केले के फायदे जानकर हैरान हो जाएंगे आप

Medically reviewed by | By

Update Date जुलाई 1, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

संतुलित आहार लेने की दिशा में ऐसा माना जाता है कि फलों का सेवन रोज करना चाहिए। इससे शरीर को जरूरी पोषण मिलता है और साथ ही आपकी सेहत भी अच्छी रहती है। हर किसी की बेहतर सेहत के लिए फलों का सेवन करना जरूरी हो जाता है। इस आर्टिकल में हम केले के फायदे के बारे में जानेंगे। केले में मौजूद विटामिन और मिनरल के बारे में समझने की कोशिश करेंगे। जानेंगे केले के सेवन से सेहत को कैसे फिट रखा जा सकता है? साथ ही जानेंगे कि क्या केले से सही मायने में वजन बढ़ सकता है? तो चलिए जानते हैं केले के फायदे के बारे में।

और पढ़ें: विटामिन-सी कितना फायदेमंद, जानिए पूरा ज्ञान

पहले जानिए केले में क्या-क्या पौष्टिक तत्व होते हैं :

केले में मौजूद विटामिन-बी6, विटामिन-सी, पोटैशियम, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट्स और फाइटोन्यूट्रीएंट्स खनिज तत्व मौजूद होते हैं, जो बॉडी को कई तरह से लाभ पहुंचाते हैं।  

केले के फायदे 

मस्तिष्क होगा तेज : 

केले में मौजूद खनिज तत्व मस्तिष्क के लिए लाभदायक हैं। इसके नियमित और सही मात्रा में सेवन करने से दिमाग तेज होता है। केले के फायदे सिर्फ आपके पाचन तंत्र को सही रखना ही नहीं बल्कि यह आपके दिमाग को भी हेल्दी बनाए रखने में मदद करता है।    

ब्लड प्रेशर में भी होंगे केले के फायदे : 

केले में पोटैशियम की मात्रा पर्याप्त मात्रा में पाई जाती है, जो हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है।  

और पढ़ें: रेड वाइन पीना क्या बना सकता है हेल्दी, जानिए इसके हेल्थ बेनीफिट्स

दिल को भी होते हैं केले के फायदे : 

केले में पोटैशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। पोटैशियम होने की वजह से शरीर में ब्लड फ्लो ठीक से होता है, जो दिल को स्वस्थ रखता है। 

डिप्रेशन में केले के फायदे : 

केले में मौजूद विटामिन बी6 शरीर में ग्लूकोज के लेवल को मेंटेन रखता है। डिप्रेशन के मरीजों के लिए केला बहुत फायदेमंद है। हेल्थ एक्सपर्ट्स डिप्रेशन के मरीज को केला खाने की सलाह देते हैं।

कॉन्स्टिपेशन की समस्या में केले के फायदे : 

केले में मौजूद फाइबर खाने को डायजेस्ट करने में अहम भूमिका निभाता है और कब्ज की समस्या दूर करता है। 

वजन बढ़ाने के लिए केले का सेवन : 

अगर आप अंडरवेट हैं, तो केले को दूध के साथ मिलाकर रोजाना खाने से वजन बढ़ाया जा सकता है। 

जिम से पहले केले के फायदे : 

अगर आप जिम जाते हैं, तो आपको दो से तीन केले जिम जाने के पहले खाना चाहिए। इससे आपको जिम करते समय एनर्जी मिलेगी।  

और पढ़ें : क्या आप जानते हैं दूध से एलर्जी (Milk Intolerance) का कारण सिर्फ लैक्टोज नहीं है?

आंखों की चमक रहेगी बरकरार : 

केले में मौजूद विटामिन-ए आंखों की रोशनी को बढ़ाने में मददगार साबित होता है। 

एसिडिटी में केले के फायदे : 

अगर आपको एसिडिटी की समस्या है, तो केला फायदेमंद हो सकता है। एसिडिटी होने पर केले का सेवन दही और चीनी के साथ करने से यह समस्या कम हो सकती है।  

पीरियड्स में केले के फायदे : 

केले के सेवन से पीरिड्स में होने वाले दर्द से भी राहत पाई जा सकती है। चूंकि, केले में पोटैशियम होता है, जो पीरियड्स पेन कम करने में मदद करता है।   

नवजात शिशु को केला जरूर खिलाएं : 

बच्चे के जन्म से चार महीने के बाद पके हुए केले को दूध के साथ अच्छी तरह मिक्स कर के खिलाना चाहिए। इससे नवजात शिशु को पूर्ण पोषण मिलता है।   

गर्भावस्था में केले के फायदे : 

डॉक्टर से सलाह लेकर अपने शरीर के अनुसार केले का सेवन करना चाहिए। इससे गर्भवती महिला और बच्चे दोनों को फायदा मिलता है।

डायबिटीज में केले के फायदे

कई अध्ययनों में सामने आया है कि डायबिटीज में भी केले के फायदे हो सकते हैं। केले में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है। इसके अलावा केले में रेसिस्टेंड स्टार्च, मिनरल्स, विटामिन्स और एंटी ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। इसके अलावा केले में बायोएक्टिव कंपाउंड भी पाए जाते हैं। ये कंपाउंड टाइप 2 डायबिटीज की समस्या में मदद करता है। केले में भारी मात्रा में पौटेशियम भी पाया जाता है। यह भी डायबिटीज के इलाज में लाभाकारी साबित हो सकता है।

डायरिया में केले के फायदे

कई अध्ययनों में डायरिया में भी केले के फायदे देखे गए हैं। केला डायरिया में एक दवा के तौर पर काम करता है। केले में पाए जाने वाले फाइबर बाउल मूवमेंट को कंट्रोल करके डायरिया की समस्या से निजात दिलाने में मदद कर सकते हैं। ऐसे में डायरिया में केले खाने की सलाह दी जाती है।

और पढ़ेंः क्या ब्राउन शुगर से ज्यादा हेल्दी है स्टीविया? जानें स्टीविया के फायदे और नुकसान

हैंगओवर में भी फायदेमंद हैं केले

पार्टी के बाद हैंगओवर की समस्या में भी केले खाने की सलाह दी जाती है। शरीर में एल्कोहॉल जाने पर यह पहले से मौजूद सोडियम, पौटेशियम और मिनरल्स की मात्रा को कम देता है। ये सभी शरीर में तरल की मात्रा को ठीक बनाएं रखने का काम करते हैं। ऐसे में केले का सेवन करने से यह शरीर में कम हुए पौटेशियम और मिनरल्स की पूर्ति करता है। साथ ही यह पेट को भई आराम पहुंचाता है।

एनीमिया में केले के फायदे

एनीमिया एक गंभीर बीमारी है। एनीमिया की समस्या में बॉडी में रेड ब्लड सेल्स की कमी हो जाती है। रेड ब्लड सेल्स के बनने में आयरन और फोलेट की अहम भूमिका रहती है। केले में भरपूर मात्रा में आयरन और फोलिक एसिड पाए जाते हैं। ऐसे में एनीमिया की समस्या में केले के फायदे होते हैं और इसे रेगुलर डायट में शामिल करने की सलाह दी जाती है।

शरीर की ऊर्जा को बढ़ाता है केला

शरीर में एनर्जी के फ्लो को बनाए रखने के लिए केले के फायदे देखे गए हैं। 100 ग्राम कैलोरी में लगभग 89 कैलोरीज पाई जाती हैं। इससे आप एनर्जेटिक फील करते हैं। केले में कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन काफी मात्रा में मिलता है। ये बॉडी में एनर्जी के लेवल को बनाए रखने में मदद करता है।

तो ये थे केले के फायदे, जिन्हें जानकर आपको भी अपनी डायट में केले को शामिल कर लेना चाहिए। हम उम्मीद करते हैं ये आर्टिकल पढ़ने के बाद आप केले के सेवन करना जरूर शुरू करेंगे, ताकि आप स्वस्थ रह सकें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

ऐल्कलाइन डायट (Alkaline diet) क्या है? फॉलो करने से पहले जान लें इसके फायदे और नुकसान

ऐल्कलाइन डायट in hindi. ऐल्कलाइन डायट के पीछे का सिद्धांत खाने के तरीके को ठीक कर पीएच संतुलित करना है। इसलिए इसको अच्छी तरह से जानने समझने के बाद ही फॉलो करना चाहिए। alkaline diet को समझने में ये आर्टिकल आपकी मदद कर सकता है।

Medically reviewed by Dr. Pooja Bhardwaj
Written by Sushmita Rajpurohit

ब्लड प्रेशर की समस्या है तो अपनाएं डैश डायट (DASH Diet), जानें इसके चमत्कारी फायदे

डैश डायट की जानकारी in hindi. डैश डायट वजन घटाने के लिए बेहतर उपाय साबित हो सकती है। डैश डायट में फल, सब्जियों के साथ ही पौष्टिक आहार शामिल होता है। Dash Diet

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Bhawana Awasthi
आहार और पोषण, स्वस्थ जीवन दिसम्बर 30, 2019 . 5 mins read

फर्टिलिटी डायट चार्ट, शायद नहीं जानते होंगे इसके बारे में

फर्टिलिटी डायट चार्ट की जानकारी in hindi, फर्टिलिटी डायट चार्ट क्या है? इसे कैसे फॉलो किया जाता है?Fertility Diet Chart में किन फूड्स को शामिल किया गया है।

Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
Written by Nidhi Sinha

मुझे अक्सर मांसपेशियों में ऐंठन रहती है, इसका क्या उपाय है?

मांसपेशियों में ऐंठन क्यों होती है in Hindi, इसका इलाज क्या है, Muscels Cramps में क्या खाना चाहिए, मांसपेशियों में ऐंठन होने पर क्या दवा खा सकते हैं।

Medically reviewed by Dr. Shruthi Shridhar
Written by Shayali Rekha

Recommended for you

प्रेग्नेंसी में मूली का सेवन

प्रेग्नेंसी में मूली का सेवन क्या सुरक्षित है? जानें इसके फायदे और नुकसान

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
Published on मई 18, 2020 . 5 mins read
खाद्य पदार्थ

Quiz : खाद्य पदार्थों के बारे में आप कितना जानते हैं?

Written by Nidhi Sinha
Published on फ़रवरी 11, 2020 . 1 min read
वजन कम करना

Quiz : बढ़ते वजन से परेशान हैं क्या आप?

Written by Nidhi Sinha
Published on फ़रवरी 11, 2020 . 1 min read
नारियल

Quiz : नारियल के फायदे क्या हैं?

Written by Nidhi Sinha
Published on फ़रवरी 10, 2020 . 1 min read