मूली खाने के फायदे चौका देंगे आपको, शुरू कर देंगे आज से ही खाना

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Dr. Pooja Bhardwaj


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 19/01/2021

    मूली खाने के फायदे चौका देंगे आपको, शुरू कर देंगे आज से ही खाना

    अगर सलाद का नाम लिया जाए, तो मूली का शामिल होना बनता है। खासतौर पर, सर्दियों में मूली का सेवन हर घर में किया जाता है। कुछ लोग मूली का सेवन तो करते हैं, लेकिन, मूली खाने के फायदे उन्हें नहीं पता होते हैं। क्या आपको पता है? मूली का सेवन अगर एक दवा में करें तो आप सेहत से जुड़ी कई गंभीर परेशानियों से छुटकारा मिल सकता है। इस आर्टिकल में मूली खाने के फायदे बताए गए हैं। लेकिन मूली खाने के फायदे जानते हैं कि मूली स्वास्थ्य के लिए क्यों अच्छी है?

    मूली खाने के फायदे सेहत को कैसे मिलते हैं?

    मूली में उपलब्ध विटामिन-ए, विटामिन-बी, विटामिन-सी, प्रोटीन, आयोडीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम जैसे कई और गुणकारी तत्व मौजूद होते हैं, जो इम्यून पावर को स्ट्रॉन्ग बनाने में मददगार होते हैं। सामान्य-सी दिखने वाली यह जड़ फोलेट और विटामिन-सी (vitamin c) से भरपूर होती है। मूली में पाया जाने वाला मैग्नीशियम मस्तिष्क और नर्वस सिस्टम (nervous system) की कार्यप्रणाली को सही से चलाने में मदद करता है। मूली में मौजूद कैल्शियम हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ-साथ दांतों को भी मजबूत बनाता है। चलिए विस्तार से जानते हैं मूली खाने के फायदे-

    वेट लॉस के लिए

    मूली खाने के फायदे में एक फायदा है कि यह वजन को कम करने में मददगार होती है। रैडिश यानी मूली में फैट की मात्रा कम और फाइबर ज्यादा होता है। फाइबर मोटापे को कर्म करने में प्रभावी रूप से कम करता है। जो लोग मोटापे से परेशान हैं और मोटापा कम करना चाहते है, उन्हें नियमित रूप से इसका सेवन करना चाहिए।

    और पढ़ें : अनानास के स्वास्थ्य लाभः इससे मिलने वाले पोषण और जोखिम की जानकारी

    मूली के लाभ से कब्ज होगा दूर

    मूली में हाई फाइबर की वजह से यह कब्ज के लक्षणों को दूर करने में उपयोगी है। इसको खाने से आंतें स्वस्थ रहती हैं। यह स्टूल को नरम बनाकर कब्ज में राहत पहुंचाती है। मूली के पत्ते का साग डाइजेशन ठीक रखता है। साथ ही पाइल्स की समस्या भी दूर होती है।

    रक्तचाप में मूली खाने के फायदे

    मूली खाने से ब्लड प्रेशर (रक्तचाप) कंट्रोल में रहता है। इसमें मौजूद पोटैशियम हाई ब्लड प्रेशर (hypertension) को कंट्रोल करने में सहायक होता है।

    क्विज खेलें : हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाएं क्या नहीं? खेलें क्विज और जानें

    मूली खाने से किडनी स्टोन होगी खत्म

    किडनी में हुई पथरी को ठीक करने के लिए मूली खाई जा सकती है। एक रिपोर्ट की माने तो, मूली कैल्शियम ऑक्सालेट को शरीर से बाहर निकालने का काम कर सकती है। यह किडनी में होने वाली पथरी का एक प्रकार है।

    मूली खाने के फायदे मधुमेह रोगी को

    डायबिटीज रोगियों के लिए मूली खाना फायदेमंद होती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एनर्जी मेटाबॉलिज्म को बेहतर बनाने की ताकत होती है। इसके उपयोग से ग्लूकोज का लेवल और इंटेंस्टाइन (आंत) में ग्लूकोज अवशोषण (absorption) कम होता है।

    [mc4wp_form id=”183492″]

    और पढ़ें : तनाव से लेकर कैंसर तक को दूर कर सकता है चीकू, जानिए इसके फायदे

    मूली खाने के फायदे दिल को भी मिलेंगे

    हाई ब्लड प्रेशर से हृदय रोग हो सकता है। ऐसे में कैल्शियम और पोटैशियम युक्त मूली रक्तचाप को कंट्रोल करके हार्ट डिजीज की संभावना को कम कर सकती है। इसके अलावा इसमें मौजूद फाइबर हेल्दी हार्ट के लिए जरूरी है। मूली नाइट्रेट जैसे तत्वों से भी युक्त होती है, जो एथेरोस्क्लेरोसिस (आरटरी वॉल के अंदर और बाहर फैट और कोलेस्ट्रॉल जम जाना) के खतरे को कम कर सकती है।

    और पढ़ें : हाई ब्लड प्रेशर को कम कर सकता है जैतून का तेल, जानिए इसके 7 फायदे

    मूली से स्किन को लाभ

    मूली खाने के फायदे में आप यह लाभ भी जोड़ लें। मूली में मौजूद विटामिन-सी, विटामिन-बी कॉम्प्लेक्स, फॉस्फोरस और जिंक त्वचा में नमी की मात्रा बनाए रखने में मदद करते हैं। इसके नियमित सेवन से स्किन अच्छी होती है। इसमें विटामिन-सी काफी मात्रा में होता है जो स्किन के लिए एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करता है। इससे स्किन में कोलेजन बढ़ता है। इससे एजिंग का प्रभाव कम होता है।

    लिवर की सेहत होती है बेहतर

    मूली खाने के फायदे में यह काफी महत्वपूर्ण है। दरअसल, मूली में पाए जाने वाले पोषक तत्व लिवर को डिटॉक्सीफाई करने में अहम भूमिका निभाते हैं। मूली में पाया जाने वाला ग्लूकोसाइनोलेट्स लिवर को हेल्दी बनाए रखने का काम करती है। मूली खाने के फायदे यूनानी और भारतीय पारंपरिक चिकित्सा में भी मिलते हैं। पीलिया और लिवर से जुड़ी अन्य समस्याओं का इलाज करने के लिए भी मूली का उपयोग कई सदियों से चला आ रहा है।

    हाइड्रेट रखने के लिए मूली

    हाइड्रेट रहना पाचन तंत्र के लिए अच्छा रहता है। हाइड्रेटेड रहने से कब्ज से भी राहत मिलती है और पाचन क्रिया भी सुधरती है। मूली में पानी की मात्रा काफी अधिक होती है। इसलिए, यह आपके शरीर को हाइड्रेटेड रखने का एक शानदार तरीका है।

    सफेद दागों से छुटकारा के लिए मूली का उपयोग

    सफेद दाग यानी विटिलिगो (vitiligo) या ल्यूकोडर्मा (leucoderma) कहा जाता है। त्वचा के इस गंभीर रोग को दूर करने के लिए मूली के बीज का इस्तेमाल किया जाता है। मूली अपने एंटी-कॉर्सनोजिनिक गुणों के कारण ल्यूकोडर्मा के उपचार में उपयोगी होती है।

    मूली का उपयोग

    मूली खाने के फायदे तो आपने जान लिए। अब मूली का सेवन कैसे-कैसे किया जा सकता है? यह भी जान लें।

    • मूली खाने का सही समय दोपहर का होता है। इसलिए, लंच के साथ कच्ची मूली का सेवन सलाद के रूप में करें।
    • आप मूली की सब्जी भी बना सकते हैं। ज्यादा से ज्यादा स्वास्थ्य लाभ मिल सके इसके लिए सब्जी में तेल न के बराबर ही डालें।
    • मूली का सूप भी पिया जा सकता है।
    • मूली की तरह मूली की पत्तियां भी फायदेमंद होती हैं। इसका साग बनाकर भी आप खा सकते हैं।

    और पढ़ें : बहुत ही गुणकारी होती है बेल, जानें क्या-क्या हैं इसके फायदे?

    मूली के नुकसान

    मूली बेहद ही गुणकारी होती है, जिसके सेवन से शरीर की समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। लेकिन, मूली खाने के फायदे सुनकर आप इसका ज्यादा सेवन न करने लग जाएं। हर चीज का जरूरत से ज्यादा किया गया सेवन नुकसानदायक हो सकता है। ऐसा ही कुछ मूली के साथ भी है। ज्यादा मात्रा में मूली के इस्तेमाल से पेट में दर्द/जलन, गले का सूखना, डायरिया जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए, इसका उपयोग एक सीमित मात्रा में ही करें। इसके अलावा मूली खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए? इस बात का भी खास ख्याल रखें। मछली के साथ मूली का सेवन नहीं करना चाहिए। मूली खाने के तुरंत बाद दूध नहीं पीना चाहिए।

    मूली खाने के फायदे जानने के बाद अब इसे नियमित रूप से इस्तेमाल कर देना शुरू कर दें। खासतौर से अगर आप ऊपर बताई गई किसी भी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं तो मूली का सेवन एक दवा के रूप में करें।

    डिस्क्लेमर

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    Dr. Pooja Bhardwaj


    Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 19/01/2021

    advertisement

    Was this article helpful?

    advertisement
    advertisement
    advertisement