home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

जीभ का कड़वापन कर रहा है परेशान तो ये घरेलू उपाय कर सकते हैं आपकी मुश्किल आसान

जीभ का कड़वापन कर रहा है परेशान तो ये घरेलू उपाय कर सकते हैं आपकी मुश्किल आसान

जीभ का कड़वापन वैसे तो कोई गंभीर समस्या नहीं है, लेकिन इस फीलिंग को इग्नोर करना मुश्किल है। मुंह का टेस्ट चेंज होने पर हमारा ध्यान उसी पर रहता है और कुछ खाने का मन भी नहीं करता। इस समस्या के साथ कई बार दर्द और जलन भी हो सकती है। ऐसे में बस ऐसा लगता है कि कैसे जल्द से जल्द इस समस्या से निजात मिले। कई बार तो जीभ में कड़वापन होने के साथ ही स्मॉल बम्प, सफेद और लाल धब्बे, सूजन की समस्या भी होती है। आपको बता दें कि कई हेल्थ कंडिशन जीभ में पेन, सूजन, जलन और छाले का कारण बनती हैं। जिसमें इंफेक्शन, ट्यूमर और क्रोनिक मेडिकल कंडिशन, ट्रॉमा, टंग इंफ्लामेशन जिसे ग्लोसाइटिस (glossitis) आदि शामिल हैं।

जीभ में कड़वापन होने के अन्य कारण (Causes of sore tongue)

जीभ का कड़वापन (Sore tongue) और दर्द के सामान्य कारणों के बात करें तो जीभ में फोड़ा, कोल्ड सोर (Cold sore), गलती से जीभ को काट लेना (bite injuries) और जीभ का जलना (burns) आदि है। इनके अलावा भी कुछ कारण हैं:

और पढ़ें: क्या आप दांतों की समस्याएं डेंटिस्ट को दिखाने से डरते हैं? जानें डेंटल एंग्जायटी के बारे में

चूंकि जीभ में दर्द और कड़वापन होने के कई कारण हो सकते हैं। इसलिए इनका ट्रीटमेंट उसके कारण पर ही डिपेंड करता है, लेकिन अच्छी ओरल हायजीन के चलते आप इससे बच सकते हैं। केंकर सोर, टेस्ट बड्स की सूजन और माउथ इंजरी के कारण होने वाली टंग सोरनेस का इलाज घर पर किया जा सकता है। इसके साथ ही बर्निंग माउथ सिंड्रोम और ओरल थ्रस के साथ होने वाली सोरनेस में भी होम रेमेडीज राहत प्रदान कर सकती हैं।

जैसा कि हम ऊपर ही बता चुके हैं कि जीभ को प्रभावित करने वाली कई हेल्थ कंडिशन हैं, अगर आप भी सोर टंग (sore tongue) से परेशान हैं तो ऐसी कई होम रेमेडीज हैं जो इससे छुटकारा दिला सकती हैं। आइए जानते हैं प्रमुख 10 होम रेमेडीज के बारे में।

1. जीभ का कड़वापन कर रहा है परेशान तो ओरल हायजीन का रखें ध्यान (Maintain oral hygiene)

जीभ का कड़वापन कर देता है परेशान

सोर टंग या कहें की जीभ का कड़वापन से बचने का सबसे बेहतर तरीका है ओरल हायजीन। दातों को सॉफ्ट टूथब्रश से ब्रश करना, फ्लॉस करना और उसके बाद माउथवॉश का यूज करना आपको सोर टंग और इंफेक्शन से बचा सकता है। इसके साथ ही आप ऐसे टूथपेस्ट का उपयोग कर सकते हैं जिसमें सोडियम लॉरियल सल्फेट (sodium lauryl sulfate) ना हो। यह आपकी तकलीफ को कम करेगा।

2.एलोवेरा (Aloe vera) भी कम कर सकता है जीभ का कड़वापन

एलोवेरा स्किन सूदिंग एबिलिटी के लिए जाना जाता है। यह सिर्फ त्वचा ही नहीं जीभ पर भी अप्लाई होता है। आप सोर टंग के कारण होने वाले दर्द और तकलीफ से बचने के लिए एलोवेरा के जूस से दिन में कई बार कुल्ला कर सकते हैं।

और पढ़ें: ओरल कैंसर (Oral Cancer) क्या है? जानें इसके लक्षण और रोकथाम के उपाय।

3.जीभ में कड़वापन है तो बेकिंग सोड़ा (Baking Soda) कर सकता है मदद

जीभ के कड़वेपन, दर्द और सूजन से बचने के लिए गुनगुने पानी में बेकिंग सोड़ा डालकर कुल्ला कर सकते हैं। आधा कप पानी में एक छोटा चम्मच बेकिंग सोड़ा मिलाएं और उससे कुल्ला करें। आप पानी और बेकिंग सोड़ा का पेस्ट बनाकर भी छाले और उसके आसपास लगा सकते हैं। इससे भी राहत मिलेगी।

4.हाइड्रोजन पेरोक्साइड (Hydrogen peroxide)

हाइड्रोजन पेरोक्साइड एंटीसेप्टिक की तरह काम करता है और मुंह में होने वाले इंफेक्शन और छाले, और सोरनेस से राहत प्रदान करता है। सिर्फ 3 प्रतिशत हाइड्रोजन पेरोक्साइड को पानी में मिलाएं। अब कुछ सेकेंड के लिए कॉटन बॉल को इसमें डुबाएं। फिर इसे कॉटन बॉल को अफेक्टेड एरिया पर कुछ सेकेंड के लिए रखें और गुनगुने पानी से कुल्ला कर लें। इसे डॉक्टर की देखरेख में ही करें।

5. जीभ के कड़वेपन का आसान इलाज नमक का पानी (Salted Water)

नमक के पानी से कुल्ला करना भी जीभ के छालों के पेन और सूजन को कम करने और जीभ का कड़वापन दूर करने काआसान तरीका है। एक कप गुनगुने पानी में एक छोटी चम्मच नमक डालें। इस पानी को अच्छी तरह मुंह के सभी हिस्सों में घुमाएं और फिर कुल्ला करें। अमेरिकन डेंटल एसोसिएशन के अनुसार साॅल्ट वाटर इन्फेक्शन के रिस्क को कम कर सकता है।

और पढ़ें: Tongue Burn: जली हुई जीभ क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

6.सेज हर्ब (Sage Herb) से दूर करें जीभ का कड़वापन

सेज एक हर्बल रेमेडी है जो मुंह में होने वाली इंफ्लामेशन को कम कर सकती है। मुंह के छालों और जीभ के कड़वेपन से परेशान लोगों को सेज की पत्तियों को पानी में उबालना है और पानी के ठंडा होने के बाद उससे कुल्ला करना है। यह जीभ के कड़वेपन से राहत प्रदान करता है। हालांकि, इस पर अभी और रिसर्च होना बाकी है।

7.शहद (Honey) भी दूर कर सकती है जीभ का कड़वापन

शहद एक नैचुरल एंटी बैक्टीरियल है जो कि कई प्रकार के घावों को भरने में इफेक्टिव है। यह टंग सोरनेस या कहे कि जीभ के कड़वेपन को दूर करने में भी मददगार है। आप शहद को दिन में कई बार डायरेक्ट अफेक्टेड एरिया पर लगा सकते हैं या हनी टी पी सकते हैं।

और पढ़ें: Fissured Tongue: फिशर्ड टंग (जीभ में दरार) क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

8.नारियल के तेल (Coconut oil) से दूर होगा जीभ का कड़वापन

नारियल का तेल इसकी एंटीफंगल, एंटी बैक्टीरियल और एंटीवायरल प्रॉपर्टीज के चलते घावों को हील कर सकता है। कॉटन बॉल की मदद से तेल को आप सीधे सोर एरिया पर लगा सकते हैं। आप चाहे तो बिना रूई की मदद के इसे सीधे हाथ से भी इसे पूरी जीभ पर लगा सकते हैं। ऐसा दिन में 4-5 बार करें। इसके अलावा नारियल तेल से आप कुल्ला भी कर सकते हैं। इसे ऑयल पुलिंग थेरेपी कहा जाता है।

9.कैमोमाइल (Chamomile)

कैमोमाइल अपनी एंटी इंफ्लामेट्री प्रॉपर्टीज के लिए जानी जाती है। हालांकि इस बारे में साइंटिफिक एविडेंस की कमी है। इस उपाय को यूज करने के लिए आप स्ट्रॉन्ग कैमोमाइल चाय से कुल्ला कर सकते हैं या फिर इसके टी बैग को सीधे जीभ पर रख सकते हैं।

10.बर्फ और ठंडा पानी (ice and cold water)

बर्फ में उस पार्ट को सुन्न करने की क्षमता होती है जहां पर इसका उपयोग किया जाता है। बेहद ठंडा पानी पीना और बर्फ के टुकड़े को चूसना जीभ के छाले में राहत प्रदान कर सकता है। मुंह सूखने से होने वाली सोरनेस या मुंह जलने के कारण होने वाली सोरनेस में इससे काफी आराम मिलता है। बर्फ के टुकड़े का उपयोग करते हुए इस बात का ध्यान रखें कि इसे दांत से चबाएं या काटे नहीं यह दांतों के एनामेल को डैमेज कर सकता है। इन आसान होम रेमेडीज की मदद से हम जीभ के कड़वेपन से बच सकते हैं, लेकिन अगर इतना सब करने के बाद भी राहत ना मिले तो डॉक्टर से राय लेना ही बेहतर होगा।

और पढ़ें: क्या आपका जीभ साफ करने का तरीका सही है?

डॉक्टर से कब संपर्क करना चाहिए?

अगर ऊपर बताए घरेलू उपाय अपनाने के बाद भी राहत नहीं मिल रही है और अगर आप जीभ में किसी प्रकार के बदलाव या जैसे कि रंग में बदलाव या सफेद पैचेस (PATCHES) जैसे बदलाव देखते हैं या जीभ के कड़वेपन की परेशानी दो हफ्ते से ज्यादा समय के लिए रहती है तो डॉक्टर या डेंटिस्ट से संपर्क करें। अगर आपको जीभ में कड़वेपन के साथ निम्न परेशानियां हो रहीं हैं तो तुरंत डॉक्टर से मिलें।

  • बुखार (fever)
  • रैशेज (Rashes)
  • थकान (Fatigue)
  • मसूडों से खून आना (Bleeding in gums )
  • मुंह में सफेद दाग या धब्बे (white patches in the mouth)
  • डायरिया (Diarrhea)
  • खाने और पानी पीने में तकलीफ होना (inability to drink and eat)
  • बॉडी के दूसरे हिस्सों में छाले होना (blisters or sores on other parts of the body)

डॉक्टर आपको बताएंगे कि मुंह के कड़वा होने की वजह क्या है? यह किसी हेल्थ कंडिशन का संकेत हैं या बस आपको अपने ओरल हायजीन रूटीन में कुछ बदलाव करने की जरूरत है। इसके साथ ही वे कुछ टेस्ट भी रिकमंड कर सकते हैं जो बर्निंग माउथ सिंड्रोम और ओरल कैंसर का पता लगा सकें। हालांकि इन दोनों कंडिशन्स का लक्षण टंग में सोरनेस होना बहुत कम देखा जाता है।

जीभ में कड़वापन है तो इन टिप्स को जरूर करें फॉलो

  • स्पाइसी, साल्टी और एसिडिक फूड्स मुंह और जीभ को इरीटेट कर सकता है। जब तक मुंह में घाव के कारण कड़वापन हैं तब तक स्पाइसी करी और मील्स को अवॉइड करना चाहिए। इनमें बहुत सारा सिट्रिक एसिड होता है जो घावों को इरीटेट कर सकता है।
  • क्रंची, नुकीले शेप वाले फूड्स जैसे चिप्स आदि को भी अवॉइड करना चाहिए ये भी मुंह के छालों, घावों आदि को इरीटेट कर सकते हैं।
  • सोड़ा भी जीभ के छाले और केंकर सोर्स को इरीटेट कर सकता है। इससे दूरी रखें ।
  • तंबाकू मुंह से जुड़ी परेशानियों के हील होने में देरी का कारण बन सकती है। जिन लोगों को मुंह में घाव, सोरनेस आदि समस्या हो उन्हें तंबाकू से दूरी रखनी चाहिए।
  • जिन लोगों में विटामिन बी की डेफिसिएंशी होती है उनमें मुंह और जीभ के छाले होने का रिस्क बढ़ जाता है। ऐसे में विटामिन बी सप्लिमेंट्स मदद कर सकते हैं, लेकिन अगर आप किसी विशेष हेल्थ कंडिशन का सामना कर रहे हैं तो सप्लिमेंट्स का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से कंसल्ट जरूर करें।
  • कुछ एंटीमाइक्रोबियल माउथवॉश भी सोर टंग से राहत दिला सकते हैं और इंफेक्शन को रोक सकते हैं, लेकिन इसका उपयोग भी डॉक्टर की सलाह से करें।
  • टॉपिकल जेल छाले से राहत प्रदान करता है क्योंकि यह अफेक्टेड एरिया को नम कर देता है। यह माउथ इरिटेशन को रोकने का भी काम करता है। यह जेल ओवर द काउंटर उपलब्ध होता है, लेकिन स्ट्रॉन्ग जेल के लिए डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन की जरूरत होती है।
  • ओटीसी (OTC) पेन मेडिशिन जैसे आईबुप्रोफेन भी सोर टंग के डिसकंफर्ट को कम कर सकती हैं, लेकिन केंकर सोर के लिए डॉक्टर स्ट्रॉन्ग पेनकिलर प्रिस्क्राइब करते हैं।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और जीभ का कड़वापन दूर करने के घरेलू उपायों के बारे में जानकारी मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

 

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Canker sore/ https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/canker-sore/symptoms-causes/syc-20370615/ Accessed on 26th January 2021

Aloe Vera/https://www.nccih.nih.gov/health/aloe-vera/Accessed on 26th January 2021

Common Tongue Conditions in Primary Care/https://www.aafp.org/afp/2010/0301/p627.html/Accessed on 26th January 2021

Sore or painful tongue/https://www.nidirect.gov.uk/conditions/sore-or-painful-tongue/Accessed on 26th January 2021

Mouth ulcers/https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/conditionsandtreatments/mouth-ulcers/Accessed on 26th January 2021

Tongue problems/https://medlineplus.gov/ency/article/003047.htm/Accessed on 26th January 2021

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/01/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x