backup og meta

जानें त्वचा के लिए क्यों जरुरी है नाइट क्रीम

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Dr. Pooja Bhardwaj


Mubasshera Usmani द्वारा लिखित · अपडेटेड 22/04/2021

जानें त्वचा के लिए क्यों जरुरी है नाइट क्रीम

अगर त्वचा की देखभाल की बात करें, तो ​अधिकतर लोग दिन में अपनी त्चचा का ज्यादा ध्यान रखते हैं, जैसे कि त्वचा की क्लींजिंग और मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करना आदि। लेकिन,क्या आपको पता है कि हेल्दी स्किन के लिए नाइट क्रीम की भी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। इसे लगा कर सोने से रात भर में आपकी बेजान और झुर्रियों वाली त्वचा रिपेयर होती है। यह आपकी त्वचा को नमी प्रदान करने के साथ मृत सेल्स को हटाकर उसमें नई जान डालती है।  इसमें मौजूद कोलोजन एंटी-एजिंग को रोकने के साथ त्वचा में कसावट भी लाती है, तो जानें क्यों ​है जरूरी नाइट क्रीम का इस्तेमाल?

नाइट क्रीम का इस्तेमाल क्यों करें?

यह त्वचा में रिपेयरिंग का काम करती है। इसमें मौजूद तत्व बेजान त्वचा को निकाल कर त्वचा में जान डालते हैं। यह साधारण मॉइस्चराइजर क्रीम की तुलना में अधिक गाढ़ी होती है, यही कारण है कि ये त्वचा की गहराई तक जाकर अपना असर​ दिखाती है। इसमें मौजूद रेटिनॉल नामक तत्व त्वचा के ढीलेपन और झुर्रियों की समस्या को रोकता है। 30 से अधिक उम्र के वालों के लिए इसके इस्तेमाल की सलाह दी जाती है। 

और पढ़ें : त्वचा के लिए जरूरी है स्क्रबिंग

नाइट क्रीम के फायदे:

नाइट क्रीम त्वचा को जरुरी पौष्टिक तत्व देने में मदद करती हैं यह रात भर त्वचा को रिपेयर करने के साथ उसे ग्लोइंग और मुलायम बनाती है इसका उपयोग करने के खास फायदे हैं,जैसे—

  • कोलेजन की मात्रा ज्यादा होने के कारण त्वचा का नरम और मुलायम होना।
  • ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है।
  • त्वचा की झुर्रियां कम करना और कसावट लाना।  
  • काले दाग-धब्बों और मुहांसों का कम होना।
  • त्वचा की रंगत में निखार लाना।
  • नए सेल्स बनना।
  • त्वचा का प्राकृतिक निखार आना। 
  • त्वचा को सही पोषण मिलता है। 

और पढ़ें : चमकदार त्वचा चाहते हैं तो जरूर करें ये योग

नाइट क्रीम कैसे लगाएं?

  • सोने से पहले इस से त्वचा पर हल्का मसाज आइडियल माना जाता है। 
  • सबसे पहले त्वचा से मेकअप को साफ कर लें।
  • त्वचा की सफाई के लिए गुलाब जल या कोई अच्छी ब्रैंड का क्लींजर इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • अपने चेहरे को अच्छी तरह धो लें।
  • नाइट क्रीम लगाने के लिए उंगलियों के ऊपरी सिरे का इस्तेमाल करें, चेहरे पर क्रीम नीचे से ऊपर की तरफ सर्कुलर मोशन में लगाएं।
  • आंखों की नजदीकी त्वचा पर क्रीम न लगाएं।
  • गर्दन पर नाइट क्रीम लगाना न भूलें।
  • नाइट क्रीम आम मॉइस्चराइजर के मुकाबले गाढ़ी होती है, इसलिए इसे कम मात्रा में लगाएं।
  • सोने से लगभग आधे घंटे पहले नाइट क्रीम लगा लें, इससे असर काफी अच्छा दिखेगा।
  • नाइट क्रीम पलकों पर लगाने से परहेज करें।

और पढ़ें :  त्वचा के इस गंभीर रोग से निपटने के लिए मिल गयी है वैक्सीन

नाइट क्रीम इस्तेमाल करने से पहले किन बातों का ख्याल रखें?

नाइट क्रीम के चयन से पहले अपने त्वचा को जरूर समझें। आपकी त्वचा रूखी है या ऑयली है उस अनुसार नाइट क्रीम का इस्तेमाल करें।

नाइट क्रीम का चयन कैसे करें?

नाइट क्रीम का चयन निम्नलिखित तरह से किया जा सकता है। जैसे-

ऑयली स्किन

ऑयली स्किन को भी अन्य स्किन की तरह ही देखभाल की जरूरत होती है। चिपचिपी स्किन एक तरह से परेशान करने वाली हो सकती है क्योंकि ज्यादातर स्किन प्रॉब्लम ऑयली स्किन वालों के साथ देखी जाती हैं। त्वचा तैलीय होने का मुख्य कारण स्किन की निचली सतह में स्थित सिबेसियस ग्लैंड से जरूरत से ज्यादा सीबम का बनना है। सीबम त्वचा के लिए अच्छा होता है क्योंकि ये त्वचा को मॉश्चराइज रखता है लेकिन, अगर ये बहुत ज्यादा बने तो स्किन बहुत तैलीय हो जाती है जिससे स्किन पोर्स भी बंद हो जाते हैं। स्किन पोर्स बंद होने पर चेहरे से तेल बाहर नहीं निकल पता। यही पिंपल का कारण बनता है। साथ ही ऐसी स्किन वालों को और भी कई परेशानियां होती हैं। जैसे ऑयली स्किन पर धूल मिट्टी जल्दी चिपकती है और मेकअप भी ज्यादा नहीं टिकता। इसलिए ऑयली स्किन वाले लोगों को हाइलुरोनिक एसिड (Hyaluronic acid) युक्त नाइट क्रीम का चयन करें।

ड्राई स्किन

अगर आपकी त्वचा रूखी या ड्राई है, तो स्किन का विशेष ख्याल रखना पड़ता है। रूखी त्वचा को मॉश्चरइज करने पर भी स्किन ड्राई रह सकती है। दरअसल ड्राई स्किन की समस्या का कारण एक ही है की स्किन में नमी लॉक नहीं हो पाती और स्किन रूखी-सुखी सी दिखती है। ड्राई स्किन पर रैशेस भी बहुत जल्दी पड़ जाते हैं। आइये जानते हैं कैसे ड्राई स्किन की प्रॉब्लम को घरेलु नुस्खों से दूर किया जा सकता है। पेप्टाइड्स युक्त नाइट क्रीम का इस्तेमाल करना बेहतर ऑप्शन हो सकता है।

सेंसेटिव स्किन

सेंसेटिव स्किन आसानी से रूखी और परेशानी पैदा कर सकती है। इसलिए ऐसी त्वचा वालों को सोच-समझकर नाइट क्रीम का चुनाव करना चाहिए। बाजार में ऐसे नाइट क्रीम भी मौजूद हैं पैराबेन्स, सिंथेटिक फ्रेग्नेंस, मिनिरल ऑयल, DEA और TEA फ्री होते हैं। इसलिए हाइपोएलर्जेनिक (Hypoallergenic) क्रीम का इस्तेमाल किया जा सकता है।

मैच्योर स्किन

उम्र बढ़ने के साथ-साथ जिस तरह शरीर का ख्याल रखना पड़ता है ठीक उसी तरह त्वचा का भी ख्याल रखना पड़ता है। इसलिए मैच्योर स्किन के लिए विटामिन-बी 5, विटामिन-ई और ग्लिसरीन वाले नाइट क्रीम का प्रयोग करें।

सामान्य त्वचा

सामान्य त्वचा का अर्थ है की एक ही त्वचा कभी ऑयली या कभी रूखी हो सकती है। कई बार तो चेहरे का कुछ हिस्सा जैसे सिर ज्यादा तैलीय हो सकता है तो कुछ पार्ट ड्राई रह सकती है। ऐसे में इस तरह की त्वचा के लिए किस तरह की नाइट क्रीम का इस्तेमाल किया जाये यह थोड़ा कठिन हो जाता है। ऐसे में कुरकुमीन (Curcumin) और एलेनटोआइन (Allantoin) वाले नाइट क्रीम का इस्तेमाल करें। यह आपकी त्वचा को नॉर्मल बनाये रखने में मदद कर सकती है।

त्वचा को हेल्दी रखने के लिए नाइट क्रीम के अलावा कुछ और टिप्स को भी फॉलो करना जरूरी है। जैसे-

यह आपकी त्वचा को रिपेयर कर के उसे त्वचा में जवान बनाने में मदद करती है। इसके अलावा यह आपकी त्वचा की खोई हुई चमक लौटाने के साथ उसकी रंगत में निखार लाती है। नाइट क्रीम के इन अद्भुत फायदों की जानकरी प्राप्त करने के बाद उम्मीद है आप भी जल्द ही इसका इस्तेमाल शुरू कर देंगे! अगर आप नाइट क्रीम से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Dr. Pooja Bhardwaj


Mubasshera Usmani द्वारा लिखित · अपडेटेड 22/04/2021

advertisement iconadvertisement

Was this article helpful?

advertisement iconadvertisement
advertisement iconadvertisement