home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Flour For Diabetes: डायबिटीज में कौन सा आटा है लाभकारी?

Flour For Diabetes: डायबिटीज में कौन सा आटा है लाभकारी?

ब्लड शुगर लेवल (Sugar level) इम्बैलेंस होने की समस्या शुरू हुई नहीं कि अन्य शारीरिक तकलीफों का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए आज इस आर्टिकल में डायबिटीज पेशेंट के लिए डायट से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आये हैं। डायबिटीज (Diabetes) में डायट से जुड़ी आज की यह आर्टिकल आपके लिए काफी लाभकारी हो सकती है, क्योंकि डायबिटीज के लिए आटा (Flour for diabetics) कौन-कौन लाभकारी है यह जानेंगे। लेकिन डायबिटीज की समस्या क्या है यह सबसे पहले समझेंगे।

डायबिटीज (Diabetes) क्या है?

डायबिटीज के लिए आटा (Flour for diabetics)

डायबिटीज (Diabetes) एक ऐसी स्थिति है, जिसमें शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है। डायबिटीज दो अलग-अलग तरह के होते हैं। टाइप 1 डायबिटीज में पेशेंट की रोग प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune system) कमजोर पड़ने लगती है और इंसुलिन (Insulin) का उत्पादन करने वाली कोशिकाओं को नष्ट कर देता है। ज्यादातर लोग डायबिटीज के इस प्रकार से प्रभावित होते हैं। वहीं टाइप 2 डायबिटीज में शरीर पर्याप्त इंसुलिन का उत्पादन नहीं कर पाता है या शरीर की कोशिकाएं इंसुलिन के साथ कोई रिएक्शन नहीं देती हैं। हाय ब्लड शुगर वाले मरीजों को आमतौर पर बार-बार टॉयलेट जाने की जरूरत महसूस होती है और उन्हें जल्दी-जल्दी भूख और प्यास लगती है। डायबिटीज के लक्षणों को समझेंगे, लेकिन उससे पहले डायबिटीज के लिए आटा कौन-कौन सा हेल्दी है यह जान लेते हैं।

और पढ़ें : Huminsulin N: जानिए डायबिटीज पेशेंट के लिए ह्युमिनसुलिन एन के फायदे और नुकसान

डायबिटीज के लिए आटा: कौन-कौन से आटे का करें सेवन?

डायबिटीज के लिए आटा (Flour for diabetics)

डायबिटीज पेशेंट्स के लिए निम्नलिखित आटे का सेवन करना लाभकारी माना जाता है। जैसे:

डायबिटीज के लिए आटा: बादाम का आटा (Almond flour)

नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार बादाम का आटा डायबिटीज पेशेंट्स के लिए लाभकारी माना जाता है। दरअसल बादाम के आटे में हाई प्रोटीन (High protein), लो कार्ब (Low carb), फाइबर (Fiber) एवं हेल्दी फैट्स (Healthy fats) मौजूद होते हैं। इसलिए डायबिटीज के लिए आटे की लिस्ट में बादाम का आटा शामिल किया गया है।

कैसे करें सेवन?

जिस तरह से गेंहू की रोटी बनाई जाती है, ठीक वैसे ही बादाम के आटे की भी रोटी बनाकर खाई जा सकती है।

डायबिटीज के लिए आटा: नारियल का आटा (Coconut flour)

डायबिटीज पेशेंट्स के लिए नारियल का आटा भी बेहद लाभकारी माना जाता है। यूएस डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर (U.S. Department of Agriculture) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार नारियल के आटे में लो कार्ब और हाई फाइबर की मौजूदगी डायबिटीज के मरीजों के लिए लाभकारी होते हैं। वहीं नारियल में मौजूद नैचुरल शुगर नारियल के आटे से बनी रोटी या अन्य डिश का स्वाद और ज्यादा बढ़ जाता है। इसलिए डायबिटीज के लिए आटा अगर आप तलाश रहें हैं, तो सूखे नारियल का आटा आपके लिए बेहतर विकल्प हो सकता है।

कैसे करें सेवन?

सूखे नारियल के आटे से रोटी बनाई जा सकती है या फिर कुकीज भी बनाई जा सकती है।

डायबिटीज के लिए आटा: कुट्टू का आटा (Kuttu flour)

डायबिटीज के मरीजों के लिए कुट्टू का आटा लाभकारी माना जाता है। कुट्टू के आटे के सेवन से ब्‍लड शुगर लेवल बैलेंस रहता है। सिर्फ इतना ही नहीं कुट्टू के आटे के सेवन से वजन संतुलित रहता है और हार्ट भी हेल्दी होता है।

कैसे करें सेवन?

कुट्टू के आटे की रोटी या हलवे का सेवन किया जा सकता है।

डायबिटीज के लिए आटा: जौ का आटा (Barley flour)

जौ का आटा सेहत के लिए अत्यधिक लाभकारी माना जाता है। इसके सेवन से ब्लड शुगर लेवल बैलेंस रहता है। वहीं मेटाबॉलिज्‍म को भी बेहतर बनाने में मदद मिलती है। दरअसल जौ में मौजूद फाइबर की मात्रा डायबिटीज पेशेंट के लिए लाभकारी होती है।

कैसे करें सेवन?

जौ के आटे से पराठे, ओट्स या दलिया बनाई जा सकती है।

डायबिटीज के लिए आटा: बेसन का आटा (Chickpea flour)

नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसारनैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार बेसन के आटे में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती है, जो बॉडी में इन्सुलिन लेवल को बैलेंस बनाये रखने में मददगार माना जाता है। इसलिए डायबिटीज पेशेंट बेसन के आटे का सेवन कर सकते हैं।

कैसे करें सेवन?

बेसन का चीला या पराठा या गेहूं के आटें में मिक्स कर रोटी बनाई जा सकती है।

इन अलग-अलग आटो का सेवन किया जा सकता है, लेकिन इनका सेवन भी संतुलित मात्रा में करना आवश्यक माना जाता है। डायबिटीज की समस्या होने पर इसे इग्नोर ना करें और लक्षणों को समझें।

और पढ़ें : कहीं बढ़ता ब्लड शुगर लेवल हायपरग्लायसेमिक हायपरोस्मोलर सिंड्रोम का कारण ना बन जाए?

डायबिटीज के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Diabetes)

डायबिटीज के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

  • बार-बार टॉयलेट (Toilet) जाना
  • जरूरत से ज्यादा प्यास लगना।
  • हमेशा भूखा महूसस होना।
  • थकावट महसूस होना।
  • किसी भी काम पर ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होना।
  • वजन कम (Weight lose) होना या जरूरत से ज्यादा बढ़ना (Weight gain)।

अगर आपको ऐसे लक्षण महसूस हों, तो डॉक्टर से कंसल्ट करें और डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह का पालन करें। इस दौरान औषधीय गुणों से भरपूर पनीर के फूल का भी सेवन किया जा सकता हैं। ठीक तरह से ही सेवन करने से पनीर डोडा के फायदे मिल सकते हैं।

और पढ़ें : कहीं बढ़ता ब्लड शुगर लेवल हायपरग्लायसेमिक हायपरोस्मोलर सिंड्रोम का कारण ना बन जाए?

ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने के लिए क्या करें?

ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने के लिए पनीर डोडा का सेवन करें और साथ ही निम्नलिखित टिप्स भी फॉलो करें। जैसे:

  • शरीर का वजन (Weight) संतुलित रखें।
  • मीठे (Sweets) के सेवन से दूरी बनायें।
  • नियमित आधे घंटे टहलें (Walk) या योग (Yoga) या एक्सरसाइज (Workout) करें।
  • ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) समय-समय पर चेक करें।
  • तनाव (Tension) से दूर रहें।
  • तेल-मसाले या प्रोसेस्ड फूड (Processed food) का सेवन ना करें।
  • डायबिटीज की दवाओं (Diabetes medicine) का सेवन समय पर करें।
  • इन्सुलिन इंजेक्शन (Insulin injection) समय पर लें।
  • शुगर लेवल बढ़ाने वाले फलों (Fruits) का सेवन न करें।
  • 7 से 9 घंटे की नींद रोजाना लें।

इन बातों को ध्यान में रखकर ब्लड शुगर लेवल (Blood sugar level) को बैलेंस रखने में मदद मिल सकती है।

और पढ़ें : फास्टिंग के दौरान डायबिटीज के मरीज रखें इन बातों का रखें ध्यान

स्वस्थ रहने के लिए अपने दिनचर्या में योगासन शामिल करें। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर योग करने का सही तरीका और नियमित योग करने के फायदे जानिए।

और पढ़ें : डायबिटीज में वेलवेट बीन्स का सेवन हो सकता है लाभकारी, लेकिन डॉक्टर से सलाह के बाद

अगर आप डायबिटीज (Diabetes) से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते हैं। हमारे हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे। हालांकि अगर आप डायबिटीज की समस्या से पीड़ित हैं, तो डॉक्टर से कंसल्टेशन करें, क्योंकि ऐसी स्थिति में डॉक्टर आपके हेल्थ कंडिशन (Health condition) को ध्यान में रखकर डायबिटीज के लिए आटा (Flour for diabetics) कौन सा बेहतर है इसकी सलाह देंगे। डॉक्टर द्वारा दिए गए सुझाव को पालन करने से विशेष लाभ मिलता है।

डायबिटीज से पीड़ित लोगों को अपने आहार का विशेष ख्याल रखना चाहिए। नीचे दिए इस क्विज को खेलिए और जानिए डायबिटीज और डायट (Diabetes and diet) से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी।

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id=”typef_orm”, b=”https://embed.typeform.com/”; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,”script”); js.id=id; js.src=b+”embed.js”; q=gt.call(d,”script”)[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()

powered by Typeform
health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

When you’re managing diabetes and prediabetes, your eating plan is a powerful tool./https://www.diabetes.org/healthy-living/recipes-nutrition/Accessed on 16/08/2021

Whole-Grain Processing and Glycemic Control in Type 2 Diabetes: A Randomized Crossover Trial/https://care.diabetesjournals.org/content/43/8/1717/Accessed on 16/08/2021

Diabetes Diet, Eating, & Physical Activity/https://www.niddk.nih.gov/health-information/diabetes/overview/diet-eating-physical-activity/Accessed on 16/08/2021

Diabetes Meal Planning/https://www.cdc.gov/diabetes/managing/eat-well/meal-plan-method.html/Accessed on 16/08/2021

What is Diabetes?/https://www.cdc.gov/diabetes/basics/diabetes.html/Accessed on 20/09/2021

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ दिन पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x