बच्चे के लिए दूध और दलिया की हेल्दी रेसिपी आईडिया

By Medically reviewed by Dr. Pranali Patil

बच्चे जब एक साल के ऊपर के हो जाते हैं तो  पेरेंट्स को सबसे ज्यादा टेंशन उनके खाने को लेकर होती है। हो भी क्यों न क्योंकि बच्चे के पोषक  दौरान पेरेंट्स को बच्चे के खाने में पौष्टिक आहार का विशेष ध्यान रखना पड़ता है। जब हम बात कर रहे हैं पौष्टिकता की तो बच्चे के लिए दलिया (Daliya) से बेहतर विकल्प नहीं हो सकता। हैलो स्वास्थ्य आपको बताएगा कि आप दलिया की हेल्दी रेसिपी अपने बच्चे के लिए किस तरह से बना सकते हैं। 

दलिया क्या है?

दलिया एक ऐसा भोजन है, जो पौष्टिक गुणों से भरपूर है। दलिया गेंहू के टूटे टुकड़ों को कहा जाता है। इसके अलावा, ये जौ या मक्के के टूटे टुकड़ों का भी बनता है। ये बच्चों के विकास के लिए बहुत मददगार साबित होता है। दलिया को ज्यादातर लोग खिचड़ी की तरह बना कर खाना पसंद करते हैं। छोटे बच्चों को दलिया लगभग सातवें या आठवें महीने से देना शुरू कर देना चाहिए। क्योंकि छोटे बच्चों के लिए दलिया पौैष्टिक होने के साथ ही पचने में भी आसान रहता है। दलिया से बच्चे को कार्बोहाइड्रेट मिलने के साथ ही प्रोटीन भी अधिक मात्रा में मिलता है।

  • ऊर्जा – 237 किलोकैलोरी
  • डायट्री फाइबर – 1.3 ग्राम
  • प्रोटीन – 6.1 ग्राम
  • कैल्शियम – 27.7 मिलीग्राम
  • आयरन – 3.7 मिलीग्राम
  • फॉस्फोरस – 223.5 मिलीग्राम
  • पोटैशियम – 195 मिलीग्राम
  • विटामिन-बी3 – 3.6 मिलीग्राम
  • विटामिन-सी – 0 मिलीग्राम

ये भी पढ़ें- स्वस्थ बच्चे के लिए हेल्दी फैटी फूड्स

दलिया खाने के क्या फायदे हैं?

इस संबंध में हैलो स्वास्थ्य ने उदयपुर (राजस्थान) महिला एवं बाल विकास कल्याण उपनिदेशक महावीर खराड़ी से बात की। जिन्होंने बताया कि “आंगनबाड़ी केंद्र पर सरकार द्वारा दी जा रही दलिया बच्चों को खाने के लिए दिया जाता है। जिसके कई फायदे हैं और उन्हें बनाना भी काफी आसान है। दलिया की हेल्दी रेसिपी बनाने की विधियां भी हैं जिसका प्रशिक्षण हम आंगनबाड़ी सहायिका और कार्यकर्ताओं को देते हैं।”

  • दलिया खाने से बच्चे का पाचन तंत्र बेहतर रहता है। दलिया में मौजूद फाइबर बच्चे में पेट संबंधी समस्याओं को ठीक करने में मददगार होता है।
  • दलिया जब मिश्र‍ित अनाज से बनने के कारण हल्का होता है। जिससे बच्चा हल्का महसूस करता है। 
  • आप बच्चों में डायबिटीज की समस्या होने लगी है। दलिया में मौजूद मैग्नीशियम है जो शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मददगार होता है। 
  • फैट फ्री और ज्यादा कैलोरी वाला दलिया बच्चे को ज्यादा ऊर्जा प्रदान करता है।
  • दलिया में दूध मिलते ही उसकी पौष्टिकता में चार चांद लग जाते हैं। 

ऐसे में बच्चों के लिए दलिया की हेल्दी रेसिपी चुन कर उनकी पोषण की जरूरत को पूरा किया जा सकता है। 13 Overnight Oats Recipes to Meal Prep Like a Pinterest Pro

ये भी पढ़ें- जानिए बच्चे के लिए गुड फैट क्या है और उसकी रेसिपी

दलिया की हेल्दी रेसिपी कैसे बनाएं?

दलिया की हेल्दी रेसिपी है खीर

दलिया की हेल्दी रेसिपी

दलिया की खीर बच्चे के लिए एक मीठी रेसेपी होगी। जिसे बच्चे बहुत पसंद करते हैं। ये दूध के साथ बनने से कैल्शियम युक्त हो जाता है। इसे बनाना बहुत आसान है। 

सामग्री :

दलिया, पानी, किशमिश, काजू, बादाम, इलायची, गुड़, दूध, घी।

बनाने की विधि :

कढ़ाई में घी गर्म कर लें। इसमें सबसे पहले काजू, बादाम, किशमिश को भून कर अलग रख दें। इसके बाद घी में दलिया को भून लें। फिर इसमें दूध मिलाते हुए धीरे-धीरे चलाते रहें। जब इसमें उबाल आने लगे तो आंच को धीमा कर दें। इसके बाद 15 मिनट तक इसे पकाएं। बीच-बीच में इसमें पानी मिला कर चलाते रहें। ताकि उसका गाढ़ापन बना रहे। खीर पकने से लगभग पांच मिनट पहले उसमें गुड़ मिला दें। पूरी तरह से खीर पक जाने पर उसमें भूने हुए सूख फल और इलायची का पाउडर बना कर मिला दें।  दलिया की हेल्दी रेसिपी को बच्चे को खिलाएं।

ये भी पढ़ें- जब शिशु का दांत निकले तो उसे क्या खिलाएं?

दलिया की हेल्दी रेसिपी है मीठी खिचड़ी

ये दलिया की हेल्दी रेसिपी है। दलिया की खिचड़ी रेसिपी बहुत आम है। जिसे झटपट बनाया जा सकता है। 

सामग्री :

दलिया, पानी, दूध, गुड़, बादाम, काजू, दूध, घी

बनाने की विधि :

सबसे पहले बादाम और काजू को घी में भून कर अलग रख दें। इसके बाद कढ़ाई में घी डाल कर पहले दलिया को हल्का भून लें। जब भुन जाने की महक आने लगे तो उसमें दूध मिलाएं और उबाल आने तक चलाते रहें। धीमी आंच पर मिनट तक इसे लगातार चलाते रहें। जरूरत पड़ने पर इसमें पानी भी मिलाएं। इसके बाद इसमें स्वादानुसार गुड़ मिलाएं। पक जाने पर इसमें ड्राई फ्रूट्स मिला दें। 

सब्जियों से भरपूर दलिया

दलिया की हेल्दी रेसिपी बच्चे को लंच में देने के लिए ये एक बेहतर विकल्प है। सब्जियां मिले होने के कारण इसकी पौष्टिकता और बढ़ जाती है। जिससे बच्चे को अच्छे मात्रा में मिनरल, विटामिन और प्रोटीन मिलता है। 

सामग्री :

दलिया, पानी, प्याज, मटर, गाजर, आलू, शिमला मिर्च, हरी मिर्च, नमक, काजू, उड़द दाल, चना दाल, कढ़ी पत्ते, हल्दी, सरसों के दाने, तेल

ये भी पढ़ें- बच्चे का इम्यून सिस्टम बढ़ाने के लिए उसे जरूर दें ये 8 फूड्स

बनाने की विधि : 

सबसे पहले सभी सब्जियों को छील और काट कर अच्छे तरह से धो कर साफ कर लें। इसके बाद कढ़ाई में दलिया को भून लें और अलग रख दें। फिर कढ़ाई में तेल डालकर गर्म करें। अब उसमें सरसों के दानें दाल दें। जब वह चटकने लगे तो उसमें कढ़ी पत्ते डाल दें। फिर उसमें चना और उड़द दाल मिला कर भूनें। अब उसमें प्याज और अन्य सब्जियां डाल दें। सब्जियों को दाल के साथ अच्छे तरह से भून लें। इसमें स्वादानुसार नमक मिलाएं। फिर इसमें भूनी हुई दलिया, हल्दी और पानी मिलाएं। इसे लगातार चलाते रहें ताकि दलिया की गोठ (Lumps) ना बनें। पानी सूख जाने के बाद इसे गर्म-गर्म बच्चे के सामने परोसें। 

दलिया की हेल्दी रेसिपी लप्सी

सामग्री :

दलिया, घी, गुड़, पानी

बनाने की विधि :

प्रेशर कुकर में लप्सी बनाना आसान है। कुकर में घी डालें और उसमें दलिया को अच्छे तरह भून लें। इसके बाद इसमें गुड़ और पानी मिलाएं। पानी थोड़ा ज्यादा रखें क्योंकि लप्सी पतली होती है। इसके बाद कुकर का ढक्कन बंद कर दें। आधी आंच पर तीन सीटियों के बाद बुझा दें। फिर बच्चे को कटोरी में निकाल कर गर्म-गर्म परोसें। 

दलिया की हेल्दी रेसिपी बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी है। आप इन्हें बढ़ती उम्र बच्चों को कभी भी दे सकते हैं। इससे बच्चे को सभी पोषक तत्व मिलते रहेंगे। साथ ही यह भी है कि दलिया पचाने के लिए भी काफी आसान होता है। ऐसे में दलिया बच्चे की भूख खत्म होने के साथ-साथ जरूरी पोषण भी मिलते हैं और साथ ही पाचन की भी समस्या नहीं होती।  

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

और पढ़ें:

बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवाने के लिए फ्रीज में रखें हेल्दी फूड्स

पिकी ईटिंग से बचाने के लिए बच्चों को नए फूड टेस्ट कराना है जरूरी

बच्चों के लिए सिंपल बेबी फूड रेसिपी, जिन्हें सरपट खाते हैं टॉडलर्स

बच्चों में फूड एलर्जी का कारण कहीं उनका पसंदीदा पीनट बटर तो नहीं

Share now :

रिव्यू की तारीख अक्टूबर 5, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया जनवरी 9, 2020

सूत्र
शायद आपको यह भी अच्छा लगे