जानें डेंगू टाइमलाइन और इससे जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट नवम्बर 15, 2019 . 2 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

डेंगू विश्व में फैलने वाली सभी बीमारियों में से एक प्रमुख बीमारी है, जो कि मच्छरों की वजह से फैलती है। पूरे भारत में हर वर्ष डेंगू से होने वाली मृत्यु दर में वृद्धि होती है। इस आर्टिकल में जानें कि बीते कुछ वर्षों में किस तरह से डेंगू पूरे भारत में फैल रहा है और इसे कैसे रोका जा सकता है। 

भारत में कहां से आया डेंगू?

भारत में डेंगू की शुरुआत हरियाणा से 1996 में हुई थी। इसके बाद ये बीमारी दिल्ली, चंडीगढ़, पांडिचेरी, बैंगलोर, कर्नाटक, लुधियाना और लखनऊ जैसे बड़े हिस्सों को प्रभावित कर चुकी है। 1988 से 1989 के बीच डेंगू के कई बड़े मामले गुजरात के हिस्सों में भी पाए गए थे और फिर यह लगातार बढ़ता चला गया।

उत्तर प्रदेश में हुए सर्वे में पाया गया कि गांवों में डेंगू से पीड़ित लोग 53. 4 % हैं जबकि शहरों में डेंगू के मरीजों की संख्या कम है। ऐसा इसलिए भी हो सकता है क्योंकि शहरों में साफ सफाई और चिकित्सा के साधन गांवों की तुलना में अधिक हैं। 

डेंगू से जुड़े कुछ रोचक तथ्य 

डेंगू किसी भी मरीज को हो सकता है। इसमें उम्र या फिर लिंग से कोई लेना देना नहीं है। डेंगू में खतरनाक बुखार होने पर कई बार बच्चों की मृत्यु भी हो जाती है। 

  • डेंगू एक वायरल बीमारी है और DENV नाम के वायरस की वजह से होती है। 
  • डेंगू एडीज एजेप्टाइ  (Aedes aegptii) मच्छर की वजह से फैलता है। 
  • ये मच्छर दिन के समय संक्रमण फैलाता है। 
  • एडीज के काटने पर आपको तुरंत डेंगू के लक्षण दिखाई नहीं देंगे। साफ तौर से लक्षणों के दिखने में कम से कम तीन से चौदह दिन लगेंगे।

डेंगू के लक्षणों में वृद्धि किस तरह से हो सकती है?

आमतौर से डेंगू होने पर फ्लू जैसे लक्षण दिखाई देंगे जैसे कि बुखार होना, आंखों में दर्द होना, जोड़ों में दर्द होना, बहुत अधिक सिर दर्द होना और साथ ही शरीर पर चक्कते पड़ना। इस बीमारी में डेंगू बुखार की वजह से स्थिति अधिक खराब हो सकती है। स्थिति के बहुत अधिक खराब होने पर पेट के निचले हिस्से में दर्द, उल्टी और डायरिया की समस्या भी हो सकती है।

डेंगू से बचाव किन तरीकों से संभव है?

  • मच्छरों से बचाने वाली क्रीम (Repellent) का उपयोग करें। 
  • बहुत अधिक गहरे रंग के कपड़े पहनने से बचें क्योंकि बहुत गहरे रंग के कपड़े मच्छरों और कीड़ों को आकर्षित करते हैं।  
  • बहुत अधिक संक्रमित जगह पर रहने पर शरीर को पूरी तरह से ढक कर रखें। 
  • अपने घर के आसपास पानी न जमा होने दें। जमा हुआ पानी कई बार मच्छरों के लिए घर बन सकता है। 

यह भी पढ़ें – डेंगू से हुई एक और मौत, बेहद जरूरी है जानना इसके लक्षण और उपाय

  •  कई बार डेंगू की वजह से पीड़ित की मृत्यु भी हो सकती है। इसे डेंगू शॉक सिंड्रोम कहेंगें और इससे परेशानियां बढ़ सकती हैं।
  • 2019 में फूड और ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने डेंगू की वैक्सीन डेंगवैक्सिया (Dengvaxia) इजात की है जो कि नौ से 16 वर्ष की आयु तक के बच्चों के इलाज में कारगर साबित हुई है।

बीते हुए कई वर्षों में डेंगू की वजह से विश्व भर की मृत्युदर में वृद्धि हुई है। दवाइयों के प्रारूप में हो रहे आधुनिक विकास की वजह से डेंगू के मामलों में गिरावट आने की संभावना है और यह भी हो सकता है कि आगे आने वाले वर्षों में डेंगू से होने वाली मृत्युदर में भी गिरावट आए। 

यह भी पढ़ें – सहवाग ने किया डेंगू कैंपेन को सपोर्ट, जानें डेंगू से निपटने के घरेलू नुस्खे

डेंगू और स्वाइन फ्लू के लक्षणों को ऐसे समझें

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy

संबंधित लेख:

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    जानलेवा हो सकता है डेंगू हेमरेज फीवर, जानें इसके कारण, लक्षण और उपचार

    डेंगू हेमरेज फीवर क्या है? डेंगू हेमरेज फीवर के लक्षण और इलाज, कई डेंगू पेशेंट्स के दिमाग में हेमरेज (हेमरेजिक फीवर) हो जाता है। जानिए डेंगू हेमरेज फीवर के बारे में सबकुछ

    के द्वारा लिखा गया Mona narang

    मलेरिया से जुड़े मिथ पर कभी न करें विश्वास, जानें फैक्ट्स

    जानिए मलेरिया से जुड़े मिथ और फैक्ट्स क्या हैं, Myths and Facts about Malaria in hindi, मलेरिया से जुड़े मिथ से कैसे दूर रहें, Malaria se jude myths, malaria se kaise bachav kareien, मलेरिया से कैसे बचें।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
    लोकल खबरें, स्वास्थ्य बुलेटिन अप्रैल 25, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    Boneset: बोनसेट क्या है?

    जानिए बोनसेट की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, बोनसेट उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Boneset डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
    के द्वारा लिखा गया Anu sharma
    जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल मार्च 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    घर में ही बनाएं मच्छर मारने की दवा, आसान है प्रॉसेस

    मच्छर मारने की दवा क्या है, मच्छर मारने की दवा का उपयोग कैसे करें, नेचुरल तरीके से मच्छर कैसे भगाएं, मच्छर की बीमारियां, natural mosquito killer in Hindi

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
    हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन मार्च 24, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

    Recommended for you

    मच्छर जनित बीमारियां

    मच्छरों के काटने से हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां, बचाव के लिए जानें एक्सपर्ट की राय

    के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
    प्रकाशित हुआ अगस्त 19, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    diet for chikungunya

    चिकनगुनिया होने पर मरीज का क्या होना चाहिए डायट प्लान(diet plan)?

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Mishita Sinha
    प्रकाशित हुआ अगस्त 18, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    डेंगू बुखार के घरेलू उपाय

    डेंगू बुखार होने पर कौन-से घरेलू उपाय अपनाना सुरक्षित है?

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Anu sharma
    प्रकाशित हुआ अगस्त 11, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
    बरसात में होने वाली बीमारियां

    सबका ध्यान कोरोना पर ऐसे में कोहराम न मचा दें बरसात में होने वाली बीमारियां

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
    प्रकाशित हुआ जून 23, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें