home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

कहीं आपको तो नहीं है यह बीमारी, समझें ओसीडी के लक्षण

कहीं आपको तो नहीं है यह बीमारी, समझें ओसीडी के लक्षण

कुछ लोगों को किसी काम या आदत की धुन इस कदर सवार होती है कि वह सनक बन जाती है और बीमारी का रूप ले लेती है। इसका सीधा असर पीड़ित व्यक्ति की जिंदगी पर पड़ता है। दरअसल, यह एक तरह की मानसिक बीमारी है जिसे ऑब्सेसिव कंप्लसिव डिसऑर्डर (ओसीडी) कहते हैं। इस मेंटल डिसऑर्डर की दिक्क्त यह है कि ओसीडी के लक्षण लोगों में शुरूआती स्टेज में पकड़ में नहीं आते हैं। वहीं, ओसीडी ग्रस्त इंसान भी वास्तविकता को स्वीकार नहीं कर पाता है। आज हम इस लेख में ओसीडी के लक्षण को समझने की कोशिश करेंगे। साथ ही ओसीडी से ग्रसित व्यक्ति अपनी मदद कैसे करें? इसके लिए भी टिप्स देंगे।

ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर (OCD) क्या है?

ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर ये एक ऐसी स्थिति होती है, जिसमें वह व्यक्ति उस काम को दोबारा करता है जिसे वह एक बार कर चुका है। उसे इस बात पर विश्वास नहीं होता है कि वह यह कर चुका है। इसलिए वह काम को बार-बार करता रहता है। उदाहरण के तौर पर एक ओसीडी रोगी अपनी दुकान बंद करते समय ताला लगाता है तो उसके दिमाग में यही चलता रहता है कि उसने ताला लगाया है या नहीं और वह ताले को बार-बार चेक करता है। इस स्थिति को ही ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर (OCD) कहते हैं। ओसीडी के लक्षण में यह प्रमुख है।

और पढ़ें: एडीएचडी का प्राकृतिक इलाज: इस तरह पेरेंट्स दूर कर सकते हैं बच्चों की यह बीमारी

ओसीडी के लक्षण क्या हैं?

ओसीडी के लक्षण हर व्यक्ति में अलग-अलग होते हैं। ये लक्षण निम्नलिखित हैं –

ओसीडी के लक्षण: ऑब्सेसिव विचार (obsessive thoughts)

  • शरीर की गंदगी या कीटाणुओं का डर और शरीर की दुर्गंध के प्रति अतिसंवेदनशीलता
  • क्रम, स्वच्छता और सटीकता के लिए संवेदनशीलता
  • बुरे विचारों को सोचने या कुछ शर्मिंदगी वाला कार्य करने का डर
  • लगातार कुछ आवाजों, शब्दों या संख्याओं को सोचना या गिनती करते रहना
  • माफी मांगने की आवश्यकता लगना
  • अपनी पसंदीदा वस्तु के ना मिलने का डर या उसके खोने का डर
  • इस डर में रहना कि कुछ भयानक होगा
  • अत्यधिक अंधविश्वासी होना
  • अपने आप को या किसी और को नुकसान पहुंचाने का डर होना।

ओसीडी के लक्षण: कंपल्सिव बिहेवियर (Compulsive behavior)

  • बार-बार हाथ धोना, नहाना या दांतों को साफ करना
  • वस्तुओं को बार-बार साफ करना, सीधा करना और क्रमबद्ध करना
  • कपड़ों की बार-बार जिप और बटन चेक करना
  • लाइटों, उपकरणों या दरवाजों को बार-बार चेक करना, यह सुनिश्चित करने के लिए कि वे बंद हैं या नहीं
  • कुछ शारीरिक गतिविधियों को दोहराना, जैसे कुर्सी पर बैठकर उठना
  • चीजें एकत्रित करना, जैसे समाचार पत्र
  • बार-बार एक ही सवाल पूछना या एक ही बात कहना
  • किसी भी शब्द या नंबर को दोहराते रहना ताकि आपकी एंजायटी कम हो सके।

और पढ़ें: डिप्रेशन (Depression) होने पर दिखाई ​देते हैं ये 7 लक्षण

अपनी मदद खुद कैसे करें?

ओसीडी के लक्षण को आप स्वयं भी ठीक कर सकते हैं यदि आप अपने आप पर थोड़ा ध्यान दें और दिए गए उपाय को सही तरीके से करें। यहां हमने कुछ उपाय दिए हैं उन्हें पढे़ं और समझें।

  • ओसीडी के कंपल्सिव और ऑब्सेसिव विचारों को नजरअंदाज करने के लिए अपना ध्यान कहीं और लगाएं। मसलन एक्सरसाइज, जॉगिंग, वॉकिंग, स्टडी, म्यूजिक सुनें आदि करें। खुद को कम-से-कम 15 मिनट तक किसी ऐसे काम में बिजी रखें, जिससे आपको खुशी मिलती हो।
  • जब भी ऑब्सेसिव ख्याल आएं आप इसे डायरी में नोट कर लें। ऐसा करने से आपको यह पता लगेगा कि आप इन बेकार की बातों में अपना कितना समय गंवा रहे हैं। एक ही बात बार-बार लिखने से आपकी नजरों में उसकी अहमियत कम होने लगेगी।
  • ओसीडी के लक्षण कब आप पर ज्यादा हावी होते हैं? इस बात को नोट करें। अगली बार जब वो समय होने वाला हो तो उससे पहले ही मेडिटेशन करने लगें। इससे नेगेटिव विचारों की तरफ ध्यान नहीं जाएगा।
  • अपना ध्यान रखें। एक स्वस्थ और संतुलित लाइफस्टाइल आपके ओसीडी के लक्षण को कम करने में काफी मददगार होगी। यह आपको डर और चिंताओं से दूर रखने में सहायक साबित होगा। ध्यान, योग और डीप ब्रीदिंग तकनीक अपनाएं। ऐसा दिन में कम-से-कम 30 मिनट के लिए करें।
  • बेहतर खान-पान की आदत डालें। खाने में साबुत अनाज, फल, सब्जियां आदि शामिल करें। इससे आपके शरीर में सेरोटोनिन बढ़ेगा, जो एक न्यूरोट्रांसमीटर है और दिमाग को शांत करता है।
  • आपको अपना एक चार्ट बनाना है जिसे हम डर का चार्ट बोलेंगे। इस चार्ट में आपको डर और बार-बार होने वाली चिंताओं को उनके क्रम अनुसार लिखना है और फिर जब भी ऐसे विचार आपके मन में आए उन्हें खुद को करने से रोकना है। यह आपको तब तक करना है जब तक आप इस सोच से बाहर नहीं आ जाते।
  • अपने अंदर ओसीडी के लक्षण की पहचान करने बाद जितनी जल्दी हो सकता है नियमित एक्सरसाइज करना शुरू कर दें। उससे शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य बढ़ेगा। एंडॉर्फिन आपके दिमाग को खुशी का अहसास कराता है। रोजाना 30 मिनट एक्सरसाइज करें।
  • ओसीडी के लक्षण जल्द से जल्द प्रबंधित हो जाएं इसके लिए एल्कोहॉल और निकोटिन से दूर रहें और भरपूर नींद लें।
  • आप इस डिसऑर्डर से बाहर निकालने के लिए अपने परिवार का सहारा भी के सकते है। जितना हो सके अपने परिवार और प्रियजनों के साथ रहे जिसे आपका दिमाग उनके बीच लगा रहेगा और आप अपनी एंजायटी से बाहर आएंगे। ऐसा करना मेंटल हेल्थ के लिए अच्छा होता है। इस आप पाएंगे कि ओसीडी के लक्षण तेजी से मैनेज हो रहे हैं।
  • ओसीडी सपोर्ट ग्रुप जॉइन करें।

और पढ़ें: LGBT कम्युनिटी में 60 प्रतिशत लोग होते हैं डिप्रेशन का शिकार, जानें क्या है इसकी वजह?

आप इन उपायों को करके खुद को स्वस्थ बना सकते हैं, लेकिन यदि इन उपाय को करने के बाद भी आपको कोई राहत नहीं मिल रही तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। यदि आपने इस डिसऑर्डर को समझने में देर कर दी तो यह आपके लिए और आपके प्रियजनों के लिए घातक साबित हो सकता है। ओ सी डी से दूर रहने में ही भलाई है। इसलिए हमेशा याद रखिए की किसी भी मेंटल डिसऑर्डर के शिकार, आप तभी होते हैं जब आप खुद पर अपने विचारों को हावी होने देते हैं। चिंता सिर्फ उतनी करिए जितनी जरूरी हो अत्यधिक चिंता हानिकारक होती है।

उम्मीद करते है आपको ओसीडी के लक्षण पर आधारित यह आर्टिकल पसंद आया होगा। कृपया इसे शेयर जरुर करें। अगर आपके कोई सवाल या सुझाव है तो कृपया कमेंट्स के माध्यम से अपनी बात शेयर कर सकते हैं। इससे जुड़ा कोई सवाल या चिंता है तो डॉक्टर से सलाह लेने में देर न करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Obsessive-Compulsive Disorder (OCD). https://www.webmd.com/mental-health/obsessive-compulsive-disorder#1. Accessed on 17 Sep 2019

Obsessive-Compulsive Disorder (OCD). https://www.helpguide.org/articles/anxiety/obssessive-compulsive-disorder-ocd.htm. Accessed on 17 Sep 2019

Obsessive-Compulsive Disorder (OCD). https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/obsessive-compulsive-disorder/symptoms-causes/syc-20354432. Accessed on 17 Sep 2019

What Is Obsessive-Compulsive Disorder?. https://www.psychiatry.org/patients-families/ocd/what-is-obsessive-compulsive-disorder. Accessed on 17 Sep 2019

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Smrit Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/11/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड