आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

जिम जाने के बाद क्या होते हैं स्टीम बाथ के फायदे?

जिम जाने के बाद क्या होते हैं स्टीम बाथ के फायदे?

और पढ़ें : स्किन पॉलिशिंग के बारे में क्या नहीं जानते आप? इससे ऐसे त्वचा निखारें

जिम और स्टीम बाथ के फायदे: स्ट्रेस हो जाएगा छूमंतर

जिम और स्टीम बाथ के फायदे-benefits of a steam bath

आपने अक्सर महसूस किया होगा कि जिम से आने के बाद थकान महसूस होती है। साथ ही कुछ ऐसा करने का मन करता है कि फील गुड वाली फीलिंग आ जाए। अगर आपको ऐसी फीलिंग चाहिए तो वर्कआउट के बाद स्टीम बाथ आप ले सकते हैं। स्टीम बाथ लेने से स्ट्रेस कम हो जाता है। स्टीम बाथ के दौरान बॉडी से एंडोर्फिन हॉर्मोन रिलीज होता है, जो फील गुड हॉर्मोन भी कहलाता है। स्टीम बाथ लेने के दौरान कॉर्टिसोल का लेवल भी कम हो जाता है, जिससे स्ट्रेस अपने आप ही कम हो जाता है। स्टीम बाथ लेने से वेट कंट्रोल बैलेंस रहने के साथ-साथ रिलेक्स और ताजगी का भी एहसास होता है। स्टीम बाथ के फायदे में ये महत्वपूर्ण फायदा है।

जिम और स्टीम बाथ के फायदे: साइनस से छुटकारा

जिम और स्टीम बाथ के फायदे-benefits of a steam bath

मान लीजिए कि आपकी नाक बंद हो और आप वर्कआउट कर रहे हों। ऐसे में तेजी से ब्रीदिंग करनी पड़ती है और बंद नाक परेशानी का कारण भी बन जाती है। अगर आपको साइनस की समस्या है, तो भी आप वर्कआउट के बाद स्टीम बाथ ले सकते हैं। स्टीम रूम में कुछ समय तक बैठने से म्युकस मेंबरेन आसानी से खुल जाती है। ऐसा करने से सांस लेने में आसानी हो जाती है। कोल्ड, अनब्लॉक साइनस में स्टीम बाथ लेने से फायदा पहुंचता है।

और पढ़ें : साइनस को दूर करने वाले सूर्यभेदन प्राणायाम को कैसे किया जाता है, क्या हैं इसके लाभ, जानिए

स्टीम बाथ के बाद लें मसाज

जिम और स्टीम बाथ के फायदे-benefits of a steam bath

स्टीम बाथ से ही बॉडी को रिलेक्स महसूस होने लगता है। अगर स्टीम बाथ के बाद बॉडी मसाज लिया जाता है, तो यह और भी बेहतर होगा। मसाज लेने से भी मसल्स को रिलेक्स फील होगा। ये जरूरी नहीं है कि आप रोजाना मसाज लें। हफ्ते में दो से तीन बार भी मसाज ली जा सकती है। इससे बॉडी को रिलेक्श करने का पर्याप्त समय मिल जाता है। आप चाहें तो कुछ दिनों तक वर्कआउट के बाद स्टीम बाथ लें कर देख सकते हैं। कुछ समय बाद आपको खुद ही फर्क महसूस होने लगेगा।

जिस तरह से हमसभी अपने लाइफ के कुछ रूल्स बनाते हैं या जिम रूल्स को ही फॉलो करते हैं, ठीक वैसे ही स्टीम रूल्स के भी रूल्स यानि नियम होते हैं, जो इस प्रकार हैं:

रूल 1: बैलेंस डायट फॉलो करें या थोड़ा कम खाएं

आप जिस वक्त स्टीम बाथ लेने जाते हैं, उससे 1 या 2 घटें पहले ज्यादा खाना न खाएं। दरअसल स्टीम लेने के दौरान ब्लड सर्क्युलेशन में बदलाव आता है, जिससे खाना डायजेस्ट होने में दिक्कत हो सकती है। पेट दर्द या पेट में ऐंठन की समस्या भी बनी रहती है।

रूल 2: कॉन्टैक्ट लेंस और ज्वेलरी न पहनें

स्टीम रूम में जाने के दौरान किसी भी तरह की ज्वेलरी न पहनें क्योंकि मेटल आपके बॉडी की हीट से गर्म हो सकती है, जिससे स्किन जलने का खतरा बना रहता है। कई बार ऐसा भी होता है कि स्टीम की वजह स्किन थोड़ी से सूज या फूल जाती है। ऐसी स्थिति में आपकी ज्वेलरी आपको टाइट हो सकती है। इसलिए ज्वेलरी अवॉयड करें। अगर आप कॉन्टैक्ट लेंस भी लगाती हैं या लगाते हैं, तो उसे भी निकाल कर स्टीम रूम में जाएं, क्योंकि हीट का कॉन्टैक्ट लेंस पर भी नेगेटिव इम्पैक्ट पड़ता है।

रूल 3: अपना टॉवेल साथ लाएं

जिस तरह से आप जिम में अपने साथ टॉवेल लेकर जाते हैं या जिम किट में टॉवेल रखते हैं ठीक वैसे ही स्टीम रूम में भी जाने के पहले अपने साथ टॉवेल जरूर लेकर जाएं। बेहतर होगा अगर आप बड़े से टॉवेल से अपने आपको कवर कर के जाएं।

रूल 4: शॉवर लें

स्टीम में सीधे एंट्री लेने से पहले थोड़ी देर कम से कम 10 मिनट तक अपने आपको रिलैक्स करें और फिर स्टीम रूम में जाएं। स्टीम लेने के बाद पानी से शॉवर लें। हालांकि यह ध्यान रखें की स्टीम लेने के तुरंत बाद स्नान न करें। पहले बॉडी टेम्प्रेचर को नॉर्मल होने दें।

और पढ़ें : जानें क्यों रोज नहाना है जरूरी, नहीं नहाएंगे तो क्या होगा?

रूल 5: पानी पीएं

स्टीम रूम रूल्स ये भी कहते हैं कि आप जब स्टीम रूम में जाएं, तो उससे पहले पानी जरूर पीयें और स्टीम लेने के बाद यानि स्टीम रूम से निकलने के बाद भी पानी पीने की आदत डालें। ऐसा इसलिए करना चाहिए क्योंकि स्टीम लेने की वजह से पसीना ज्यादा आता है, जिससे शरीर में पानी की कमी हो सकती है और आपको डिहाइड्रेशन के साथ-साथ कई अन्य परेशानी भी शुरू हो सकती है। ध्यान रखें एल्कोहॉल के सेवन के बाद या किसी ऐसी दवा के सेवन के बाद स्टीम रूम न जाएं अगर उन दवाओं के सेवन के बाद आपको गर्मी महसूस हो।

रूल 6: खुशबूवाला तेल या परफ्यूम न लगाकर

स्टीम रूम में जाने के पहले किसी भी तरह के खुशबू वाले तेल या परफ्यूम का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, क्योंकि वहां मौजूद अन्य लोगों को सांस लेने में परेशानी महसूस हो सकती है। सिर्फ अपनी ही नहीं बल्कि अन्य लोगों के भी स्वास्थ्य का ख्याल रखें।

रूल 7: ज्यादा देर तक स्टीम न लें

हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार 10 या 15 मिनट से ज्यादा स्टीम नहीं लेना चाहिए। वहीं अगर स्टीम लेने के दौरान अगर आपको चक्कर, उल्टी, ब्रीदिंग प्रॉब्लम या कोई अन्य प्रॉब्लम महसूस होती है, तो स्टीम रूम से बाहर आ जाएं।

रूल 8: बीमार हैं! तो स्टीम रूम न जाएं

अगर आपको अस्थमा, ब्लड प्रेशर या हार्ट डिजीज की परेशानी होती है, तो स्टीम लेने से पहले अपने डॉक्टर से कंसल्ट करें। वहीं रिसर्च के अनुसार गर्भवती महिलाओं को स्टीम नहीं लेना चाहिए। यहां तक की अगर आपको बुखार भी है, तो स्टीम न लें।

रूल 9: एक्स्ट्रा कपड़े करें कैरी

अगर आप जिम के बाद स्टीम लेते हैं, तो स्टीम लेने के बाद और स्नान करने बाद जिम आउटफिट्स न पहनें, क्योंकि इनमें पसीना होता है।

ऑर्गेनिक ब्यूटी प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से पहले नीचे दिए इस वीडियो को जरूर देखें:

अगर आप जिम और स्टीम बाथ के फायदे से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

BENEFITS OF STEAM ROOMS/https://www.spalux.org/blog/benefits-of-steam-rooms/Accessed on 11/12/2020

Turkish bath benefits/https://www.turkishbaths.org/turkish-bath-benefits/Accessed on 11/12/2020

Sauna or steam room/https://www.manchester.gov.uk/directory/47/leisure_centres/category/326/Accessed on 11/12/2020

Steam Sterilization/https://www.cdc.gov/infectioncontrol/guidelines/disinfection/sterilization/steam.html/Accessed on 11/12/2020

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/12/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड