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) का हेल्थ पर क्या असर पड़ सकता है?

रॉक्सीथ्रोमाइसिन आपकी मौजूदा हेल्थ प्रभावित कर सकती है या दवा के कार्य करने का तरीका बदल सकता है। रिएक्शन होने पर आपको सांस की कमी, घरघराहट, सांस लेने में दिक्कत और त्वचा पर लाल सफेद चकत्ते पड़ सकते हैं। इस प्रकार के लक्षण इस दवा का सेवन करने के कई दिनों बाद नजर आ सकते हैं। इस स्थिति में तत्काल अपने डॉक्टर को सूचित करें।

और पढ़ें : Chymotrypsin: कायमोट्रिप्सिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

रॉक्सीथ्रोमाइसिन (Roxithromycin) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

रॉक्सीथ्रोमाइसिन का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है, तो भूले हुए डोज को न खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक न खाएं।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता है।

 

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/05/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड