चारकोल फेस मास्क के फायदे : ब्लैकहेड्स की होगी छुट्टी तो निखरेगी त्वचा चुटकियों में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

चारकोल का नाम सुनकर दिमाग में एक काली सी चीज आ जाती है। लेकिन, अगर आपको कहा जाए कि चारकोल यानी कोयला हाथ काला नहीं करता बल्कि खूबसूरती भी बढ़ाता है। चारकोल फेस मास्क के फायदे स्किन की कई समस्याओं को भी दूर करते हैं। साथ ही चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने में मदद करते हैं। चारकोल फेस मास्क के फायदे ऐसे ही हैं। आपने अक्सर फेसवॉश जैसी चीजों में एक्टिवेटेड चारकोल जैसे शब्द लिखे देखे होंगे। दरअसल, यह चारकोल आपकी खूबसूरती बढ़ाने में मदद करता है। यह स्किन की कई समस्याओं को भी दूर करता है। लेकिन, चारकोल फेस मास्क का उपयोग कितना किया जाना चाहिए और एक्टिवेटेड चारकोल मास्क कैसे बनाना चाहिए आप जानेंगे इस आर्टिकल में।

एक्टिवेटेड चारकोल क्या है?

कच्चे कोयले को प्रोसेस करके एक्टिवेटिड चारकोल बनाया जाता है। इसे एक्टिवेटेड कार्बन भी कहते हैं। त्वचा की गंदगी को अवशोषित करने के साथ-साथ एक्सफोलिएट गुण भी एक्टिवेटेड चारकोल में होते हैं। इसलिए, एक्टिवेटेड चारकोल का इस्तेमाल फेस मास्क (face mask), फेस वॉश, स्क्रब्स और साबुन के तौर पर किया जाता है। 

और पढ़ें- फेशियल के बाद कभी न करें ये गलतियां, हो सकता है नुकसान

चारकोल फेस मास्क के फायदे

चारकोल फेस मास्क के फायदे दूर करे ब्लैकहेड्स

ब्लैकहेड्स की समस्या को दूर करने के लिए चारकोल फेस मास्क बहुत ही कारगर साबित होता है। यह चेहरे की गहराई तक जाकर सफाई करके ब्लैकहेड्स को जड़ से खत्म करता है। साथ ही इसमें पाई जाने वाली क्लींजिंग प्रॉपर्टीज चेहरे के मुहांसों को खत्म करने में भी मदद करती हैं। स्किन के पोर्स को साफ करके स्किन को चमकदार भी बनाता है।

और पढ़ेंः कई तरह से लाभदायक है चेहरे की मालिश, जानिए इसके फायदे

पॉल्यूशन से करता है बचाव

पॉल्यूशन के प्रभाव से त्वचा को बचाने के लिए चारकोल सबसे अच्छा ऑप्शन है। चारकोल फेस मास्क के फायदे में एक यह है कि वह स्किन से टॉक्सिन को खींच लेता है। इससे स्किन में मौजूद अतिरिक्त तेल भी बाहर निकल जाता है और आपको साफ और हेल्दी स्किनमिलती है।

और पढ़ें- स्किन टाइप के हिसाब से चुनें अपने लिए बॉडी लोशन

त्वचा की डीप क्लींजिंग में मददगार 

डीप क्लींजिंग से यह स्किन पर मौजूद बैक्टीरिया को साफ करता है, त्वचा को एक्सफोलिएट करता है। इससे बड़े पोर्स भी छोटे होते हैं और स्किन के pH स्तर को भी संतुलित करता है।

और पढ़ें- घर पर बनाएं ये व्हाइटहेड्स मास्क, चेहरा हो जाएगा खिला खिला

चारकोल फेस मास्क के फायदे से स्किन होगी फेयर

त्वचा का रंग साफ करने में चारकोल फेस क्रीम (charcoal face cream) खूब काम आती है। इससे स्किन में ग्लो भी आता है।

चारकोल फेस मास्क के फायदे पिंपल्स दूर करने में

ऑयली स्किन पर फेस पर गंदगी जमने की वजह से मुंहासे होना आम बात है। स्किन की यह समस्या चारकोल फेस मास्क से दूर की जा सकती है। चारकोल फेस मास्क त्वचा को एक्सफोलिएट करता है। इससे स्किन के अंदर से तेल और विषाक्त पदार्थ (toxins) बाहर निकलते हैं। इससे एक्ने और कील-मुंहासों की प्रॉब्लम खत्म होने के साथ ही दाग-धब्बे भी दूर होते हैं।

और पढ़ें- क्यों जरूरी है सोने से पहले मेकअप उतारना?

काले अंडरआर्म्स की समस्या होगी खत्म

अंडरआर्म्स का रंग हल्का करने में भी चारकोल का उपयोग एक लोकप्रिय उपाय है। चारकोल के इस्तेमाल से मृत त्वचा हटाई जाती है। जिससे काले अंडरआर्म्स से निजात मिलती है। साथ ही अंडरआर्म से आने वाले गंध भी खत्म होती है। इसके लिए चारकोल पाउडर में दो चम्मच शहद और एक चम्मच नींबू मिलाकर लगाए और थोड़ी देर बाद अंडरआर्म्स धुल लें। ऐसा रोजाना करने से फर्क आपको खुद ही आएगा।

घर पर चारकोल मास्क बनाने की विधि 

चारकोल फेस मास्क के फायदे से आपकी त्वचा की सेहत सुधरती है। इसके लिए चारकोल फेस मास्क को आप ऑनलाइन या मार्केट से खरीद सकते हैं। चारकोल फेस मास्क प्राइस भी ज्यादा नहीं है। इसके अलावा घर पर भी इसे आसानी से बनाया जा सकता है। चारकोल फेस मास्क के फायदे पूरी तरह से आपकी स्किन को मिल सके। इसके लिए अपनी स्किन टाइप के अनुसार ही सामग्री चुने। जैसे-

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

यदि तैलीय त्वचा है-

एक बड़ा चम्मच बेंटोनाइट क्ले, एक बड़ा चम्मच एक्टिवेटेड चारकोल, दो बड़े चम्मच पानी लेकर मिलाएं। पेस्ट को साफ चेहरे पर 15 से 20 मिनट तक लगाकर रखें। फिर फेस वॉश कर लें। क्ले से त्वचा पर मौजूद अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने में मदद मिलेगी। यह आपके पोर्स को साफ करने और मुहांसों को रोकने में भी मदद कर सकता है।

यदि सूखी त्वचा है-

एक बड़ा चम्मच शहद, एक बड़ा चम्मच एक्टिवेटेड चारकोल, थोड़ा-सा जैतून या जोजोबा ऑयल के साथ दो बड़े चम्मच पानी लेकर मिलाएं। इस चेहरे पर लगाएं और सूखने के बाद साफ करें। शहद से चेहरे को नमी मिलती है।

और पढ़ें- मुंहासों के लिए कैसे बनाएं दालचीनी और शहद का मास्क?

चारकोल मास्क के नुकसान 

हालांकि, चारकोल मास्क के इस्तेमाल से स्किन को कुछ खास नुकसान नहीं होते हैं। लेकिन, चारकोल फेस मास्क के फायदे हैं तो कुछ एक नुकसान भी होंगे ही जैसे जल्दी-जल्दी चारकोल मास्क के उपयोग से स्किन में ड्रायनेस, लालिमा और संवेदनशीलता की समस्या पैदा हो सकती है। पहली बार चारकोल मास्क का उपयोग करने से पहले, पैच टेस्ट जरूर करें। यदि आपको खुजली या रेडनेस का अनुभव होता है, तो आपके स्किन के लिए इसका उपयोग सही नहीं है।

और पढ़ें- नाखूनों में ये बदलाव हो सकते हैं नेल इंफेक्शन के लक्षण, जानिए इसके उपचार

हफ्ते में एक दिन चारकोल फेस मास्क

ब्यूटी एक्सपर्ट, कृति शर्मा (ग्लैम ब्यूटी सलून, दिल्ली) का कहना है “डीप क्लींजिंग के लिए सप्ताह में एक बार चारकोल फेस मास्क का इस्तेमाल किया जा सकता है। ऑयली स्किन वाले इस फेस मास्क का उपयोग हफ्ते में दो बार कर सकते हैं। वहीं, अगर आपकी स्किन रूखी है तो चारकोल फेस मास्क के फायदे से स्किन आपकी मुस्कुराए इसके लिए फेस मास्क को अप्लाई करने के बाद एक अच्छा मॉइश्चराइजर लगाना न भूलें।”

चारकोल फेस मास्क के फायदे से अगर आपकी सुंदरता निखरती है तो चारकोल के अन्य स्वास्थ्य लाभ भी हैं। कई रिसर्च में पाया गया है कि चारकोल के उपयोग से पेट की समस्या को दूर करने में, पाचन-क्रिया को सुधारने में, दांतों की देखभाल, बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कम करने में किया जाता है। इसके इस्तेमाल से किडनी फंक्शन में भी सुधार आता है। लेकिन, डॉक्टर की सलाह से ही चारकोल का सेवन करना चाहिए।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

जानें मुंहासे में मवाद के कारण और इलाज

मुंहासे में मवाद के कारण क्या हैं और इसका घरेलू इलाज क्या है। मुंहासे के कई प्रकार होते हैं।आपको मुंहासे में मवाद की समस्या है तो आप इसे ब्यूटी प्रोब्लम को इन दवाओं और घरेलू तरीके से ठीक कर सकते हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया shalu

होंठों पर पिंपल्स का इलाज ढूंढ रहे हैं? तो ये आर्टिकल कर सकता है आपकी मदद

होंठों पर पिंपल्स का इलाज कैसे करें? होंठों पर पिंपल्स का इलाज के लिए कैस्टर ऑयल, lip pimples home remedies in hindi, होंठों पर दाने से छुटकारा...

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
ओरल हेल्थ, स्वस्थ जीवन मई 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

स्किन पिकिंग डिसऑर्डर क्या होता है, जानें क्यों अजीब है ये समस्या

स्किन पिकिंग डिसऑर्डर के कारण लोग अक्सर अपनी स्किन को नोंचते हैं। घाव की पपड़ी, होंठ की सूखी त्वचा आदि को खींचने के बाद घाव भी हो जाता है। स्किन पिकिंग डिसऑर्डर किसी को भी हो सकता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
मेंटल हेल्थ, स्वस्थ जीवन फ़रवरी 19, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Quiz: क्विज में छिपे हैं पिंपल्स से जुड़े कुछ सवालों के जवाब, क्या आप जानते हैं?

पिंपल्स (एक्ने) क्यों होते हैं? पिंपल्स से निजात पाने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? पिंपल्स के लिए घरेलू नुस्खें, पिंपल्स ट्रीटमेंट

के द्वारा लिखा गया Mona narang
क्विज फ़रवरी 13, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

फेसक्लिन जेल

Faceclin Gel : फेसक्लिन जेल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
एमोलीन क्रीम

Emolene Cream : एमोलीन क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
त्वचा की चमक बढ़ाएं इन घरेलू उपाय से

त्वचा की चमक बढ़ाने में असरदार हैं यह आसान घरेलू नुस्खे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Ruby Ezekiel
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ जुलाई 16, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
खुजली का आयुर्वेदिक इलाज

खुजली का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? खुजली होने पर क्या करें, क्या न करें?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जून 4, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें