​स्किन के लिए चंदन का तेल है फायदेमंद, जानें कैसे?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट सितम्बर 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

चंदन का तेल त्वचा और बालों से जुडी परेशानियों के लिए आयुर्वेद में सालों से इस्तेमाल किया जा रहा रहा है। इसके अनेक फायदे है क्योंकि इसमें एंटीबैक्टीरियल, एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक जैसे गुण होते हैं, जोकि त्वचा के लिए प्रभावकारी है। इतना ही नहीं,इसकी खुशबू बहुत लंबे समय तक बनी रहती है, इसलिए इसका इस्तेमाल कई ब्यूटी प्रॉडक्ट और परफ्यूम बनाने के लिए भी किया जाता है। आइए जानते हैं कि चंदन के तेल का इस्तेमाल हम अपनी त्वचा और बालों के लिए कैसे कर सकते हैं। 

और पढ़ें- एलोवेरा जूस पीने के 5 अनोखे फायदे 

चंंदन क्या है?

चंदन का तेल क्या हैं, इस पर बात करने से पहले हम जान लेते हैं कि चंदन क्या है? चंदन एक सदाबहार पेड़ है। पेड़ के तने के बीच की लकड़ी जिसे हम हार्डवुड भी कहते हैं, इसका दवाइयों के रूप में भी इस्तेमाल होता है। यह पाचन क्रिया को भी ठीक रखने में मदद करता है। इसके साथ साथ लाल चंदन फ्लुइड रिटेंशन, कफ और ब्लड प्यूरिफिकेशन में भी काफी मददगार साबित होता है। इसकी लकड़ी का इस्तेमाल शराब में खास तरह के फ्लेवर डालने के लिए भी किया जाता है। लाल और सफेद चंदन दोनों अलग-अलग प्रजातियां हैं लाल चंदन का वैज्ञानिक नाम टेरोकार्पस सैन्टनस है जबकि सफेद चंदन को सैंटलम अल्बम के नाम से जाना जाता है।

और पढ़ें: फेशियल के बाद कभी न करें ये गलतियां, हो सकता है नुकसान

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

चंदन का तेल किस तरह से है फायदेमंद?

मुहांसे की समस्या को करे दूर 

चंदन के तेल में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जोकि मुहांसे की समस्या को कम करते हैं, साथ ही इसमें एंटी बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण भी होते है जो मुहांसे में कीटाणु को खत्म करने के साथ उन्हें आने से भी रोकता है। इसके नियमित इस्तेमाल से मुहांसे के दाग भी कम हो जाते हैं।

टैनिंग कम करता है

चंदन के तेल का इस्तेमाल करने से चेहरे की टैनिंग भी कम होती है। इसके इस्तेमाल के लिए तीन चम्मच नारियल तेल में पांच बंदे चंदन का तेल ​मिलाएं और टैनिंग वाली जगह पर लगाएं। इससे टैनिंग भी कम होगी और त्वचा में ग्लो भी बढ़ेगा। 

और पढ़ें: शरीर, त्वचा और बालों के लिए विटामिन ई (Vitamin E) के फायदे

ऑइली त्वचा वालो के लिए फायदेमंद

चंदन का तेल ऑइली त्वचा वालो के लिए बहुत फायदेमंद है, इसके इस्तेमाल से पोर्स में कसाव आता है, जिससे त्वचा में मौजूद ऑइली नियंत्रित रहता है।  

त्वचा के दाग धब्बों को दूर करे चंदन का तेल

ये एसेंशियल ऑइल चेहरे के दाग धब्बों को दूर कर के उसे बेदाग बनाने में काम आता है। इसके लिए स्टीम लेते समय उसमे सैंडलवुड एसेन्शियल ऑइल की चार से पांच बूंदें डालें, जिससे चेहरे के दाग जल्दी दूर होंगे। 

रूखी त्वचा के लिए लगाएं चंदन का तेल

चंदन का तेल रूखी त्वचा वालों के लिए एक बेहतरीन मॉइस्चराइजर है। ये त्वचा में नमी को लॉक करके उसे सॉफ्ट बनता है। इसके इस्तेमाल के लिए रात को सोने से पहले कुछ बूंदे चंदन के तेल की लें और कोई भी ऑइल जो आपको पसंद हो उसके साथ मिलाकर चेहरे की अच्छे से मालिश करें, इससे त्वचा का रूखापन कम होता है।

और पढ़ेंः ऑफिस जाती हैं तो जरूर ट्राई करें ये ट्रेंडिंग लिपस्टिक शेड्स

बालों के लिए भी प्रभावकारी है चंदन का तेल 

डैंड्रफ को दूर करता है

चंदन का तेल बालों से डैंड्रफ को दूर करता है,साथ ही ​सिर को ठंडा भी रखता है। इसके इस्तेमाल के लिए 1 चम्मच एक्स्ट्रा वर्जिन स्वीट आलमंड ऑयल में 3 से 4 बूंदे एसेन्शियल ऑयल की मिलाएं और इससे ​​सिर की अच्छे से मालिश करें। 

ड्राई बालों के लिए

चंदन का तेल बालों की खोई हुई नेचुरल शाइन को वापस लाने में मदद करता है, इसके लिए बालों को धोने के पहले किसी भी ऑयल में चार से पांच बूंदे चंदन के तेल की मिलाकर अच्छे से मालिश करें और 1 घंटे बाद धो लें। 

चंदन के तेल के इस्तेमाल से त्वचा और बाल दोनों के लिए बहुत की फायदेमंद है, इसका इस्तेमाल करते समय बस इतना ध्यान ज़रूर रखें कि इसे कभी भी डायरेक्ट फेस पर न लगाएं, क्योंकि,सारे एसेंशियल ऑयल बहुत स्ट्रांग होते है और आपको नुकसान भी पहुंच सकते हैं।  

चंदन का तेल ही नहीं चंदन का पाउडर भी है बड़ी काम की चीज

बॉडी के नरिशमेंट के लिए चंदन से करेंं स्किन पॉलिशिंग

बॉडी को कई कारणों से नरिशमेंट नहीं मिल पाता है। ऐसे में बॉडी को नरिश करने के लिए ऐसे इंग्रीडिएंट्स का यूज करना चाहिए जो स्किन को हेल्दी रखने में मदद कर सके।

  • 1 कप बादाम पाउडर
  • 1 कप जौ का आटा
  • 4 चम्मच चावल का पाउडर
  • 2 चम्मच चंदन पाउडर

स्मूथ पेस्ट बनाने के लिए सभी इंग्रीडिएंट्स को दूध बादाम के तेल के साथ मिलाएं। अब पूरे शरीर पर स्क्रब करें और पानी से धो लें। ये पैक सुपर सॉफ्ट फील देगा और त्वचा को पोषण भी देगा। आप इसे सप्ताह में एक बार ले सकते हैं। महीने में दो से तीन बार इसे जरूर अप्लाई करें।

स्किन लाइटनिंग के लिए भी इस्तेमाल करें चंदन

स्किन लाइटनिंग घरेलू उपाय की बात हो और हल्दी का जिक्र न हो यह तो संभव ही नहीं है। हल्दी न केवल त्वचा के रंग को साफ करती है। बल्कि, इसमें मौजूद एंटी-बैक्टीरियल गुण एक्ने की समस्या से भी निजात दिलाते हैं। त्वचा के डार्क स्पॉट को दूर करने के लिए आधा चौथाई चम्मच हल्दी में एक छोटा चम्मच चंदन पाउडर और दो बड़े चम्मच नींबू का रस मिलाकर लगाएं। 10 मिनट बाद इसे सादे पानी से धो लें। इस हल्दी फेस पैक का उपयोग हफ्ते में दो बार करें। हालांकि, आपको जलन महसूस हो तो इसका यूज न करें।

मॉस्चराइज करता है चंदन

लाल चंदन के पाउडर में नारियल तेल की कुछ बूंदे मिलाएं और इसका पेस्ट तैयार कर लें। यह त्वचा को मॉइस्चराइज करने के साथ ड्राइनेस को कम करता है। इसे चेहरे पर और गर्दन पर अच्छी तरह से लगा लें और 10-15 मिनट बाद धो लें। लाल चंदन पाउडर त्वचा पर कांति बनाये रखने में मददगार होता है। 

अगर इससे जुड़ा आपका कोई सावाल है या आपको किसी भी तरह की समस्या है, तो आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

माथे की झुर्रियां कैसे करें कम? जानिए इस आर्टिकल में

क्यों होती है माथे की झुर्रियां, क्या कर झुर्रियों को किया जा सकता है कम, क्या है इलाज और झुर्रियां मिटाने के लिए क्या करें व क्या न करें पर रिपोर्ट।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्वस्थ जीवन अप्रैल 20, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

झुर्रियों से निजात पाने का ट्रीटमेंट कराने से पहले जान लें बोटोक्स और डर्मल फिलर्स में अंतर

बोटोक्स और डर्मल फिलर्स में अंतर क्या है, बोटोक्स और डर्मल फिलर्स में अंतर in Hindi, Difference between botox and dermal fillers.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्वस्थ जीवन अप्रैल 17, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

REM sleep behavior disorder : रैपिड आई मूवमेंट स्लीप बिहेवियर डिसऑर्डर

रैपिड आई मूवमेंट(REM) स्लीप बिहेवियर डिसऑर्डर एक नींद की बीमारी है, जिसमें हम शारीरिक रूप से अप्रिय सपने या दुःस्वप्न में तेज आवाज़,बाते करना, या शारीरिक गत

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Siddharth Srivastav
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z अप्रैल 15, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

brown recluse spider: ब्राउन रिक्लुज स्पाइडर क्या है?

ब्राउन रिक्लुज मकड़ियों की कुछ प्रजातियों में से एक हैं जो मनुष्यों के लिए कभी कभी खतरा पैदा कर सकती हैं। इसलिए इसके बारे में जानकर इससे सचेत रहा जाए।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Siddharth Srivastav
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z अप्रैल 11, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

बीटाडीन क्रीम

Betadine Cream: बीटाडीन क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ जून 26, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
बरगद -banyan tree

बरगद के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Banyan Tree (Bargad ka Ped)

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
प्रकाशित हुआ जून 8, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
होंठों पर पिंपल्स का इलाज

होंठों पर पिंपल्स का इलाज ढूंढ रहे हैं? तो ये आर्टिकल कर सकता है आपकी मदद

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
प्रकाशित हुआ मई 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
बच्चों के लिए एसेंशियल ऑयल-bacchon ke liye Essential Oils

बच्चों के लिए एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल करना क्या सुरक्षित है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
प्रकाशित हुआ अप्रैल 29, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें