home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

डायबिटीज में काजू : खाने के हैं अनगिनत फायदे!

डायबिटीज में काजू : खाने के हैं अनगिनत फायदे!

भारत में आमतौर पर मेवे यानी कि नट्स लोकप्रिय माने जाते हैं, जिन्हें लोग कच्चा, भूनकर या मसाले के साथ खाना पसंद करते हैं। साथ ही साथ इन मेवों को कई बार दवाइयों के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। आज हम एक ऐसे ही मेवे के बारे में बात करने जा रहे हैं, जिसका नाम है काजू। काजू (Cashew) का इस्तेमाल आपने मेहमान नवाजी के दौरान करते तो देखा होगा, लेकिन डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) के इस्तेमाल के बारे में आपने शायद ही सुना होगा। लेकिन हम आपको बता दें कि एक बेहतरीन खाद्य पदार्थ माना जाता है। डायबिटीज (Diabetes) की समस्या में काजू का सेवन आपको कई तरह से लाभ पहुंचा सकता है। लेकिन इसके बारे में जानने से पहले चलिए जानते हैं डायबिटीज से जुड़ी यह जरूरी बातें।

और पढ़ें : रिसर्च: हाई फाइबर फूड हार्ट डिसीज और डायबिटीज को करता है दूर

क्या है डायबिटीज (Diabetes) की समस्या?

डायबिटीज (Diabetes) उस समस्या को कहते हैं, जिसमें रोगी के शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है। डायबिटीज की समस्या में पैंक्रियाज इंसुलिन ठीक ढंग से पैदा नहीं कर पाती और इसलिए शरीर में इंसुलिन की कमी होती है। यही कारण है कि शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है और व्यक्ति डायबिटीज की समस्या से ग्रसित हो जाता है। मुख्यतः डायबिटीज के दो प्रकार माने गए हैं, टाइप वन डायबिटीज (Type 1 Diabetes) और टाइप टू डायबिटीज (Type 2 Diabetes)। टाइप वन डायबिटीज में शरीर के इम्यून सिस्टम पर असर पड़ता है और इंसुलिन का उत्पादन करने वाली कोशिकाएं नष्ट हो जाती है। वहीं टाइप टू डायबिटीज में शरीर पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन पैदा नहीं कर पाता और शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ने लगता है। हालांकि डायबिटीज का रोग एक आम रोग हो चला है। सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में इस रोग के शिकार ज्यादा से ज्यादा लोग हो रहे हैं। भारत में रोजाना डायबिटीज के मरीजों के आंकड़े बढ़ते जा रहे हैं, इसलिए हमारे देश में डायबिटीज (Diabetes) एक गंभीर और चिंताजनक विषय बन गया है। आइए अब जानते हैं डायबिटीज के लक्षण कौन से हैं।

और पढ़ें : जानें कैसे स्वेट सेंसर (Sweat Sensor) करेगा डायबिटीज की पहचान

क्या हो सकते हैं डायबिटीज के लक्षण? (Symptoms of Diabetes)

टाइप टाइप वन डायबिटीज के मुकाबले टाइप टू डायबिटीज (Type 2 Diabetes)के रोगियों में लक्षण धीरे-धीरे और कम दिखाई देते हैं। ऐसी स्थिति में आपको डायबिटीज से जुड़े इन लक्षणों पर ध्यान देना बेहद जरूरी माना जाता है –

  • बार-बार यूरिनेशन होना
  • बार-बार प्यास लगना
  • बहुत भूख लगना
  • अत्यधिक थकान
  • धुंधला दिखना
  • किसी चोट को ठीक होने में ज्यादा समय लगना
  • लगातार घटता वजन (टाइप1)
  • हाथ / पैर में झुनझुनी या दर्द (टाइप 2)

यदि आप ये लक्षण आमतौर पर खुद में देखते हैं, तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। डॉक्टर अलग-अलग टेस्ट के जरिए पता लगाएंगे कि आपको डायबिटीज (Diabetes) की समस्या है या नहीं। समय पर डायबिटीज का इलाज हो, तो इसे संतुलित किया जा सकता है। जैसा कि आपने जाना डायबिटीज किसी भी उम्र के व्यक्ति को अपना शिकार बना सकती है, इसीलिए डायबिटीज की समस्या में खानपान का उचित ध्यान रखना जरूरी है। आज हम बात कर रहे हैं डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) के सेवन की। आइए जानते हैं डायबिटीज में काजू का सेवन किस तरह फायदेमंद साबित होता है।

डायबिटीज में काजू का सेवन क्यों है जरूरी? (Cashew nut for diabetes)

डायबिटीज में काजू का सेवन आपके लिए कई तरह के फायदे लेकर आता है, यह खाने में ना सिर्फ अच्छा होता है बल्कि स्वाद में भी बेहतर होता है। डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) का सेवन न सिर्फ़ ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखता है, बल्कि आपके बॉडी के हेल्दी लेवल को भी बनाए रखता है। साथ ही साथ यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है, जिससे आपके शरीर को एक नहीं बल्कि कई फायदे होते हैं। खास तौर पर टाइप टू डायबिटीज (Diabetes) की समस्या में काजू आपको भरपूर फायदा दे सकता है। आइए जानते हैं कैसे।

डायबिटीज में काजू के सेवन से होते हैं ये फायदे! (Benefits of Cashew nut for diabetes)

डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes)

डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) के सेवन से आपको कई फायदे मिल सकते हैं। इसमें भरपूर मात्रा में हेल्दी प्रोटीन और फैट पाए जाते हैं, जो शरीर में ब्लड शुगर लेवल को बढ़ने से रोकते हैं। साथ ही साथ यह शरीर को कई न्यूट्रीएंट्स भी प्रदान करता है। इसके अलावा डायबिटीज में काजू के सेवन से हार्ट की समस्याओं में भी आराम मिलता है। यदि आपको डायबिटीज (Diabetes) के साथ-साथ हार्ट संबंधी समस्याएं हैं, तो काजू (Cashew) का सेवन आपके लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। यह शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल (Good cholesterol) को बढ़ाकर बैड कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करता है और ब्लड प्रेशर को सामान्य बनाए रखता है।

और पढ़ें : Diabetes insipidus : डायबिटीज इंसिपिडस क्या है ?

डायबिटीज में काजू और इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Cashew and GI)

यदि बात करें काजू के ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Glycemic index) की, तो डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) का सेवन बेहतर माना जाता है। काजू का ग्लाइसेमिक इंडेक्स 25 माना जाता है, जो डायबिटिक फूड मार्जिन के अनुसार सेफ फूड की कैटेगरी में आता है। मार्केट में आपको कई तरह के काजू के प्रकार मिल सकते हैं, जिनमें से कुछ सॉल्टेड और मसालेदार होते हैं। यदि आप हार्ट पेशेंट हैं और आपको ब्लड प्रेशर से जुड़ी समस्याएं हैं, तो आपको सादे काजू खाने की जरूरत होगी। लेकिन कहते हैं न कि किसी भी खाद्य पदार्थ की अति सही नहीं होती, इसलिए आपको एक सीमित मात्रा में हर खाद्य पदार्थ का सेवन करना चाहिए। इसी के अंतर्गत डायबिटीज में काजू (Cashew) का सेवन आपको सीमित मात्रा में करना जरूरी होता है।

डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) : सीमित मात्रा में खाना है जरूरी

यदि आप इसे सीमित मात्रा में खाते हैं, तो इसके सभी न्युट्रिश्नल बेनिफिट्स आप को मिलते हैं। डायबिटीज में काजू का सेवन दिन में ज्यादा से ज्यादा 10 काजू (Cashew) खाकर किया जा सकता है। इससे अधिक मात्रा का सेवन करने से आपको नुकसान हो सकता है।

डायबिटीज (Diabetes) में फैट का भी आपको खास ख्याल रखने की जरूरत पड़ती है, इसलिए डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) का सेवन करने से पहले आपको फैट की मात्रा का ध्यान रखना चाहिए। ज्यादा मात्रा में काजू का सेवन करने से आपको आपके शरीर में फैट की मात्रा बढ़ सकती है। इसलिए डॉक्टर की सलाह के बाद आपकी जरूरत के अनुसार इस की सही मात्रा तय करना चाहिए। आइए अब जानते हैं डायबिटीज में काजू (Cashew) के सेवन से आपको और क्या-क्या फायदे हो सकते हैं।

काजू के अन्य फायदे (Other benefits of Cashew)

डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) के सेवन से आपका ब्लड शुगर लेवल तो सामान्य बना ही रहता है, लेकिन इसके अलावा आपको और भी कई फायदे मिलते हैं। जो इस प्रकार हैं –

काजू आपके शरीर के लिए इंस्टेंट एनर्जी बूस्टर का काम करता है। काजू (Cashew) खाने से आपको तुरंत एनर्जी महसूस होती है, इसलिए एक्सरसाइज के बाद स्नैक्स के रूप में आपको काजू खाने की सलाह दी जाती है। इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट, फायटोकेमिकल (Antioxidants, Phytochemicals) और अलग-अलग पोषक तत्व होते हैं, जो आपकी इम्यूनिटी को बेहतर बनाते हैं। काजू में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है, जो आपके बॉडी के नर्वस सिस्टम को मेंटेन रखने में मदद करता है। साथ ही साथ यह शरीर के रोजाना के कामकाज में भी मदद करता है।

डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) के सेवन से आपके शरीर के मेटाबॉलिज्म और गट हेल्थ को फायदा पहुंचता है। जिसका असर आपके ब्लड शुगर लेवल को मेंटेन रखने के लिए मिलता है। साथ ही ये डायबिटीज (Diabetes) से जुड़ी अन्य कॉम्प्लिकेशन को बढ़ने नहीं देता। इसके अलावा डायबिटीज में काजू के रोजाना सेवन से आपको इंफेक्शन, कॉन्स्टिपेशन, पेट दर्द (Infection, constipation, abdominal pain) जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

जैसा कि हम पहले बता चुके हैं डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) के सेवन से आपके दिल को फायदा पहुंचता है। काजू में भरपूर मात्रा में एचडीएल (HDL) यानी गुड कोलेस्ट्रॉल होता है, जो आपके हार्ट को स्वस्थ बनाए रखता है और दूसरी कार्डियोवैस्कुलर डिजीज (Cardiovascular disease) में भी फायदा पहुंचाता है। यह आपके शरीर के कोलेस्ट्रॉल को मैनेज करता है और ब्लड प्रेशर को सामान्य बनाए रखता है। यह तो थे डायबिटीज में काजू खाने के फायदे। लेकिन अब बात करते हैं डायबिटीज में काजू (Cashew) के नुकसान की। डायबिटीज में काजू के सेवन से आपको कई फायदे होते हैं, लेकिन यदि इसे सीमित मात्रा में ना लिया जाए, तो यह आपके लिए मुसीबतें पैदा कर सकता है। आइए जानते हैं काजू के कौन-कौन से नुकसान आपको हो सकते हैं।

डायबिटीज में काजू : हो सकते हैं ये नुकसान (Cashew nut for diabetes)

डायबिटीज में काजू (Cashew) की सीमित मात्रा यदि ना लिया जाए, तो इससे आपको पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। इसमें ब्लोटिंग, कॉन्स्टिपेशन और अचानक वजन बढ़ने जैसी समस्याओं का सामना आपको करना पड़ सकता है।

काजू में भरपूर मात्रा में ऑक्सलेट होता है, जिसके कारण आपकी किडनी पर सीधा असर होता है। इसलिए डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) का सेवन यदि सीमित मात्रा में ना किया जाए, तो आपको किडनी से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

और पढ़ें: डायबिटीज के कारण होने वाले रोग फोरनिजर्स गैंग्रीन के लक्षण और घरेलू उपाय

यदि आपको नट्स से एलर्जी है, तो आपको डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) का सेवन सोच समझ कर करना चाहिए। यदि आप चाहें तो डॉक्टर की सलाह के बाद एक सीमित मात्रा में इसका सेवन कर सकते हैं। नहीं तो आपके शरीर को कई स्वास्थ्य समस्याओं की चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। मार्केट में कई तरह के काजू मिलते हैं, जिसमें कुछ मीठी परत और नमकीन परत के साथ आते हैं। ऐसे काजू का सेवन यदि आप करते हैं, तो इसका सीधा असर आपके ब्लड शुगर लेवल पर पड़ सकता है और काजू (Cashew) के फायदों की जगह आपको नुकसान उठाने पड़ सकते हैं।

डायबिटीज में काजू (Cashew) का सेवन करना आपके लिए फायदेमंद माना जाता है, लेकिन यदि आप इसे सीमित मात्रा में नहीं खाते, तो यह आपके लिए नुकसानदेह बन सकता है। इसलिए हमेशा डॉक्टर की सलाह के बाद एक सीमित मात्रा तय करके ही डायबिटीज में काजू (Cashew nut for diabetes) का सेवन करना चाहिए। जिससे आपके शरीर को पोषक तत्वों के साथ-साथ अन्य फायदे मिल सके और आप नुकसान से दूर रह सकें।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Effects of Daily Consumption of Cashews on Oxidative Stress and Atherogenic Indices in Patients with Type 2 Diabetes: A Randomized, Controlled-Feeding Trial/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6408729/Accessed on 19 Aug 2021

Cashew Nut Consumption Increases HDL Cholesterol and Reduces Systolic Blood Pressure in Asian Indians with Type 2 Diabetes: A 12-Week Randomized Controlled Trial/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/29378038/Accessed on 19 Aug 2021

A Diet Tip for People With Type 2 Diabetes: Eat More Nuts/https://health.clevelandclinic.org/a-diet-tip-for-people-with-type-2-diabetes-eat-more-nuts/Accessed on 19 Aug 2021

Can My Child with Diabetes Eat Nuts?/https://www.eatright.org/health/diseases-and-conditions/diabetes/can-my-child-with-diabetes-eat-nuts/Accessed on 19 Aug 2021

A good guide to good carbs: The glycemic index/https://www.health.harvard.edu/healthbeat/a-good-guide-to-good-carbs-the-glycemic-index#:~:text=Low%20glycemic%20index%20(GI%20of,of%20Wheat%20and%20Mini%20Wheats/Accessed on 19 Aug 2021

लेखक की तस्वीर badge
Toshini Rathod द्वारा लिखित आखिरी अपडेट अभी को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x