home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

हाय कोलेस्ट्रॉल में नियासिन का इस्तेमाल इन समस्याओं में पहुंचाता है राहत!

हाय कोलेस्ट्रॉल में नियासिन का इस्तेमाल इन समस्याओं में पहुंचाता है राहत!

हमारा खानपान शरीर को स्वस्थ रखने या फिर बीमार करने के लिए जिम्मेदार हो सकता है। अगर खाने में फैट की असंतुलित मात्रा शामिल की जाती है, तो कोलेस्ट्रॉल के लेवल में बढ़त हो सकती है। ऐसे में खानापान में संतुलन के साथ ही कुछ दवाओं का इस्तेमाल करने से कोलेस्ट्रॉल के बढ़े हुए लेवल को कम किया जा सकता है। अगर वजन बढ़ जाता है, शरीर में अधिक मात्रा में कोलेस्ट्रॉल बनने लगता है। नियासिन (Niacin) को विटामिन B3 भी कहा जाता है। ये एंटीलिपेमिक एजेंट (Antilipemic agents) नामक दवाओं के एक ग्रुप से सम्बन्ध रखता है। ये दवाएं कोलेस्ट्रॉल को कम करने के साथ ही हर्ट कंडीशन में इस्तेमाल की जा सकती है।

बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल में नियासिन (Niacin and cholesterol) का सेवन करने से लो डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन (LDL) की मात्रा नियंत्रित होती है। ये दवा ब्लड में ट्राइग्लिसराइड्स (Triglycerides) यानी फैटी पदार्थों को करने में मदद करती है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको कोलेस्ट्रॉल में नियासिन (Niacin and cholesterol) के सेवन को लेकर जानकारी देंगे और साथ ही आपको दवाओं के ब्रांड्स के नाम के बारे में भी बताएंगे। आपको दवाओं का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

और पढ़ें: हाय कोलेस्ट्रॉल की है समस्या, तो ये दवाएं आपकी परेशानी को कर देंगी छूमंतर!

कोलेस्ट्रॉल में नियासिन (Niacin and cholesterol)

कोलेस्ट्रॉल में नियासिन

इस दवा का सेवन करने से हार्ट अटैक का रिस्क कम हो जाता है और साथ ही हाय कोलेस्ट्रॉल की समस्या से भी राहत मिलती है। ये दवा कोलेस्ट्रॉल और फैट को बनने से रोकती है ताकि ब्लड वैसल्स में कोलेस्ट्रॉल न जम पाए और हार्ट डीजीज की संभावना को भी कम किया जा सके। ये दवा शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल के लेवल (LDL) को बढ़ाने का काम करती है। आपको इस दवा का सेवन करने के साथ ही एक्सरसाइज पर ध्यान देने की जरूरत है और साथ ही खानपान में नियंत्रण दवा के प्रभाव को बढ़ाने का काम करता है। ये दवा कुछ विटानिन, हर्ब या फिर अन्य दवाओं के साथ रिएक्ट कर सकती है। अगर आप कुछ दवाओं का सेवन पहले से ही कर रहे हैं, तो बेहतर होगा कि इस बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं। कोलेस्ट्रॉल में नियासिन (Niacin and cholesterol) कि निम्निलिखत दवाओं का इस्तेमाल किया जा सकता है।

और पढ़ें: बच्चों में कोलेस्ट्रॉल का ट्रीटमेंट करना होगा आसान, अगर फॉलों करें ये डायट और एक्सरसाइज रूटीन

कोलेस्ट्रॉल में नियासिन : डॉक्टर की सलाह से कर सकते हैं इन दवाओं का इस्तेमाल (Niacin and cholesterol treatment)

अगर आपको अधिक कोलेस्ट्रॉल की समस्या हो गई है, तो डॉक्टर उसे कम करने के लिए आपको कुछ दवाओं का सेवन करने की सलाह देंगे। हम यहां आपको कुछ दवाओं के बारे में जानकारी दे रहे हैं। जानिए अधिक कोलेस्ट्रॉल में किन नियासिन दवाओं का सेवन किया जा सकता है।

रग्बी नियासिन 500 मिलीग्राम (Rugby Niacin 500 mg)

ये विटामिन बी3 टैबलेट्स होती हैं। इनका इस्तेमाल करने से टिशू डेवलपमेंट होता है। इसमें निकोटिनिक एसिड (Nicotinic acid) होता है। आपको इस दवा का सेवन बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं करना चाहिए।ये एक डायटरी सप्लिमेंट (Dietary supplement) है। जिन लोगों को अधिक कोलेस्ट्रॉल की समस्या होती है, डॉक्टर उन्हें ये दवा लेने की सलाह दे सकते हैं। इसका मूल्य 7,066 है। आपको एक बॉटल में 1000 टैबलेट मिल जाएंगी।

नोट – ब्रैंड्स का प्राइज थोड़ा कम या फिर ज्यादा हो सकता है। आप जहां से से प्रोडक्ट खरीद रहे हैं, वहां का प्राइज अन्य जगह से अलग हो सकता है।

जेनिथ न्यूट्रीशन नियासिन (Zenith nutrition Niacin)

कोलेस्ट्रॉल में नियासिन (Niacin and cholesterol) के रूप में जेनिथ न्यूट्रीशन का इस्तेमाल किया जा सकता है। जेनिथ न्यूट्रीशन नियासिन का इस्तेमाल विटामिन बी3 (Vitamin B3) के रूप में किया जाता है। दवा का इस्तेमाल करने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा नियंत्रण में रहती है और साथ ही हार्ट से संबंधित बीमारियों का खतरा भी कम हो जाता है। इस दवा की कीमत 374 है। आपको एक बॉटल में 100 कैप्सूल मिलती हैं। दवा का सेवन दिन कैसे और कब करना है, आप इस बारे में डॉक्टर से बात कर सकते हैं।

और पढ़ें: एग और कोलेस्ट्रॉल : दोनों के बीच सही तालमेल से आप हेल्दी रह सकते हैं!

नियासिन एनएफ टैबलेट (Niacin NF Tablet)

नियासिन एनएफ टैबलेट पेरिफेरल वस्कुल डिजीज में इस्तेमाल की जानी वाली दवा है। ये ब्लड वैसल्स में होने वाले खून को बहाव को बेहतर बनाने का काम करती है। ये ब्लड सर्कुलेशन (Blood circulation) को ठीक करती है और साथ ही ब्लड वैसल्स (Blood vessels) को अधिक चौड़ा करने का काम करती है। ये दवा लिपिड के फॉर्मेशन को रोकने का काम करती है और साथ ही कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करती है। दवा का सेवन करने से साथ ही लाइफस्टाइल में बदलाव (Change in lifestyle) भी बहुत जरूरी है। दवा में इनोसिटोल निकोटिनेट (Inositol nicotinate) एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में पाया जाता है।

कोलेस्ट्रॉल में नियासिन: हेल्दीहे न्यूट्रीशन नियासिन (healthyhey nutrition niacin)

कोलेस्ट्रॉल में नियासिन का सेवन करने के लिए डॉक्टर ये दवा सजेस्ट कर सकते हैं। विटामिन बी 3 टैबलेट के रूप में हेल्दीहे न्यूट्रीशन नियासिन का सेवन किया जा सकता है। इस दवा की कीमत 599 रु है। ये वेज कैप्सून हैं और एक बॉटल में 120 कैप्सूल आती हैं। इस दवा का इस्तेमाल हेल्दी कार्डियोवस्कुलर सिस्टम (Cardiovascular System) के लिए किया जाता है। ये दवा मेटाबॉलिज्म (Metabolism) को भी बेहतर बनाने का काम करती है। ये दवा शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल के लेवल (Bad cholesterol ) को कम करने में, अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में के साथ ही ब्रेन फंक्शन में भी अहम भूमिका निभाती है। इस दवा में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में 100% नियासिन (Niacin) होता है।

और पढ़ें: हाय कोलेस्ट्रॉल का आयुर्वेद उपाय : अपनाएंगे, तभी तो जान पाएंगे!

सोलगर,विटामिन बी 3 टैबलेट ( Solgar,Vitamin B3 tablet)

हेल्दी कॉर्डियोवस्कुलर सपोर्ट के लिए सोलगर नियासिन,विटामिन बी 3 टैबलेट का इस्तेमाल किया जाता है। ये दवा शरीर में बन रहे अधिर कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करती है और साथ ही हार्ट हेल्थ को बेहतर बनाने में मदद करती है। इस दवा में ग्लूटेन, वीट या डेयरी प्रोडक्ट (Dairy products) का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। ये डायटरी सेप्लीमेंट है। इस टैबलेट की एक बॉटल में 100 दवाएं होती हैं, जिनकी कीमत 1,818 रु है। आपको इस दवा का सेवन डॉक्टर से सलाह करने के बाद ही करना चाहिए। अगर दवा का सेवन करने के बाद आपको किसी भी तरह के दुष्प्रभाव का आभास हो रहा हो, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

कोलेस्ट्रॉल में नियासिन का सेवन करने से हो सकते हैं ये साइड इफेक्ट (Side Effect of Niacin)

कोलेस्ट्रॉल में नियासिन (Niacin and cholesterol) यानी विटामिन बी3 का सेवन करने से भले ही आपके स्वास्थ्य को लाभ पहुंचता हो लेकिन ये कुछ दुष्प्रभाव का कारण भी बन सकता है। अगर आपको दवा खाने के बाद किसी तरह की समस्या महसूस होती है, तो मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के बारे में डॉक्टर को जरूर बताना चाहिए। जानिए दवा खाने से किस प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

हार्ट अटैक के बारे में जानना चाहते हैं, तो देखें ये बायोडिजिटल वीडियो –

अगर आपको उपरोक्त समस्याएं हो, तो उन्हें इग्नोर बिल्कुल न करें। प्रेग्नेंसी के दौरान भी दवा का सेवन करने से पहले डॉक्टर से जानकारी जरूर लेनी चाहिए। ब्रेस्टफीडिंग, एलर्जी की समस्या या फिर अन्य दवाओं के इस्तेमाल के दौरान आपको दूसरी दवाओं का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आपको दूसरी दवा का सेवन करना है, तो पहले डॉक्टर से जानकारी जरूर लें।

इस आर्टिकल में दिए गए ब्रांड के नाम का हैलो स्वास्थ्य प्रचार नहीं कर रहा है। डॉक्टर से परामर्श के बाद ही दवाओं का इस्तेमाल करना चाहिए। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता। इस आर्टिकल में हमने आपको कोलेस्ट्रॉल में नियासिन (Niacin and cholesterol) के संबंध में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

powered by Typeform
health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड