प्रदूषण से बचने के लिए आजमाएं यह हर्बल ‘मैजिक लंग टी’

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट October 1, 2020 . 3 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

दिल्ली में एयर क्वालिटी गंभीर स्तर पर पहुंच गई है और लोग इसके कारण स्वास्थ्य समस्याओं से जूझ रहे हैं। यहां कई लोगों को खांसी, छींक और गले में जलन आदि की परेशानी हो रही है। इसके साथ ही सर्द मौसम ने भी दस्तक दे दी है, जिसकी वजह से स्वास्थ्य से जुड़ी और परेशानियां बढ़ रही हैं। ऐसे में हर्बल टी लेने का यह बिल्कुल सही समय है, जो वायु प्रदूषण से होने वाले स्वास्थ्य संबंधी खतरे को कम कर सकता है और आपको दिमागी तौर पर शांत रख सकता है।

वायु प्रदूषण के खतरों और उससे होने वाली सांस संबंधी समस्याओं के असर से निपटने में मदद करने के प्रयास में, लाइफस्टाईल कोच Luke Coutinho ने अपने इंस्टाग्राम के माध्यम से एक हर्बल टी (Herbal Tea) की रेसिपी और उसके फायदे अपने फॉलोअर के साथ शेयर किए हैं। ल्यूक ने इसे ‘मैजिक लंग टी’ का नाम दिया है। 

यहां देखें पोस्ट

Luke Coutinho Magic Lung Tea - मैजिक लंग टी

और पढ़ें : Green Tea : ग्रीन टी क्या है ?

वायु प्रदूषण के दुष्प्रभाव को कम करने के लिए हर्बल टीः

अदरक, दालचीनी और अन्य हर्बल मसालों के साथ बनने वाली, यह हर्बल चाय खांसी, सर्दी, छींक और गले में जलन को कम कर सकती है। आप इसे सुबह जल्दी, दोपहर के खाने के साथ या शाम को ले सकते हैं।

 कैसे बनाएं यह हर्बल टी

सामाग्रीः

और पढ़ें : यूज्ड ग्रीन टी बैग से मिल सकते हैं ये 5 फायदे

विधिः

इस हर्बल चाय को बनाने के लिए आपको अदरक (छोटा टुकड़ा) चाहिए। इसकी जगह 1 चम्मच सूखे अदरक के पाउडर का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। फिर सीलोन दालचीनी(Ceylon cinnamon stick) या दालचीनी पाउडर (1/4 चम्मच) लें, बेसिल/तुलसी के पत्ते (1/2 चम्मच), सूखा या ताजा ऑरिगेनो(1 चम्मच), काली मिर्च(pepper corns) (3),  इलायची (2), सौंफ (1/4 चम्मच), अजवायन या कैरम बीज (एक छोटी चुटकी), जीरा (1/4 चम्मच)। इसके अलावा क्रश्ड लहसुन की 1-2 फली की जरूरत होगी।

सारी सामग्री इकट्ठी करने के बाद 2 कप पानी में सारी सामग्री को डाल लें। इस सामाग्री को उबाल कर आधा कर दें। सामग्री को छाने लें और इसके बाद बचने वाले पानी को हल्का ठंडा करके घूंट-घूंट कर पिएं। अपनी हर्बल चाय को मीठा करने के लिए इसमें गुड़ या शहद भी डाल सकते हैं।

वायु प्रदूषण के दुष्प्रभाव को रोकने के दूसरे प्रभावी तरीके:

1. खांसी को नियंत्रित करने के लिए एक पुराना और प्रभावी घरेलू उपाय है गुड़। गुड़ खाने से बहुत सी परेशानियां कम हो सकती हैं। यह न केवल खांसी को नियंत्रित करने में मदद करता है, बल्कि आपके फेफड़ों(Lungs) और रेस्पिरेट्री ट्रेक्ट(Respiratory Tract) से हानिकारक टॉक्सिन को निकालने में भी मदद कर सकता है।

2. अपने आहार में अदरक को अधिक शामिल करें। ऊपर बताई गई हर्बल चाय के अलावा आप अदरक, शहद और नींबू की चाय भी आजमा सकते हैं। आप कसा हुआ अदरक, नींबू का रस और शहद ले सकते हैं और इसे उबलते पानी में मिला सकते हैं। पानी उबालने के बाद इसको छान लें और गर्म-गर्म पीएं। यह आपकी खांसी, सर्दी और कंजेशन को नियंत्रित कर सकता है। अदरक में जिंजरॉल और दूसरे गुण होते हैं, जो एयरवे में सूजन को कम कर सकते हैं और एयरवे कॉन्ट्रेक्शन को रोक सकता हैं।

3. आप अपने आहार में लहसुन को भी शामिल कर सकते हैं क्योंकि यह आपकी इंम्यूनिटी को बढ़ाता है और इंफेक्शन से लड़ने में मदद करता है। लहसुन में एंटी इन्फेलेमेट्री गुण होते हैं जो अस्थमा के लक्षणों को कम कर सकता हैं।

4. नींबू, आंवला और संतरे जैसे खट्टे फल आपकी इम्यूनिटी को बढ़ा सकते हैं और वायु प्रदूषण के कारण होने वाले सांस संबंधी परेशानियो को कम कर सकते हैं। खट्टे फलों में विटामिन सी शरीर के इंम्यूनिटी सिस्टम के लिए फायदेमंद होता है।

5. तुलसी (basil) का रस या तुलसी की चाय एक और हर्बल चाय है, जो आप इस समय ले सकते हैं। यह आपको गर्म रख सकता है और वायु प्रदूषण के दुष्प्रभाव को कम कर सकता है।

6. हल्दी के बहुत से गुणकारी प्रभाव है। हल्दी की चाय का एक कप खांसी और ठंड के दौरान बहुत असरदार है। आपकी इम्यूनिटी को बढ़ाने से लेकर सूजन को कम करने तक, पारंपरिक हल्दी दूध, छींक, घरघराहट, खांसी, सर्दी और दमा से निपटने का अचूक उपाय है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

ओवेरियन कैंसर स्टेज 4 : क्या है इस गंभीर स्थिति से बचने का उपाय? 

ओवेरियन कैंसर स्टेज 4 (Stage 4 ovarian cancer) की स्थिति का कैसे होता है इलाज, जानिए ओवेरियन कैंसर से जुड़ी जानकारी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
ओवेरियन कैंसर, कैंसर March 2, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें

डेवलपमेंटल डिसऑर्डर क्या है? जानिए इसके कारण, प्रकार और उपचार के बारे में

डेवलपमेंटल डिसऑर्डर (Developmental Disorder) क्या है? डेवलपमेंटल डिसऑर्डर के प्रकार और कारण कौन से हैं, पाएं पूरी जानकारी विस्तार से

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया AnuSharma

कॉलेस्ट्रॉल का बढ़ना या घटना क्या शरीर के लिए होता है नुकसानदायक?

कॉलेस्ट्रॉल शरीर में अहम भूमिका निभाता है, लेकिन इसकी कम या अधिक मात्रा शरीर को नुकसान पहुंचा सकती है। cholesterol

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
कोलेस्ट्रॉल, हृदय स्वास्थ्य March 2, 2021 . 6 मिनट में पढ़ें

लाइट सिगरेट के नुकसान से वाकिफ हैं आप? यदि नहीं तो जरूर पढ़ें यह आर्टिकल

light cigarettes demerits : लाइट सिगरेट के नुकसान हैं या नहीं, रेगुलर सिगरेट की तुलना में यह कैसे है अलग, जानने के लिए पढ़ें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
फिटनेस, धूम्रपान छोड़ना March 2, 2021 . 6 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

प्रेगनेंसी के पहले तिमाही में इनसोम्निया की समस्या

के द्वारा लिखा गया Niharika Jaiswal
प्रकाशित हुआ March 3, 2021 . 6 मिनट में पढ़ें

स्यूडोफेकिया क्या है? कब पड़ती है इसकी जरूरत

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
प्रकाशित हुआ March 2, 2021 . 4 मिनट में पढ़ें
कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज, congenital heart disease

जन्मजात होती है कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज, इन बातों का रखें ध्यान

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ March 2, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
सिंगल किडनी के साथ लाइफस्टाइल (Living with one functioning kidney)

सिंगल किडनी के साथ लाइफस्टाइल कैसी होनी चाहिए? किन बातों का रखें ध्यान और कौन से एक्टिविटी से रहें दूर?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ March 2, 2021 . 4 मिनट में पढ़ें