डायबिटीज में गंभीर समस्याओं से बचने के 10 उपाय

Medically reviewed by | By

Update Date नवम्बर 15, 2019
Share now

कैसे करें डायबिटीज से बचाव

डायबिटीज बहुत गंभीर और घातक बीमारी है लेकिन अगर इस बीमारी में कुछ एहतियात बरते जाएं तो आने वाले खतरों से बचा जा सकता है। यहां,  कुछ ऐसी टिप्स बताई जा रही हैं जिन्हें अपने जीवन में शामिल करके आप अपनी डायबिटीज का ख्याल रख सकते हैं ओर डायबिटीज से बचाव कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : Buttercup: बटरकप क्या है?

1. स्वस्थ जीवन जीने के तरीके अपनाएं

डायबिटीज से बचाव के लिए स्वस्थ जीवन जीने के तरीकों को अपनाएं| डायबिटीज के बारे में सभी जानकारी प्राप्त लें कि किस तरह के खाद्य पदार्थ और शरीरिक गतिविधियों को अपने जीवन शैली में शामिल किया जाए| इसके अलावा, अपने खून में शुगर का स्तर समय-समय से जांचते रहें और डॉक्टर की सलाह लेकर उसे नियंत्रित करने की कोशिश करें। जब भी जरुरत पड़े, खुद नए अनुभव करने के बजाय डॉक्टर की सलाह लें।

2. धूम्रपान न करें:

धूम्रपान से डायबिटीज के साथ कई समस्याएं बढ़ जाती हैं। जैसे हार्ट अटैक, स्ट्रोक, रक्त वाहिकाओं का डैमेज होना और गुर्दे की बीमारियां होने का खतरा रहता है| इसलिए, धूम्रपान छोड़ देना ही बेहतर है| अगर आप शुरू में नाकाम भी हों तो हार न मानें, तब तक कोशिश करते रहे हैं जब तक कामयाब न हो जाएं|

3.रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल स्तर को नियंत्रण में रखें:

डायबिटीज की तरह, उच्च रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल बढ़ना भी कई बिमारियों का घर है, यह आप की रक्त वाहिकाओं को खराब कर सकता है| अगर आप डायबिटीज का शिकार हैं तो यह खतरे बढ़ कर दुगने हो जाते हैं| यह सभी मिल कर हार्ट अटैक, स्ट्रोक या दूसरी किसी जानलेवा स्तिथि का कारण बन सकते हैं| इन स्तिथियों से बचने और डायबिटीज से बचाव के लिए अपने ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल स्तर नियमित तौर पर जांचते रहें, उतार-चढ़ाव होने पर डॉक्टर की सलाह लें|

यह भी पढ़ें : Caffeine : कैफीन क्या है?

4.आंखों की जांच करवाएं:

डायबिटीज में आंखों की पुतलियों का खराब होना, मोतियाबंद और ग्लूकोमा के अलावा आँखों की रौशनी कम होने जैसी कई समस्याएं सामने आती हैं| समय-समय से आँखों डॉक्टर से अपनी आँखों की जांच करवाते रहें और भविष्य में आँखों की रौशनी गँवा देने के खतरे से बचे रहें|

5.टीके लेने में देरी न करें:

खून में शकर की मात्रा ज्यादा होने से बिमारियों से लड़ने की क्षमता कमज़ोर पड़ जाती है, यही कारण है कि डॉक्टर टीका लगवाने की सलाह देते हैं| अपने डॉक्टर की सलाह से बुखार, निमोनिया, हेपेटाइटिस बी और दूसरी बिमारियों से एहतियात के टीके ले लें|

6.दांतों पर ध्यान दें:

डायबिटीज के कारण मसूढ़ों पर इंफेक्शन का खतरा होता है| इसीलिए, दिन में कम से कम 2 बार ब्रश करें| कोशिश करें कि साल में 2 बार दांतों की जांच के लिए अप्पॉइंमेंट लें| अगर आप के मसूढ़े अधिक लाल या सूजे हुए नजर आ रहे हों या उनसे खून बह रहा हो तो फ़ौरन अपने डेंटिस्ट से मिलें|

यह भी पढ़ें : Calendula: केलैन्डयुला क्या है?

7.पैरों पर ध्यान दें:

डायबिटीज में न्यूरोपैथी की स्तिथि पैदा हो सकती है जो पैरों की नसों को प्रभावित करके पैरों तक खून के बहाव को कम कर देती है| पैरों की चोट, छाले और कट्स सही इलाज न किए जाने पर गंभीर इंफेक्शन का कारण बन सकते हैं|

8.बहुत ज्यादा शराब न पिएं:

अगर आप शराब पीते हैं तो इसे एहतियात से पिएं| जब भी शराब पीनी हो खली पेट न पिएं, खाने के साथ पिएं| शराब के कारण खून में शकर का स्तर कम हो सकता है, लेकिन यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कितनी मात्रा में क्या पी रहे हैं और पीने के साथ-साथ क्या खा रहे हैं|

9.रोजाना एस्पिरिन खाएं:

एस्पिरिन का कम डोज़ रोजाना लेने से दिल की बिमारियों का खतरा कम हो जाता है|लेकिन एस्पिरिन हर किसी के लिए सुरक्षित नहीं है इसलिए इसे लेने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह लें|

10.तनाव से दूर रहें:

तनाव से खून की नलिकाओं पर गहरा असर पड़ता है जिसके कारण दिल की बिमारियों और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है| गाने, आर्ट, एक्सरसाइज, आराम और योगा के जरिए स्ट्रेस कम करके दिल की सेहत को बेहतर बनाया जा सकता है|

डायबिटीज के कारण जीवन भर सिर्फ समस्याएं ही नहीं रहतीं बल्कि अगर उन समस्याओं का हल ढूंढ लिया जाए तो आप आगे आने वाले सभी खतरों को टाल सकते हैं और डायबिटीज से बचाव कर सकते हैं।

और पढ़ें : Camphor: कपूर क्या है?

संबंधित लेख:

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    मधुमेह (Diabetes) से बचना है, तो आज ही बदलें अपनी ये आदतें

    अगर आप स्वस्थ जीवन पाना चाहते हैं तो अपनी आदतों पर ध्यान दें और मधुमेह से बचाव के लिए बुरी आदतों को अच्छी आदतों में बदलने की कोशिश करें। जानिए मधुमेह से बचाव करने के टिप्स।

    Medically reviewed by Dr. Pooja Bhardwaj
    Written by Mubasshera Usmani