आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

दिल की परेशानियों को करना है दूर, तो यह फिजिकल एक्टिविटीज है फायदेमंद!

    दिल की परेशानियों को करना है दूर, तो यह फिजिकल एक्टिविटीज है फायदेमंद!

    व्यक्ति की उम्र,वजन और फिजिकल एबिलिटीज चाहे कुछ भी हो, एक्सरसाइज करना सबकी सेहत के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इससे ब्लड सर्कुलेशन सुधरती है, ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल सही रहता है, वजन संतुलित रहता है और डायबिटीज का जोखिम भी कम होता है। इन सभी फैक्टर्स से हार्ट डिजीज का रिस्क कम करने की संभावना बढ़ जाती है। यही नहीं,एक्सरसाइज के और भी कई फायदे हैं। आज हम बात करने वाले हैं हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी की इम्पोर्टेंस (Physical activity for heart) के बारे में। आइए जानें हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी (Physical activity for heart) की इम्पोर्टेंस क्या है और कौन सी एक्टिविटी है आपके लिए बेहतर?

    हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी (Physical activity for heart): जानिए क्यों है यह जरूरी?

    यह तो आप जानते ही हैं कि नियमित व्यायाम से मसल्स मजबूत रहते हैं, लेकिन इससे हार्ट को बेहतर तरीके शरीर में ब्लड पंप करने में मदद मिलती है। हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी की इम्पोर्टेंस (Physical activity for heart) के बारे में जानने की शुरुआत करते हैं इन फायदों से:

    लोअर ब्लड प्रेशर (Lower blood pressure)

    हेल्दी हार्ट हर एक धड़कन के साथ अधिक ब्लड को बाहर पुश करता है, जिससे यह अधिक कुशलता से कार्य करने में सक्षम होता है। इससे हार्ट और आसपास की आर्टरीज पर स्ट्रेस कम होता है, जिससे संभावित रूप से ब्लड प्रेशर को लो रहने में मदद मिलती है। यदि आपका ब्लड प्रेशर हाय है, तो कार्डियोवैस्कुलर एक्सरसाइज इसे कम करने में मदद कर सकती है। अगर, आपको हाय ब्लड प्रेशर की समस्या नहीं है, तो भी एक्सरसाइज करने से उम्र के बढ़ने पर आप इसके जोखिम को कम कर सकते हैं।

    और पढ़ें: कोरोनरी हार्ट डिजीज में यह फूड्स बन सकते हैं परेशानी की वजह!

    हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी की इम्पोर्टेंस (Physical activity for heart): इम्प्रूव्ड ब्लड फ्लो (Improved blood flow)

    रेगुलर कार्डियो-बेस्ड फिजिकल एक्टिविटी करने से हार्ट के आसपास के स्मॉल वेसल्स में ब्लड फ्लो सुधरता है, जहां समय के साथ फैटी डिपॉजिट की ब्लॉकेज हो सकती है। इन एरियाज में बेहतर सर्कुलेशन से हार्ट अटैक से बचा जा सकता है। शोध यह भी बताते हैं कि शरीर को इन स्मॉल ब्लड वेसल्स के बीच अधिक फिजिकल कनेक्शंस बनाने में भी व्यायाम मददगार साबित हो सकता है।

    वर्कआउट एफिशिएंसी सुधरे (improved Workout efficiency)

    अगर आपने अभी वर्कआउट शुरू किया है, तो इसकी शुरुआत कार्डियो से करें। क्योंकि, इससे आपके शरीर को व्यायाम का आदि होने में मदद मिलेगी। लेकिन, जितना अधिक आप नियमित व्यायाम करते हैं, उतनी ही तेजी से आपका शरीर एक्सरसाइज के दौरान आपके ब्लड से आवश्यक ऑक्सीजन पुल करता है। इस वजह से, जो लोग नियमित रूप से कसरत करते हैं, उनके दिल स्ट्रेस में भी बेहतर परफॉर्म करता हैं। नियमित कार्डियो भी शरीर को व्यायाम के बाद अधिक तेजी से रिकवर होने की अनुमति देता है।

    और पढ़ें: हार्ट फेलियर के लिए मील प्लान्स (Meal Plans for Heart Failure) कैसा होना चाहिए?

    हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी की इम्पोर्टेंस (Physical activity for heart): लो कोलेस्ट्रॉल लेवल (Low cholesterol level)

    कई स्टडीज यह बताती हैं कि एक्सरसाइज को कोलेस्ट्रॉल में हेल्दी इम्प्रूवमेंट के साथ लिंक किया गया है जैसे हेल्दी कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ाना और बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करना आदि। इसलिए कोलेस्ट्रॉल लेवल को सही रखने में भी फिजिकल एक्टिविटीज करना जरूरी है।

    हार्ट डिजीज का रिस्क हो कम (Low heart disease rick)

    हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी (Physical activity for heart) की इम्पोर्टेंस में यह पॉइंट बेहद जरूरी है। नियमित फिजिकल एक्टिविटी से हार्ट डिजीज का जोखिम कम होता है जैसे स्ट्रोक, हार्ट अटैक आदि। स्टडीज यह भी बताती हैं की नियमित व्यायाम करने से कोरोनरी हार्ट डिजीज (Coronary heart disease) का रिस्क भी कम होता है। यही नहीं, इससे ब्लड शुगर लेवल भी सही रहता है जिससे डायबिटीज की संभावना कम हो सकती है।

    हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी, Physical activity for heart

    और पढ़ें: हार्ट अटैक और हार्टबर्न (Heart attack and Heartburn) दोनों में होता है सीने में अंतर, कैसे करें अंतर

    अन्य हार्ट हेल्दी हेबिट प्रोमोट होती हैं (Promote heart healthy habits)

    हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी की इम्पोर्टेंस (Physical activity for heart) में यह जानकारी भी आवश्यक है कि इससे संपूर्ण हेल्थ सही रहती है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन (American Heart Association) के अनुसार नियमित फिजिकल एक्टीविज करने से आपका वजन सही रहता है, स्ट्रेस कम होती है और मूड सुधरता है। यानी, आपको सम्पूर्ण रूप से हेल्दी रहने में मदद मिलती है।

    हार्ट एरिथमिया का कम हो रिस्क (Low risk of Heart arrhythmia)

    नियमित व्यायाम और फिजिकल एक्टिविटीज करने से हार्ट एरिथमिया का रिस्क कम होता है जैसे एट्रियल फाइब्रिलेशन (Atrial fibrillation), जो एक सामान्य हार्ट रिदम प्रॉब्लम है। एट्रियल फाइब्रिलेशन (Atrial fibrillation) के कारण ब्लड क्लॉट की वजह से स्ट्रोक की संभावना पांच गुना बढ़ती है। हालांकि, रिसर्च यह बताती हैं कि सही डायट और फिजिकल एक्टिविटीज से वजन कम होता है। जिससे एट्रियल फाइब्रिलेशन और अन्य गंभीर समस्याओं का जोखिम कम हो जाता है।

    और पढ़ें: Best Diet for Heart Health: हार्ट हेल्थ को बनाए रखने के लिए जानिए किन चीजों को खाएं और किन से करें परहेज

    यह तो थी जानकारी हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी की इम्पोर्टेंस (Physical activity for heart) के बारे में। नए एक्सरसाइज प्लान को शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से अवश्य बात करें। डॉक्टर न केवल एक ऐसा प्लान बनाने में आपकी मदद कर सकते हैं, जिससे कार्डियोवैस्कुलर व्यायाम के लिए क्षमता सुरक्षित रूप से बढ़ती है। बल्कि, आप अपने ब्लड प्रेशर, रेस्टिंग हार्ट रेट, कोलेस्ट्रॉल की बेसलाइन को भी निर्धारित कर सकते हैं। ताकि, आप अपने गोल में कितना सफल हुए हैं इस बारे में जान पाएं। अब जानते हैं कि कौन सी फिजिकल एक्टिविटी आपके लिए बेहतर है।

    और पढ़ें: Ways to Prevent Heartburn and Acid Reflux: कैसे बचें हार्टबर्न और एसिड रिफ्लक्स से?

    कौन सी फिजिकल एक्टिविटी आपके लिए बेहतर है?

    आपके लिए किसी भी तरह की फिजिकल एक्टिविटी अच्छी है, अगर इससे आपकी मसल्स सामान्य से अधिक काम करती हैं। हार्ट भी एक मसल है और आपके शरीर की अन्य मसल्स की तरह ही फिजिकल एक्टिविटी से इसे भी लाभ होता है। फिजिकल एक्टिविटीज जिनमें बाजुओं और टांगों की लगातार मूवमेंट होता है, उसे एरोबिक एक्सरसाइज कहा जाता है। इसे हार्ट के लिए बेहतरीन माना जाता है। एरोबिक एक्सरसाइज को कार्डियो एक्सरसाइज के नाम से भी जाना जाता है। इसके उदाहरणों में वाकिंग, रनिंग, स्विमिंग, हाईकिंग, डांसिंग आदि शामिल है। नियमित एरोबिक एक्सरसाइज से हार्ट पूरे शरीर में बेहतरीन तरीके से पंप कर पाता है।

    क्रॉनिक कंडिशंस या डिसएबेलिटी वाले लोगों को अपनी क्षमता के अनुसार नियमित फिजिकल एक्टिविटी करनी चाहिए और इंएक्टिविटी से बचना चाहिए। सभी को कुछ समय फिजिकल एक्टिविटीज के लिए अवश्य निकालना चाहिए। अन्य मसल्स के लिए भी नियमित व्यायाम जरूरी है। स्ट्रेचिंग और स्ट्रेंथनिंग एक्टीविट्ज से मसल्स को अच्छे से काम करने में मदद मिलती है। उम्र के साथ हमारी मसल्स स्ट्रेंथ और फ्लेक्सिबिलिटी लूज कर देती हैं। ऐसे में, हमें सामान्य काम करने में समस्या आ सकती है जैसे कोई जार खोलना, बैग उठाना, कुर्सी से उठना, शू लेसेस को बांधना आदि। स्ट्रेंथ एक्सरसाइज से आपको मेटाबॉलिज को बूस्ट करने में मदद मिलती है ताकि आप एरोबिक एक्टिविटीज के अधिक लाभ पा सकें और तेजी से वजन कम हो सके।

    और पढ़ें: Tips to follow after Heart Attack: जानिए हार्ट अटैक के बाद सावधानी बरतने के लिए किन 6 बातों का रखना ख्याल!

    उम्मीद है कि हार्ट के लिए हार्ट के लिए फिजिकल एक्टिविटी (Physical activity for heart) के बारे में यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। हालांकि, फिजिकल एक्टीविज को शुरू करने से पहले हेल्दी एडल्ट्स को डॉक्टर की सलाह की जरूरत नहीं पड़ती है। लेकिन, अगर आपको कोई गंभीर समस्या है, तो अपने लिए सही फिजिकल एक्टिविटी प्रोग्राम के बारे में जानने के लिए डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। अगर आपके मन में इस बारे में कोई भी सवाल है तो अपने डॉक्टर से उस बारे में भी पूछें।

    आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    health-tool-icon

    टार्गेट हार्ट रेट कैल्क्यूलेटर

    जानें अपना साधारण और अधिकतम रेस्टिंग हार्ट रेट,आपकी उम्र और रोजाना एक्टिविटीज और अन्य एक्टिविटीज के दौरान प्राभावित होने वाली हार्ट रेट के बारे में।

    पुरुष

    महिला

    क्या आप खोज रहे हैं?

    आपकी रेस्टिंग हार्ट रेट क्या है? (बीपीएम)

    60

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Exercise and the Heart. https://www.hopkinsmedicine.org/health/wellness-and-prevention/exercise-and-the-heart#:~:text=Improves%20the%20muscles’%20ability%20to,rate%20and%20lower%20blood%20pressure .Accessed on 24/4/22

    Cardiovascular Effects and Benefits of Exercise. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6172294/ .Accessed on 24/4/22

    Benefits of Physical Activity. https://www.cdc.gov/physicalactivity/basics/pa-health/index.htm .Accessed on 24/4/22

    Being active when you have heart disease. https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000094.htm .Accessed on 24/4/22

    Exercise: 7 benefits of regular physical activity.https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/fitness/in-depth/exercise/art-20048389 .Accessed on 24/4/22

    Heart Failure: Exercise and Activity. https://my.clevelandclinic.org/departments/heart/patient-education/recovery-care/heart-failure/exercise-activity

    .Accessed on 24/4/22

    लेखक की तस्वीर badge
    AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/04/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: