home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

तलाक नई जिंदगी की शुरुआत है, इस तरह संभालें खुद को

तलाक नई जिंदगी की शुरुआत है, इस तरह संभालें खुद को

तलाक न सिर्फ महिला, बल्कि पुरुष के मानसिक स्तर को भी प्रभावित कर सकता है। यह कुछ लोगों के लिए एक नया जीवन हो सकता है, तो कुछ लोगों की आत्मा को भी तोड़ सकता है। आखिर ऐसा क्यों? एक जैसे हालात पर लोगों की अलग-अलग भावनाएं कैसे हो सकती हैं? तलाक के बाद किस तरह के फैसला लें? इसके बारे में कोई फैसला लेना या विचार करना सबसे बड़ी मुश्किल हो सकती है।

तलाक के बाद खुद को कैसं संभालें? यह कई सवाल कई लोगों के मन मन में होता है। कुछ लोग तलाक के बाद खुद को इतना अकेला कर लेते हैं और इतनी नीरस जिंदगी जीते हैं जैसे कि वो खुद को इसका गुनेहगार मान रहे हों। उन्हें लगता है कि जो कुछ हुआ इसमें उनकी ही गलती है, जिसकी सजा वो खुद को इसी तरह देते हैं, जो कि सही नहीं है। हालांकि, कुछ लोग यह भी जानना चाहते हैं कि तलाक के बाद खुद को कैसे संभालें। अगर आप इस सवाल के जवाब के लिए जगह-जगह भटक रहें हैं, तो हैलो स्वास्थ्य आपकी मानसिक स्थिति को संतुलित करने में आपकी मदद कर सकता है। कुछ बातों का ध्यान रखकर आप बहुत ही जल्द तलाक के गम से खुद को उबार सकते हैं। साथ ही जरूरत पड़ने पर आप किसी अच्छे रिलेशनशिप एक्सपर्ट की मदद भी लें सकते हैं।

तलाक के गम से बाहर निकलने के लिए क्या करें?

सबसे पहले तो आपको इस बात को मन से निकालना होगा कि जो हुआ है उसमें आपकी गलती है। ध्यान रहे कि तलाक के बाद आपकी नई जिंदगी आपका इंतजार कर रही होती है, तो ऐसे में आप खुद को मौका दें और अपनी नई जिंदगी को स्वीकार के खुश रहना सीखें। तलाक से बाद खुद को संभालने के कई रास्तों का विकल्प आपके सामने होता है। बस जरूरी है कि मौका रहते उनमें से अपने लिए सही रास्ते का चुनाव करें, ताकि आप जीवन के बाकी फैसले ले सकें और खुश हो सकें।

1.जी भर कर रोएं

लोगों को लग सकता है कि रोने वाला इंसान बहुत कमजोर होता है लेकिन, ऐसा सोचना गलता होता है। दरअसल, अगर आप एक बार में ही खुलकर रो लेंगे, तो आपके मन में तलाक के दर्द का अहसास कम होगा। लेकिन, लोगों को दिखाने के लिए कि आप मजबूत हैं और इस गम को सह सकते हैं, तो ऐसा न करें। जी भर कर रोने से आप खुद को मजबूत बना सकते हैं। आपको अगर दिल भरा हुआ लग रहा है, तो एक बार खुल कर रो लें, लेकिन इसके बाद प्रण लें कि अब आप उदास नहीं होंगे और अपनी जिंदगी में खुद को आगे बढ़ाएंगे।

और पढ़ें : कैसे जानें आपकी गर्लफ्रेंड/बॉयफ्रेंड ही है आपका सही लाइफ पार्टनर

2.खुद को कोसना बंद करें

आपका तलाक हुआ, लेकिन उसके लिए खुद को कोसना बंद करें। तलाक होने के लिए खुद को गुनेहगार न मानें। यह ध्यान में रखें कि ताली कभी भी एक हाथ से नहीं बजती है। इसलिए, आपके इस असफल रिश्ते का कारण सिर्फ आप अकेले नहीं हो सकते हैं। अगर तलाक की वजह खुद को मानते हैं, तो ऐसा करना बंद करें। जो बीत गया उसे बदला नहीं जा सकता है। इसलिए, भविष्य के बारे में सोचें।

3.खुद से प्यार करना सीखें

आप किसी का प्यार तभी पा सकते हैं, जब खुद से प्यार करेंगे, क्योंकि, हर कोई अपने जीवन में एक हंसते हुए चेहरे को देखना ज्यादा पसंद करता है। तलाक के बाद अगर लगता है कि जिंदगी रुक गई है या भविष्य के योजनाओं के लिए कुछ नहीं बचा है, तो इस भावना से बाहर निकलें। जो हुआ उस सच को अपनाएं। जब करना सीख जाएंगे, तो किसी और की कमी का एहसास कम हो सकता है। आप चाहें तो कोई नया हेयर कट या ड्रेसिंग में भी बदलाव कर सकते हैं। इससे आपको अच्छा महसूस होगा।

और पढ़ें : लिव इन रिलेशनशिप के फायदे और नुकसान

4.खुद को तलाशें

किसी भी रिश्ते में जाने के बाद कोई भी खुद को पूरी तरह से भूल सकता है। किसी रिश्ते के टूटने को कभी भी नेगेटिव नजिरए से न देखें। इसे एक नए मौके के रूप में भी देख सकते हैं। अगर पिछले रिश्ते में खुद को कहीं खो चुके थे, उसके बारे में विचार करें। खुद के व्यक्तित्व को ढूंढें और अपने फैसले पर अमल करें। इस कदम से न सिर्फ आत्मविश्वास बढ़ेगा, बल्कि एक नए सुखद जीवन को पूरी तरह से सफल भी बना सकते हैं।

5.दोस्तों से नजदीकी बनाएं

तलाक के बाद खुद को अकेला महसूस कर सकते हैं। लेकिन, एक बार अपने आसपास गौर से देखें। ऐसे कई दोस्त हो सकते हैं, जिन्हें आपकी सच में फिक्र हो सकती है। उन्हें पहचानें और उनसे अपना गम बाटें। उनके साथ घूमने के लिए जाएं, डिनर या लंच की योजना बनाएं। किसी लॉन्ग ट्रिप या मूवी का भी प्लान कर सकते हैं।

6.टू डू लिस्ट बनाएं

आप अपने तलाक को पॉजिटिव लें और ये सोचें कि तलाक के बाद आपको अपने लिए कितना समय मिलेगा। जाहिर सी बात है कि आपने शादी के लिए अपने कुछ ऐसे सपनों को अधूरा ही छोड़ दिया होगा, जिसे आप करना चाहते थे। तो अब अपने सपनों को पूरा करने का मौका आ गया है। तलाक के बाद हर दिन कुछ नया करें। वो काम, जिन्हें रिश्ते में आने के बाद अधूरा छोड़ दिया था, उसे पूरा करें। इसके लिए एक लिस्ट बनाएं। इनमें उन सब बातों को लिखें जिसे पूरा करना चाहते हैं।

और पढ़ें : रिलेशनशिप टिप्स : हर रिलेशनशिप में इंटिमेसी होनी क्यों जरूरी है?

7.कुछ नया सीखें

अकेले रहना किसी के लिए भी तनाव भरा रह सकता है। लेकिन, इस अकेलेपन को समझदारी से सुलझाएं, तो इसके भरपूर फायदे उठाए जा सकते हैं। अकेलेपन से बचने के लिए हर दिन कुछ नया सीखें। डांस क्लास, स्वीमिंग क्लास, कुकिंग क्लास, पेंटिंग क्लास भी ट्राई कर सकते हैं।

तालक के बाद खुद को कैसे संभलना है, इसके लिए एक मजबूत भावना की जरूरत होती है। जिस भी विकल्प के बारे में सोचें, उसे पूरा करने की हिम्मत भी रखें। साथ ही, समय-समय पर काउंसलर से भी बात करते रहें, ताकि शारीरिक फुर्ती के साथ-साथ मानसिक तौर पर भी तरोताजा बने रहें। उम्मीद है आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर आपको इस आर्टिकल से जुड़ी और कुछ जानकारी चाहिए या आप इसमें सुधार के लिए कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो हमें हमारे फेसबुक पेज के जरिए अपने सुझाव जरूर दें। हम इसमें और भी सुधार लाने की कोशिश करें। इसके अलावा, अगर ये आर्टिकल आपको पसंद आया है, तो ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/05/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड