home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

सी-सेक्शन स्कार को दूर कर सकते हैं ये 5 घरेलू उपाय

सी-सेक्शन स्कार को दूर कर सकते हैं ये 5 घरेलू उपाय

सी-सेक्शन को सिजेरियन डिलिवरी या सिजेरियन सेक्शन भी कहते हैं। दरअसल जब डिलिवरी वजायना से न होकर सर्जरी की मदद से की जाती है, उसे सी-सेक्शन कहा जाता है। एक रिपोर्ट के अनुसार जनवरी 2015 से दिसंबर 2016 तक भारत में 17.2 प्रतिशत सिजेरियन डिलिवरी हुई थी। सिजेरियन डिलिवरी के कारण एब्डोमेन पर स्कार नजर आने लगते हैं, जिसे सी-सेक्शन स्कार कहते हैं।

सी- सेक्शन स्कार होने पर क्या होता है?

सिजेरियन डिलिवरी के बाद सूजन, सर्जरी वाली त्वचा का लाल होना और दर्द होना सामान्य है। कुछ महिलाओं को घाव (wound) से तरल पदार्थ भी निकलने लगता है, लेकिन इंफेक्शन होने पर परेशानी बढ़ सकती है। इन परेशानियों में शामिल हैं-

  • क्लियर या डिस्कलरड फ्लूइड का स्कार की जगह से होना।
  • वजायना से एब्नार्मल ब्लीडिंग होना।
  • पैरों में सूजन या दर्द होना।
  • पेट संबंधित परेशानी होना।

इसके लक्षण क्या हो सकते हैं?

सर्जरी के तुरंत बाद संक्रमण के लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। लक्षणों के विकसित होने में 30 दिन तक का समय लग सकता है। यदि लक्षण नजर आते हैं, तो जल्द से जल्द से डॉक्टर से संपर्क करें।

ये भी पढ़ें: सिजेरियन डिलिवरी प्लान करने से पहले ध्यान रखें ये 9 बातें

सी-सेक्शन स्कार का निदान कैसे किया जाता है?

हेल्थ एक्सपर्ट सी-सेक्शन से होने वाली परेशानी के बारे में निम्नलिखित सवाल पूछ सकते हैं। जैसे-

  • इंफेक्शन होने के कारण हो रही परेशानी
  • बार-बार फीवर आना
  • शारीरिक परेशानी महसूस होना
  • घाव का सैंपल जिसे लैब में टेस्ट के लिए भेजा जाता है
  • अगर इचिंग (खुजली) ज्यादा होती है तो इसकी जानकारी डॉक्टर को देनी चाहिए।

इन सभी बातों को समझकर इसका निदान किया जाता है।

ये भी पढ़ें: Honey : शहद के 5 लाभकारी उपयोग

सी-सेक्शन स्कार के कारण क्या हैं?

इम्पेटिगो- सर्जरी के बाद कभी-कभी सर्जरी वाले जगह से तरल पदार्थ आना और अत्यधिक खुजली हो सकती है, जो परेशानी का कारण हो सकता है।

ऐब्सेस (फोड़ा)- सी-सेक्शन के बाद त्वचा के ऊपर या नीचे फोड़ा होना और उससे पस निकलना। ऐसी स्थिति में डॉक्टर से सलाह लें और साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें।

सेल्युलाइटिस- सिजेरियन डिलिवरी के बाद बॉडी टिशूज में इंफेक्शन की समस्या हो सकती है, जिसे बैक्टीरियल स्किन इंफेक्शन कहते हैं। इंफेक्शन की यह समस्या तेजी से फैलती है और इससे शरीर को नुकसान होता है।

सी-सेक्शन स्कार को कैसे कम या ठीक करें?

सिजेरियन डिलिवरी के बाद सी-सेक्शन स्कार होना स्वाभाविक है लेकिन, इससे बचने के लिए घरेलू नुस्खे अपनाए जा सकते हैं। इन घरेलू नुस्खों में शामिल हैं।

1. पेट्रोलियम जेली

सी-सेक्शन स्कार को मॉश्चराइज और सॉफ्ट रखना जरूरी है। इसलिए नियमित रूप से पेट्रिलियम जेली का प्रयोग करें। इससे खुजली में राहत मिलेगी और स्किन ड्राई नहीं होगी।

2. सिलिकॉन जेल शीट

सी-सेक्शन स्कार पर सिलिकॉन जेल शीट का प्रयोग करना चाहिए। सिजेरियन डिलिवरी के कारण स्किन थिक हो जाती है उसे ठीक करने में सिलिकॉन जेल सहायक होता है। इसके प्रयोग से स्किन सॉफ्ट होती है और रेड मार्क्स भी कम हो सकते हैं। सिलिकॉन जेल के एक बार इस्तेमाल के बाद इसे दोबारा यूज करने के पहले अच्छी तरह से क्लीन कर लें। सिलिकॉन जेल शीट मेडिकल स्टोर से आसानी से परचेज किया जा सकता है और इस्तेमाल करने से पहले इस पर लिखे इंस्ट्रकशन को जरूर पढ़ें और फॉलो करें।

3. एलोवेरा जेल

एलोवेरा जेल सिजेरियन मार्क्स को कम करने में सहायक होता है। अगर सिजेरियन के बाद जलन महसूस होती है, तो ऐसी स्थिति में भी इसका प्रयोग लाभदायक होता है और जलन की समस्या से राहत मिलती है। दरअसल आसानी से मिलने वाला एलोवेरा के कई फायदे हैं। अब चाहे सनबर्न हो या मुहांसों की समस्या या हो चेहरे के दाग-धब्बे। एलोवेरा त्वचा संबंधित लगभग सभी समस्याओं पर काम करता है। यही नहीं सिजेरियन डिलिवरी के बाद हुए स्कार को भी कम करने में एलोवेरा काफी सहायक है। एलोवेरा में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट शरीर में मौजूद कोशिकाओं को टूटने से बचाता है। त्वचा संबंधी कोई परेशानी होने पर एलोवेरा में मौजूद विटामिन-ई उसे ठीक करने में सहायक होता है।

4. शहद

शहद (Honey) को नैचुरल हीलिंग इंग्रीडियंट के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। शहद के इस्तेमाल से सूजन की समस्या कम होती है। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) के अनुसार सी-सेक्शन होने पर स्कार से छुटकारा पाने के लिए शहद का प्रयोग किया जा सकता है। इससे साइड इफेक्ट का खतरा कम होता है। दरअसल शहद के फायदे शारीरिक बीमारियों के उपचार तक ही सीमित नहीं हैं। इसका इस्तेमाल त्वचा की खूबसूरती को निखारने के लिए भी किया जाता है। यह प्राकृतिक एंटीसेप्टिक (antiseptic) की तरह काम करता है। इसलिए सी-सेक्शन पर लगाने से लाभ मिलता है। इस प्रयोग से पहले एक्सपर्ट से सलाह अवश्य लें।

5. ऑयल मसाज

सी-सेक्शन स्कार से राहत पाने के लिए ऑयल मसाज भी ऑप्शन माना जाता है लेकिन, ऑयल मसाज सर्जरी के तुरंत बाद नहीं की जा सकती। सी-सेक्शन स्कार से छुटकारा पाने के लिए विटामिन-ई ऑयल का प्रयोग करना बेहतर होगा। विटामिन-ई ऑयल में एन्टीऑक्सिडेंट की मौजूदगी स्किन को सॉफ्ट रखने के साथ-साथ त्वचा को सही पोषण मिलता है। इसलिए इस ऑयल से मसाज करने से धीरे-धीरे स्कार को कम करने में मदद करता है।

इन ऊपर दिये गये घरेलू उपाय को अपनाने के साथ-साथ आप लेजर थेरिपी की मदद ले सकती हैं। हालांकि इससे सी-सेक्शन स्कार पूरी तरह से नहीं जाता है। लेजर थेरिपी काफी खर्चीला भी होता है और यह एकबार में पूरा नहीं होता है। इसके कई सिटिंग होते हैं लेकिन, स्कार रह जाते हैं। सर्जरी का निशान पूरी तरह से नहीं जाता है। वैसे यह ट्रीटमेंट घाव ठीक होने के कुछ दिनों बाद ही हो सकता है।

ये भी पढ़ें: ड्राई स्किन से राहत पाने के लिए घरेलू उपाय

सी-सेक्शन स्कार या मार्क्स से जुड़ी परेशानियां ठीक हो सकती है लेकिन, मार्क्स नहीं जाते हैं पर यह कम जरूर हो सकते हैं। सिजेरियन डिलिवरी के बाद किसी भी तरह के घरेलू उपाय करने से पहले डॉक्टर से अवश्य सलाह लें। यदि किसी तरह के घरेलू उपाय से परेशानी महसूस होती है, तो वह उपाय न करें।

अगर आप सी-सेक्शन स्कार से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। सी-सेक्शन स्कार और सी-सेक्शन की वजह से महिला को विशेष देख रेख की जरूरत होती है। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ें:

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

The Effect of Honey Gel on Abdominal Wound Healing in Cesarean Section: A Triple Blind Randomized Clinical Trial/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4137579/Accessed on 20/01/2020

The Truth About Vitamin E Oil/https://www.healthline.com/health/food-nutrition/truth-about-vitamin-e-oil/Accessed on 20/01/2020

Is my C-section scar OK?/https://www.medicalnewstoday.com/articles/324428.php/Accessed on 06/10/2019

What causes post-cesarean wound infections?/https://www.medicalnewstoday.com/articles/324505.php/Accessed on 06/10/2019

7 Simplest But Most Effective Ways To Treat C-Section/https://www.emedicinehealth.com/cesarean_childbirth/article_em.htm/Accessed on 06/10/2019

Marks At Home/https://www.babydestination.com/ways-treat-c-section-scars-home/Accessed on 06/10/2019

What causes post-cesarean wound infections?/https://www.medicalnewstoday.com/articles/324505.php/Accessed on 06/10/2019

C-Section Scar Care: Your Guide to Helping It Heal/https://www.parents.com/pregnancy/giving-birth/cesarean/c-section-scar-care/Accessed on 11/12/2019

C-Section (Cesarean Childbirth)/https://www.emedicinehealth.com/cesarean_childbirth/article_em.htm/Accessed on 11/12/2019

लेखक की तस्वीर
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 16/08/2020 को
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड