home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Heart Palpitations: कुछ मिनट या कुछ सेकेंड के हार्ट पल्पिटेशन को ना करें इग्नोर!

Heart Palpitations: कुछ मिनट या कुछ सेकेंड के हार्ट पल्पिटेशन को ना करें इग्नोर!

दिल से जुड़ी कई बीमारियों के बारे में आपने पढ़ा होगा या सुना होगा, लेकिन क्या आपने कभी दिल की धड़कन की तेज रफ्तार या स्लो हार्ट बीट (Heart disease) को नोटिस किया है? या शायद कुछ परिस्थितियों में दिल की धड़कन (Heart beat) तेज होने लगती है, जिसे आप महसूस किया हो! आज दिल की धड़कन से जुड़ी खास जानकारी आपके लिए हम लेकर आये हैं। आज इस आर्टिकल में हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations), हार्ट पाल्पिटेशन के लक्षण (Symptoms of Heart Palpitations) और इससे जुड़े कई सवालों का जवाब जानेंगे। क्योंकि हार्ट पाल्पिटेशन Heart Palpitations) की समस्या नॉर्मल होने के साथ-साथ कभी-कभी व्यक्ति को क्रिटिल स्टेज में भी पहुंचा सकती है।

  • हार्ट पाल्पिटेशन क्या है?
  • हार्ट पाल्पिटेशन के लक्षण क्या हैं?
  • हार्ट पाल्पिटेशन के कारण क्या हैं?
  • हार्ट पाल्पिटेशन का निदान कैसे किया जाता है?
  • हार्ट पाल्पिटेशन का इलाज कैसे किया जाता है?
  • हार्ट पाल्पिटेशन से बचाव कैसे संभव है?

और पढ़ें : दिल से जुड़ी तकलीफ मायोकार्डियम इंफेक्शन बन सकती है परेशानी का सबब, कुछ ऐसे रखें अपना ख्याल!

हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations) क्या है?

हार्ट पल्पिटेशन (Heart Palpitations)

कभी-कभी दिल की धड़कन कुछ मिनट या सेकेंड के लिए अचानक तेज महसूस की जाती है, जिसे मेडिकल टर्म में हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations) कहा जाता है। ऐसी स्थिति होने पर आप घबराहट या बेचैनी भी महसूस कर सकते हैं। हार्ट पाल्पिटेशन के लक्षण को समझना बेहद जरूरी है, क्योंकि अगर हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations) की परेशानी सामान्य हो सकती है, लेकिन अगर इसे ज्यादा समय तक इग्नोर किया जाए तो आप अनजाने में किसी गंभीर शारीरिक परेशानी को दावत देने का काम कर रहें हैं और अपनी शारीरिक परेशानी बढ़ा रहें हैं।

और पढ़ें : अपनी दिल की धड़कन जानने के लिए ट्राई करें हार्ट रेट कैलक्युलेटर

हार्ट पाल्पिटेशन के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Heart Palpitations)

हार्ट पाल्पिटेशन के लक्षण के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

ये लक्षण हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations) के हो सकते हैं। अगर आप इनमें से किसी भी लक्षण को महसूस कर रहें हैं या आपके आस पास रह रहें लोगों ने इन लक्षणों के बारे में आपसे जिक्र किया है, तो उन्हें डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए।

और पढ़ें : Carotid atherosclerosis: इस बीमारी में ब्रेन तक नहीं पहुंच पाता है खून, बढ़ जाता है स्ट्रोक का खतरा!

हार्ट पाल्पिटेशन के कारण क्या हैं? (Cause of Heart Palpitations)

हार्ट पाल्पिटेशन के कारण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

  • हार्ट डिजीज (Heart disease) होना।
  • हार्ट वॉल्व का एब्नॉर्मल (Abnormal) होना।
  • एंग्जायटी (Anxiety) की समस्या होना।
  • तनाव (Stress) में रहना
  • पैनिक (Panic) होना।
  • डिप्रेशन (Depression) में रहना।
  • नींद (Insomnia) ना आने की समस्या होना।
  • एंटीबायोटिक (Antibiotics) एवं एंटीडेप्रिसेंट (Antidepressants) जैसी अन्य दवाओं का सेवन करना।
  • एनीमिया (Anemia) की समस्या होना।
  • ब्लड शुगर लेवल कम (Low blood sugar) होना।
  • डिहाइड्रेशन (Dehydration) की समस्या होना।
  • बॉडी का टेम्प्रेचर ज्यादा होना या बुखार आना।
  • ब्लड में ऑक्सिजन लेवल कम (Low oxygen levels) होना।

और पढ़ें : क्रोनिक डिप्रेशन डिस्थीमिया से क्या है बचाव?

इन कारणों के अलावा निम्नलिखित परिस्थितियों में भी हार्ट पाल्पिटेशन की समस्या महसूस की जा सकती है। जैसे:

नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार इन कारणों के अलावा हार्ट पाल्पिटेशन के अन्य कारण भी हो सकते हैं।

और पढ़ें : तनाव से हार्ट डिजीज और डायबिटीज का बढ़ता रिस्क, जानें एक्सपर्ट से बचाव के टिप्स!

हार्ट पाल्पिटेशन का निदान कैसे किया जाता है? (Diagnosis of Heart Palpitations)

हार्ट पाल्पिटेशन का निदान निम्नलिखित तरह से किया जाता है। जैसे:

  • इकोकार्डियोग्राम (Echocardiogram) टेस्ट
  • हॉल्टर मॉनिटर (Holter monitor) टेस्ट
  • स्ट्रेस टेस्ट (Stress test) टेस्ट
  • ब्लड एवं यूरिन (Blood and urine) टेस्ट
  • चेस्ट एक्स रे (Chest X-ray)
  • टिल्ट (Tilt test) टेस्ट।
  • इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम (Electrocardiogram) टेस्ट।
  • एमआरआई (MRI)।

आवश्यकता पड़ने पर इन टेस्ट (Test) के अलावा या अगर पेशेंट किसी अन्य हेल्थ कंडिशन (Health condition) से पीड़ित हैं, तो अन्य टेस्ट की सलाह दी जा सकती है और फिर इलाज की प्रक्रिया शुरू की जाती है।

और पढ़ें : Arteriosclerosis: बचना है हार्ट की इस बीमारी से, तो आज से अपनाएं हेल्दी लाइफस्टाइल!

हार्ट पाल्पिटेशन का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment for Heart Palpitations)

मायो फाउंडेशन फॉर मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (Mayo Foundation for Medical Education and Research) द्वारा पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations) के एक नहीं, बल्कि कई कारण हो सकते हैं। इसलिए अगर किसी हार्ट डिजीज के कारण हार्ट पाल्पिटेशन की समस्या शुरू हुई है, तो ऐसे में हार्ट डिजीज (Heart disease) की ट्रीटमेंट शुरू की जाती है और पेशेंट की हेल्थ कंडिशन को मॉनिटर किया जाता है। इसलिए अलावा डेली एक्टिविटी (Daily activity) में हेल्दी एक्टिविटी (Healthy activity) शामिल करने की सलाह दी जाती है।

और पढ़ें : कोरोनरी आर्टरी डिजीज से बचना चाहते हैं, तो इन बातों का ध्यान रखना है बेहद जरूरी

हार्ट पाल्पिटेशन से बचाव कैसे संभव है? (Prevent Heart Palpitations)

हार्ट पाल्पिटेशन से बचाव के लिए निम्लिखित बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। जैसे:

  • एल्कोहॉल का सेवन ना करें।
  • कैफीन (Caffeine) एवं निकोटिन (Nicotine) से दूरी बनायें।
  • इलीगल ड्रग्स (Illegal drugs) का सेवन ना करें।
  • ब्लड प्रेशर (Blood pressure) एवं कोलेस्ट्रॉल लेवल (Cholesterol levels) को बैलेंस में रखें।
  • वैसे खाद्य पदार्थों का सेवन ना करें, जिनके सेवन से हार्ट पाल्पिटेशन की समस्या हो।
  • तनाव (Tension) से दूर रहें।
  • अपने दिनचर्या में योगासन (Yoga) शामिल करें।
  • रेग्यूलर एक्सरसाइज (Workout) या वॉक (Walk) करें।
  • ओरल हाइजीन (Oral hygiene) का ध्यान रखें।
  • बॉडी वेट (Body weight) संतुलित बनाये रखें।
  • डायबिटीज (Diabetes) की समस्या है, तो ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रखें।

इन बातों को ध्यान में रखने के साथ-साथ हेल्दी डायट (Healthy diet) मेंटेन करें।

और पढ़ें : एरिथमिया और डिसएरिथमिया जानिए दिल से जुड़ी इस बीमारी को

स्वस्थ रहने के लिए हेल्दी डायट (Healthy diet) फॉलो करना बेहद जरूरी है। इसलिए नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर जानिए हेल्दी रहने के लिए कब और क्या खाना जरूरी है।

और पढ़ें : सिंगल वेंट्रिकल डिफेक्ट्स (Single Ventricle Defects) का कैसे किया जाता है ट्रीटमेंट?

हार्ट पाल्पिटेशन को मैनेज कैसे करें? (Manage Heart Palpitations)

हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations) की समस्या किसी भी वक्त महसूस होने पर निम्नलिखित टिप्स फॉलो करें। जैसे:

  1. किसी शांत जगह पर बैठ जायें और रिलैक्स (Ralx) करें।
  2. आपने आपको आरामदायक पुजिशन में लाएं।
  3. हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations) के दौरान पैनिक (Panic) ना करें।
  4. आराम से सांस (Breathing) लें।
  5. इस दौरान कैफीन, एल्कोहॉल (Alcohol) या निकोटिन (Nicotine) का सेवन ना करें।

हार्ट पाल्पिटेशन के दौरान इन 5 बातों का ध्यान अवश्य रखें और परेशानी ज्यादा महसूस हो रही है, तो जल्द से जल्द डॉक्टर से कंसल्ट करें।

और पढ़ें : Heart Valve Stenosis: हार्ट वॉल्व स्टेनोसिस के कारण किन समस्याओं का करना पड़ता है सामना?

अगर आप हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations) से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते हैं। हमारे हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे। हालांकि अगर आप हार्ट पाल्पिटेशन (Heart Palpitations) की समस्या से पीड़ित हैं, तो डॉक्टर से कंसल्टेशन करें, क्योंकि ऐसी स्थिति में डॉक्टर आपके हेल्थ कंडिशन (Health condition) को ध्यान में रखकर हार्ट पाल्पिटेशन का इलाज (Treatment for Heart Palpitations) शुरू करेंगे।

आप दिल (Heart) के बारे में कितनी जानकारी सही रखते हैं? जानने के लिए नीचे दिए इस क्विज को खेलिए।

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id=”typef_orm”, b=”https://embed.typeform.com/”; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,”script”); js.id=id; js.src=b+”embed.js”; q=gt.call(d,”script”)[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Heart Palpitations/https://my.clevelandclinic.org/health/diseases/17084-heart-palpitations/Accessed on 28/07/2021

Heart Palpitations/https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/heart-palpitations/symptoms-causes/syc-20373196/Accessed on 28/07/2021

What are heart palpitations?/https://familydoctor.org/condition/heart-palpitations/Accessed on 28/07/2021

Heart Palpitations/https://www.nhlbi.nih.gov/health-topics/heart-palpitations/Accessed on 28/07/2021

Heart Palpitations/https://medlineplus.gov/ency/article/003081.htm/Accessed on 28/07/2021

Heart Palpitations/https://www.healthdirect.gov.au/heart-palpitations/Accessed on 28/07/2021

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/07/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x