home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन: क्यों फायदेमंद है यह ड्रग?

हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन: क्यों फायदेमंद है यह ड्रग?

हायपरटेंशन यानी हाय ब्लड प्रेशर एक ऐसी बीमारी है, जिसका अगर लंबे समय तक उपचार न किया जाए तो हार्ट और आर्टरीज के काम करने के तरीके में समस्या आ सकती है। इसके कारण दिमाग, हार्ट और किडनी के ब्लड वेसल्स डैमेज हो सकते हैं। जिससे स्ट्रोक, हार्ट जैसे रोगों का जोखिम बढ़ सकता है। ब्लड प्रेशर के कम होने से हार्ट अटैक और स्ट्रोक्स का जोखिम भी कम हो सकता है। हायपरटेंशन के उपचार में दवाईयां और जीवनशैली में बदलाव आदि शामिल हैं। आज हम बात करने वाले हैं हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) के बारे में। हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) का प्रयोग कैसे किया जाता है, जानिए इसके बारे में विस्तार से। सबसे पहले जानते हैं कि लोसार्टन क्या है?

लोसार्टन (Losartan) क्या है?

लोसार्टन एक दवा है, जिसे ब्रांड नेम कोजार (Cozaar) के नाम से भी जाना जाता है। इसका प्रयोग हाय ब्लड प्रेशर के उपचार के लिए करते है। अगर आपको डायबिटीज (Diabetes) है तो यह दवाई किडनी को अच्छे से काम करने में मदद कर सकती है। इसके साथ ही इसे अन्य कई रोगों के उपचार में भी प्रयोग किया जाता है। लोसार्टन एक प्रिस्क्रिप्शन ड्रग है। हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) का प्रयोग कई अन्य दवाईयों के साथ कंबाइन कर के भी किया जा सकता है। अब जानते हैं कि इसका प्रयोग किन समस्याओं के उपचार के लिए किया जा सकता है?

और पढ़ें: हायपरटेंशन में ACE इन्हिबिटर्स : हाय ब्लड प्रेशर को करें मैनेज इन दवाईयों से!

लोसार्टन का प्रयोग किन स्थितियों में किया जा सकता है?

हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) के फायदे के बारे में आप जान ही चुके हैं। इसके अलावा अन्य स्थितियों में भी इसका प्रयोग किया जाता है, जैसे:

  • स्ट्रोक के जोखिम को कम करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • यदि आपको हाय ब्लड प्रेशर (High blood pressure) और लेफ्ट वेंट्रिकुलर हायपरट्रॉफी (Left ventricular hypertrophy) जैसी समस्याएं हैं, तो एक स्ट्रोक के जोखिम को करने के लिए इस दवा का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • डायबिटीज के कारण होने वाली किडनी डिजीज (Kidney Disease) के जोखिम को भी इससे कम किया जा सकता है।

लोसार्टन, एंजियोटेंसिन II रिसेप्टर ब्लॉकर्स (Angiotensin II receptor blockers) नामक ड्रग की क्लास से संबंधित है। ड्रग्स की क्लास उन दवाईयों का एक समूह होती है, जो एक ही तरीके से काम करती है। यानी, इनका प्रयोग एक जैसी कंडीशंस के उपचार के लिए किया जाता है। अन्य एंजियोटेंसिन रिसेप्टर ब्लॉकर्स (angiotensin receptor blockers) में एजिल्सर्टन (Azilsartan), कैंडेसार्टन(Candesartan), एप्रोसार्टन (Eprosartan), इर्बेसार्टन (Irbesartan) आदि ड्रग्स शामिल हैं। अब जानते हैं कि यह दवा कैसे काम करती है?

और पढ़ें: पोर्टल हायपरटेंशन : कहीं इस हाय ब्लड प्रेशर का कारण लिवर की समस्याएं तो नहीं?

हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन कैसे काम करती हैं?

हायपरटेंशन एंजियोटेंसिन को ब्लॉक करके काम करती है, जो एक हमारे शरीर में मौजूद एक केमिकल होता है। यह केमिकल ब्लड वेसल्स को तंग और सख्त बनाता है। ऐसे में लोसार्टन के प्रयोग करने से ब्लड वेसल्स को रिलैक्स होने में मदद मिलती है और यह चौड़े भी होते हैं। इससे ब्लड प्रेशर लो होता है। ब्लड प्रेशर के लो होने से गंभीर हार्ट डिजीज जैसे हार्ट अटैक और स्ट्रोक आदि का रिस्क भी कम हो जाता है। इसके लाभ की वजह से डॉक्टर लोसार्टन को हाय ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) के साथ-साथ अन्य स्थितियों में भी लेने की सलाह दे सकते हैं।

और पढ़ें: कहीं आप गलती से तो नहीं ले रहे हायपरटेंशन बढ़ाने वाली दवाएं?

हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन का प्रयोग करने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

इस ड्रग को लेने से पहले इसके लेबल पर लिखी हर एक इंस्ट्रक्शन को पढ़ना जरूरी है। इस ड्रग का सेवन तभी करें अगर डॉक्टर ने इसकी सलाह दी हो। इसके प्रयोग को लेकर इन चीजों का ध्यान रखना भी जरूरी है:

  • इस ड्रग को उसी मात्रा में लेना चाहिए जितना डॉक्टर ने कहा हो। इसके साथ ही डॉक्टर से यह भी जान लें कि इसे कैसे लेना है। इसकी डोज रोगी की मेडिकल कंडिशन, किस कंडिशन के उपचार के लिए इसे ले रहे हैं आदि पर निर्भर करती है।
  • अगर आप इस दवा की लिक्विड फॉर्म का प्रयोग कर रहे हैं, तो हर बार इसे लेने से पहले बोतल को शेक अवश्य कर लें। इसकी मात्रा को मापने के लिए मेजरिंग डिवाइस या चम्मच का प्रयोग करें। ताकि, आप इसे निर्धारित मात्रा में ही लें।
    इस दवाई के अधिक लाभ पाने के लिए इसे नियमित रूप से लें। अगर आप अच्छा भी महसूस कर रहे हैं तभी इस ड्रग को लेना अपनी मर्जी से बंद न करें।
  • अगर आपको कोई भी एलर्जी है, तो डॉक्टर को पहले ही बता दें। इसके साथ ही अगर आपको कोई अन्य समस्या है जैसे डिहायड्रेशन (Dehydration), लिवर डिजीज (Liver Disease) आदि तो इन स्थिति के बारे में भी डॉक्टर को बताना न भूलें।
    अगर आप कोई अन्य दवाई ले रहे हैं, तो भी डॉक्टर को इसके बारे में अवश्य बताएं। जैसे आप कोई हर्बल उत्पाद या सप्लीमेंट का सेवन कर रहे हैं तो इनके बारे में डॉक्टर को बताना जरूरी है। क्योंकि अन्य ड्रग्स या उत्पादों से इंटरैक्ट कर के इस दवाई का प्रभाव कम हो सकता है या आपको कोई अन्य समस्या भी हो सकती है।
  • हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) को लेने के बाद आप चक्कर आना जैसी समस्या महसूस कर सकते हैं। इसलिए इसे लेने के बाद ऐसा कोई भी काम न करें जिसमें ध्यान लगाने की जरूरत हो जैसे ड्राइविंग करना। इस दवाई के साथ एल्कोहॉल का सेवन करने से आपको अधिक चक्कर आने की समस्या हो सकती है। इसलिए अगर आप इस दवा को ले रहे हैं तो एल्कोहॉल का सेवन करने से बचें।
  • यह दवा आपके पोटैशियम लेवल को बढ़ा सकती है। इसलिए, अगर आप पोटैशियम सप्लीमेंट (Potassium Supplement) आदि ले रहे हैं तो डॉक्टर को पहले ही बता दें। अब जानते हैं कि किन लोगों को इस दवा को नहीं लेना चाहिए?

हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension)

और पढ़ें: हायपरटेंशन की दवा के फायदे और साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन किन्हें नहीं लेनी चाहिए?

इसमें कोई संदेह नहीं है कि हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) बेहद प्रभावी है। लेकिन, कुछ कंडिशन्स में इसे न लेने की सलाह भी दी जाती है। यह स्थितियां इस प्रकार हैं :

  • 6 साल से कम उम्र के बच्चों को यह दवाई नहीं लेने की सलाह दी जाती है। लेकिन इसे केवल डॉक्टर की सलाह के बाद ही बच्चे को देना चाहिए।
  • अगर आपको लोसार्टन या इसके किसी इंग्रीडिएंट से एलर्जी (Allergy) है, तो इसे लेने से बचें।
  • हार्ट लिवर या हार्ट की समस्याओं में भी इसका सेवन न करें।
  • अगर आपका हाल ही में किडनी ट्रांसप्लांट (Kidney Transplant) हुआ हो, तब भी इस दवा को न लेने के लिए कहा जा सकता है।
  • डायरिया और उल्टी आने की स्थिति में भी इसे लेने से बचें।
  • अगर आपको लो ब्लड प्रेशर (Low Blood Pressure) की समस्या है, तो यह दवा लेने से आपका ब्लड प्रेशर और भी कम हो सकता है।
  • अगर आप प्रेग्नेंट (Pregnant) हैं या ब्रेस्टफीडिंग (Breastfeeding) करा रही हैं, तो भी इस दवा को न लें। क्योंकि, इससे आपके बच्चे को नुकसान हो सकता है।

एल्कोहॉल के साथ भी इस दवाई को न लेने की सलाह दी जा सकती है। हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) को लेने के बाद कई साइड इफेक्ट्स का अनुभव भी हो सकता है। आइए जानते हैं इन साइड इफेक्ट्स के बारे में।

और पढ़ें: थोड़ी-थोड़ी पिएंगे तो भी हायपरटेंशन पर पड़ेगा शराब का प्रभाव

हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन के साइड इफेक्ट्स (Side effects of Losartan for Hypertension)

लोसार्टन के माइल्ड या गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। नीचे गई सूची इस दवा के कारण होने वाले साइड इफेक्ट्स की पूरी लिस्ट नहीं है। लेकिन इसके सामान्य साइड इफेक्ट्स इस प्रकार हैं:

  • रेस्पिरेटरी इंफेक्शंस जैसे सामान्य कोल्ड (Respiratory infections)
  • चक्कर आना (Dizziness)
  • नाक का बंद होना (Stuffy nose)
  • पीठ में दर्द (Back pain)
  • डायरिया (Diarrhea)
  • थकावट (Fatigue)
  • लो ब्लड शुगर (Low blood sugar)
  • छाती में दर्द (Chest pain)
  • हाय और लो ब्लड प्रेशर (High or low blood pressure)

हायपरटेशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) के यह प्रभाव कुछ दिनों खुद ही ठीक हो जाते हैं। लेकिन, अगर ऐसा न हो या यह लक्षण अधिक गंभीर हो जाएं तो अपने डॉक्टर से बात करें। इस दवाई के गंभीर साइड इफेक्ट्स इस प्रकार हैं:

और पढ़ें: ये लक्षण आपमें हो सकते हैं मैलिग्नेंट हायपरटेंशन के, संकट से बचने के लिए इसे न करें अनदेखा…

हाय पोटैशियम ब्लड लेवल (High Potassium Blood Level)

हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) के गंभीर लक्षणों में हाय पोटैशियम ब्लड लेवल (High Potassium Blood Level) होना शामिल है। हाय पोटैशियम लेवल के कारण रोगी को यह लक्षण नजर आ सकते हैं:

  • हार्ट रिदम प्रॉब्लम (Rhythm problems)
  • मसल वीकनेस (Muscle weakness)
  • स्लो हार्ट रेट (Slow heart rate)

एलर्जिक रिएक्शन (Allergic Reaction)

इसके अलावा इसे लेने के बाद कुछ एलर्जिक रिएक्शन (Allergic Reaction) भी हो सकते हैं। जो इस प्रकार हैं:

और पढ़ें: ये लक्षण आपमें हो सकते हैं मैलिग्नेंट हायपरटेंशन के, संकट से बचने के लिए इसे न करें अनदेखा…

लो ब्लड प्रेशर (Low Blood Pressure)

इस दवा को लेने के बाद लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है, जिसके लक्षण इस प्रकार हैं

  • बेहोशी (Feeling faint)

किडनी डिजीज (Kidney Disease)

किडनी डिजीज के लक्षण इस प्रकार हो सकते हैं:

हो सकता है कि ऊपर दिए साइड इफेक्ट्स के अलावा भी आपको कुछ अन्य साइड इफेक्ट्स नजर आए। कोई भी गंभीर साइड इफेक्ट्स नजर आने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लेना जरूरी है।

और पढ़ें: बीटा ब्लॉकर्स: हायपरटेंशन से लेकर हार्ट अटैक तक दिल से जुड़ी बीमारियों के इलाज में हैं उपयोगी

किन ड्रग्स के साथ लोसार्टन को नहीं लेना चाहिए?

अगर डॉक्टर ने आपको हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) लेने की सलाह दी है, तो डॉक्टर आपको इसके ड्रग इंट्रक्शंस (Drug Intractions) के बारे में भी पूरी जानकारी देंगे। यही नहीं, वो इसके लिए आपकी मॉनिटरिंग भी कर सकते हैं। अगर आप इस दवा को ले रहे हैं, तो डॉक्टर के कहें बिना इसे लेना बंद या शुरू न करें और डोज में भी बदलाव न करें। यह दवा निम्नलिखित ड्रग्स के साथ इंटरैक्ट कर सकती है:

  • लिथियम (Lithium)
  • ब्लड प्रेशर ड्रग्स (Blood pressure drugs) जैसे एजिल्सर्टन (Azilsartan), कैंडेसार्टन (Candesartan), इर्बेसार्टन (Irbesartan), बेनाजेप्रिल (Benazepril)कैप्टोप्रिल (Captopril) एनालाप्रिल (Enalapril) आदि।
  • नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग्स (Nonsteroidal anti-inflammatory drugs) जैसे नेप्रोक्सेन (Naproxen), आइबूप्रोफेन (Ibuprofen) आदि।
  • डाययूरेटिक्स (Diuretics) जैसे फ्यूरोसेमाइड (furosemide), स्पिरोनोलैक्टोन (Spironolactone) आदि।
  • ड्रग्स या सप्लीमेंट्स जिसमें पोटैशियम हो, जैसे पोटैशियम क्लोराइड (potassium chloride), पोटैशियम बायकार्बोनेट (Potassium bicarbonate) आदि।

और पढ़ें: अपने करीबी की हायपरटेंशन कम करने में मदद कैसे करेंगे?

हाय ब्लड प्रेशर से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए नीचे दिय इस क्विज को खेलिए।

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id=”typef_orm”, b=”https://embed.typeform.com/”; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,”script”); js.id=id; js.src=b+”embed.js”; q=gt.call(d,”script”)[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()

यह तो थी हायपरटेंशन के लिए लोसार्टन (Losartan for Hypertension) के बारे में पूरी जानकारी। अगर डॉक्टर ने आपको इसकी सलाह दी है, तो इस दवा को बिना भूलें और सही मात्रा में लेना जरूरी है। लेकिन, इस बात का भी ध्यान रखें कि यह दवाई आपके उपचार का केवल एक हिस्सा है। अगर आप हायपरटेंशन की समस्या से बचना चाहते हैं, तो आपको दवाईयों के साथ-साथ एक हेल्दी लाइफस्टाइल को अवश्य अपनाना चाहिए। यानी, इसके साथ ही नियमित शारीरिक जांच भी बेहद जरूरी है। आप सही आहार लें, व्यायाम करें, पर्याप्त नींद लें और तनाव से बचें। अगर आपके दिमाग में इस दवा से संबंधित कोई भी सवाल है, तो अपने डॉक्टर से इसे अवश्य पूछें।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी दवा को अपनी मर्जी से लेने की सलाह नहीं देता है। अपनी मर्जी से इसे लेना आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है। इसका सेवन तभी करें, अगर डॉक्टर ने आपको इसे लेने के लिए कहा हो। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Comparative antihypertensive effects of losartan.https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/9116924/ .Accessed on 16/8/21

Losartan (Oral Route).https://www.mayoclinic.org/drugs-supplements/losartan-oral-route/description/drg-20067341 .Accessed on 16/8/21

Losartan.https://medlineplus.gov/druginfo/meds/a695008.html .Accessed on 16/8/21

Efficacy and safety of losartan in the treatment of hypertension in renal transplant recipients. https://www.kidney-international.org/article/S0085-2538(15)30957-1/pdf  .Accessed on 16/8/21

Olmesartan Comparison to Losartan in Hypertensive Subjects.https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT00949884 .Accessed on 16/8/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 17/08/2021 को
और Admin Writer द्वारा फैक्ट चेक्ड
x